Bhabhi Sex

भड़कती हुई चूत की प्यास

Bhadakti hui choot ki pyas

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम निखिल है और मेरी इस साईट पर ये पहली कहानी है. में झारखंड का रहने वाला हूँ और में दिखने में स्मार्ट तो हूँ ही और हाईट भी काफ़ी अच्छी है, तो अब में स्टोरी पर आता हूँ. ये करीब 1 साल पहले की बात है. मेरी डिग्री पूरी होने के बाद मुझे एक अच्छा सा जॉब मिल गया और मैंने जॉइन भी कर लिया. में अपने रूम पर अकेले ही रहता था और मेरा जाने का टाईम भी अच्छा था. में सुबह 9 बजे जाता और शाम को 7 बजे आ जाता था. में जिस सोसाइटी में रहता था, वहाँ काफी सुंदर भाभीयां रहती थी और सभी के पति अच्छी जॉब और बिज़नेस में थे. फिर ऐसे ही कुछ समय निकल गया और एक दिन कुछ ऐसा हुआ कि मेरी लाईफ स्टाईल ही बदल गयी.

एक दिन जब में ऑफिस से वापस आया तो एक शॉप जो कि मेरी ही सोसाइटी में थी, वहाँ पर एक मस्त भाभी कुछ सामान ले रही थी. शायद उस भाभी को मैंने उस दिन पहली बार देखा था, फिगर तो मत पूछो यार में तो बता भी नहीं सकता हूँ, वैसे वो एकदम गोरी थी और जैसे सुंदरता की मूरत हो, मेनटेन बॉडी और उसके बूब्स और गांड तो मानो कहर ढा रहे हो. अब में तो उसे देखता ही रह गया और उसके जाने के बाद मैंने उस शॉप वाले से उस भाभी के बारे में पूछा, तो उसने बोला कि वो अपनी ही सोसाइटी में रहती है. फिर तो मानो में रोजाना उसके इंतज़ार में उस शॉप पर जाने लगा और एक दिन हमारे बीच नॉर्मल बातें हुई और फिर हम एक अच्छे दोस्त भी बन गये.

फिर एक दिन उसने मुझे अपने घर डिनर पर बुलाया तो में उसके घर गया और मैंने बोला कि रियली नाइस होम, तो उसने जवाब में थैंक्स कहा. जब उसके अलावा घर में कोई नहीं था, तो मैंने पूछा कि आपके पति नहीं है क्या? तो ये सुनते ही उसकी आँखो से पानी निकल गया और वो मेरे गले से लिपट गयी, तो मैंने पूछा कि क्या हुआ? तो उसने मुझे अपनी आप बीती बताई कि अब उनके पति उनके साथ नहीं रहते है. फिर जैसे तैसे करके मैंने उन्हें शांत किया.

Hindi Sex Story :  गावं की पुलिस वाली भाभी को चोदा

फिर उसने मुझे डिनर करने को कहा और फिर हम साथ में डिनर करने लगे. फिर डिनर करने के बाद मैंने जाने को कहा तो उसने मेरा हाथ पकड़ा और कहा कि आज की रात मेरे साथ रूको तो में तैयार हो गया. फिर उसने कहा कि नाईट ड्रेस पहन लो और वो खुद चेंज करने चली गयी. अब में बेड पर बैठकर टी.वी देखने लगा तो जब वो नाईट ड्रेस में मेरे पास आई, तो में तो जैसे पागल हो गया. अब मेरी आँखे खुली की खुली रह गयी और मैंने अपनी लाईफ में किसी भी लेडी को उस टाईप की ड्रेस में नहीं देखा था.

फिर मैंने उससे बोला कि आप तो आज ऐसी लग रही हो जैसे आसमान से कोई परी मेरे पास आ गयी हो. फिर भाभी बोली कि आज तक मुझे ऐसा किसी ने नहीं कहा थैंक यू निखिल और उसने मुझे एक बेहतरीन किस किया. फिर भाभी ने दो ग्लास में शैम्पियन लिया और फिर हमने थोड़ा इन्जॉय किया. अब में भाभी के बूब्स देख रहा था, तो उसने कहा कि क्या देख रहे हो? तो मैंने उनके बूब्स पर हाथ रखा और कहा कि आप सच में बहुत सुंदर हो.

फिर मैंने उन्हें अपनी बाँहों में लिया और उन्हें किस करने लगा. अब मैंने उनकी पूरी बॉडी पर किस करना शुरू कर दिया था और अब भाभी के मुँह से बस धीरे धीरे और सेक्सी आवाजे आ रही थी आहह वूहह आहह वूहह ओह माई गॉड, प्लीज निखिल ऐसा मत करो, मुझसे सहन नहीं हो रहा है. अब में तो उन्हें और तड़पाना चाहता था, इसलिए मैंने उन्हें किस करना बंद नहीं किया, अब वो बस आहह आहह आहह आहह की आवाज़े निकाल रही थी.

Hindi Sex Story :  मेरी वासना भरी नजरो के जाल में फांसी भाभी-1

अब मैंने सोचा कि ज़्यादा लेट नहीं करना चाहिए तो में उनकी टांगो के बीच में गया और उनकी चूत पर अपना मुँह रखा. तभी भाभी को मानो जैसे 440 वाल्ट का झटका लगा हो, अब वो बिल्कुल ही उछल पड़ी और मेरे सिर को ज़ोर से अपनी चूत पर दबाया और बोली कि हाउ नाइस निखिल, आज तक मेरे पति ने ऐसा नहीं किया और उसने मुझे छोड़ भी दिया, अब में बहुत प्यासी हूँ निखिल, मेरी प्यास बुझा दो और अब वो आअहह आअहह आअहह की आवाज़ निकाल रही थी.

फिर उसने कहा कि निखिल लव मी, अब मुझे और मत तड़पाओ, मुझे चोद दो और जैसे चाहो आज वैसे चोदो, में आज सिर्फ़ तुम्हारी हूँ और ऐसा कहते ही मेरा लंड अपने हाथों में ले लिया और बोली कि निखिल ये क्या है? तुम इतने दिनों से इतना बड़ा लंड लेकर कहाँ घूम रहे थे? वैसे में बता दूँ कि मेरे लंड का साईज़ 8 इंच लम्बा और 5 इंच मोटा है.

अब वो तो जैसे पागल ही हो गयी और बोलने लगी कि जल्दी चोदो मुझे, में इस लंड का स्वाद चखना चाहती हूँ. फिर क्या था? में अपने लंड को उसकी चूत के पास ले गया और एक ज़ोर का झटका मारा, लेकिन काम नहीं बना, क्योंकि वो बहुत दिनों से चुदी नहीं थी और इस वजह से उसकी चूत बहुत टाईट थी. फिर मैंने एक झटका दिया तो इस बार मेरा लंड थोड़ा ही अंदर गया था, तो वो चिल्ला कर बोली कि बाहर निकालो निखिल, नहीं तो में मर जाउंगी और उसकी आँखो से आँसू निकल गये. फिर में कुछ देर तक वैसे ही रहा और उसे किस करने लगा. फिर कुछ देर के बाद जब उसे अच्छा लगा तो वो भी अपनी गांड हिलाने लगी और बोली कि चोदो और मुझे जितना भी दर्द हो, लेकिन तुम मत रुकना, आज मेरी चूत को फाड़ दो.

Hindi Sex Story :  मैंने अपने देवर से चुदवा लिया-1

फिर मैंने धीरे-धीरे झटके लगाने शुरू किए, अब वो तो बस अपनी आखे बंद करके एक बात ही बोल रही थी कि चोदो मुझे और ज़ोर-जोर से चोदो और आआहह आआहह आआहह की आवाज़े निकाल रही थी. फिर तो ऐसी चुदाई हो रही थी कि जैसे हम कहीं खो गये हो, अब मेरे हर झटके के जवाब में वो अपनी गांड उठा देती और आहह आहह चोद चोद कर देती.

अब उसे 25 मिनट तक चोदने के बाद में उसकी चूत में ही झड़ गया और उसके ऊपर ही लेट गया. अब उसके चेहरे पर काफ़ी संतुष्टी झलक रही थी. फिर वो वॉशरूम गयी और मुझे भी अपने साथ ले गयी. फिर मैंने उसे वॉशरूम में भी चोदा, इसके बाद वो थक चुकी थी और फिर उसने कहा कि चलो अब सोते है. फिर जब में सुबह उठा तो मैंने देखा कि वो मेरे लिए कॉफी बना रही थी.

फिर मैंने उसे किचन में किस किया और जाने के लिए तैयार हो गया. फिर हमने साथ में कॉफी पी और फिर उसने बोला कि निखिल कुछ इंतजार करो, तो फिर उसने मुझे एक लिफाफा दिया और कहा कि ये तुम्हारा गिफ्ट है. फिर मैंने देखा तो उसमें 5000 रुपये थे, तो मैंने पूछा कि ये क्या है? तो उसने कहा कि ये तुम्हारी मेहनत का पैसा है. फिर में वहाँ से चला गया और 1 हफ्ते के बाद फिर उसने फ़ोन किया और अपने घर बुलाया और अपने दोस्तों से मिलवाया, फिर क्या था? मैंने उसके दोस्तों की भी चुदाई की और खूब पैसे कमाये.