अकबर बीरबल तानसेन और जोधा की बूब चूसने की कहानी

बीर्बल और तानसेन
सुनो भाइयों ये बात है अकबर के ज़माने की…..
उसने 9 छूतिए लू#दूरे पाल रखे थे.. बीर्बल और तानसेन मे बड़ा कॉंपिटेशन रहा करता
था… एक दिन गुस्से मे आके तानसेन कहता है की “अब फ़ैसला हो ही जाए की कौन ज़्यादा बड़ा गा#डू है???? मैं शर्त मरता हूँ की मैं जोधा बाई क बूब्स चूस सकता हूँ”
बीर्बल की हंस हंस क गा#द मे दर्द हो गया… कहता है की “अगर तूने ऐसा कर दिया तो अगले दिन भारी सभा मे मै नंगा अवँगा”…
बस फिर होना क्या था लग गयी शर्त…
तानसेन गया बेज़ार, सपेरे क पास. कहता है की “भाई, मुझे एक साँप चाहिए, अनट्रेंड और बिना ज़हर का होना चाहिए”.
साँप खरीद क तानसेन उसको घर पे ट्रैनिंग देना शुरू करता है. एक आदमी का पुतला बनके साँप को कहता है ” बेटा सप्पू उसके तंग पे काट”. तो सप्पू पुतले क टाँग पे जा क दस लेता है…

ऐसे ही ट्रैनिंग करते करते सप्पू तानसेन का इशारा देख कर टाँग, हाथ गला इत्यादि को डसना सीख जाता है..
जहाँ भी तानसेन इशारा करता, सप्पू वाहा दस लेता…..ट्रैनिंग कर क सप्पू अब तैयार हो गया बिग दे क लिए…
अब बात ऐसी थी की अकबर और जोधा बाई हर सुबह अपने बगीचे मे सैर क लिए निकलते थे.
अगले दिन सुबह तानसेन भी अपने सप्पू क साथ बगीचे मे जा पहुँचा… और झाड़ियों मे च्चिप गया…
जहाँ पनाह और बेगम को आता देख तानसेन ने सप्पू को फॅट से निकल क ज़मीन पे छ्चोड़ दिया और इशारा जोधा बाई क बूब्स की तरफ कर क बोला…..“बेटा सप्पू दिखा अपना कमाल जा दस ले रानी क बूब्स को….. सप्पू फॅट से गया, बेगम की टाँग पर चढ़ क, मांसल जाँघो से गुजेर क च~त को पर कर क सीधा जा पहुँचता है

हिंदी सेक्स स्टोरी :  ममता और जस्सी की चुदाई

बूब्स क बीच वाली खाई मे वाहा से प्लान क मुताबिक सीधा लेफ्ट तुर्न ले क चढ़ जाता है टॉप पे और एक सेकेंड में साली को दस लेता है निपल पे….. जोधा चीखने लगे” अरे मेरे रा#दिबाज अकबर कुछ कर ना ” अकबर तो पागल हो गया…” अर्रे बचाओ कोई बचाओ मेरी बेगम को साप ने दस लिया कोई बचूऊ”
तभी तानसेन निकला झाड़ियों से, भाग क गया और बोला “जहाँ पनाह एक उपाय है मेरे पास रानी साहेबान को बचाने का.
मैं अगर ज़हर चूस कर बाहर निकल दूं तो आप गुस्सा होकर मेरी गा#द तो नही कटवा देंगे ना??
अकबर बोला मदर च@द जो भी करना हो जल्दी कर लेकिन
मेरी बेगम को बचा ले… फिर क्या था तानसेन ने फॅट से जोधा बाई को पकड़ा, उसके कपड़े फाडे और बूब्स बाहर निकल कर चोसनेलागा….
और पुर क पुर चूस डाले…( और इधेर -उधेर हाथ भी मार लिए हरामी ने)
बीर्बल ने ये बात सुनी तो उसकी गा#द से मानो रॉकेट गुज़र गया…. मन ही मन सोचने लगा Bहेन्च@द कल तो लूट गयी इज़्ज़त, भरे दरबार मे नंग धड़ंग जाना पड़ेगा….. गा#द लग गयी… उसने खूब सोचा, बाल खुजलाए (उपर क भी नीचे

क भी) लेकिन नो आइडिया… गा#द जब खुज़ाई तो आइडिया लू#द की तरह उच्छल कर बाहर आया…
अगले दिन दरबार लगा, अकबर ने सबके सामने तानसेन की तारीफ की और कहा अगर तानसेन मे ज़हर चूसने की शक्ति नही होती तो जहाँ पनाह आज रंडवे होते…. और अकेले

अपने आप हिला रहे होते….
तानसेन ओं अदर हॅंड कड नोट वेट फॉर बीर्बल तो मेक आन अपीयरेन्स… खुशी क मारे पागल हो रहा था ये सोच कर की जब बीर्बल भरे दरबार मे नंगा होकर आएगा तो

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।
हिंदी सेक्स स्टोरी :  दीदी की सहेली को जमकर चोदा-2

अकबर की गा#द शर्म से पानी पानी हो जाएगी….एसस्स….
वो बीर्बल क गा#द पे इतने हंटर मारेंगे की बीर्बल की 7 पुश्ते मूह से हगेगी…. तभी दरबार मे हुलचूल मची… सबने देखा की बीर्बल नंगा होकर, अपना लॉडा हाथ मे

पकड़े, दौड़ता हुआ आ रहा है… बस फिर होना क्या था अकबर की गा#द गुस्से से लाल हो गयी… बोला “बीर्बल ये क्या गुस्ताख़ी है???” तेरी हिम्मत कैसे हुई ऐसे नंगे आने

की??
बीर्बल बोला “हाए जहाँ पनाह मै मर गया मुझे साप ने काट लिया …मेरे लंड पे..”
अकबर बोला “तानसेन जा चूस बीर्बल का लंड “

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..
HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!