भाभी के साथ रासलीला-2

Bhabhi ke Sath Raslila-2

भाभी ने अपना ब्लाउज खोल काली ब्रा ऊपर खिसक दी- ले मेरे बदमाश राजा, देख ले!
‘हाय क्या सुन्दर गोरी चिकनी है!’ मैंने अपनी बांह उसकी नंगी कमर में लपेट ली और उसकी खड़े बड़े-बड़े निप्पल को उंगली में दबा कर गोल गोल घुमाने लगा और उसको होठों को चूस रहा था।

‘ओह… सच में.. तुझे पसंद है… यह प्यार का खेल? मैंने अपनी कल्पना में चूत में उंगली करने के समय बहुत बार सोचा है तेरे बारे में राजा!’ ‘उफ़ तूने तो सच में राजा जादू कर डाला है। आज तो मैंने सोच रखा था कि तुझे पटा कर ही रहूँगी, इसीलिए तो आज मैंने साड़ी पहनी थी।’
भाभी शरारत से मुस्कराते हुए मुझे चूम रही थी और मस्ती में फुसफुसा रही थी- सी… अह्ह्ह… यस… राजा… यस चूस ले दबा ले मसल दे।
भाभी ने मेरा पजामा नीचे खिसका दिया और बड़ा खड़ा गोरा-गोरा लंड बाहर निकाल लिया।

‘हाय राम, क्या सुन्दर चिकना चिकना लंड है.. अब समझ में आया कि रीना क्यों इतना खुश रहती है। पर राजा, वो तो इतनी छोटी पतली दुबली है.. वो इतना मोटा तगड़ा घोड़े जैसा कैसे ले लेती है?’
‘अरे भाभी, जब मजा आता है तो घोड़े का क्या, गधे का भी घुस जाता है। पर आप तो बहुत चालू हैं, मेरे नाम से अपनी चूत में उंगली करके मजा लेती हैं। अगर आपने मुझे बताया होता तो मैं यह सब पहले कर देता भाभी। सच तो यह है कि मैं जब मैं रीना से फोन पर बात करता हूँ और हम दोनों सड़का मारते हैं, तो मैं भी आपके बारे में ही सोचता हूँ.. कि आप मेरा लंड चूस रही हैं.. और खूब मजा आता है..; मैंने उनकी चूची मसल डाली।

पायल भाभी उछल पड़ी- हाय… मर गई साले, मसल डाला… उफ़ जालिम, ऐसे तो अपनी चूत का पानी निकल जाएगा राजा! इसीलिए तो हम दोनों अच्छे दोस्त हैं.. क्योंकि हम दोनों की पसन्द एक सी है, दोनों को सेक्स बहुत पसंद है और एक दूसरे के साथ प्यार की बातों में प्यार करने में मजा आता है।
भाभी ने मेरा हाथ अपनी चूची से हटा कर ऊपर से अपनी साड़ी में घुसा दिया- देख राजा, तूने मेरी चूत का क्या हाल कर डाला। मेरी चूत बहुत गर्म और गीली हो रही है, किसी समय फट जाएगी और यह सब तेरे मस्ती से दबाने से हुआ है। उफ़… सच… में मोहित अब तो तुझे चूसने चाटने का मन हो रहा है।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  शालिनी भाभी की प्यासी चूत 2

मैंने साड़ी में घुसे हाथ की उंगली से उसकी गर्म गीली चूत का बड़ा सा खड़ा दाना रगड़ दिया- हाय भाभी, तेरी चूत तो बहुत मस्त गीली और गर्म हो रही है, इसको चूसने का मन कर रहा है। चल मेरे बैडरूम में चलते हैं और एक दूसरे की चुसाई का आनन्द लेते हैं।
मैं उठ कर खड़ा हो गया और हाथ पकड़ कर भाभी को भी खड़ा कर दिया।
‘हाय साले बदमाश… यह क्या… चूत रगड़ से इतना मजा आ रहा था!’ भाभी ने मुझे अपनी बाहों में ले शरारत से चूमते हुए कहा।
उसका पल्लू जमीन पर लटक रहा था, ब्लाउज खुला था, ब्रा ऊपर खिसकी थी, चूची नंगी थी, उसके हाथ में मेरा नंगा खड़ा लंड था। हम दोनों प्यार में पागल एक दूसरे को चूमते हुए बैडरूम में आ गए।

पायल भाभी ने पजामा और नीचे खिसका दिया, मैंने उसे निकाल दिया और भाभी की ब्रा खोल कर ब्लाउज के साथ निकाल दी और उन्हें अपनी बाहों में भींच लिया, उनकी गोल चिकनी चूची मेरे नंगे सीने में दब गई।
भाभी मेरा मस्त मोटा तगड़ा खड़ा लंड पकड़ कर अपनी नाभि और पेट पर छू रही थी, मुझे सीने पर कंधों पर गर्दन पर चाट रही थी, पंजों पर उचक कर लंड को पेटिकोट के ऊपर से अपनी चूत से रगड़ने की कोशिश कर रही थी और मस्ती और चुदास से भरी फुसफुसा रही थी- ई…ई… ई… सी… ही… मोहित अपनी चूत बहुत मस्त हो गई राजा..
अब भाभी बहुत उत्तजित और चुदासी हो रही थी।

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।
हिंदी सेक्स स्टोरी :  दोस्त ने बीबी को जमकर चोदा-4

‘क्या भाभी, तेरा माल तो बहुत मस्त है.. अब ठीक से देखने दो ना!’ मैंने उनकी साड़ी खींच कर निकाल दी और पेटीकोट का नाड़ा खींच दिया।
वो मस्ती में चहक उठी- हाय राम.. साल बदमाश… एकदम नंगी कर डालेगा.. उफ़…’ भाभी फुसफुसाई और खुद अपना पेटीकोट पेंटी के साथ निकाल दिया।
अब हम दोनों पूरी तरह नंगे एक दूसरे की बाहों में चिपक कर चूम रहे थे, दबा रहे थे, चाट रहे थे।
‘उफ़ मोहित तेरे बदन की गर्मी से… इस मस्त लंड की रगड़ा से.. और तेरे प्यार की मस्ती से अपनी चूत तो पानी छोड़ने वाली है।’

भाभी ने मेरे खड़े लंड का मोटा टोपा अपनी गोरी चिकनी मोटे होंठ वाली गीली चूत के दाने से रगड़ कर मस्ती में सिसकार उठी- उह्ह्ह… सी… अह्ह्ह ईईए… एई!
‘यह क्या भाभी..ऐसे ही.. अपनी चूत को लंड से रगड़ कर ही अपनी चूत का पानी निकाल दोगी?’ मैं उनके रेशमी चूतड़ दोनों हाथ से पकड़ कर दबते हुए उनकी चूची चूसने लगा।
‘हाय भाभी, चूत को ठीक से खोल कर टोपा अंदर कर ले ना!’
भाभी- हाय राम… सी… ई…ई… कैसे खोल डाली जालिम राजा… उफ़ साली बहुत गर्म हो रही है… सी… ई… ई… उह्ह्ह… क्या मस्त मोटा गर्म लंड है।

भाभी ने अपनी एक टांग उठा कर बिस्तर पर रख ली, चूत पूरी तरह खुल गई और बड़ा मोटा कड़क टोपा रगड़ कर गीला करके थोड़ा सा अंदर घुसा कर अपने मस्त चूतड़ों को हिला कर टॉप चुदाई का मजा लेने लगी- अह्ह्ह… हां… सीई..
भाभी ने अपने चूतड़ों को झटका मारा- हां… हां… राजा… हां… राजा… मार डाला, क्या मस्त चुदाई है।
उनका बदन अकड़ने लगा, उन्होंने झट से अपनी टांग नीचे करके चूत को अंदर घुसे लंड के ऊपर भींच लिया और चिल्ला पड़ी- मोहित राजा… गई… गई!
और चूतड़ों को झटकते हुए भाभी ने पानी छोड़ दिया। उनका सर मेरे कंधे पर टिका था, बाहें मेरी कमर में लपेट कर कस कर पकड़ रखा था और सांसें तेज़ चल रही थी।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  मम्मी को मिला दो लोड़ो का मजा-3

‘मोहित, क्या मस्त लंड है यार… हिट एंड रन की तरह… बस मेरे अंदर हिट किया और मेरा निकाल डाला। पर तूने तो अभी तक रोक रखा है और खूब कड़क हो रहा है और मुझे जोरदार चोट की अभी जरूरत है तो ठोक दे राजा!’
भाभी मेरे सीने पर चाट रही थी और मैं उनके चूतड़ों को दबाते हुए उनकी गर्दन और कंधों पर चूम रहा था, उनकी चूचियाँ मेरे सीने में दबी हुई थी।
‘क्या बात है भाभी… बहुत चुदास चढ़ी है.. अभी अभी तो चूत पानी निकाल कर फिर से चुदाई करने को बोल रही है?’
‘क्या करूँ राजा.. आज जवानी का पहला ऐसा मस्त मजा मिला है कि बस मन कर रहा है चुदवाती ही रहूँ!’ भाभी मस्ती और शरारत से मुस्कराते हुए बिस्तर पर मुझे साथ लेकर गिर पड़ी और हंस रही थी।

‘चल राजा आज तो असली चुदाई का मजा दे दे और घुसा दे अपना मस्त लंड इस चुदासी चूत में!’
सच में भाभी.. तेरी यह मस्ती तो अपने लंड को इतना मस्त रखती है। ..देख अब मैं तुझे इस चुदाई का कैसा मजा देता हूँ।
मैंने एक तकिया उठा कर भाभी के रेशमी दूधिया सफ़ेद चूतड़ों के नीचे रख कर जांघों को दूर तक खोल दिया और उनके बीच में ऊपर लेट कर खड़े गर्म लंड को उसकी झड़ी हुई चूत पर घिसने लगा।

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..
HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!