बेटी की बुर ने सेक्स का दुःख दूर किया-3

(Beti Ki Bur Ne Sex Ka Dukh Dur Kiya-3)

अब मैं उसके बूब्ज़ चूसने और दबाने लगा। उसके बूब्ज़ मुझे बहुत सेक्सी लग रहे थे। ऐसा लग रहा था जैसे मैं जन्नत की हूर का मजा ले रहा हूं। मैं अल्लाह का शुक्रिया कर रहा था जिसने मुझे ऐसी खूबसूरत, सेक्सी और गर्म बेटी दी और अपनी किस्मत पर नाज हो रहा था कि मैं अपनी जवान बेटी के नंगे बदन का मजा लूट रहा हूं। मैं खुशबू के बूब्ज़ को जोर जोर से चूसने लगा और खुशबू मेरे सिर को अपने बूब्ज़ पर दबाने लगी। मैंने खुशबू के निप्पलों को चूसते हुए अपनी एक उंगली खुशबू की चूत में घुसा दी।                      “बेटी की बुर ने सेक्स”

खुशबू मस्ती से चहक उठी और वो मेरे सिर को अपने बूब्ज़ पर दबाते हुए अपनी गांड उठा उठाकर उंगली चूत में लेने लगी। मैं खुशबू की चूत में उंगली हिलाते हुए उसके बूब्ज़ व निप्पलों को दांतों से काटने लगा। मेरे चूसने और काटने से खुशबू के बूब्ज़ पर लाल निशान बन गए लेकिन उसको बहुत मजा आ रहा था।

मैं खुशबू के ऊपर 69 अवस्था में लेट गया। मेरा मुंह खुशबू की चूत के ऊपर था और मेरा लंड खुशबू के होंठों पर टकरा रहा था। मैंने खुशबू की भरी हुई जाघों को खोलकर उसकी चूत फर मुंह रख दिया। खुशबू मेरे लंड के टोपे पर जीभ घुमाने लगी और बहुत सेक्सी तरीके से चाटने लगी। मुझ से कंट्रोल नहीं हो रहा था और मैंने लंड नीचे दबा दिया। मेरा लंड खुशबू के होंठों से टकराता हुआ उसके मुंह में घुस गया। मैं अपनी जीभ खुशबू की चूत में घुसा कर चाटने लगा और खुशबू अपना सिर ऊपर-नीचे कर के मेरे लंड को चूसने लगी।

खुशबू अपनी गांड चलाने लगी और अपनी चूत मेरे मुंह पर रगड़ने लगी। मैं अपनी गांड ऊपर-नीचे करके खुशबू का मुंह चोदने लगा। जब मैं लंड नीचे दबाता तो मेरा लंड खुशबू के मुंह से होता हुआ उसके गले में उतर जाता। वो बहुत आसानी से लंड को गले में उतार लेती। मैं सपड़ सपड़ उसकी चूत चाट रहा था और खुशबू के मुंह में लंड अंदर-बाहर होने से गप्प गप्प की आवाज़ आ रही थी। हम दोनों सातवें आसमान पर थे।                                          “बेटी की बुर ने सेक्स”

हिंदी सेक्स स्टोरी :  Sagi Beti Muskan or uski saheli Ki Chudai-4

मैंने खुशबू को बैॅड पर सीधा लेटे रहने दिया और उसकी गांड के नीचे तकिया लगा दिया। मैंने खुशबू की टांगें उठाकर अपने कंधों पर रख लीं और अपना लंड उसकी चूत पर लगा दिया। मैं अपना लंड खुशबू की चूत पर रगड़ने लगा और वो मचलने लगी। उसकी चूत पर कुछ देर लंड रगड़ने के बाद खुशबू की चूत गीली हो गई और वो लंड अंदर डालने को कहने लगी। मैंने अपने लंड को खुशबू की चूत के छेद पर रखकर दबा दिया।  यह कहानी आप HotSexStory.xyz पर पढ़ रहे है..

मेरे झटके से आधे से ज्यादा लंड खुशबू की चूत में चला गया और दूसरे झटके से मेरा लंड फिसलता हुआ जड़ तक अंदर बैठ गया। जैसे ही मेरा लंड खुशबू कई चूत की गहराई में उतरा उसके मुंह से कामुक आहह निकली और मेरे लंड में एक मिठास सी भर गई। मुझे बहुत सालों बाद चूत नसीब हुई थी और मुझ पर अजीब सा नशा छा रहा था। मैंने अपनी बीवी को बहुत चोदा था लेकिन उसकी चूत में लंड डालने का कभी इतना मजा नहीं आया था जितना खुशबू की चूत में डालकर आ रहा था।                                  “बेटी की बुर ने सेक्स”

उसकी चूत एकदम टाईट थी लग नहीं रहा था कि वो इतनी चुदी हुई है। मैंने अपना लंड बाहर खींचा और फिर से अंदर डाल दिया। इस बार उसके मुंह से सेक्सी आवाज़ निकली। मैं जोर जोर से खुशबू की चूत चोदने लगा और उसके बड़े-बड़े बूब्ज़ मेरे झटकों के साथ हिलने लगे। खुशबू अपने हिलते हुए बूब्ज़ को पकड़ कर दबाने लगी और उसका चेहरा चुदाई के नशे से चहक रहा था। मेरे लंड के अंदर-बाहर होने से खुशबू की चूत बिल्कुल गीली हो गई और फच्च फच्च की आवाज़ें आने लगीं। हम दोनों अपने रिश्ते से बेखबर हो कर चुदाई का आनंद ले रहे थे।

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।
हिंदी सेक्स स्टोरी :  मम्मी चली गई काम से बाहर, तो पापा ने चोद दिया बेटी को

मैंने खुशबू को उल्टा लेटा कर उसकी पेट के नीचे तकिया लगा दिया, जिससे उसकी चूत ऊपर उभर आई। मैंने खुशबू की टांगें खोलकर उसकी चूत पर लंड लगा दिया और उसके कंधों को कस को पकड़ लिया। मैंने झटका मारकर अपना लंड खुशबू की चूत में घुसा दिया और चूत चोदने लगा। चूत में लंड का अंदर-बाहर होना और खुशबू के नर्म चूतडो़ं का स्पर्श मुझे अजीब सी मदहोशी दे रहा था। मैं दनादन झटके मारकर अपनी सगी बेटी को मस्ती से चोदने लगा और खुशबू भी बड़ी गर्मजोशी से अपने सगे बाप का लंड ले रही थी। मेरे हर झटके से खुशबू के मुंह से कामुक आहें निकलती और मेरा जोश और भी बढ़ जाता। जब खुशबू मस्ती में चिल्लाती तो मैं जोश में आकर और भी तेज़ी से उसकी चूत चोदता।                                                “बेटी की बुर ने सेक्स”

मैं खुशबू को चोदते हुए हांफने लगा तो खुशबू ने मुझे नीचे लेटा दिया। वो मेरे ऊपर आ गई और मेरी छाती को जीभ से चाटते हुए मेरे निप्पलों को मुंह में भर कर चूसने लगी। उसने अपनी चूत मेरे लंड पर टिका दी और दोनों हाथ मेरी छाती पर रख दिए। खुशबू ने मेरे दोनों हाथ अपने बूब्ज़ पर रखकर अपनी गांड नीचे धकेल दी और मेरा लंड फिर से खुशबू की चूत की गहराई की सैर करने लगा। खुशबू उछल उछल कर मेरा लंड अपनी चूत के अंदर-बाहर करने लगी और मैं उसके बूब्ज़ मसलने लगा।

खुशबू बहुत तेज़ी से उछलने लगी और चूत चुदाई का मजा लेने एवं देने लगी। मैं अपने रंग में आ गया और नीचे से खुशबू की चूत चोदने लगा। हम दोनों के झटकों से चुदाई की रफ्तार बहुत तेज हो गई। चुदाई की फच्च फच्च की आवाज़ों और हमारी उत्तेजित आवाज़ों से पूरा माहौल चुदाई के रंगों से रंगीन हो गया। खुशबू चूत से लंड निकाले बगैर घूम गई और मेरे पैरों की तरफ अपना मुंह कर लिया। वो मेरी टांगों को पकड़ कर अपनी गांड उछालने लग गई और मैं नीचे से उसकी चूत चोदते हुए खुशबू के चूतडो़ं को थपथपाकर चूतडो़ं की नर्मी का अहसास लेने लगा।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  Meri Chudakkad Beti Ko Chudte Hue Dekha Maine-2

मैंने खुशबू को बैॅड से नीचे उतारा और बैॅड के सहारे झुका कर खड़ी कर दिया। मैंने पीछे से उसकी कमर को पकड़ कर अपना लंड उसकी चूत पर टिका दिया। इससे पहले मैं अपना लंड खुशबू की चूत में डालता, खुशबू ने बहुत तेज़ी से अपनी गांड को पीछे धकेल दिया और मेरा लंड फचाक की आवाज़ से चूत में उतर गया। मैं खुशबू की चूत पीछे से चोदने लगा और खुशबू अपनी गांड को आगे पीछे कर के लंड अपनी चूत के अंदर-बाहर करने लगी।                                       “बेटी की बुर ने सेक्स”

मैंने खुशबू के रेशमी बाल पकड़ लिए और बहुत तेज़ी से उसकी चूत चोदने लगा। कुछ देर बाद खुशबू का बदन अकड़ने लगा और वो ठंडी आंहें भरती हुई झड़ गई। मैं भी चर्म पर पहुंच चुका था और अपना लंड खुशबू की चूत से निकाल लिया। मैंने अपना वीर्य खुशबू की गांड पर गिरा दिया जो नीचे जाता हुआ खुशबू की जांघों पर फैल गया। मैंने टॉवेल से खुशबू के बदन से वीर्य साफ किया और हम नंगे ही लेट गए।

मुझे आज पहली बार चुदाई का असली सुख मिला क्योंकि मेरी बीवी ने कभी मेरा लंड नहीं चूसा था और न ही कभी अपनी चूत चाटने दी थी। वो सिर्फ नीचे लेट कर ही चुदाई करवाती थी और कोई अवस्था पसंद नहीं थी। इसके बाद मैं और खुशबू रोज चुदाई करते हैं और मैंने उसकी चूत के साथ साथ उसकी गांड का सुख भी लेता हूं। खुशबू भी बहुत उत्तेजित होकर मुझ से चूत और गांड चुदाई करवाती है।              “बेटी की बुर ने सेक्स”

HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!