भाभी को दो बच्चों की माँ बनाया-3

Bhabhi ko do bacho ki maa banaya-3

रवीना : हाँ और बोल क्या मतलब था तेरा, जल्दी बोल?

में : ( अब मुझे भी थोड़ा सा गुस्सा आ गया और में थोड़ा ज़ोर से बोला) हाँ में जरुर चूसूंगा, अगर आप मुझे चूसने दो तो.

फिर उसने मेरे बालो को खींचकर मेरे मुहं को अपने दोनों बूब्स के बीच में रख दिया और बोली कि यह ले चूस इनको, ओह भगवान मुझे बिल्कुल भी विश्वास नहीं हो रहा था कि यह सब क्या हो रहा है?

और फिर मैंने अपने दोनों हाथों से उसके बूब्स को पकड़ लिया और ज़ोर ज़ोर से दबाने लगा और झट से एक बूब्स को उसके सूट से बाहर निकालकर चूसने लगा और दूसरे को दबाने लगा, वाह कितने मुलायम बूब्स थे दोस्तों और 36 साईज़ के मस्त बूब्स, मेरे लंड से वीर्य निकलने लगा और तभी अचानक उसने अपना सूट उतार दिया और फिर मेरे सर को पकड़कर अपने बूब्स पर लगा दिया और में अब तो पागल कुत्ते की तरह उसके बूब्स को चूसने लगा और ज़ोर ज़ोर से उसके निप्पल को अपने दातों से पकड़ पकड़कर खींचने लगा, जिसकी वजह से अब उसकी सिसकियाँ निकलने लगी और वो मुझसे बोली हाँ थोड़ा और ज़ोर ज़ोर से दबा उह्ह्ह्ह और निकाल मेरा दूध, पी जा उईईईइ और आज मिटा ले अपनी भूख को और अब में अपने दोनों हाथों से उसके बूब्स को दबाने लगा और निप्पल को चूसने और दातों से काट रहा था और अब उसकी सिसकियाँ धीरे धीरे बढ़ती जा रही थी और भी तेज़ हो रही थी.

फिर उसने मेरे लोवर में अपना एक हाथ डाल दिया और मेरे लंड को पकड़ने की बजाए उसने मेरे आंड को इतनी ज़ोर से पकड़ा कि मेरी हल्की सी चीख बाहर निकल आई, लेकिन में फिर से उसके बूब्स को चूसने लगा और फिर उसने मेरे लोवर को नीचे कर दिया और मैंने लोवर को पैरों से नीचे सरका दिया. तभी वो मेरे आंड को पकड़कर खींचने लगी और खींचते खींचते मुझे बेड तक ले आई और अब उसने मुझे बेड पर बैठा दिया और बोली कि वाह तेरा लंड तो बड़ा मस्त है मेरे पति से थोड़ा बड़ा और मोटा भी है, लेकिन तेरे यह आंड थोड़े सिकुड़े हुए से है, इनको ज़रा में गरम कर दूँ और इतना कहते ही उसने मेरे आंड पर थप्पड़ मार दिया, जिसकी वजह से मेरी चीख बाहर निकल आई अहह यह क्या कर रही हो?

हिंदी सेक्स स्टोरी :  आंटी की चाल बिगड़ गई मोटे लंड से गांड चुदा कर

रवीना : चुपचाप बैठा रह, अगर मुझे चोदना है तो नहीं तो सो जा बोल सोना है या मुझे चोदना है?

में : हाँ यार चोदना है.

रवीना : फिर से आंड को थप्पड़ मारते हुए फिर आराम से लेटा रह और मुझे जो करना है करने दे.

फिर एक के बाद एक कई सारे थप्पड़ मारे और में हर बार सिर्फ़ कराह रहा था. फिर उसने मेरे आंड को चूसना शुरू कर दिया और लंड को हाथ से हिलाया, जिसकी वजह से मुझे अब धीरे धीरे बहुत मज़ा आने ही लगा था कि तभी वो मेरे आंड को दांतों से काटने लगी, जिसकी वजह से मुझे फिर से दर्द होने लगा, वो मेरे आंड को चबाए जा रही थी और लंड को अपने हाथ से हिला रही थी. बस मेरी जान बाहर निकलने वाली थी. तभी उसने लंड को अचानक से छोड़ दिया ना ना ऐसे नहीं और फिर लंड को एक हाथ से पकड़कर दूसरे हाथ से ज़ोर ज़ोर से लगातार थप्पड़ मारने लगी और कुछ ही देर में मेरा वीर्य बाहर निकल आया और वो लगातार निकलता ही जा रहा था दोस्तों आज पहली बार किसी ने मेरे लंड को इस तरह से थप्पड़ मार मारकर ठंडा किया था और अब मेरा सारा वीर्य मेरे पेट पर ही निकाल दिया और फिर वो मेरे वीर्य को चाटने लगी और में यह देखकर बहुत हैरान हो गया कि एक सीधीसाधी सी दिखने वाली लड़की भी इतनी बड़ी रांड हो सकती है? और तभी उसने मेरे शरीर को पूरा साफ करके वो मेरे ऊपर आ गई और मेरे होंठो को किस करने लगी. मुझे थोड़ा सा अजीब लगा कि यह तो मुझे मेरे ही वीर्य का स्वाद चखा रही है, लेकिन दो मिनट के बाद सब कुछ ठीक हो गया और हम दोनों एक दूसरे के होंठ और जीभ को चूसने लगे और दोनों ज़ोर ज़ोर से लगभग दस मिनट तक ऐसे ही किस करते रहे.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  बॉयफ्रेंड ने मुझे जन्नत की सैर करवाई-2

तभी मैंने उसको अपने नीचे किया और उसकी गर्दन को किस करते करते उसकी चूत तक पहुंच गया और उसकी चूत को चाटने लगा और उसकी साफ चूत को चूसने और अपनी जीभ से चाटने लगा और तभी मैंने अपना लंड उसके मुहं के पास किया और उसने अपना मुहं खोल लिया और मेरा लंड मुहं में लेकर चूसने लगी.

अब हम दोनों 69 पोजीशन में आ गए और फिर में उसकी चूत को चाटने में व्यस्त हो गया. तभी उसने मेरी गांड में अपनी एक उंगली को डाल दिया और धीरे धीरे अंदर बाहर करने लगी. मेरा लंड एकदम से खड़ा हो गया और में भी उसकी गांड में उंगली डालकर हिलाने लगा. फिर उसने मेरी जाँघ पर दो तीन बार थप्पड़ लगाए और में तुरंत समझ गया कि यह बहुत अच्छा समय है इसकी चुदाई करने का. फिर में जल्दी से उसके ऊपर से उठा और उसके होंठो को किस किया और उसकी चूत पर बहुत सारा थूक कर उसके दोनों पैरों अपने कंधे पर रख लिया.

रवीना : प्लीज थोड़ा आराम से करना, कहीं मेरी चूत फट ना जाए.

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

में : एक शादीशुदा होकर भी डर रही हो? और इतना कहते ही मैंने अपना लंड एक ही जोरदार झटके में उसकी चूत के अंदर घुसा दिया.

रवीना : अहह्ह्ह आईईईइ मादारचोद कुत्ते तेरा लंड उस चूतिए से बहुत बड़ा है इसलिए में प्यार से करने को कह रही थी अब थोड़ा धीरे धीरे कर उफ्फ्फफ्फ्फ़ वरना में मर जाउंगी.

फिर उसके मुहं से इतना सुनते ही मैंने एक और जोरदार झटका दिया मैंने अपना पूरा लंड बाहर निकालकर फिर से अंदर डाल दिया.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  मोना बुआ की गांड फाड़ी

रवीना : अहह्ह्ह प्लीज थोड़ा तो मुझ पर तरस खाओ उफ्फ्फ्फफ आईई में मर गई उईईईई धीरे धीरे करो.

अब मैंने उसकी चूत को चोदना शुरू कर दिया और साथ में उसके बूब्स को भी दबाना शुरू कर दिया जिसकी वजह से अब उसकी सिसकियों की आवाज धीरे धीरे और भी बढ़ती जा रही थी.

रवीना : अहहहह पीयूष आज मुझे तू गर्भवती कर दे, उस चूतिए के बस का कुछ काम नहीं है उसका तो लंड ही 4 इंच का है, वो मुझे अब क्या घंटा चोदेगा और वो क्या मुझे गर्भवती बनाएगा.

में : तभी मैंने उससे पूछा कि क्यों तेरी चूत अब तक इतनी टाईट कैसे है?

रवीना : सस्स्स्स्स्स्सस्स ओह्ह्ह्हह्ह पीयूष अहह्ह्ह्ह ऑश चोदो मुझे पीयूष प्लीज़, में तुम से गर्भवती होना चाहती हूँ और ज़ोर से चोदो मुझे ओह्ह्ह्हह्ह आज पता लगा है मुझे कि चूत का खुलना किसे कहते है नहीं तो बसस्स्स्सस्स और ज़ोर से अहह्ह्ह्ह चोदो मुझे.

में : छोड़ उस बहनचोद को, बस में और तुम कोई और नहीं सस्स्सस्स उफ़फ्फ़ तुम्हारी चूत तो बिल्कुल नई जैसी ही है और पूरी टाईट है आहहस्स्स्सस्स में उसे और भी तेज़ तेज़ धक्के देकर चोदने लगा.

रवीना : उफफफफफ्फ़ पीयूष और तेज़ और तेज़ में अब झड़ने वाली हूँ प्लीज और स्पीड से चोदो मुझे.

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..
HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!