अनन्या श्रद्धा दिशा के प्यार के जलवे मज़े-2

Ananya shraddha disha ke pyar ke jalwe maze-2

श्रद्धा कपूर बोली । “आज चुदाई का खेल खेल कर चोदेंगे हम लोग ।” दिशा और अनन्या भी राज़ी हो गई और बोली ।”बहुत बहुत मज़ा आएगा करवा कर चुदवा लेने का “। सब से पहले दिशा मुझे बोली “तू अभी मेरा चुदाई कर के चोद डाल मुझे” और दिशा अब मुझे लात घुसे मार मार कर कुश्ती खेलने लगी । १० मिनट बाद मैंने दिशा को पलंग पर पटक दी और उनके मुंह पर २५ थप्पड़ जड़ कर उनके ऊपर चढ़ गया । अनन्या,श्रद्धा ने दिशा के हाथ पैर पकड़ लिए और मुझे चुम्मी करती रही मेरे जिस्म पर उनके जिस्मों को रगड़ रगड़ रही । में भी अनन्या, श्रद्धा के स्तनों चूंचियों को बहुत ज़ोर ज़ोर से दबाता रहा, और मैं दिशा की बड़ी गोरी चुचियों स्तनों को काट काट कर चूसने लगा और मेरा पूरा लन्ड दिशा की बड़ी सी प्यारी सी गोरी सी चूत में पूरे ज़ोर से अंदर घुसा कर ज़ोर ज़ोर से चूत गर्भाशय में मेरा पूरा लन्ड घुसा घुसा कर दिशा को हिला हिला कर चोदता चोदता रहा और दीशा की चूत फ़ाड़ कर खून चिकना पानी निकलने लगा ।

दिशा के गाल लाल हो चुके थे, वोह भी पूरी खुशी से मुझे चुम्मी करती रही और मेरे जिस्म पर हाथ पैर रगड़ कर प्यार से कूल्हे और चूत को ऊपर नीचे हिला हिला कर की चुदाई करवाती रही मज़ा लेती रही “ओह माई गोड आह आह आह आउच मेरी जान तू मुझे आज चुदाई कर के गर्भवती कर ही डाल आउच ऑफ ओह मम्मी मजेदार कर, ज़ोर से चोद चोद कर खून निकाल आह आह आउच ऑफ ओह मेरी चूत भोसड़ी को फाड़ दाल पूरी उई उई मर गई मैं तो आज आउच ऑफ ओह आह आउच ” करती रोती चीखती चिल्लाती रही चुदवाती रही । ५ घंटे तक में दिशा पट्टनी को ज़ोर ज़ोर से चूत फाड़ कर चोद चोद कर बीच बीच में ६ बार झड़ कर उनकी फाड़ी हुई खून से लथपथ चिकनी चूत में मेरा पूरा चिकना वीर्य अंदर तक चूत में गर्भाशय में डाल ही दिया । अब वोह तीनों मेरे चिकने लंड को उनके मुंह से चूसने चाटने लगी उनके जिस्मों को मेरे जिस्म से रगड़ रगड़ कर प्यार करती रही । में भी दिशा की खून से लथपथ चिकनी चूत को चाट चाट कर दिशा, अनन्या, श्रध्दा के स्तनों को ज़ोर ज़ोर से दबाता रहा । ३५ मिनट ऐसा करके उन तीनों ने बारी बारी से मेरे मुंह को उनकी चूत पर रखवा कर मेरे मुंह में उनकी पेशाब कर डाली में प्यार से पी गया । फिर मैंने उन तीनों के मुंह में बारी बारी से मेरा पूरा लन्ड घुसा कर उनको मेरी सारी पेशाब पिला दी । अब अनन्या देशपांडे बोली ।”अब में भी तैयार हुं अपना खुद का चुदवा लेने के लिए ।”

हिंदी सेक्स स्टोरी :  माँ बेटी की चुदाई

अनन्या फिर से मुझे बोली “तू अभी मेरा कर के चोद चोद डाल मुझे” और अनन्या अब मुझे लात घुसे मार मार कर कुश्ती करने खेलने लगी । १२ मिनट बाद मैंने अनन्या देशपांडे को को पलंग पर पटक दी और उनके मुंह पर २५ थप्पड़ जड़ कर उनके जिस्म के ऊपर चढ़ गया । दिशा,श्रद्धा ने अनन्या देशपांडे के हाथ पैर पकड़ लिए और मुझे चुम्मी करती रही मेरे जिस्म पर उनके जिस्मों को रगड़ रगड़ रही । में भी दिशा, श्रद्धा के स्तनों चूंचियों को बहुत ज़ोर ज़ोर से दबाता रहा, और मैं अनन्या की बड़ी गोरी चुचियों स्तनों को काट काट कर चूसने लगा और मेरा पूरा लन्ड अनन्या की बड़ी सी प्यारी सी गोरी सी चूत में पूरे ज़ोर से अंदर घुसा कर ज़ोर ज़ोर से चूत गर्भाशय में मेरा पूरा लन्ड घुसा घुसा कर अनन्या को हिला हिला कर चोदता चोदता रहा और अनन्या की चूत फ़ाड़ कर खून चिकना पानी निकलने लगा ।

अनन्या के गाल पूरे लाल हो चुके थे, वोह भी पूरी खुशी से मुझे चुम्मी करती रही और मेरे जिस्म पर हाथ पैर रगड़ कर प्यार से कूल्हे और चूत को ऊपर नीचे हिला हिला कर की चुदाई करवाती रही मज़ा लेती रही “आह उह ओह माई गोड आह आह आह आउच मेरी जान तू मुझे आज चुदाई कर के गर्भवती कर ही डाल आउच ऑफ ओह मम्मी मजेदार चुदाई कर, ज़ोर से चोद चोद कर खून निकाल आह आह आउच तेरा एक बच्चा डाल दे मेरे पेट में, ओह अरे यार उह आउच आउच ऑफ ओह मेरी चूत भोसड़ी को फाड़ डाल पूरी आज तू उई उई मर गई मैं तो आज आउच ऑफ ओह आह आउच ” करती रोती चीखती चिल्लाती रही चुदवाती रही । ५ घंटे तक में अनन्या देशपांडे को ज़ोर ज़ोर से चूत फाड़ कर चोद चोद कर बीच बीच में ६ बार झड़ कर उनकी फाड़ी हुई खून से लथपथ चिकनी चूत में मेरा पूरा चिकना वीर्य अंदर तक चूत में गर्भाशय में डाल ही दिया । अब वोह तीनों मेरे चिकने लंड को उनके मुंह से चूसने चाटने लगी उनके जिस्मों को मेरे जिस्म से रगड़ रगड़ कर प्यार करती रही । में भी प्यारी अनन्या देशपांडे की खून से लथपथ चिकनी चूत को चाट चाट कर दिशा, दिशा, श्रध्दा के स्तनों को ज़ोर ज़ोर से दबाता रहा । ४५ मिनट ऐसा सब करके उन तीनों ने बारी बारी से मेरे मुंह को उनकी चूत पर रखवा कर मेरे मुंह में उनकी पेशाब कर डाली में सब प्यार से पी गया । फिर मैंने उन तीनों के मुंह में बारी बारी से मेरा पूरा लन्ड घुसा कर उनको मेरी सारी गरम पेशाब पिला दी । अब वो श्रद्धा कपूर प्यार से सेक्सी हॉट आवाज़ में मुझे बोली । “अब तो में भी चुदाई करवाने के लिए तैयार हुं, मैं अपना खुद का चुदवा लेने के लिए राज़ी हूं ।”

हिंदी सेक्स स्टोरी :  आंटियों की प्यास बुझाई

श्रध्दा मुझे चूम कर बोली “तू अभी के अभी मेरा बहुत ज़ोर से चोद चोद डाल पुरी मुझे” और श्रध्दा अब मुझे लात घुसे मार मार कर कुश्ती खेलने लगी । १५ मिनट बाद मैंने श्रद्धा कपुर को प्यार से पलंग पर पटक दी और उनके मुंह पर २५ थप्पड़ जड़ कर उनके गोरे चिकने प्यारे जिस्म ऊपर पूरा चढ़ गया । अनन्या,दिशा ने श्रध्दा कपूर के हाथ पैर पकड़ लिए और दोनों मुझे चुम्मी करती रही और मेरे जिस्म पर उनके गोरे जिस्मों को रगड़ रगड़ रही । में भी अनन्या, दिशा के स्तनों चूंचियों को बहुत ज़ोर ज़ोर से प्यार से दबाता रहा, और मैं श्रध्दा की बड़ी गोरी चिकनी हॉट सेक्सी चुचियों स्तनों को काट काट कर चूसने लगा और मेरा पूरा लन्ड श्रद्धा की बड़ी सी प्यारी सी गोरी सी चूत में पूरे ज़ोर से अंदर घुसा कर ज़ोर ज़ोर से चूत गर्भाशय में मेरा पूरा लन्ड घुसा घुसा कर श्रध्दा को ज़ोर से हिला हिला कर चोदता चोदता रहा और दीशा की चूत फ़ाड़ कर खून और चिकना पानी भी निकलने लगा । श्रद्धा के गाल बहुत लाल हो चुके थे, वोह भी पूरी खुशी से मुझे चुम्मी करती रही और मेरे जिस्म पर हाथ पैर रगड़ कर प्यार से कूल्हे और चूत को ऊपर नीचे हिला हिला कर की चुदाई करवाती रही मज़ा लेती रही “ओह माई गोड आह आह आह आउच अरे आउच ऑफ ओह मेरे पेट में तेरा एक बच्चा डाल ही दे आज चुदाई कर के, आउच ऑफ ओह माई गॉड मम्मी उह आह आह आउच मेरी जान तू मुझे आज चुदाई कर के गर्भवती कर ही डाल, आउच ऑफ ओह मम्मी मजेदार चुदाई कर, ज़ोर से चोद चोद कर खून निकाल आह आह आउच ऑफ ओह मेरी चूत भोसड़ी को फाड़ डाल पूरी खोल डाल, उई उई उफ आऊ उई मम्मी मर गई मैं तो आज आउच ऑफ ओह आह आउच उह उह आह” करती रोती चीखती चिल्लाती रही और चुदवाती रही ।

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

५ घंटे तक में श्रद्धा को बहुत ज़ोर ज़ोर से चूत चोद चोद कर बीच बीच में ६ बार झड़ कर श्रध्दा कपूर की गोरी फाड़ी हुई खून से लथपथ चिकनी चूत में मेरा पूरा चिकना वीर्य अंदर तक चूत में गर्भाशय में डाल ही दिया । अब वोह तीनों मेरे चिकने लंड को उनके मुंह से चूसने चाटने लगी उनके जिस्मों को मेरे जिस्म से रगड़ रगड़ कर प्यार करती रही । में भी श्रध्दा की प्यारी गोरी चिकनी खून से लथपथ चिकनी चूत को चाट चाट कर दिशा, अनन्या, दिशा के स्तनों को ज़ोर ज़ोर से दबाता रहा । ४० मिनट ऐसा करके उन तीनों ने बारी बारी से मेरे मुंह को उनकी चूत पर रखवा कर मेरे मुंह में उनकी पेशाब कर डाली में प्यार से पी गया । फिर मैंने उन तीनों के मुंह में बारी बारी से मेरा पूरा लन्ड घुसा कर उनको मेरी सारी पेशाब पिला दी । मैंने उन तीनों से थप्पड़ मारने के लिए माफी मांगी तो वोह तीनों भी मुझे चुम्मी करती हुई हंस कर बोली “अरे तू चिंता नहीं कर प्यार और चुदाई में तो यह सब चलता है । हम तीनों बहुत प्यार करती हैं तुझ से हमरो मर्जी खुशी से ही तेरे साथ चुदाई करवा कर हम ने जोरदार चुद्वाई की हैं । देशपांडे बोली ।”अब हम तीनों ने अपना खुद का चुदवा लिया है शायद हम तीनों प्रेगनेंट गर्भवती हो ही जाएंगी ।”
हम चारों ने कमरे में खाना मंगवा कर एक दूसरे से लिपट चिपक कर जिस्मों को आपस में रगड़ रगड़ कर प्यार से चुम्मी करते हुए खाया । हम चारों उसी बड़े पलंग पर एक दूसरे के जिस्मों को आपस में प्यार से रगड़ रगड़ कर चिपक लिपट कर चूम चूम कर सो गए ।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  गाँव की गोरियाँ देसी छोरियां-1

सुबह १० बजे अलार्म बजने से हम चारों जागे । श्रद्धा कपूर बोली । “हम तीनों को अभी ११ बजे की फ्लाइट से ही मुंबई जाना पड़ेगा क्योंकि शूटिंग करनी है । “अनन्या होटल के सीसीटीवी कैमरे की हम चारों की पुरी चुदाई का वीडियो कॉपी ले कर उनके लैपटॉप से किसी सेक्सी वेबसाइट पर अपलोड कर दी । दिशा बोली ” हम तीनों बहुत बहुत खुश हैं । तू बहुत बहुत ज़ोरदार चुदाई करता है ।” हम चारों कपड़े पहन कर होटल से बाहर आए, और उस होटल की एक बड़ी सी लग्जरी कार में हम चारों बैठ कर एक दूसरे को लिपट चिपक कर जिस्मों को आपस में रगड़ रगड़ कर चुम्मी करते हुए सफर करने लगे । १५ मिनट बाद मुझे रेलवे स्टेशन पर छोड़ कर वोह तीनों उस कर में एयरपोर्ट तरफ चली गई ।

३५ दिन के बाद मुझे एक बंदबड़ा सा लिफाफा पोस्ट से मिला । उसमें एक खुशबूदार कागज पर श्रद्धा कपूर ने लिखा था ।” में,अनन्या,दिशा हम तीनों तेरे साथ प्यार से से चुदवा चुदवा कर गर्भवती (प्रेगनेंट)हो चुकी हैं । हमारे तीनों के पेट में तेरे तीन बच्चे पल रहे हैं । हम तीनों बहुत बहुत खुश हैं ।” मैं भी खुश हो गया ।

धन्यवाद ।

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..
HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!