अनन्या श्रद्धा दिशा के प्यार के जलवे मज़े-1

Ananya shraddha disha ke pyar ke jalwe maze-1

हेल्लो दोस्तों मेरा नाम हमराज है । उम्र ३७ साल, अहमदाबाद की अप्पर मिडिल क्लास की फैमिली का मर्द हूं । में आपको मजेदार चुदाई की एक सच्ची बात बताता हूं ।
२०२० के जनवरी महीने की लड़के की सर्दी में में नैनीताल पहाड़ों पर घूमने गया था । बर्फ पर सर्क लुढ़क कर बर्फ के गोले मार कर लोग मज़े ले रहे थे । एक सुबह को मैनेमैन वहां बर्फ पर बैठ कर धूप सेंक रहा था । अचानक बर्फ का एक गोला मेरे कंधे पर लगा । मैंने पलट कर देखा तो वहां पर तीन फिल्मी एक्ट्रेस अनन्या देशपांडे, श्रद्धा कपूर और दिशा पत्नी बर्फ के गोले लोगों को मार मार कर खेल रही थी । वोह तीनों बहुत ही खूबसूरत चेहरे वालियां, सेक्सी हॉट चिकने गोरे गोरे भरे हुए जिस्म वालियां, बड़े बड़े सेक्सी हॉट चिकने गोरे गोरे स्तनों चूंचियों वालियां, बड़े बड़े सेक्सी हॉट चिकने गोरे गोरे कुल्हों वालियां, हिंदी फिल्मी हीरोइनें है। मैंने भी उन तीनों को बर्फ के गोले मारे वोह तीनों हंसने लगी । में उनके साथ बर्फ से खेलने लगा और मौका मील जाता तब उनके स्तनों को दबा लेता, जांघों और कुल्हों पर हाथ फेर लेता । वोह तीनों भी खेलते हुए मेरे बड़े मोटे ९” के लंड को उनके हाथ से छू कर दबा लेती । ३० मिनट इस तरह से बर्फ से खेलने के बाद हम तीनों बहुत थक गए । में उन तीनों को हंस कर बोला ” मसाज कर दूं आप तीनों का ?” वोह तीनों हंस कर बोली ” आज जी भर कर तू चोद भी ले हमारे साथ, चल हमारे होटल रूम पर ।” हम चार साथ में बर्फ पर चलतें हुए एक दूसरे के जिस्मों को आपस में प्यार से रगड़ कर चूम चूम कर होटल के बड़े से सुंदर कमरे में पहुंचे ।

अब वोह तीनों मेरे कपड़े उतार कर मुझे नंगा कर रही थी और मुझे चुम्मी करती रही । में भी प्यार से एक के बाद एक तीनों के कपड़े उतारते हुए उनके स्तनों को ज़ोर ज़ोर से दबाता रहा उनको चुम्मी करता रहा । अब वोह तीनों बड़े से पलंग पर सीधी लेट गई अगल बगल । में पहले दिशा पटनी की नंगे बदन पर पूरा चढ़ गया और मेरा पूरा लन्ड धीरे से उसकी चूत में पुरा घुसा दिया और उसके स्तनों को ज़ोर ज़ोर से मुंह में लेकर चूसने काटने लगा और जोर जोर से उसकी चूत में मेरा पूरा लन्ड अन्दर तक घुसा घुसा कर हिला हिला कर चोदने चोदने लगा । दिशा भी मुझे चुम्मी करती रही उसके हाथ पैर मेरे जिस्म पर रगड़ रगड़ कर प्यार से दर्द से तड़प तड़प कर रोती चीखती चिल्लाती “आउच उफ्फ ऑफ ज़ोर से चोद चोद कर खून निकाल आह आउच उफ्फ ऑफ ओह आह आउच मेरी चूत भोसड़ी को पुरी फाड़ डाल आउच ओह आह आह आह उफ्फ उई मर गई मैं मम्मी आज तो गर्भवती कर ही डाल मुझे उफ्फ आउच उफ्फ ओह आह आह आह आउच” करती हुईं उनके कूल्हे और चूत को ऊपर नीचे हिला हिला कर ज़ोर ज़ोर से चूत गर्भ में अंदर तक चुदवाने लगी । में दिशा को चोदते चोदते दिशा की चूत फाड़ फाड़ कर खून निकाला चिकना पानी निकला । अनन्या, श्रद्धा मेरे जिस्म पर दाएं बाएं से लिपट चिपक कर मुझे चूम चूम रही थी ।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  दोस्ती और प्यार के बीच का खूबसूरत अहसास

में अनन्या, श्रद्धा के स्तनों चूंचियों को ज़ोर ज़ोर से दबाता रहा और दिशा को चोदता रहा । ४ घंटे तक चोद चोद कर बीच बीच में ६ बार झड़ कर, मेरा पूरा चिकना वीर्य दिशा की लथपथ चिकनी चूत गर्भाशय में अंदर तक डाल दिया । दिशा मेरा पूरा लन्ड उनके मुंह में लेकर चूसती रही और मेरे जिस्म पर हाथ पैर रगडती रही । अगले ४० मिनट तक में दिशा की चिकनी खून से लथपथ चूत को चाटता रहा और उसके स्तनों को ज़ोर ज़ोर से दबाता रहा । अनन्या,श्रद्धा मेरे जिस्म से उनके पूरे नंगे जिस्म प्यार से रगड़ रगड़ कर मुझे चुम्मी करती रही । फिर दिशा, अनन्या, श्रद्धा तीनों ने मेरे मुंह में पेशाब कर दी तो वो मैं प्यार से पी गया । मैंने बारी बारी से तीनों के मुंह में पेशाब कर दी तो वो तीनो भी पी गई । खाना मंगवा कर हम तीनों एक दूसरे को लिपट चिपक कर जिस्मों को आपस में प्यार से रगड़ रगड़ कर चुम्मी करते हुए खाया । अब श्रद्धा कपूर बोली ।”मुझे को भी चोद डाल अब तू ।”

में तुरंत ही खूबसूरत श्रद्धा कपूर की नंगे बदन पर पूरा चढ़ गया और मेरा पूरा लन्ड धीरे से उसकी चूत में पुरा घुसा दिया और उसके स्तनों को ज़ोर ज़ोर से मुंह में लेकर चूसने काटने लगा और जोर जोर से उसकी चूत में मेरा पूरा लन्ड अन्दर तक घुसा घुसा कर हिला हिला कर चोदने चोदने लगा । श्रद्धा कपूर भी मुझे ज़ोर से चुम्मी करती रही उसके हाथ पैर मेरे जिस्म पर रगड़ रगड़ कर प्यार से दर्द से तड़प तड़प कर रोती चीखती चिल्लाती “आउच उफ्फ ऑफ ज़ोर से चोद चोद कर खून निकाल आह आउच उफ्फ ऑफ ओह आह आउच मेरी चूत भोसड़ी को पुरी फाड़ डाल आउच ओह आह आह आह उफ्फ आउच उई मर गई मैं मम्मी
मम्मी जी उफ्फ ओह माई गॉड उह उह आह आज तो गर्भवती कर ही डाल मुझे उफ्फ आउच उफ्फ ओह आह तेरा बच्चा मेरे गर्भ में अंदर डाल दे आह उफ्फ ओह आह उई आउच ” करती हुईं उनके कूल्हे और चूत को ऊपर नीचे हिला हिला कर ज़ोर ज़ोर से चूत गर्भ में अंदर तक चुदवाने लगी । में श्रध्दा कपूर को ज़ोर ज़ोर से अंदर तक चोदते चोदते श्रध्दा कपूर की चूत फाड़ फाड़ कर उसके खुले हुए गर्भाशय और चूत से खून निकाला चिकना पानी निकाला किया । अनन्या, दिशा मेरे जिस्म पर दाएं बाएं से लिपट चिपक कर
मुझे चूम चूम रही थी । में अनन्या, दिशा के स्तनों चूंचियों को प्यार से ज़ोर ज़ोर से दबाता रहा और श्रध्दा कपूर को ज़ोर से चोदता चोदता रहा ।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  लॉकडाउन में नंगी चुदाई करते हुए पकड़ा गया

४ घंटे तक चोद चोद कर बीच बीच में ६ बार झड़ कर, मेरा पूरा चिकना वीर्य श्रध्दा कपूर की फाड़ी हुई खून से लथपथ चिकनी प्यारी सी चूत खुले हुए गर्भाशय में अंदर तक डाल दिया । श्रध्दा कपूर मेरा पूरा लन्ड उनके मुंह में लेकर चूसती रही और मेरे जिस्म पर हाथ पैर रगडती रही । अगले ४० मिनट तक में श्रध्दा कपूर की चिकनी खून से लथपथ चूत को चाटता रहा और उसके स्तनों को ज़ोर ज़ोर से दबाता रहा । अनन्या,दिशा मेरे जिस्म से उनके पूरे नंगे जिस्म प्यार से रगड़ रगड़ कर मुझे चुम्मी करती रही । फिर दिशा, अनन्या, श्रद्धा तीनों ने मेरे मुंह में पेशाब कर दी तो वो मैं प्यार से पी गया । मैंने बारी बारी से तीनों के मुंह में पेशाब कर दी तो वो तीनो भी पी गई । अब मुझे चूम रही अनन्या देशपांडे बोली ।” चल अब छुड़वाने की मेरी बारी है चढ़ जा मुझ पर ।”

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

में धीरे से अनन्या देशपांडे के सुंदर नंगे बदन पर पूरा चढ़ गया और मेरा पूरा लन्ड धीरे से उसकी चूत में पुरा घुसा दिया और उसके स्तनों चूंचियों को ज़ोर ज़ोर से मुंह में लेकर चूसने काटने लगा और जोर जोर से उसकी प्यारी सी चूत में मेरा पूरा लन्ड अन्दर तक ज़ोर से घुसा घुसा कर ज़ोर से हिला हिला कर और भी हिला हिला कर चोदने चोदने लगा । अनन्या देशपांडे भी मुझे चुम्मी करती रही उसके हाथ पैर मेरे जिस्म पर रगड़ रगड़ कर प्यार से दर्द से तड़प तड़प कर रोती चीखती चिल्लाती “आउच उफ्फ ऑफ ज़ोर से चोद चोद कर खून निकाल आह आउच उफ्फ ऑफ ओह आह आउच मेरी मस्त चूत भोसड़ी को पुरी फाड़ डाल आउच ओह आह आह आह उफ्फ उई आज तो मर गई मैं मम्मी आज तो तू बस अभी चोद चोद कर गर्भवती कर ही डाल मुझे उफ्फ आउच उफ्फ ओह आह आह मेरे पेट में तेरा एक बच्चा डाल ही दे ऑफ ओह आह आउच” करती हुईं उनके कूल्हे और चूत को ऊपर नीचे हिला हिला कर ज़ोर ज़ोर से चूत गर्भ में अंदर तक प्यार से ज़ोर ज़ोर से खुशी से चुदवाती रही । में अनन्या देशपांडे को प्यार से ज़ोर जोर से चोदते चोदते अनन्या की चूत फाड़ फाड़ कर खून निकाला चिकना पानी निकला ।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  आंटी के गांड के छेद को अपने लंड से खोला

दिशा, श्रद्धा मेरे जिस्म पर दाएं बाएं से लिपट चिपक कर मुझे चूम चूम रही थी । में भी ज़ोर से दिशा, श्रद्धा के स्तनों चूंचियों को बहुत ज़ोर ज़ोर से दबाता रहा और अनन्या देशपांडे को बहुत ज़ोर ज़ोर से लंड चूत में अन्दर तक मार मार कर चोदता चोदता रहा । ४ घंटे तक चोद चोद कर बीच बीच में ६ बार झड़ कर, मेरा पूरा चिकना वीर्य दिशा की फाड़ी हुई खून से लथपथ चिकनी चूत गर्भाशय में अंदर तक डाल दिया । अनन्या मेरा पूरा लन्ड उनके मुंह में लेकर चूसती रही और मेरे जिस्म पर हाथ पैर रगडती रही । अगले ४५ मिनट तक में अनन्या की चिकनी खून से लथपथ चूत को चाटता रहा और उसके स्तनों को ज़ोर ज़ोर से दबाता रहा । दिशा,श्रद्धा मेरे जिस्म से उनके पूरे नंगे जिस्म प्यार से रगड़ रगड़ कर मुझे चुम्मी करती रही । फिर दिशा, अनन्या, श्रद्धा तीनों ने मेरे मुंह में पेशाब कर दी तो वो मैं प्यार से पी गया । मैंने बारी बारी से तीनों के मुंह में पेशाब कर दी तो वो तीनो भी प्यार से पी गई ।
रात का खाना मंगवा कर हम चारों ने एक दूसरे को लिपट चिपक कर चुम्मी करते हुए जिस्मों को आपस में प्यार से रगड़ कर खाया । फिर हम चारों उसी बड़े से पलंग पर एक साथ प्यार से लिपट चिपक कर चुम्मी करते हुए सो गए ।

दूसरे दिन सुबह १० बजे हम चारों मोबाइल के अलार्म से जागे । अनन्या, श्रद्धा,दिशा मुझे चूम कर उनकी चूत को मेरे मुंह पर रख कर बारी बारी से मेरे मुंह में उनकी पेशाब कर दी, में सब प्यार से पी गया । मैंने भी उन तीनों को प्यार से मेरी पेशाब उनके खूबसूरत मुंह में बारी बारी से मेरा लन्ड डाल कर पिला दी, प्यार से खुशी से झूम कर वोह तीनों भी पी गई । कमरे में चाय नाश्ता मंगवा कर हम चारों ने एक दूसरे के जिस्मों को आपस में प्यार से रगड़ रगड़ कर चुम्मी करते हुए चाय नाश्ता किया । में उन तीनों के स्तनों चूंचियों को बहुत ज़ोर ज़ोर से दबाता रहा ।वोह तीनों भी मेरे बड़े लंड को उनके हाथों से सहलाती रही ।

HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!