आंटी आंटी ऑनलाइन सेक्स के बाद बिस्तर पर चुदने लगी-3

(Aunty Online Sex Ke Bad Bistar Par Chudne Lagi-3)

सीमा के ऊपर 69 अवस्था में लेट गया। मेरा मुंह सीमा की चूत के ऊपर था और मेरा लंड सीमा के होंठों पर टकरा रहा था। मैंने सीमा की भरी हुई जाघों को खोलकर उसकी चूत फर मुंह रख दिया। सीमा मेरे लंड के टोपे पर जीभ घुमाने लगी और बहुत सेक्सी तरीके से चाटने लगी। मुझ से कंट्रोल नहीं हो रहा था और मैंने लंड नीचे दबा दिया। मेरा लंड सीमा के होंठों से टकराता हुआ उसके मुंह में घुस गया। “Aunty Online Sex Ke”

मैं अपनी जीभ सीमा की चूत में घुसा कर चाटने लगा और खुशबू अपना सिर ऊपर-नीचे कर के मेरे लंड को चूसने लगी। सीमा अपनी गांड चलाने लगी और अपनी चूत मेरे मुंह पर रगड़ने लगी। मैं अपनी गांड ऊपर-नीचे करके सीमा का मुंह चोदने लगा। जब मैं लंड नीचे दबाता तो मेरा लंड सीमा के मुंह से होता हुआ उसके गले में उतर जाता। वो बहुत आसानी से लंड को गले में उतार लेती। मैं सपड़ सपड़ उसकी चूत चाट रहा था और सीमा के मुंह में लंड अंदर-बाहर होने से गप्प गप्प की आवाज़ आ रही थी। हम दोनों सातवें आसमान पर थे। मैंने सीमा को बैॅड पर सीधा लेटे रहने दिया और उसकी गांड के नीचे तकिया लगा दिया। मैंने सीमा की टांगें उठाकर अपने कंधों पर रख लीं और अपना लंड उसकी चूत पर लगा दिया। मैं अपना लंड सीमा की चूत पर रगड़ने लगा और वो मचलने लगी। उसकी चूत पर कुछ देर लंड रगड़ने के बाद सीमा की चूत गीली हो गई और वो लंड अंदर डालने को कहने लगी। मैंने अपने लंड को सीमा की चूत के छेद पर रखकर दबा दिया। मेरे झटके से आधे से ज्यादा लंड सीमा की चूत में चला गया और दूसरे झटके से मेरा लंड फिसलता हुआ जड़ तक अंदर बैठ गया। जैसे ही मेरा लंड सीमा की चूत की गहराई में उतरा उसके मुंह से कामुक आहह निकली और मेरे लंड में एक मिठास सी भर गई।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  सिनेमा हॉल में मिली एक भाभी

मैंने कई औरतो को चोदा था लेकिन उन सबो की चूत में लंड डालने का कभी इतना मजा नहीं आया था जितना सीमा की चूत में डालकर आ रहा था। उसकी चूत एकदम टाईट थी लग नहीं रहा था कि वो इतनी चुदी हुई है। मैंने अपना लंड बाहर खींचा और फिर से अंदर डाल दिया। इस बार उसके मुंह से सेक्सी आवाज़ निकली। मैं जोर जोर से सीमा की चूत चोदने लगा और उसके बड़े-बड़े बूब्ज़ मेरे झटकों के साथ हिलने लगे। सीमा अपने हिलते हुए बूब्ज़ को पकड़ कर दबाने लगी और उसका चेहरा चुदाई के नशे से चहक रहा था। मेरे लंड के अंदर-बाहर होने से सीमा की चूत बिल्कुल गीली हो गई और फच्च फच्च की आवाज़ें आने लगीं। मैंने सीमा को उल्टा लेटा कर उसकी पेट के नीचे तकिया लगा दिया, जिससे उसकी चूत ऊपर उभर आई। मैंने सीमा की टांगें खोलकर उसकी चूत पर लंड लगा दिया और उसके कंधों को कस को पकड़ लिया। मैंने झटका मारकर अपना लंड सीमा की चूत में घुसा दिया और चूत चोदने लगा। चूत में लंड का अंदर-बाहर होना और सीमा के नर्म चूतडो़ं का स्पर्श मुझे अजीब सी मदहोशी दे रहा था। “Aunty Online Sex Ke”

मैं दनादन झटके मारकर मस्ती से चोदने लगा और सीमा भी बड़ी गर्मजोशी से लंड के मजे ले रही थी। मेरे हर झटके से सीमा के मुंह से कामुक आहें निकलती और मेरा जोश और भी बढ़ जाता। जब सीमा मस्ती में चिल्लाती तो मैं जोश में आकर और भी तेज़ी से उसकी चूत चोदता। मैं सीमा को चोदते हुए हांफने लगा तो सीमा ने मुझे नीचे लेटा दिया। वो मेरे ऊपर आ गई और मेरी छाती को जीभ से चाटते हुए मेरे निप्पलों को मुंह में भर कर चूसने लगी। उसने अपनी चूत मेरे लंड पर टिका दी और दोनों हाथ मेरी छाती पर रख दिए। सीमा ने मेरे दोनों हाथ अपने बूब्ज़ पर रखकर अपनी गांड नीचे धकेल दी और मेरा लंड फिर से सीमा की चूत की गहराई की सैर करने लगा। सीमा उछल उछल कर मेरा लंड अपनी चूत के अंदर-बाहर करने लगी और मैं उसके बूब्ज़ मसलने लगा। सीमा बहुत तेज़ी से उछलने लगी और चूत चुदाई का मजा लेने एवं देने लगी। मैं अपने रंग में आ गया और नीचे से सीमा की चूत चोदने लगा। हम दोनों के झटकों से चुदाई की रफ्तार बहुत तेज हो गई। चुदाई की फच्च फच्च की आवाज़ों और हमारी उत्तेजित आवाज़ों से पूरा माहौल चुदाई के रंगों से रंगीन हो गया।

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।
हिंदी सेक्स स्टोरी :  Meri Sex Kahani - Hindi Sex Stories-2

सीमा चूत से लंड निकाले बगैर घूम गई और मेरे पैरों की तरफ अपना मुंह कर लिया। वो मेरी टांगों को पकड़ कर अपनी गांड उछालने लग गई और मैं नीचे से उसकी चूत चोदते हुए सीमा के चूतडो़ं को थपथपाकर चूतडो़ं की नर्मी का अहसास लेने लगा। मैंने सीमा को बैॅड से नीचे उतारा और बैॅड के सहारे झुका कर खड़ी कर दिया। मैंने पीछे से उसकी कमर को पकड़ कर अपना लंड उसकी चूत पर टिका दिया। इससे पहले मैं अपना लंड सीमा की चूत में डालता, सीमा ने बहुत तेज़ी से अपनी गांड को पीछे धकेल दिया और मेरा लंड फचाक की आवाज़ से चूत में उतर गया। मैं सीमा की चूत पीछे से चोदने लगा और सीमा अपनी गांड को आगे पीछे कर के लंड अपनी चूत के अंदर-बाहर करने लगी। “Aunty Online Sex Ke”

मैने सीमा के रेशमी बाल पकड़ लिए और बहुत तेज़ी से उसकी चूत चोदने लगा। कुछ देर बाद सीमा बदन अकड़ने लगा और वो ठंडी आंहें भरती हुई झड़ गई। मैं भी चर्म पर पहुंच चुका था और अपना लंड सीमा की चूत से निकाल लिया। मैंने अपना वीर्य सीमा की गांड पर गिरा दिया जो नीचे जाता हुआ उसकी जांघों पर फैल गया। मैंने उसके नाईटी से बदन से वीर्य साफ किया और हम नंगे ही लेट गए। वो खुशी में दिवानों की तरह मुझे चूमने लगी और मुझको कही कि मेरा पति कभी भी मुझको संतुष्ट नहीं कर पाया। मैं भटकती रही। सुमित आज से तुम मेरे पति हो। हम परिवार है। अब तुम ही मुझे चोदोगे। ये बुर किसी को नही दूंगी। अब ये तेरा है।कोई जुगाड़ बैठाव की तुम मुझे डेली चोद सको।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  दीदी की जवानी को मामा ने लूटा

मैने कहा जरूर करूंगा। अभी एक बार और मजा लेने दो। फिर उससे मजे करने के बाद में शाम 4 बजे ही उसके घर से बाहर आ गया, ताकि किसी को पता नहीं चले। दोस्तों ये मेरे लिए ना भूलने वाला सेक्स था, जो मैंने आपके साथ शेयर किया। अब में अक़्सर सीमा के अकेले होने पर उनको खुश करता था। अगली कहानी में बताऊंगा की कैसे मैने ऊसके सहेली निरंजना को सेट करके चोदा. “Aunty Online Sex Ke”

HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!