चाची बोली मेरी चूत गांड फाड़ दो पेल पेल के-2

(Chachi Boli Meri Chut Gand Fad Do Pel Pel Ke-2)

फिर मैंने उनकी साड़ी को ढीला कर दिया और उनके पेटीकोट के नाड़े को खोलकर दोनों को नीचे की तरफ से खींचकर उतार दिया, जिसकी वजह से अब उनके बदन पर सिर्फ़ पेंटी ही बची थी और में उनका भरा हुआ गोरा बदन देखकर बिल्कुल पागल हो रहा था। फिर मैंने सही मौका देखकर उनकी पेंटी को भी जल्दी से नीचे उतार दिया और मैंने पहली बार देखा कि उनकी चूत एकदम साफ थी जिसको देखकर में बिल्कुल पागल हो गया था और मेरी नजर चूत से हटने को तैयार ही नहीं थी और अब में उनकी गरम कामुक चूत को अपने हाथ से रगड़ने लगा था, जिसकी वजह से चाची अब जोश में आकर अपने शरीर को मोड़ रही थी और सिसकियाँ भर रही थी।

फिर मैंने चाची की चूत के दाने पर अपनी एक उंगली रखी और में चाची के मुझसे कुछ कहने का इंतज़ार करने लगा और आख़िरकार कुछ देर बाद चाची ने मुझसे कहा कि राज अब प्लीज थोड़ा जल्दी से तुम अपनी ऊँगली को अंदर डाल भी दो, मुझे और मत तड़पाओ और वो अपनी आँखे खोलकर मेरी तरफ देखकर मुस्कुराई। फिर मैंने उनका इशारा समझकर एक झटके से अपनी दो उँगलियाँ चाची की चूत में अंदर तक डाल दी, लेकिन मुझे बहुत ज़ोर लगाना पड़ा,                                          Meri Chut Gand Fad Do

क्योंकि चाची मेरे चाचा के पास ना रहने की वजह से उनसे कम ही चुदती थी। मेरे चाचा अपने काम से हमेशा घर से बाहर ही रहते और वो अपने कामों में लगे रहते थे, वो चाची को बहुत कम समय देते थे और उनकी बहुत कमी से चुदाई करते थे और इसलिए उनकी चूत अब भी बहुत टाइट थी, जिसकी वजह से उनको बहुत दर्द हुआ।

फिर वो ज़ोर से चिल्लाई आह्ह्हहह ऊह्ह्ह्हह्ह म्माईई माँ मर गई प्लीज थोड़ा धीरे करो उफ्फ्फ्फ़ मुझे बहुत दर्द होता है और में दो महीने की गर्भवती भी हूँ। अब उसका भी ध्यान रखो उफ्फ्फ्फ़ प्लीज धीरे धीरे करो वरना बच्चे को परेशानी होगी। दोस्तों तब उस दिन मुझे पहली बार पता चला कि वो दोबारा माँ बनने वाली है और उनके पेट में उस समय कोई बच्चा था और फिर में उनके मुहं से वो बात जानकर उनकी समस्या को समझकर धीरे धीरे अपनी उंगली को आगे पीछे करके उन्हे चोदता जा रहा था और वो मुझसे बोल रही थी आह्ह्ह्हहह वाह मुझे बहुत मज़ा आ रहा है।

मुझे ऐसा लग रहा है कि जैसे आज मेरी मस्त चुदाई हो रही है मुझे बड़ा आराम मिल रहा है। दोस्तों तब में कुछ देर बाद अपनी ऊँगली को अंदर बाहर करने के साथ साथ उनकी चूत को चाटने, चूसने भी लगा और अब वो बोले जा रही थी आह्ह्हहह उफफ्फ्फ्फ़ राज आज पहली बार मेरी चूत को किसी ने इस तरह अपनी जीभ से चाटा है आह्ह्हहह ऊऊहह मुझे बहुत मज़ा आ रहा है हाँ और तेज़ कर तू बहुत अच्छा लड़का है वाह मज़ा आ गया।                                       Meri Chut Gand Fad Do

हिंदी सेक्स स्टोरी :  विधवा आंटी के साथ मस्ती

फिर में चाटता रहा और फिर कुछ देर बाद अचानक से उन्होंने मुझे कसकर पकड़ लिया, वो मेरा सर पकड़कर अपनी चूत पर दबाने लगी और तभी में तुरंत समझ गया कि वो अब झड़ने वाली है और अब में रुक गया। तो वो चिल्लाने लगी आआअहह ऊउह्ह्ह्ह राज प्लीज अब मत रुक साले प्लीज आईईईइ थोड़ा जल्दी से कर ना और तब मैंने अपनी दोनों उँगलियों को उनकी चूत में डालकर अंदर बाहर करने लगा और उनकी चूत को अपनी उंगली से चोदते चोदते मुझे पूरे बीस मिनट हो गये थे जिसकी वजह से अब मेरा हाथ भी दर्द कर रहा था, लेकिन मुझे वो सब करने में बहुत मज़ा भी आ रहा था और फिर थोड़ी ही देर में चाची अब झड़ गयी थी और उनकी चूत ने बहुत सारा पानी छोड़ दिया था, जिसको देखकर में दूर हट गया था।

फिर मैंने उसके बाद सही मौका देखकर अपने कपड़े उतारने शुरू कर दिए और जब मेरा लंड बाहर आया तब चाची अपनी आखें फाड़ फाड़कर मेरे लंड की लम्बाई मोटाई को देखकर चाची एकदम से डर गयी और वो मुझसे कहने लगी कि में कोई रंडी थोड़ी ना हूँ, तू शायद भूल गया है कि में तो तेरी चाची हूँ और तू मुझे नहीं चोद सकता। चल अब इसको कपड़ो के अंदर कर ले, क्यों मुझे इसको दिखाकर डरा रहा है। दोस्तों तब मैंने उनसे बिना कुछ कहे अपना लंड जबरदस्ती चाची के मुहं में डालना चाहा,                     Meri Chut Gand Fad Do

लेकिन चाची ने साफ मना कर दिया और तब मैंने बिना समय खराब किए चाची को जबरदस्ती बेड पर पटककर उनके दोनों पैरों को फैला दिया और अपना लंड उनकी चूत के मुहं पर रखकर मैंने एक ज़ोरदार धक्का मार दिया, जिसकी वजह से मेरा लंड चाची की चूत में घुस गया। अब चाची के मुहं से खुद ब खुद बहुत ज़ोर की चीख बाहर निकल गई और वो उस दर्द की वजह से ज़ोर ज़ोर से चीखने, चिल्लाने लगी। वो मुझसे कहने लगी आह्ह्हहह माँ में मर गई आईईईईई साले कुत्ते हरामी छोड़ दे मुझे, तेरा लंड बहुत मोटा है प्लीज ऊईईईईईईई में मर जाउंगी और फिर मैंने देखा कि दर्द की वजह से उनकी आँख से आँसू भी बाहर आने लगे थे और वो मुझे अपने हाथों से धक्का देकर अपने ऊपर से हटाने की कोशिश करने लगी, लेकिन मेरी मजबूत पकड़ की वजह से वो असफल रही और उनका चिल्लाना अभी तक भी जारी था।

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।
हिंदी सेक्स स्टोरी :  चाची अपनी चूत चुदवाकर खुश हुई

अब मैंने उनके दोनों हाथ पकड़ लिए और फिर अपने लंड को मैंने थोड़ा सा बाहर करके उसी समय दोबारा एक ज़ोरदार धक्का लगा दिया, जिसकी वजह से मेरा पूरा का पूरा लंड फिसलता हुआ उनकी गीली चूत के अंदर चला गया और वो रोते हुए मुझसे बोली कि राज प्लीज़ अब तू मुझे छोड़ दे आह्ह्ह्हह्ह आईईईइ मुझे बड़ा दर्द हो रहा है और देख में गर्भवती भी हूँ प्लीज़ मुझे अब मत चोद तेरा बहुत मोटा है इससे मेरी फट जाएगी तू यह सब मेरे साथ क्या कर रहा है?                                   Meri Chut Gand Fad Do

मेरे ऊपर कुछ तो रहम कर। अब बस कर, आज के लिए बहुत है। फिर मैंने अपनी चाची से पूछा कि पहले यह बताओ कि मेरा क्या मोटा है और तेरी क्या फट जाएगी? तो वो कुछ देर चुप रहने के बाद बोली कि तेरा लंड बहुत मोटा है और इससे मेरी चूत फट जाएगी हरामी, कुत्ते छोड़ दे मुझे, साले तू अब मुझसे क्या चाहता है? तो मैंने कहा कि साली कुतिया तू खुद तो झड़कर शांत हो गयी, मादरचोद की औलाद और मेरे समय पर इतना नखरा दिखाती है। में आज तेरी चूत को तो सच में फाड़ डालूँगा और चुपचाप पड़ी रहकर मेरा साथ दे और अपनी चुदाई का मज़ा ले, यह नखरा करना बंद कर दे।

फिर में उसके ऊपर लेटकर अपने लंड को थोड़ा सा बाहर निकालकर फिर अपनी पूरी ताक़त से अंदर डालते हुए उसको चोदने लगा और वो रोए और चिल्लाए जा रही थी, वो मुझसे कह रही थी कि मादरचोद छोड़ दे, जाने दे मुझे आह्ह्ह्हह्ह बहुत दर्द हो रहा है, में मर जाउंगी। फिर मैंने उससे कहा कि साली कमीनी कुतिया तू मुझे मेरी हर छोटी छोटी गलती पर बहुत बार डांटती थी और मेरी मम्मी पापा से मेरी शिकायत भी तू बहुत बार करती थी, ले अब आज तू उन सबकी गलती भुगत, आज क्यों तुझे अहसास हो रहा होगा? तो उसने कहा कि में अब दोबारा कभी भी तेरी कोई भी शिकायत नहीं करूँगी, लेकिन तू प्लीज़ थोड़ा धीरे कर और मुझे बहुत दर्द हो रहा है,               Meri Chut Gand Fad Do

हिंदी सेक्स स्टोरी :  चूत में बेलन पेल लिया आंटी ने

लेकिन में तो उससे अपना बदला लेना चाहता था, इसलिए मैंने चाची की कोई भी बात नहीं मानी और चाची मना करने के लिए ना में अपना सर हिलाती रही और वो साथ में रोती भी रही फिर करीब 35-40 मिनट तक लगातार धक्के देने के बाद में झड़ गया और मैंने अपना सारा माल उनकी चूत में डाल दिया। उसके बाद जब मेरा लंड शांत हुआ तो मैंने चाची को छोड़ दिया और में उनके ऊपर से हट गया। फिर में उठकर बाथरूम में जाकर अपने लंड को पानी डालकर अच्छी तरह से साफ करने लगा। में उस दिन अपनी चाची की चुदाई करके बहुत खुश था, क्योंकि एक तो मुझे उनकी चुदाई का मौका मिला और दूसरा मेरा उनसे बदला भी पूरा हो गया था।

दोस्तों उस चुदाई के बाद मैंने कई बार अपनी चाची की चूत चोदी और उनकी गांड भी मारी। अपने लंड को उनके मुहं में डालकर उनका पूरा मुहं अपने गरम गरम वीर्य से भी भर दिया, लेकिन अबकी बार मैंने उनके साथ सेक्स के मज़े लिए और उनको भी उनके कहने के हिसाब से धीरे धीरे चोदा और उनको हर बार अपनी चुदाई से पूरी तरह से संतुष्ट किया, क्योंकि अब मेरा उनसे वो बदला पूरा हो गया था और चाची अब मुझसे नहीं लड़ती थी और ना ही वो मेरी गलतियों को मेरे घरवालों तक पहुंचाती थी।

अब उन्हे मेरे साथ अपनी चुदाई करवाने में बहुत मज़ा आता है और वो हमेशा मुझसे अपनी चुदाई करवाने को तैयार रहती है और कभी भी मना नहीं करती और वो मुझसे कहती है कि में बहुत अच्छी चुदाई करता हूँ और उनको मेरी चुदाई करने का तरीका बहुत अच्छा लगता है, लेकिन दोस्तों अब वो मुझसे दूर चली गई है और वो कहीं दूसरे शहर में रहती है, जिसकी वजह से मुझे उनकी चुदाई करने का मौका ही नहीं मिलता ।                                                                  Meri Chut Gand Fad Do

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..
HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!