बॉस की बीवी ने मेरे लंड पर हाथ फेरा

Boss Ke Biwi Ne Mere Lund Par Hath Fera

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम अमन है और में एक फोटोग्राफर हूँ और में हमारा पूरा भारत देश घूम चुका हूँ। मैंने बहुत सारे मॉडल की फोटोग्राफी और मॉडलिंग को अपने कैमरे में उतार चुका हूँ। मेरी लम्बाई 6.1 इंच और मेरे लंड की लम्बाई 6 इंच जो किसी भी प्यासी तरसती हुई चूत को उसकी चुदाई करके खुश करने के लिए एकदम ठीक है। दोस्तों में भी पिछले कुछ लंबे समय Hot Sex Story पर सेक्सी कहानियों को पढ़कर उनके मज़े लेता आ रहा हूँ और ऐसा करना मुझे बहुत अच्छा और मुझे बहुत मज़ा आता है। Boss Ke Biwi Ne Mere Lund Par Hath Fera.

इस तरह से में अब तक ना जाने कितनी सेक्सी कहानियों के मज़े ले चुका हूँ। एक दिन मैंने अपनी भी इस कहानी को आप तक लिखकर पहुँचाने के बारे में विचार किया, जिसमें मैंने अपने बॉस की पत्नी जो दिखने में बहुत ही मस्त सेक्सी लगती है। मैंने उनको उनके घर पर उनके कहने से चोदा और बहुत मज़े लिए।

वैसे में अपने बॉस के घर पर हर कभी किसी ना किसी काम से जाया करता था और तब से ही उनकी पत्नी मुझसे अपनी चुदाई के सपने देखने लगी थी और यह बात उन्होंने मुझे हमारी चुदाई पूरी हो जाने के बाद बताई। दोस्तों में उम्मीद करता हूँ कि यह सच्ची घटना आप लोगों को जरुर पसंद आएगी

दोस्तों एक दिन की बात है, में अपने घर से बाहर निकला ही था और कुछ दूर रोड पर पैदल ही घूम रहा था कि अचानक से एक कार मेरे पास में आकर रुक गई और फिर मैंने देखा कि उस कार में उस समय मेरे प्रोड्यूसर की बीवी मतलब की मेरी बॉस बैठी हुई थी, जो मेरी तरफ देखकर हल्का सा मुस्कुरा रही थी, उनकी उम्र 36 साल थी और तब में सिर्फ़ 19 का था।

दोस्तों वो हमेशा जब भी में उनके घर पर जाता तो मुझसे बड़े प्यार से हंस हंसकर बातें किया करती थी और मुझे लगता था कि उनका मुझसे बातें करने में कुछ ज्यादा रूचि थी, शायद इसलिए वो मुझसे हमेशा ऐसा प्यार भरा व्यहवार किया करती थी। फिर उन्होंने मुझसे एक पास ही के किसी एक रेस्टोरेंट का पता पूछा और मैंने उनको वो पता बता दिया, लेकिन तभी वो मुझसे कहने लगी कि क्या आप भी मेरे साथ वहां तक चल सकते है, क्योंकि में यहाँ पर नई हूँ?

और आप यहीं के रहने वाले सभी से आप अच्छी तरह से परिचित है और में बिल्कुल अंजान, इसलिए मुझे रेस्टोरेंट का पता नहीं है, आप मेरे साथ चलोगे तो मुझे अच्छा लगेगा। फिर मैंने तुरंत गाड़ी का आगे का दरवाजा खोलकर में आगे वाली सीट पर बैठ गया। दोस्तों में क्या करता अपने बॉस को में ना भी तो नहीं कह सकता था? तब उन्होंने कुछ दूर चलने के बाद मुझसे पूछा कि क्या तुम मेरे साथ जुहू तक चलोगे? तो मैंने उनसे पूछा कि क्या आप मुझे वापस यहीं पर छोड़ देंगी?

तो उन्होंने मुझसे कहा कि हाँ ठीक है, लेकिन हमें थोड़ी देर भी हो सकती है और तुम्हें उसमें कोई परेशानी तो नहीं है ना? और अब मैंने कहा कि मुझे कोई आपत्ति नहीं है, में आपके साथ चलने के लिए तैयार हूँ आप चलिए। फिर वो अपनी गाड़ी को धीरे धीरे चलाने लगी। तभी मैंने कुछ देर बाद महसूस किया कि में उसके पास वाली सीट पर बैठा हुआ था कि तभी अचानक से उसने गियर बदलते हुए अपना हाथ मेरे पैर पर छू दिया।

मैंने पहली बार कुछ ना कहा, लेकिन उसने ऐसा मेरे साथ कई बार किया और अब में मन ही मन सोच रहा था कि यह मेरे साथ जानबूझ कर क्या कर रही है और फिर भी में चुप था। फिर उसने जब यह देखा कि में चुप हूँ तो उसने कुछ देर बाद धीरे धीरे मेरे पैर पर अपना हाथ फेरना शुरू कर दिया और वो मुझसे पूछने लगी कि आप आज कल तुम कौँन से सेट पर फोटो शूटिंग कर रहे हो? तब मैंने कहा कि आज कल में थोड़ा सा फ्री हूँ। अब वो मुझसे पूछने लगी क्या तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है? तो मैंने कहा कि नहीं, क्योंकि मैंने कभी इस बारे में ध्यान ही नहीं दिया।                                                                   “Lund Par Hath Fera”

फिर उसने मेरी तरफ मुस्कुराते हुए कहा कि आप इतने सुंदर और अच्छे दिखते हो और मेरे लिए यह बहुत चकित होने की बात है कि आपकी अब तक कोई भी गर्लफ्रेंड नहीं है और वैसे तुम्हें कैसी लड़की पसंद है? तब मैंने कहा कि मुझे वैसे तो वो लड़की अच्छी लगती है, जो बहुत देख रेख करने वाली, समझदार और अच्छी दिखने वाली और वो दिखने में आकर्षक भी हो। अब मेरे मुहं से यह बातें सुनकर उसने तुरंत मेरी तरफ मुड़कर मुस्कुराते हुए देखा और कहा कि मुझे एक काम है, क्या आप मेरे साथ मेरे घर चल सकते है?

फिर मैंने कहा कि हाँ ठीक है, आप मेरी बॉस है और आप मुझसे जैसा कहें में वैसा ही करूंगा, तो वो मेरी तरफ शरारती नज़र में देखते हुए हँसने लगी और कुछ देर बाद वो मुझे अपने एक घर में ले आई और में जब उसके घर गया तो मैंने देखा कि उस समय घर में कोई नहीं था और अब उसने मुझसे कहा कि में कब से गाड़ी चला रही हूँ, इसलिए में अब बहुत ज्यादा थक गई हूँ और आज गरमी भी वैसे बहुत है, में इसलिए नहाकर अभी आती हूँ, तब तक आप यहाँ पर बैठ जाए।                                             “Lund Par Hath Fera”

अब में उनके कहने पर बैठ गया और उनके नहाकर बाहर आने का इंतजार करने लगा और फिर कुछ देर बाद जब वो नहाकर बाथरूम से बाहर निकली, तो उस समय वो सिर्फ़ मेक्सी में थी और वो बहुत ही मस्त पटाका लग रही थी, में उनको पहली बार उस रूप में देखकर थोड़ा सा चकित जरुर हुआ, लेकिन फिर मैंने वो मेरे बॉस की पत्नी थी, इसलिए उस बात को सोचकर अपने देखने का नजरिया बदल दिया।

अब वो सीधा मेरे पास में आकर बैठ गई और वो मुझसे पूछने लगी, हाँ अब तुम बताओ कि में तुम्हें कैसी लग रही हूँ? दोस्तों मैंने उसको दोबारा पलटकर देखा तो में देखता ही रह गया, क्योंकि उसने उस समय बहुत ही टाईट कपड़े पहने हुए थे, इसलिए उन कपड़ो से उसका गोरा, गीला, अंग अंग नज़र आ रह था और उस सेक्सी बदन की सुंदरता को देखकर मैंने कहा कि आप बहुत अच्छी लग रही हो।

फिर मेरे मुहं से यह बात सुनकर उसने उसी समय मेरा एक हाथ झटके से पकड़ लिया और मेरे हाथ को पकड़कर मुझे अपनी तरफ खींचकर वो मुझसे कहनी लगी कि तुम अब इतनी देर क्यों कर रहे हो? तब मैंने वो बात उनके मुहं से सुनकर चकित होकर कहा कि यह आप मुझसे क्या कह रही है? तब उसने कहा कि तुम किसी भी बात की बिल्कुल भी चिंता मत करो, कुछ भी नहीं होगा, क्योंकि इस समय तुम मेरे साथ हो और मेरे लिए तुम सब कुछ कर सकते हो, जैसा तुम चाहो, वो भी कर सकते हो।                                 “Lund Par Hath Fera”

फिर मैंने पूछा कि में क्या करूँ? तब उसने मेरा हाथ जो पहले से ही पकड़ा हुआ था, उसने उसको अपने नरम गोरे गालों पर धीरे धीरे फेरना शुरू कर दिया और कुछ देर बाद वो मेरा हाथ अपने सुंदर गोलमटोल बूब्स पर फेरने लगी और वो मुझसे कहने लगी कि वाह तुम्हारे हाथों में तो कोई जादू है। दोस्तों सच कहूँ तो मुझे भी अब उनके यह सब करने में बहुत मज़ा आ रहा था, लेकिन में चुप था।

तभी उसने धीरे से मेरे लंड पर अपना हाथ फेरना शुरू कर दिया और वो मुझसे कहने लगी कि अरे वाह यह तो बहुत ही सख्त हो रहा है, मुझे उम्मीद नहीं थी कि यह ऐसे अकड़कर खड़ा भी हो सकता है। दोस्तों अब मेरा दिल भी उनकी यह बातें हरकते देखकर पूरी तरह से खुल चुका था, इसलिए मैंने उससे कहा कि आपका हाथ लगेगा तो मेरा क्या किसी बूढ़े का भी खड़ा हो जाएगा और वैसे भी में एक जवान मुर्द हूँ, तैयार तो में हो ही जाऊंगा।                                                                             “Lund Par Hath Fera”

अब उसने मेरे मुहं से यह बात सुनकर कहा कि चलो आज हम भी देख लेते है कि तुम्हारे इस लंड में कितनी गरमी है? मुझसे यह बात कहते हुए उसने अपनी उस मेक्सी को तुरंत उतार दिया और साथ में मेरे कपड़े भी उतार नीचे कर दिए। उसके बाद वो बेड पर लेट गई और मुझे अपने पास खींचकर मेरे होंठो पर अपने नरम गुलाबी होंठ रखकर वो मुझे किस करने लगी और उसका ऐसे करने में मुझे बड़ा मज़ा आ रहा था।

मैंने तो अपनी पूरी जीभ को उसके मुँह के अंदर डाल उतार दिया और में उसके होंठो का रस चूसने लगा। तभी उसने मुझसे कहा कि आज तक ऐसी किस तो मेरे पति ने भी मुझे नहीं की, तुम बहुत अच्छी किसिंग करते हो, प्लीज चूस लो आह्ह्ह्हह हाँ मुझे बड़ा मज़ा आ रहा है और फिर उसने अपने बूब्स की तरफ मेरा मुँह कर दिया और कहा कि तुम अब यहाँ भी चूसो ना। दोस्तों अब में करीब 15 मिनट तक उसके बूब्स को चूसता रहा, जब में उसके बूब्स को चूस रहा था तो उसके मुँह से सिसकियाँ सी निकल रही थी,                                 “Lund Par Hath Fera”

अहह्ह्ह्हह अह्ह्ह्ह उफ़फ्फ़ बड़ा मज़ा आ रहा है, जब मैंने उसके निप्पल चूसे तो उसने मुझसे कहा कि आह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ खा जाओ, प्लीज अमन तुम इनको आज आह्ह्हह्ह तुम बहुत अच्छे चूसते हो हाँ और ज़ोर से चूसो प्लीज तुम्हारी जीभ तो बड़ी मस्त है, प्लीज ज़ोर से चूसो। दोस्तों में एक तरफ से उसके बूब्स को चूस रहा था और दूसरी तरफ उसने मेरा एक हाथ पकड़कर अपनी चूत पर फेरना शुरू कर दिया और वो मुझसे कहने लगी,

प्लीज तुम अपनी प्यारी उँगलियों से इसको भी थोड़ी ठंडक पहुंचा दो ना प्लीज उफफफफफफफ्फ़ अह्ह्ह्ह तुम इससे पहले मेरे हाथ में क्यों नहीं लगे, में तुमसे यह मज़े लेकर खुश हो जाती? और दूसरी तरफ वो भी मेरे लंड से खेल रही थी। तभी उसने मेरा मुँह अपने बूब्स से हटाकर अपनी गरम प्यासी चूत पर रख दिया और मैंने धीरे धीरे उसकी चूत पर अपनी जीभ को फेरना शुरू कर दिया                    “Lund Par Hath Fera”

तो उसने कहा कि आह्ह्ह्हह उफफ्फ्फ्फ़ ज़ोर से और ज़ोर से और मैंने अपना पूरा मुँह उसकी चूत पर रख दिया और में चूत को चाटने लगा और उनके दाने को लीक करने लगा और चूत को चूसने लगा। तब में एक हाथ से उनके बूब्स को भी दबा रहा था और दूसरे से उनकी गांड को दबा रहा था तो वो चीखने लगी आह्ह्ह्हह हाँ मुझे बहुत मज़ा आ रहा है अमन आज तो मेरी ज़िंदगी का सबसे खुशकिस्मत दिन है,

जो तुम आज मुझे मिल गए, कितने दिनों से मैंने तुम पर अपनी नज़र डाली हुई थी, प्लीज और ज़ोर से आह्ह्ह्हह आईईईईइ फिर में बहुत देर तक उसकी चूत को चाट रहा था तो अचानक से उसकी चूत से पानी निकल गया और वो कहने लगी वाह अमन मज़ा आ गया। फिर उसने अचानक मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया और कहा कि तुमने मुझे खुश कर दिया है, लेकिन अभी भी मेरी प्यास नहीं बुझी है।

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

फिर वो मेरे लंड को चूसने लगी और कहने लगी कि तुम्हारा लंड तो बहुत मज़ेदार है और बहुत स्वादिष्ट है, इतना बड़ा और तगड़ा लंड आज तक मैंने नहीं देखा और उसने मेरा पूरा बदन चूसना शुरू कर दिया और वो मेरे लंड को ज़बरदस्त तरीके से चाटने लगी, जब मेरा लंड एकदम कड़क हो गया। फिर उसने मुझसे कहा कि प्लीज अब और मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा है, में तुम्हारे लंड से संतुष्ट होने के लिए पागल हो रही हूँ, प्लीज अब तू इसको मेरी चूत में डाल दो।                                                            “Lund Par Hath Fera”

दोस्तों में भी उस वक्त तक एकदम गरम और जोश में आ चुका था और सीधी सी बात है कि एक इंसान जिसने कभी चुदाई ना की हो, उसका क्या हाल होगा, आप खुद समझ सकते है? फिर मैंने ज़ोर से जब उसकी चूत में अपना लंबा और मोटा लंड एक जोरदार धक्का देकर डाला तो दर्द की वजह से उसके मुहं से चीख निकलने लगी, आईईई प्लीज थोड़ा धीरे ऊफ्फफ्फ्फ् करो, में मर गई और उसने कहा कि प्लीज धीरे तुम्हारा लंड तो बहुत ताक़तवर है, मुझे बहुत दर्द हो रहा है।

अब में अपनी तरफ से अब उनको धीरे धीरे झटके देने लगा। में अपना पूरा लंड उनकी चूत से बाहर निकालता और फिर धीरे धीरे अंदर डालता जाता, जिसकी वजह से उसको बहुत मज़ा आने लगा था और वो कुछ देर बाद मुझसे कहने लगी, हाँ थोड़ा ज़ोर से और ज़ोर से में तुम्हारी ही हूँ, मेरा पति तो एकदम चूतिया है साला नाकारा हाँ मज़ा आ गया, स्सीईईईइ तुम्हारा लंड तो वाकई में बहुत लाजवाब मजेदार है, यह जिस लड़की को भी नसीब होगा, वो इस पूरी दुनिया में बहुत खुशनसीब होगी।                                    “Lund Par Hath Fera”

अब वो अहह्ह् सस्सस ओह्ह्ह्ह चोदो मुझे ज़ोर से प्लीज ज़ोर से चोदो ना और ज़ोर से अहह्हह् वो बस यही बात कहती रही और फिर उसने कुछ देर धक्के देने के बाद मुझे बहुत कसकर हग कर लिया और वो मुझसे कहने लगी, ऊऊह्ह्ह्हहह हाँ और ज़ोर से स्सीईईईई तुम बहुत अच्छे हो, में अगर तुम्हें पहले से मिल जाती तो में हर रोज़ तुम्हारे लंड का ऐसे ही जमकर मज़ा लेती, लेकिन उफफ्फ्फ्फ़ तुम मेरी खराब किस्मत देखो आह्ह्ह्ह मुझे अब एक सप्ताह के बाद दूसरे शहर जाना है, तो इसलिए तुम मेरी सारी जिंदगी का रस इस एक सप्ताह में ही निकाल देना,

अऊऊऊऊऊऊऊहह तुम मुझे अपनी चुदाई से पूरी तरह से संतुष्ट कर देना आह्ह्ह्ह। फिर हम दोनों कुछ देर धक्के देने के बाद जोश में आकर एक साथ ही झड़ गये और वो कुछ ही मिनट में ठंडी पड़ गई और वो मुझसे कहने लगी कि तुम सच में बहुत अच्छे दमदार इंसान हो, तुमने मुझे आज पहली बार इतनी देर तक चोदकर बहुत मज़ा दिया है, मेरी इस तरह की ताबड़तोड़ चुदाई किसी ने नहीं की, वाह आज मुझे पहली बार सेक्स का असली मज़ा आया।                                                   “Lund Par Hath Fera”

दोस्तों लेकिन में अब भी पूरी तरह से ठंडा नहीं हुआ था, मुझमें अब भी बड़ा जोश था, इसलिए मैंने उसको दोबारा किस करना, उसके बूब्स को दबाना और सहलाना शुरू कर दिया था, जिसकी वजह से वो थोड़ी ही देर में एक बार फिर से चुदाई के लिए तैयार हो गई थी, वो मेरा पूरा साथ दे रही थी।

अब मैंने उससे कहा कि अब मुझे तुम्हारी गांड में अपना लंड डालना है, में तुम्हारी गांड के भी मज़े एक बार लेकर देखना चाहता हूँ। फिर उसने मुझसे कहा कि तुम्हारा कहना सब ठीक है, लेकिन आज तक मैंने वो काम नहीं करवाया, जो तुम करना चाहते हो, उससे मुझे बहुत दर्द होगा। तब मैंने उनसे कहा कि यह तुम्हारी मर्ज़ी तुम पहले सोच लो, अगर हाँ कहोगी तो में ऐसा करने के बारे में सोचना शुरू करूं और आगे बड़ना शुरू करूं?                                                                                   “Lund Par Hath Fera”

अब वो मेरी तरफ हंसती हुई बोली कि तुम्हारे लिए तो में कुछ भी कर सकती हूँ, क्योंकि आज तुमने ही इतने सालों बाद मुझे और मेरी इस जवानी को दोबारा ज़िंदा और हरा भरा कर दिया है, इसलिए आज से तुम मुझसे जो भी जैसा भी कहोगे, में जरुर करूंगी और फिर वो इतना कहकर मेरा लंड अपने मुहं में लेकर चूसने लगी और उसके मुहं की गरमी और चूसने के तरीके से मेरा लंड एक बार फिर से तनकर खड़ा हो गया और इस काम के बीच में उसके बूब्स को सहला दबाता रहा था।

फिर जब मेरा पूरा लंड खड़ा हो गया तो मैंने उसको डॉगी स्टाईल में बैठा दिया और धीरे से धक्का देते हुए में उसकी गांड में अपना गीला लंड डालने लगा फिर जब एक इंच लंड उसकी गांड के अंदर गया तो अचानक उसने गांड को नीचे करके लंड को बाहर निकाल दिया और वो मुझसे कहने लगी कि आह्ह्ह्ह्ह मुझे बहुत तक़लीफ़ हो रही है, एक तो तुम्हारा लंड बहुत मोटा दमदार है और इसलिए यह मेरे इस छोटे छेद में अंदर नहीं जा रहा है, लेकिन दर्द मुझे बहुत हो रहा है।                                                    “Lund Par Hath Fera”

फिर कुछ ही समय में उसने मुझे और मैंने उसको पकड़ लिया था, क्योंकि हम दोनों अब जोश में आकर बिल्कुल पागल हो चुके थे और हम एक दूसरे को किस कर रहे थे, में कभी उसके बूब्स को दबाता, चूसता और कभी जीभ को चाटने लगता और फिर मैंने उससे पूछा क्या कोई क्रीम है तुम्हारे पास? तो उसने हाँ कहकर उठाकर लाकर मुझे क्रीम दे दी।

अब मैंने उसको दोबारा से घोड़ी बनाकर उसकी गांड पर क्रीम लगा दी और अपने लंड पर भी बहुत सारी क्रीम लगाई। फिर मैंने लंड को उसकी गांड के मुहं पर सेट करके उसके दोनों कूल्हों को मजबूती से पकड़कर एक जोरदार झटके से अपने पूरे लंड को अंदर डाल दिया, जिसकी वजह से वो दर्द की वजह से ज़ोर ज़ोर से चीखने चिल्लाने लगी, आईईईईइ नहीं अहह्ह्ह में मर गई, तुम ऐसा मत करो, वो दर्द से छटपटाने लगी, लेकिन मैंने तब भी उसको मुझसे अलग नहीं होने दिया                                   “Lund Par Hath Fera”

और सेक्स का जुनून मेरे सर पर सवार होने की वजह से में उसको झटके पे झटके लगता रहा और वो अह्ह्ह्हह उफ़फ्फ़फ्फ्फ करती रही और उसको भी थोड़ी ही देर बाद में मज़ा आने लगा और वो अब मुझसे कहने लगी आअह्ह्ह्ह उफफफ्फ़ मुझे बहुत दर्द हो रहा है, आईईईइ तुम्हारा लंड तो पत्थर की तरह बड़ा सख़्त है अहह्ाहह ओउउफ्फ, लेकिन अब मुझे तुम्हारे इस दर्द के साथ साथ मीठा मज़ा भी बहुत आ रहा है आईयईईई आहहहह प्लीज मज़ा आ रहा है

और वो लंड को बाहर नहीं निकालने दे रही थी और फिर जब में ठंडा हो गया तो उसने मुझसे कहा कि आज तो तुमने मेरी कितने सालों की इच्छा को इन दो घंटो में पूरा कर दिया है, तुम बहुत अच्छे हो, जब भी में वापस अपने इस शहर में आउंगी, तब में तुम से जरुर मिलकर अपनी चुदाई दोबारा करवाउंगी, क्योंकि तुमने आज मुझे वो मज़ा दिया है, जिसके लिए में अब तक वंचित थी और                    “Lund Par Hath Fera”

यह मेरा पहला जोश भरा सेक्स अनुभव का पूरा मज़ा मिला है, तुमने बहुत देर तक जमकर मुझे यह मज़ा दिया है और में तुम्हारे साथ यह मज़े करके बड़ी खुश हूँ, आज से तुम जब तक में यहाँ पर हूँ, मेरी चुदाई कर सकते हो, में हर बार तुम्हारी चुदाई के लिए जब भी तुम मुझसे कहोगे, में तुम्हें हमेशा हाँ कहूंगी। फिर मैंने उसको एक जोरदार धक्का देकर अपना पूरा वीर्य उसकी गांड की गहराई में डालकर कुछ देर बाद मैंने उसको अपनी बाहों में जकड़कर कहा कि हाँ मेरी प्यारी सेक्सी जान तुम भी मुझे जब कहोगी, में चला आऊंगा और तुम्हारे साथ ऐसे ही मज़े करूंगा और तुम्हें हमेशा खुश रखूंगा। फिर उसके बाद मैंने उनके कहने पर फिर से कई बार चोदा और बड़े मज़े किए ।