भाभी को बनाया अपनी बीवी

(Bhabhi ko banaya apni biwi)

हेल्लो दोस्तो सभी को मेरा नमस्कार,कैसे है आप सब?
मेरा नाम शंकर(22) है और मैं झारखण्ड का रहने वाला हूं मुझे चोदने में बहुत मजा आता है।मैं चुदाई किए बिना नहीं रह सकता हूं।
सबसे पहले मैं अपनी भाभी का figure बता देता हूं 32-28-30 है और उनका नाम उषा(पिंकी) है।उनकी दो बेटियां और एक लड़का है बड़ी बेटी का नाम संध्या(15) और छोटी बेटी(12) का नाम शिवानी है और बेटा का नाम प्रियांशु(9) है।

मेरी भाभी इतनी सेक्सी है कि मैं बयां नहीं कर सकता हूं शब्दों में। बड़ी-बड़ी गांड़ चूची तना हुआ एक दम ऐश्वर्या राय के जैसा एक बार देख लो तो मुठ मारे बिना नहीं रह सकते हो।
कॉलोनी के सभी लोग चोदना चाहते है मेरी भाभी को लेकिन क्या पता कब क्या होगा।
एक बार की बात है मेरे भैया का शादी तय हो गया तो इसी अवसर पर मैं चचेरी भाभी को invite करने गया था ।
रात भर रुका भाभी साड़ी में क़यामत लग रही थी भैया भी घर में ही थे।invite करके अगले सुबह में घर आ गया मेरे भैया का शादी खत्म होने के बाद चचेरी भाभी अपने घर चली गई।
एक महीने बाद भाभी का कॉल आया हाल समाचार पूछने लगे तो मैं भी बता दिया सब अच्छा ही है।
मैंने हिम्मत करके बोल दिया आप बहुत अच्छे है सेक्सी है,भाभी गुस्सा हो गई और बोली मैं तुम्हारी भाभी हूं लालू(शंकर) ऐसा नहीं बोलते।

गर्मी के दिन भाभी के यहां चला गया बच्चे सब का गर्मी छुट्टी हो चुकी थी में बच्चे को पढ़ाने लगा।
भाभी भी मुझसे घुल मिल गई।अगले दिन मैंने भाभी को चोदने का प्लान बनाया,भैया मार्केट गए हुए थे दोपहर का समय था बच्चे सब सोए हुए थे।भाभी मेरे पास आकर बैठ गई मैंने भाभी के जांघ पर हाथ रखा भाभी मोबाइल चाला रही थी तो उसे पता नहीं चला धीरे से मैंने भाभी के गर्दन पर किस कर लिया,अचानक भाभी उठकर चली गई,
उस दिन काम नहीं बना।

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।
हिंदी सेक्स स्टोरी :  रेखा- अतुल का माल-2

अगले दिन तो मुझे किसी भी हालत में भाभी को चोदना ही था,दोपहर का वक़्त था भाभी से बात करते करते भाभी को किस किया और पकड़ के दूसरे रूम में ले गया और पलंग पर पटक दिया और मैं उनके ऊपर आ गया और चूची को दबाने लगा भाभी रोकने लगी लेकिन मैं नहीं रुका और चूचियों को लगातार दबाता रहा उसके बाद सारा कपड़ा उतार दिया मैंने भाभी गर्म हो चुकी थी,भाभी भी बोलने लगी कि अब जल्दी डालो अपना लन्ड और मत तड़पाओ मैंने अपना लन्ड निकाला और भाभी के chut पर सेट कर दिया और जोर का झटके साथ पूरा का पूरा लन्ड अंदर चला गया भाभी चिल्ला उठी फट गया मेरा चुत और आंखो से आंसू आने लगे लेकिन मै लगातार आधे घण्टे तक चोदता रहा और सारा वीर्य भाभी के chut में छोड़ दिया भाभी प्यार से गले लगी और प्यारा सा किस होठ पर दी बहुत मजा आ गया।
अब भाभी हमेशा मुझसे ही चुदती है, भाभी अब भैया को छूने भी नहीं देती है।

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..
HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!