बुआ के लड़के ने रंडी बनाया

Bua ke ladke ne randi banaya

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम अनिता है, मेरी उम्र 27 साल है और आज में आपको अपने पहले सेक्स के बारे में बताने जा रही हूँ.

ये बात मेरी शादी के पहले की है, तब मेरी उम्र 24 साल थी और में अपने मम्मी, पापा, मेरी बहन इशिका और मेरे कज़िन दीपू के साथ रहती थी.

जब दीपू की उम्र 18 साल थी, वो मेरी बुआ का लड़का है, वो यहाँ पर रहकर पढ़ाई करता है. में, इशिका और दीपू एक ही कमरे में सोते थे और मेरे मम्मी, पापा सर्विस करते है, वो दोनों सुबह चले जाते और रात को लौटते थे. फिर एक बार मेरे मम्मी, पापा और इशिका 2 दिन के लिए बाहर गये थे, तो तब में और दीपू घर में अकेले होते थे, हम दोनों में अच्छी दोस्ती भी थी.

फिर एक दिन दीपू कमरे में था और पढ़ाई कर रहा था, तो में कमरे में गयी और उसके पास कुर्सी पर बैठ गयी. फिर तब मैंने उसकी टेबल पर से एक किताब उठाकर खोली, तो उसमें से कुछ गिरा तो उसके गिरते ही में उसे उठाने के लिए झुकी. अब दीपू भी झुक गया था, लेकिन मैंने उसे पहले उठाया और जब देखा तो वो एक एडल्ट सेक्स बुक थी.

मैंने दीपू की तरफ देखा, तो उसने अपनी नजरे नीचे कर ली. फिर मैंने उसे डांटने के बजाए उससे मजाक में कहा कि अच्छा तो ये पढ़ा जा रहा है, अब तो बुआ को बुलाना ही पड़ेगा कि तुम्हारे लिए लड़की ढूंढे. फिर ये बात सुनकर उसने भी मुझे देखा. अब में मुस्कुरा रही थी और वो भी शर्माने लगा था. फिर मैंने पूछा कि कभी किसी के साथ ये कर चुके हो? तो उसने हैरान होकर मुझे देखा और चुप रहा. फिर मैंने ज़िद की बताओ ना, तो उसने कहा कि नहीं और फिर ऐसे ही बातों-बातों में हम दोनों एक दूसरे को अपनी-अपनी बातें बताने लगे.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  दीदी की सील मेरे सामने टूटी-1

फिर उसके बाद से हम दोनों अपने बीच सेक्स की बातें भी करने लगे. में जानती थी कि दीपू मुझे चोदना चाहता है, मुझे सेक्स में बहुत रूचि थी. मैंने सेक्स पहले कभी नहीं किया था, लेकिन में सेक्स करने के लिए बेताब थी.

फिर एक रात को में और दीपू सो रहे थे तो अचानक से मेरी नींद टूट गयी. अब दीपू सो रहा है, तो तब मेरी नज़र उसकी पेंट पर पड़ी तो मैंने देखा कि उसका लंड पेंट में से खड़ा था. अब में समझ गयी थी कि वो नींद में गर्म है और मैंने कभी इतना बड़ा लंड नहीं देखा था. अब उसे देखकर मेरे बदन में सनसनी मच गयी थी तो फिर में अपने आपको रोक ना सकी और उसके लंड को पकड़ लिया.

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

तभी वो उठ गया और मुझे देखने लगा और मेरे कुछ बोलने से पहले वो मेरे ऊपर आ गया और मेरे लिप्स को चूसने लगा और मेरी स्कर्ट को कमर तक उठा दिया. अब मेरे दिल में एक तरह की गुदगुदी हो रही थी. फिर मैंने उसका कोई विरोध नहीं किया, तो वो अपना एक हाथ मेरी चूत तक ले गया और मेरी चूत को दबाने लगा.

फिर उसने मेरे कान में कहा कि अनीता मेरे लंड को दबाओ, तो में उसकी पेंट के अंदर हाथ डालकर उसके लंड को दबाने लगी और उसका लंड करीब 2 इंच मोटा और 7 इंच लंबा था. फिर तभी वो मेरी कमीज के हुक खोलकर मेरी ब्रा के ऊपर से ही मेरी चूचीयों को दबाने लगा. फिर उसने अपना हाथ मेरी पीठ की तरफ लेकर मेरी ब्रा खोलकर निकाल दी और मेरी चूची को अपने मुँह में लेकर चूसने लगा और अपनी उंगलियों को मेरी कमर से लेकर मेरी चूत पर और जाँघो पर फैरने लगा.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  Meena didi ke ghar jakar chut mari-1

फिर थोड़ी देर के बाद वो मेरे ऊपर आ गया और अपने हाथों से मेरी दोनों जाँघो को फैला दिया और अपनी उँगलियों से मेरी चूत को फैला दिया और अपने लंड को मेरी चूत पर दबाने लगा. फिर उसने एक झटके से अपना लंड आधा मेरी चूत के अंदर घुसा दिया. फिर में तड़पकर चिल्ला उठी हाए मार डाला, अब मुझे बहुत दर्द हो रहा था. फिर वो मेरे होंठो को चूसने लगा और दूसरा झटका दे दिया, तो मेरी जान ही निकल गयी.

अब उसका 7 इंच का पूरा लंड मेरी चूत के अंदर था. अब वो अपनी गांड को आगे पीछे करके धीरे-धीरे झटके देने लगा था, तो 7-8 झटको के बाद मुझे भी मजा आने लगा. फिर मैंने अपने दोनों पैरों से उसे जकड़ लिया और नीचे से झटके देने लगी. अब ऐसे मजेदार पल में मेरे मुँह से आआहहाहाहह, आआअहह की आवाज़े आ रही थी.

फिर कुछ देर के बाद मेरी चूत में से गर्म पानी निकलने लगा, अब में झड़ने लगी थी. दीपू अभी भी उसी रफ़्तार पर था और फिर कुछ झटको के बाद उसने भी अपना सारा माल मेरी चूत के अंदर ही छोड़ दिया और मेरे ऊपर से उठकर मेरी साईड में लेट गया. फिर मैंने उठकर अपना सिर उसके सीने पर रखा, फिर उसने उसी रात मुझे 6 बार और चोदा और शादी से पहले दीपू ने मुझे चोद-चोदकर रंडी बना दिया.

HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!