बुआ के नंगे जिस्म की मसाज-1

(Bua ke nange jism ka massage-1)

हेलो दोस्तों, मैं आप सभी के सामने अपनी एक सच्ची घटना लेकर आया हूँ.. दोस्तों यह कहानी है मेरी बुआ और मेरी.. इससे पहले मैं अपने बारे में बता दूँ कि मेरा नाम विक्की है और मेरी उम्र 26 साल हाईट 5.8 इंच और मेरा वजन 64 किलो है. मैं पुणे महाराष्ट्र में रहता हूँ और यहाँ की एक बहुत बड़ी प्राइवेट कंपनी में नौकरी करता हूँ और मुझे हमेशा से ही बड़ी उम्र की औरतों में ज्यादा रूचि है.. जितनी बड़ी औरत उतना ही ज़्यादा मज़ा. यह कहानी मेरी और मेरी बुआ के साथ सेक्स की है. मेरी बुआ संध्या और मेरी बचपन से ही बहुत जमती है और उनकी शादी से पहले में पैदा हुआ था. अभी उनकी उम्र लगभग 42 साल होगी.. लेकिन वो अपनी शादी से इतनी कुछ खुश नहीं दिखती और उनका फिगर भी ठीक ठाक है.. उनके दो बच्चे है एक लड़का और एक लड़की.

वो मेरे घर पर साल में दो बार आती है.. गर्मी की छुट्टियों में और दीवाली की छुट्टियों में. मैं बचपन से ही सब बच्चों में उनके सबसे करीब रहा हूँ. यह कहानी आखरी गर्मियों की छुट्टियों की है बुआ घर पर आई थी कुछ 20-25 दिन हो गये थे. अंकल बुआ के पति उन सबको ले जाने के लिए वो छुट्टियों के आख़िर में आते है और अब बुआ की छुट्टियों का एक महीना बाकी था. मैं पुणे में नौकरी करता हूँ तो महीने में एक बार घर जाता हूँ. इस बार बुआ आई है यह सोचकर मैं 15 दिन की छुट्टी लेकर आया था.

फिर मैं घर में सभी लोगों से मिला बुआ के बच्चो से बातचीत की.. हम सब लोग हमारे घर के हॉल में सोते है मैं बुआ उनके दो बच्चे मेरा भाई और मैं. मेरा और मेरे भाई का एक ही बेडरूम है.. लेकिन फिर भी हम लोग एक साथ मिलकर सोते है. तो जब मैं गया तो उसके दूसरे दिन बुआ ने कहा कि ज़रा मेरे पैर दबा दो बहुत दर्द कर रहे है तो मैंने नॉर्मली उनके पैर दबाने शुरू किए. वो घर में गाऊन पहनती है तो मैंने गाऊन के थोड़ा अंदर हाथ डालकर पैर दबाने शुरू किए.

उनके पैर बड़े सेक्सी है और मुझे उनके गोरे, मुलायम, नाज़ुक पैर दबाने में बड़ा मज़ा आ रहा था तो मैंने घुटनो तक गाऊन को ऊपर किया और थोड़ा थोड़ा उनकी जाँघो को भी छुआ मैं सच में पागल हो रहा था और मेरा लंड उनके पैरों को हाथ लगाकर पूरा तन गया था. उनके भी दोनों पैरों के बीच का हिस्सा हल्की हल्की गर्मी महसूस कर रहा था और वो अपनी दोनों आखें बंद करके मेरी मसाज का मज़ा ले रही थी. तो उन्होंने कहा कि अब बस कर और सो जाओ. फिर मैं लेट गया और सोने की कोशिश करने लगा.. लेकिन अब मुझे कहाँ नींद आने वाली थी और मुझे उनके गोरे गोर पैर और भरी हुई जांघे आखों के सामने दिखाई दे रही थी.. वैसे मैं अपनी बुआ से बहुत खुलकर बात करता हूँ और उन्हे पता है कि मेरे लेपटॉप और मोबाईल में पॉर्न वीडियो रहते है और मैं हर कभी देर रात तक सेक्स चेट करता हूँ और वो बहुत बार मुझे चिढ़ाती भी थी कि मैं पॉर्न साईड देखता हूँ.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  मामी ने मुझे पालतू बनाया-2

फिर अगले दिन सुबह हम लोग कुछ बातें कर रहे थे तो बुआ ने मेरे पैरों की उंगलियों पर अपनी उंगलियों से सहलाना शुरू किया मैं फिर से गरम होने लगा.. लेकिन उनके चहरे पर कुछ खास नहीं था और फिर दिन बीत गया रात में बच्चो ने ऊपर बेडरूम में सोने का प्लान बनाया..

मेरे भाई का और एक मेरा ऊपर दो बेडरूम है. भाई के बेडरूम में टीवी है और मेरे बेडरूम में टीवी नहीं है. तो बच्चे फिल्म बहुत देखते थे तो बुआ बोली कि बुआ के दो बच्चे और मेरा भाई टीवी वाले रूम में सो जाए और मैं, बुआ मेरे रूम में सो जाएगें. तो मैं और संध्या बुआ मेरे रूम में चले गये और उन्होंने बेड पर लेटे लेटे कहा कि कल की तरह पैर दबा दे ना.. बहुत आराम मिला कल और थोड़ी सी कमर भी दबा देना और यह कहकर उन्होंने ही अपना गाऊन घुटनों से ऊपर कर लिया और अब हम दोनों ही रूम में थे. मैं तो सिर्फ़ शर्ट में सोता हूँ और ऊपर कुछ नहीं पहनता.. तो मैंने अपनी शर्ट निकाली.

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

वैसे तो मेरा शरीर ठीक ठाक है क्योंकि मैं रोज़ घर पर ही कसरत करता हूँ जिम नहीं जाता. तो वो मेरी छाती को हाथ लगाकर बोली कि कितने सारे बाल है तेरी छाती पर और उसमे उंगलियां घुमाने लगी और बोली कि आजकल बॉडी बनाकर कोई नयी आंटी के चक्कर में रहेगा.. तू बड़ा हरामी है.

फिर मैंने बोला कि बुआ ऐसी कुछ भी बात नहीं है और मैं एक छोटी सी शर्ट पहनकर उनके पैरों के पास बैठ गया और अपने दोनों हाथों से उनके पैर सहला रहा था और दबा रहा था और मैं आज थोड़ा हाथ ऊपर तक ले गया.. लेकिन वो कुछ भी नहीं बोली और कोई भी विरोध नहीं किया.. उनकी जांघे बहुत गरम थी और मुझे दोनों जाँघो के बीच में बहुत गरमी महसूस हो रही थी और इस कारण से मेरा लंड पूरा खड़ा हो चुका था.. वो सिर्फ़ थोड़ा ज़ोर से दबाने को कह रही थी और मैं उनके मुलायम पैरों का मज़ा लिए जा रहा था. फिर उन्होंने कहा कि अभी थोड़ी कमर और पीठ दबा दे और पलट कर लेट गयी. तो मैं गाऊन को थोड़ा ऊपर करके कमर के ऊपर से दबाने लगा और पीठ भी और फिर कमर दबाते वक़्त उनकी गांड को दो बार दबाया.. मेरा खड़ा हुआ लंड उन्हें महसूस हुआ और उन्होंने मुड़कर देखा.. लेकिन कुछ नहीं बोली और फिर कुछ देर बाद बोली कि बस करो.. चलो अब हम सो जाते है तो हम लाईट बंद करके सो गये.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  चाची से प्यारा कौन

फिर रात को जब मैं जगा तो मैंने देखा कि बुआ का गाऊन कमर तक ऊपर आ गया था और उनका एक पैर मेरे पैर के ऊपर आ गया था और उनकी मोटी नंगी जाँघ मेरे पैर के ऊपर.. वाह मैं बता ही नहीं सकता. फिर मैंने धीरे से उनकी जाँघ से अपना हाथ छुआ और वैसे ही सो गया. फिर अगले दिन दोपहर में मेरे भाई के पैर में मोच आ गई और मैं उसकी मसाज कर रहा था और तभी मेरी माँ कहती है कि मैं बहुत अच्छा मसाज करता हूँ पापा और मेरा भाई मुझसे अक्सर नहाने से पहले बॉडी मसाज करवा लेते है और कभी कभी माँ भी उनके पैरों की मसाज करवा लेती है. तो मुझे अपने भाई का मसाज करते देख माँ बुआ से बोली कि आप इससे एक बार अपने पैरों के मसाज करवा लो.. इसका हाथ बहुत अच्छा है शायद दर्द कम हो जाए. तो बुआ बोली कि ठीक है फिर वो दिन भी चला गया और मैं उस रात को खाना खाकर ऊपर अपने रूम में बेड पर उल्टा लेटकर लेपटॉप पर पॉर्न फिल्म देख रहा था तो मेरा लंड खड़ा हो गया और तभी अचानक से बुआ मेरे रूम के अंदर आ गई.. उन्होंने सफेद फूलों की डिज़ाइन वाला गाऊन पहना था और मैंने उनको आता देख लेपटॉप सिर्फ़ बंद किया और मैं वैसे ही रह गया. तब वो हंसते हुए बोली कि तू नहीं सुधरेगा.. अब तो बस कर.. 26 साल का हो गया है कब तक देखेगा यह पॉर्न वीडियो? फिर मैंने शरमाते हुए उनके सामने लेपटॉप खोला और पूरी तरह से बंद करने लगा तो उन्होंने कहा कि रहने दो बंद मत करो.. लेकिन मैं कुछ समझा नहीं.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  Meri Bua Ke Sath Hasin Raat-2

मैं पहले ही बहुत बुरा महसूस कर रहा था और वो वीडियो बंद करके फोल्डर वैसा ही रखा.. बुआ नॉर्मल होने लगी और बातें करने लगी. तभी उन्होंने कहा कि आज तू दर्द कम होने के तेल से मेरे पैरों को मसाज कर दे.. तेरी माँ ने बोला है कि तेरे हाथ में जादू है. फिर मैंने नीचे जाकर वो दर्द के तेल की बोतल ले आया और तब तक बुआ बेड पर उल्टी लेटकर मेरे लेपटॉप में कुछ कर रही थी और जब मैं आया तो मैंने उनसे कहा कि चलो बुआ आज आपके पैर का दर्द पूरा गायब कर देता हूँ.. वो मुझे देखकर हंसी उन्होंने आज अपना गाऊन घुटनो से बहुत ऊपर उठा लिया था ताकि गाऊन को तेल ना लग जाए और वो अभी तक उल्टी लेटी हुई थी.. मैंने हाथ में थोड़ा सा तेल लेकर उनके पैरों पर लगाना शुरू किया और फिर धीरे धीरे तेल अपना असर करने लगा था.

वो कहने लगी कि बाप रे क्या इतना सारे सेक्सी विडियो भर रखे है ज़रा देखूं तो मैंने आज तक बहुत कम देखा है और उन्होंने एक वीडियो शुरू किया और मैं गर्दन नीचे करके उन्हे तेल लगा रहा था और उस वीडियो में एक लड़का एक आंटी को गरम कर रहा था और बुआ भी धीरे धीरे गरम हो रही थी और वीडियो पूरे मज़े से देख रही थी.

HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!