ब्लू फिल्म में ऐसा होता है

Blue film me aisa hota hai

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम महेश है और में हैदराबाद का रहने वाला हूँ, ये कहानी और भी मजेदार है. मेरी एक फ्रेंड थी उसका नाम तानिया था, वो शर्मीली सी थी और हमेशा मुझसे डरती थी. फिर एक दिन में उसके घर गया तो वो अकेली थी और उसके मम्मी पापा बाहर गये हुए थे.

फिर उसने मुझसे पूछा कि क्या पियोगे सॉफ्ट ड्रिंक या कुछ हॉट? तो मैंने कहा कि मुझे तो हॉट ही पसंद है, तुम मुझे कॉफ़ी पीला दो. फिर वो कॉफ़ी बनाने चली गयी. अब में टी.वी देख रहा था तो मैंने सोचा कि सी.डी प्लेयर ऑन करता हूँ, तो उसमें पहले से एक सी.डी थी तो मैंने सी.डी प्ले किया, तो उसमें ब्लू फिल्म थी तो मैंने उसे जल्दी से बंद कर दिया. फिर मैंने कॉफ़ी पी और घर चला आया. फिर मैंने सोचा कि निशा तो मुझसे डरती है और वो सेक्स के नाम से तो बात करना ही पसंद नहीं करती, फिर ये सब क्या है?

फिर कुछ दिन के बाद कोचिंग पर उसने मुझे घर आने को कहा तो में उसके घर गया तो उस दिन भी उसके घर पर पर कोई नहीं था, वो बस अकेली थी. फिर मैंने उससे कॉफ़ी बनाने को कहा तो वो अंदर चली गयी. फिर में भी उसके पीछे चला गया और उसके पीछे चिपक गया और मेरा लंड उसकी गांड से चिपका दिया.

वो घबराने लगी और आगे होने लगी, तो में फिर से उससे चिपकने लगा. फिर वो कहने लगी कि ये क्या कर रहे हो? तो मैंने उसको पकड़ लिया और उसके लिप्स पर किस करने लगा. फिर उसने मुझे धक्का दे दिया और कहा कि ये क्या है आसिफ़? ये तुम क्या कर रहे हो? और उसने मुझसे बाहर जाकर बैठने को कहा तो में बाहर आ गया और कॉफ़ी पीने लगा.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  गेंदामल हलवाई का चुदक्कड़ कुनबा-30

फिर मैंने उससे पूछा कि तुम मुझसे इतना क्यों डरती हो? तुम ब्लू फिल्म की सी.डी देखती हो. फिर वो कहने लगी कि कौन सी सी.डी? तो मैंने कहा कि ब्लू फिल्म, तो वो बोली कि ये कौन सी होती है? तो मैंने कहा कि कभी नहीं देखी क्या? तो वो बोली कि नहीं, तो मैंने कहा कि अच्छा ठीक है और कॉफी पीने लग गया. फिर कुछ देर के बाद वो बोली कि तुमने कभी ब्लू फिल्म देखी है? तो मैंने कहा कि हाँ देखी है.

वो बोली कि उसमें क्या होता है? तो मैंने कहा कि कुछ नहीं जैसे दूसरी मूवी होती है वैसी होती है. तो वो मुझसे पूछने लगी कि क्या होता है बताओ ना? और बहुत जिद करने लगी. फिर मैंने कहा कि एक शर्त है, तो वो बोली कि क्या? तो मैंने कहा कि में तुम्हें करके बताता हूँ ब्लू फिल्म में क्या होता है? तो वो कहने लगी ओके करो.

फिर में समझ गया कि ये भी मुझसे कुछ चाहती है. फिर में धीरे- धीरे उसके पास आने लगा और फिर उसका हाथ पकड़ लिया. तो उसने मुझसे कुछ नहीं कहा और में धीरे-धीरे उसके बूब्स दबाने लगा, उसके बूब्स काफ़ी बड़े और कड़क थे. अब मुझे भी काफ़ी मज़ा आ रहा था और उसे भी बहुत मजा आ रहा था.

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

फिर में उसके लिप्स पर किस करने लगा, तो उसमें जोश आ गया और वो मेरी शर्ट के बटन खोलने लगी, लेकिन उससे मेरी शर्ट के बटन नहीं खुल रहे थे तो उसने मेरी शर्ट को फाड़ दिया. अब में भी पूरे जोश में था तो मैंने उसका कुर्ता उतारा और फिर धीरे से उसकी सलवार खोली और फिर उसकी ब्रा को खोला और उसके बूब्स को चूसने लगा, तो वो आहह करने लगी.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  AnJaan Auraton ki Chudai kar Bachche paida kiya-7

फिर मैंने उसकी चड्डी उतार दी, तो वो कहने लगी कि इतनी देर पेंट खोलने में लगा दी, लाओ में खोल देती हूँ. फिर उसने मेरी पेंट का हुक खोला और फिर मेरी पेंट की चैन को खोलने लगी, तो मेरा लंड खड़ा था. अब वो मेरे लंड को सहलाने लगी थी और फिर उसने मेरे लंड को अपने मुँह में ले लिया और मेरे लंड को चूसने लगी. अब मुझे काफ़ी मज़ा आ रहा था.

फिर कुछ देर के बाद वो कहने लगी कि अब डालो भी और कितना चुसवाओगे? तो मैंने अपना लंड उसकी चूत में डाला मगर उसकी चूत इतनी टाईट थी कि मेरा लंड अंदर जा ही नहीं रहा था. फिर वो बोली कि एक काम करो तुम अपनी एक उंगली को मेरी चूत में डालो, तो मैंने वही किया और अपनी एक उंगली को उसकी चूत में डाल दिया और अंदर बाहर करने लगा.

फिर कुछ देर बाद वो बोली कि अब अपना लंड डालो, तो मैंने उसकी चूत में अपना लंड डाला मगर फिर भी मेरा लंड उसकी चूत में नहीं जा रहा था. फिर मैंने बहुत कोशिश की और जैसे तैसे अपना लंड उसकी चूत में डाला तो वो जोर से चिल्ला उठी आहह. तो में डर गया और कहा कि चिल्ला क्यों रही हो? ऐसा तो होगा ही ना. तो वो बोली कि नहीं महेश धीरे-धीरे डालो, तो मैंने कहा कि वही कर रहा हूँ.

फिर मैंने अपना लंड उसकी चूत में डाला और जोर-जोर से शॉट मारने लगा, तो वो चिल्लाने लगी आहह. में फिर से उसके लिप्स पर किस करने लगा ताकि उसकी आवाज़ बाहर ना निकले और अब में जोर-जोर से शॉट मारने लगा था. फिर 10-12 बार शॉट मारने के बाद मेरा वीर्य बाहर निकल गया और में उससे चिपककर सो गया. फिर वो कहने लगी कि आसिफ़ क्या ब्लू फिल्म में ऐसा होता है? तो मैंने कहा कि हाँ ऐसा होता है.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  प्यार के नाम पर लोग करते है काम वासना

वो बोली कि अब हम रोज करेंगे, तो मैंने उससे कहा कि जब भी घर पर कोई नहीं हो तो मुझे बुला लिया करो. तो वो कहने लगी कि ठीक है, लेकिन तुम ये किसी को नहीं बताना कि हमने क्या किया है? तो मैंने कहा कि नहीं बताऊँगा और अपने घर चला आया और फिर हमारा ये सिलसिला चलता रहा. फिर उसकी शादी हो गयी और वो मुझसे जुदा हो गयी.

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..
HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!