भाई से जवानी के रसीले छेद को चुदवाया-2

Bhai se jawani ke rasile ched ko chudwaya-2

में मस्ती में सीईई करके सिसक उठी, हाए कितने दिनों बाद कोई मेरी चूत को चाट रहा था, मैंने करीब 4-5 महीने से मेरी चूत को नहीं चटवाया था और मामा ने मेरी चूत को खूब चाटा था, लेकिन अब भाई से चटवाने में और मज़ा आ रहा था.

जब भाई थोड़ी देर रुक गया, तो में बोली कि हाए भैया चूसो ना. भाई ने मेरी चूत को पूरा अपनी हथेली में थाम लिया और बोला कि इतनी खुजली हो रही है मीनू? तो में बोली कि हमम्म्म हाँ भाई प्लीज चूसो ना. भाई ने मेरी चूत की दोनों फांको पर अपने होंठ रख दिए और मेरी कसी हुई चूत के होठों को अपने होंठ से दबाकर बुरी तरह चूसने लगा और में तो बस कसमसाती, तड़पती, मचलती रह गयी आआहह, आअहह भैया हा, उईईइ, आहह और भाई चूस-चूसकर मेरी अधपकी जवानी का रस पीता गया और मेरी कच्ची कली का कच्चा रस उसे भा गया था.

वो बहुत देर तक मेरी 18 साल की छोटी सी चूत से चिपका रहा. अब में बार-बार कहने लगी थी कि छोड़ दो भैया, अब में रोने लगी थी. तब उसने मुझे छोड़ा और तब तक मेरी चूत झड़ने लगी थी और अब मेरा सारा रस मेरी मुठी से बहने लगा था.

अब भाई चटकारे लेकर मेरी चूत का रसपान करने लगा था और बोला कि मीनू हमम्म मेरी जान बड़ी छोटी सी चूत है तेरी, पता है जब तू चुदेगी तो तुझे और मज़ा आएगा, पूछ क्यों? तो मैंने पूछा कि क्यों? तो वो बोला कि क्योंकि मीनू कसी हुई एकदम टाईट चूत में लंड फिट बैठता है और कस जाता है और चुदाई में बड़ा मज़ा आता है, मैंने कई बार तेरी जैसी कुँवारी कलियों की सील तोड़ी है और कच्ची उम्र में जब लड़कियाँ चुदवाती है तो उनकी चूत में बेहद कसावट होती है और वो चुदवाते हुए कसमसाती हुई चिल्लाती है तो मुझे बड़ा मज़ा आता है, आज में तेरी भी सील तोड़ दूँगा हमम्म्म.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  दीदी का नंगा जिस्म कितना खूसबसुरत था-1

अब भाई अपनी कुँवारी बहन की चूत का मज़ा लेना चाहता था, लेकिन भाई को नहीं पता था कि में पहले ही अपनी सील तुड़वाकर चुदवा चुकी हूँ. भैया बोले कि मीनू तेरी कुँवारी चूत आज मस्ती में डूब जाएगी और भैया ने अपने कपड़े उतार दिए और जब अपना लंड दिखाया, वाह्ह्ह मामा के लंड से काफ़ी बड़ा और सीधा था, मामा का लंड थोड़ा टेढ़ा था.

भैया ने अपना भीगा चिकना लंड मुझे दे दिया और में उसे प्यार करने लगी. अब भैया का लंड रस से पूरा चिकना हो गया था. मैंने भैया के लंड को अपने मुँह में लेना चाहा, लेकिन उनका लंड मेरे छोटे से मुँह में नहीं आया. अब भाई ने अपना भीगा लंड मेरे स्तनों पर सहला दिया, तो मेरे नुकीले तने हुए निप्पल भाई के लंड से सिहर उठे सस्स्सस्स भैया. भाई मेरे निप्पल को अपने लंड के चिकने रस से मसलकर सहलाता रहा और उठकर मेरी जाँघो के पास गया और मेरी ठोस चिकनी जाँघो को सहलाते हुए उसने अपना लंड मेरी चूत की दरार पर फिसला दिया, जिससे में मचल गयी.

मेरी चूत की कसी हुई फांको पर अपने लंड को रगड़ करके भाई ने मेरी कसी कसाई फांको को दूर किया और बोले कि क्या चीज है मीनू? हाए इतनी कसी चूत, एकदम तरो ताजा चूत है मेरी बहना की और ऐसा कहते हुए भाई ने धीरे से मेरी चूत में अपना लंड डाला., तो में कसमसा उठी क्योंकि बड़े दिनों के बाद कुछ चूत के अंदर घुस रहा था, लेकिन में भी तो उसे डलवाने को बैचेन थी. भाई ने मुझे सहलाते हुए कहा कि मीनू पहले थोड़ा सा दर्द होगा, लेकिन इस चूत में खूब मज़ा आएगा.

भाई धीरे-धीरे करके अपना लंड मेरी चूत में डालने लगा. अब भाई अपनी छोटी बहन की चूत में अपना लंड घुसा रहा था, कितना मस्त सीन था सोचिए? एक 18 साल की स्कूल गर्ल अपने 25 साल के भाई के साथ नंगी होकर बिस्तर पर चुदाई का मज़ा ले रही थी.

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।
हिंदी सेक्स स्टोरी :  दीदी की मदद से माँ को पटाकर चोदा

भैया ने मेरे होंठो को चूमा और उनका चिकना लंड मेरी चिकनी- चिकनी चूत में सरकाने लगा. अब मुझे दर्द भी होने लगा था और अभी भाई का आधा लंड बाहर था और आधा मेरी चूत के अन्दर था. अब भाई अपने आधे लंड को ही अंदर बाहर करने लगा था, ताकि मेरी चूत का रस और उनके लंड का रस गीलापन ला सके और चुदाई में आसानी हो सके.

भैया ने मेरे निप्पल को चूमा और चूसते हुए धीरे- धीरे अपने लंड को और अंदर घुसाने लगे. अब मेरी तकलीफ़ बढ़ती जा रही थी, लेकिन दर्द में मज़ा आता है, अब में कसमसा रही थी ऊवन्नह, ऊओन्नह, आआहह, ऊईईईईईई भैया, लेकिन वाकई में मुझे बड़ा मज़ा आ रहा था और मुझे कई महीनों के बाद मेरी प्यासी चूत को कुछ मिला था, उउउन्न्ञनह भैया रुक जाओ ना दुख रहा है. भाई बोला कि बस मीनू थोड़ी देर में मज़ा आना लगेगा और धीरे- धीरे भाई ने अपना पूरा लंड अपनी बहन की छोटी सी चूत में घुसा दिया और सुकून से बोला कि बस मीनू अब पूरा अंदर है, अब देख चुदाई शुरू होगी.

भाई ने पहले मेरे निप्पल चूसे और धीरे-धीरे अपना लंड खींचकर से धीरे से घुसा दिया और इस तरह धीरे-धीरे अपनी प्यारी बहन को चोदने लगा आअहह, हाईईईई भैया, हाई हाई, भैया ऊऊहह अब में मज़े ले लेकर चुदवाने लगी थी. अब भाई भी मेरी टाईट चूत में अपने फिट लंड से मुझे चोदने का आनंद लेने लगा था.

थोड़ी देर में जब चूत और लंड रस से भीगकर चिकनेपन के कारण आसानी से घिसने लगे, तो भैया ने अपनी स्पीड भी बढ़ा दी और में भी दर्द झेलते हुए धक्के देकर चुदाई के मज़े लेने लगी. अब में भाई के साथ मिलकर खूब उछलकूद करते हुए चुदवाने लगी थी. अब भाई ज़ोर-ज़ोर से करते हुए मेरे निप्पल को भी चूस लेता था और थोड़ी देर के बाद मेरी चूत में खूब तेज खुजली सी हुई और गुदगुदाहट के साथ मेरी चूत रस से भीग गयी बस-बस भैया आआ हहाआ आँहममम्मममह और सब शांत हो गया.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  Mauseri Bahen ki Chudai

थोड़ी देर के बाद भाई ने से धक्के दिए और मेरी चूत के भीतर उनका गर्म-गर्म लावा टपक पड़ा. भाई ने मुझे सहलाते हुए पूछा कि मीनू ठीक है ना मेरी जान? तो मैंने कहा कि हाँ भाई. भाई ने थोड़ी देर के बाद पूछा कि पहले ये बता कि तू इससे पहले किसके साथ खेली है? तो में उसे देखती रह गयी, मुझे पहले ही पता था बता दे मीनू जवानी की मस्ती में चुदाई नहीं होगी तो क्या होगा?

तो मैंने उसे सब बता दिया, उसे क्या फर्क पड़ता? जब भाई अपनी बहन को चोद सकता है, तो मामा अपनी भांजी के मज़े नहीं ले सकता और मेरे मामा को तो मैंने ही बहकाया था. खैर भाई के साथ अब में आज़ाद हूँ. दोस्तों आज मेरी उम्र 20 साल हो गयी है, लेकिन भाई मेरे साथ खूब खेलता है और में भैया से खूब चुदवाती हूँ, हम बारिश में भीगते हुए भी खेले है और बाथरूम के शॉवर में भी खेले है, कई बार भाई मुझे अपनी गोद में लेकर भी चोदता है और हम दोनों खूब मजे करते है.

HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!