बाबा ने कुंवारी लड़की के साथ सेक्स वाली पूजा की-3

Baba Ne Kunwari Ladki Ke Sath Sex Wali Puja Ki-3

फिर पांच मिनट ऐसा ही चलता रहा और तब जाकर प्रिया का दर्द कम हो गया और उसने अब नीचे से झटके देना शुरू कर दिया। कुछ देर बाद बाबा ने उसको अपने धक्को की स्पीड को बढ़ाकर अब चोदना शुरू किया और वो चुदाई का खेल करीब बीस मिनट तक वैसे ही लगातार चलता रहा। दोस्तों प्रिया उस बीच दो बार झड़ चुकी थी और अब बाबा भी झड़ने वाला था इसलिए उसने अपने लंड को प्रिया की फटी हुई चूत से बाहर निकालकर लंड तुरंत प्रिया के मुहं में दे दिया और वो हल्के हल्के धक्के देने लगा और प्रिया ने लंड का पूरा वीर्य बहुत ही प्यार से गटक लिया, जिसके बाद प्रिया के चेहरे पर एक संतुष्टि की ख़ुशी वो चमक साफ साफ झलक रही थी, जिसको देखकर पता चला कि आज पहली चुदाई ने उसको असली चुदाई का मस्त मज़ा दिया है।                                   “Kunwari Ladki Ke Sath Sex Wali Puja”

फिर उसके बाद वो अपने घर चली गई और उसने जाकर दरवाजे पर लगी घंटी को बजाया। उसकी आवाज सुनकर आंटी ने आकर दरवाजा खोल दिया और वो अंदर आ गई और अब जमकर चुदाई होने की वजह से प्रिया की चाल एकदम बदल चुकी थी, जिसकी वजह से आंटी को पहली बार देखकर ही उसके ऊपर कुछ शक हो गया, लेकिन आंटी ने उससे तब कुछ भी नहीं कहा और वो वापस रसोई में आकर अपना काम करने लगी। फिर रात में आंटी के पति दारू पीकर आया, उसने कुछ ज्यादा ही पी रखी थी।              “Kunwari Ladki Ke Sath Sex Wali Puja”

वैसे कभी कभी अंकल के कुछ दोस्त अंकल को दारू पिला देते है वरना वो कभी दारू नहीं पीते। फिर उस रात को आंटी और अंकल खाना खाकर तुरंत ही अपने बेडरूम में चले गये और फिर अंकल ज़ोर से ऊँची आवाज में चिल्लाने लगे, वो आंटी से कह रहे थे कि आज मुझे तुम्हारी गांड मारनी है और उनके इस तरह ज़ोर से चिल्लाने की आवाज़ सुनकर प्रिया तुरंत ही पीछे की खिड़की पर आकर उनके रूम में देखने लगी और अंकल ज़ोर से चिल्ला रहे थे, चल अब तू अपने कपड़े उतार दे मुझे आज तेरी यह गांड मारनी है।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  नताशा के मस्त चूंचे – अरहर के खेत में चुदाई

फिर आंटी ने उनसे कहा कि लंड तो तेरा ठीक तरह से खड़ा होता नहीं है और तू मेरी गांड मारने चला है, पहले मेरी चूत तो ठीक तरह से मार ले उसको तो तू ठीक से चोद नहीं पाता तो गांड क्या खाक मारेगा? अब अंकल ने मुस्कुराते हुए कहा कि मेरी रानी तुम इसकी बिल्कुल भी चिंता मत करो, में आज बहुत से अच्छे मन लगाकर करूंगा और इतना मस्त मज़ा दूंगा जिसको तुम पूरा जीवन याद करोगी, आज में चुदाई के पूरे मुड में हूँ और फिर अंकल ने इतना कहते हुए आंटी की साड़ी को पकड़कर खींचने लगे और उनको अपनी बाहों में लेकर उनके होंठो से अपने होंठ लगाकर किस किया और साथ में बूब्स भी दबाने लगे।                     “Kunwari Ladki Ke Sath Sex Wali Puja”

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

उनके यह सब करने से धीरे धीरे आंटी की उत्तेजना बढ़ती ही जा रही और बाहर प्रिया खिड़की के पास खड़ी होकर यह सब देखकर जोश में आकर अपने बूब्स को दबा रही थी और वो अपनी चूत में उंगली भी कर रही थी। उसकी आखें जोश से भरकर एकदम लाल हो गई थी। अब कमरे के अंदर अंकल, आंटी की चूत चाट रहे थे और आंटी उनका लंड चूस रही थी कि तभी अंकल ने जोश में आकर अचानक से आंटी के बाल पकड़कर उनको उल्टा पटक दिया और वो अब उसकी गांड को अपनी जीभ से चाटने लगे और कुछ देर बाद वो अपना तनकर खड़ा पांच इंच का लंड आंटी की गांड में डालने लगे थे। अब आंटी लंड के अंदर जाने की वजह से हुए उस दर्द से चीख रही थी और कह रही थी हाँ फाड़ दो तुम आज मेरी इस गांड को आह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ हाँ थोड़ा ज़ोर से धक्के दो।                        “Kunwari Ladki Ke Sath Sex Wali Puja”

हिंदी सेक्स स्टोरी :  सगी बहन को चुदाई का मीठा दर्द दिया-1

दोस्तों अंकल जोश में आकर आंटी के दोनों कूल्हों को पकड़कर तेज धक्के देने लगे, लेकिन वो दो मिनट में ही झड़ गए और ज्यादा देर रुकना अंकल के बस में नहीं था इसलिए अंकल के लंड से निकला वीर्य आंटी की गांड में ही निकल गया और वो झड़कर बिल्कुल शांत हो गये। अब आंटी उनको बेहिसाब गालियाँ देने लगी। दोस्तों प्रिया तुरंत ठीक तरह से समझ चुकी थी कि उसकी दीदी अब तक माँ क्यों नहीं बनी और यह सभी बातें मन ही मन सोचकर उसकी चुदाई का खेल देखकर प्रिया अब अपने कमरे में आकर सो गई और फिर आंटी ने अंकल के थककर सो जाने के बाद अपनी प्यास को मोमबत्ती अपनी चूत में डालकर उससे बुझाकर वो भी थक हारकर सो गई। फिर दूसरे दिन सुबह प्रिया फ्रेश होकर अपने सभी काम खत्म करके अपनी फ्रोक पहनकर बाबा के पास पूजा करने के लिए अपने घर से निकल गई वो बड़ी खुश थी और जैसे ही वो बाबा के पास पहुंची, तब बाबा ने उससे पूछा क्यों प्रिया तुम्हे अब कैसा लग रहा है? तो प्रिया ने मुस्कुराते हुए कहा कि बाबा आपकी इस पूजा ने तो मुझे धन्य ही कर दिया बाबा, लेकिन अब भी मुझे कुछ अधूरा अधूरा महसूस हो रहा है।       “Kunwari Ladki Ke Sath Sex Wali Puja”

फिर बाबा ने कहा कि हाँ ठीक है में तुम्हारे कहने के मतलब ठीक तरह से समझ चुका हूँ। चलो आज में तुम्हे पूरा कर देता हूँ, यह लो अमृत रस पी लो बेटी और फिर प्रिया ने तुरंत ही वो पानी पी लिया। अब बाबा ने भी बिना देर किए अपनी धोती को उतार दिया और उसके बाद अपने लटके हुए लंड पर बाबा ने बहुत सारा शहद डाला और फिर कहा कि लो बेटी अब तुम सबसे पहले इसकी सेवा करो जिसके बाद यह खड़ा होकर तुम्हारे मन की हर एक इच्छा को पूरा करेगा, लेकिन तुम्हे यह काम पूरा मन लगाकर करना होगा, तब जाकर तुम्हे मन की शांति मिलेगी। अब प्रिया ने बिना देर किए तुरंत ही अपने मुहं में बाबा के लंड को ले लिया और वो बड़ी मेहनत से चूसने लगी। उसको कुछ देर में बहुत अच्छा महसूस हो रहा था और उसकी मेहनत रंग लाई जिसकी वजह से बाबा का लंड अब तनकर खड़ा हो गया और प्रिया उसको बहुत प्यार से चूस रही थी और बाबा उसके बूब्स को ज़ोर ज़ोर से दबा रहा था।                                             “Kunwari Ladki Ke Sath Sex Wali Puja”

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..
HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!