बीवी की एक कामुक दोस्त को चोदा-4

Biwi ki ek kamuk dost ko choda-4

निप्पल मिलते ही मैंने उन्हे धीरे से प्यार के सहला दिया और अब रुची धीरे धीरे मोन करने लगी. फिर रुची ने भी मेरी जांघो पर हाथ फेरना शुरू किया और मेरे अंडरवियर के ऊपर से मेरे लंड के आकार को महसूस कर रही थी और फिर मैंने रूची की ब्रा का हुक खोल दिया और ब्रा को बूब्स के ऊपर से हटा दिया. उसके मुलायम बूब्स और गहरे गुलाबी निप्पल को देखकर मेरे मुहं से आह निकल गई.

में : रुची तुम्हारी बॉडी और फिगर मेरी सोच से कहीं ज्यादा मजेदार है. तुम्हारी त्वचा कितनी मुलायम और तुम्हारा जिस्म जो मुझे मज़ा दे रहा है, वो आज तक कभी किसी ने नहीं दिया.

फिर मैंने रुची को उठाया और बेड पर लेटा दिया और उसकी पेंटी को भी उतार दिया. फिर मैंने अपनी अंडरवियर को भी उतार दिया. में भी बेड के ऊपर बैठ गया और आज हमारे नंगे बदन पहली बार मिल रहे थे. हम दोनों के बदन में एक अजीब सी झुरझुरी हो रही थी. मैंने रुची को अपने पास में लेटाया और उसे बाहों में लेकर फिर से होंठो किस करने लगा. अब रुची ने भी मेरा साथ दिया और मेरी जीभ को अपने मुहं में ले लिया. किस करते हुए मैंने फिर से उसके बूब्स को एक एक करके मसलने लगा और धीरे धीरे दबाना शुरू कर दिया. रुची धीरे धीरे अपने मुहं से मोनिंग की आवाज़ निकालने लगी. फिर में धीरे धीरे नीचे सरका और रुची के बूब्स सक करने लगा और दूसरे हाथ से उसकी चूत रगड़ने लगा. अब पूरा कमरा मेरी और रुची की मोनिंग की आवाज़ से गूँज रहा था आहहहह आईईईईइ आहहहह उह्ह्ह्हह्ह.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  My First Girlfriend Chudai

रुची : में भी तुमसे बहुत प्यार करती हूँ विशाल और में भी बहुत समय से तुम्हारे साथ यह सब करना चाहती थी. प्लीज़ ले लो अब मेरी विशाल. में अब और नहीं रुक सकती, प्लीज़ ले लो मेरी, प्लीज़ अब चोद दो मुझे.

में : हाँ रुची, में हमेशा से तुमको चोदना चाहता था. में आज तुम्हारी लूँगा रुची और अब ज़रूर लूँगा, में तुमसे बहुत प्यार करता हूँ रुची, में तुम्हारी चूत को भी बहुत प्यार करता हूँ, आज में खा जाऊंगा तुम्हारी चूत को.

दोस्तों में अभी भी उसके बूब्स चूस कर रहा था और चूत को घिस रहा था.

रुची : प्लीज़ विशाल अब लंड डालो ना मेरी चूत के अंदर, में अब नहीं रुक सकती आहहहह उह्ह्ह्हह्ह प्लीज़ अब आ जाओ, अब डाल दो मेरे अंदर.

मैंने अब सक कर करना और रब करना बंद किया और रुची को सीधा लेटाया और एक तकिया उसके कूल्हों के नीचे लगाया और फिर उसके पैरों को धीरे से फैलाकर अपने आप को उसके पैरों के बीच सेट किया. तो रुची ने अपने पैरों को उठाकर मुझे लपेटकर अपनी तरफ खींच लिया, मैंने अपने लंड का टोपा उसकी चूत पर रखा और रगड़ने लगा. में ऐसे थोड़ी देर अपना लंड उसकी चूत के होंठो पर रगड़ता रहा और वो मोन कर रही थी.

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

रुची : विशाल प्लीज़ अब अंदर डाल भी दो ना अब और मत तरसाओ प्लीज़ इसको अंदर डालो और मुझे चोद दो, चोदो मुझे विशाल, मुझे आज ज़ोर से चोदो मसल डालो.

फिर मैंने अपने लंड को धीरे से चूत पर दबा दिया और अब मेरा लंड थोड़ा सा रुची की चूत के अंदर चला गया, रुची के मुहं से एक आआहह आईईईई की आवाज निकल गई. तो मैंने थोड़ा सा और धक्का दिया और पूरा का पूरा लंड रुची की चूत में चला गया और फिर मैंने धीरे धीरे अंदर बाहर करके रुची को चोदना शुरू किया. ऐसा करने से मुझे बहुत मज़ा आ रहा था और अब धीरे धीरे मेरा जोश बड़ता गया.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  कोचिंग स्टूडेंट की मम्मी को चोदा-1

रुची : हाँ विशाल, हाँ बस ऐसे ही ले लो मेरी और ज़ोर से चोदो मुझे. चोद डालो अपनी बीवी की दोस्त को आहहहह हाँ आईईई विशाल तुम आज मेरी चूत को उह्ह्ह्हह्ह शांत कर दो और ज़ोर ज़ोर से करो ना विशाल, मुझे बहुत मज़ा आ रहा है, तुम बहुत अच्छे हो विशाल और तुम एक बहुत अच्छे लवर हो और तुम्हारा लंड कितना लंबा और मोटा है. मुझे इतना मज़ा पहले कभी भी चुदाई में नहीं आया अहहहह थोड़ा और ज़ोर से धक्का दो मेरी चूत को, थोड़ा तुम्हारे लंड का मज़ा भी लेने दो मुझे.

अब में रुची को अब बहुत ज़ोर ज़ोर से चोदता चला जा रहा था और में बिना रुके बस लंड को ठोके जा रहा था.

में : रुची में तुमको हमेशा से चोदना चाहता था और में तुम को जब भी देखता था तो मेरा लंड तनकर खड़ा हो जाता था. में हमेशा तुमको चोदना चाहता था. रुची मेरी डार्लिंग में अब तुमको हमेशा चोदूंगा, रुची तुम से अच्छी चूत मुझे कभी नहीं मिली. में तुमको सारी जिन्दगी चोदना चाहता हूँ.

फिर में बस रुची को लगातार धक्के देकर चोदता गया और हम दोनों मस्ती में मोन करते रहे और वो भी मेरा पूरा पूरा साथ देती रही, तो मैंने कुछ देर की ताबड़तोड़ चुदाई के बाद रुची की चूत में ही वीर्य डाल दिया और अब हम दोनों इस चुदाई से बिल्कुल संतुष्ट हो चुके थे, लेकिन वो कई बार झड़ चुकी थी. दोस्तों उसके बाद भी में उसके पूरे जिस्म को चूमता, चाटता रहा में उसके बूब्स को मसलता रहा दबाता रहा और वो मोन करती रही और अब हम अक्सर कोई अच्छा मौका पाकर मिलने का प्लान करने लगे और चुदाई करने लगे. मैंने अब तक उसे बहुत बार चोदा है.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  Ghar Aae Mehmaan Ko Mast Choda

//समाप्त//

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..
HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!