चार दोस्तो का एक हसीन सेक्स गेम-2

Char dosto ka ek hasin sex game-2

तभी सम्राट बोला कि भाई अब शुरू करते करते है और इंतज़ार नहीं हो रहा। सभी हसने लगे।
सुहानी बोली कि ऋषि ये खेल तुम्हरे दिमाग की उपज है तो तुम ही इसके सारे नियम बनाओ।

ऋषि- तो आप लोग नियम सुनो इस खेल के

1. कोई भी किसी भी काम के लिए मना नहीं करेगा ।
2. मै(ऋषि) और रिचा आमने सामने बैठेगे और सुहानी और सम्राट आमने सामने।
3. हर एक काम अपने नहीं बल्कि दूसरे पार्टनर के साथ करना होगा। जैसे कि अगर सम्राट को किस करने का आया तो वो रिचा को करेगा सुहानी को नहीं
4.

4. अगर खेल के बीच म किसी को ज्यादा दिक्कत हुई और वो उसे आगे ना खेलना चाहे तो कोई जबरदस्ती नहीं करेगा
5. बाकी के नियम तो अपने आप पता चल ही जायेगें

तो फिर मैंने अपने बैग से तास निकली और खेल शुरू किया।
सबसे पहले बारी थी रिचा की उसने एक पत्ता लिया वो था हुकुम का 7। जैसे कि आपको पहले बताया की हुकुम था सुहानी के पास तो उसने नंबर 7 पढ़ कर सुनाया

सुहानी_ आपको लड़कों के बूब्स मसलने है।
लेकिन वहां रिचा के आलावा सिर्फ एक लड़की थी सुहानी तो वो काम उसी पर भारी पड़ गया। वो ना नुकुर करने लगी तभी रिचा एकदम से कुद्दी और सुहानी के दोनों मम्मे अपने हाथ में लेकर मसल दिए। एकदम हुए हमले से सुहानी की चीख निकाल गई और हम सब हसने लगे।

सुहानी_ रिचा की बच्ची अब आने दे तेरे उपर ऐसा करूंगी की तेरे दोनों संतरे खा जाऊंगी।
सम्राट_ रिचा के संतरे म खाऊंगा आज कोई और नहीं
रिचा_ चलो चलो देखते हैं कौन क्या करता है।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  तीनो बहनों ने बारी बारी से चुदवाया मुँह बोले भैया से

माहौल धीरे धीरे गर्म हो रहा था। मैंने लाईट को धीमा कर दिया ताकि और ज्यादा महौल सेक्सी हो जाए।अगली बारी सुहानी की आई और उसके निकला इंट का 4।

ऋषि_ वाह तो हमारी जान सुहानी को करना है कि या तो वो हर किसी का एक एक कपड़ा उतरवा दे या फिर किसी एक के दो कपड़े।

सुहानी ने हम तीनो को देखा और मेरे को कहा_ ऋषि डार्लिंग अपने दो कपड़े उतार दो।

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

मैंने भी देर नहीं की और अपनी शर्ट और बनियान निकाल दी। मेरे जिस्म को देख कर सुहानी बोलीं कि आज तो इस छाती को चाटने मन कर रहा । मै बोला कि देर किस बात की आ जाओ तभी सम्राट और रिचा दोनों साथ बोले खेल पर ध्यान दो एक दूसरे पर नहीं और सब हसने लगे।
अगली बारी थी मेरी और मेरे आया पान का 10।
रिचा- तो ऋषि मेरी जान आपको सुहानी के होठं पर किस करना है लेकिन एक दूसरे को बिना पकड़े।
मै खुश हो गया और सुहानी की और गया। एक अलग एहसास था अलग खूसबू थी उसकी सांसों में। मैंने उसके होठ से अपने होठ मिलाए और बुरी तरह से चूमने लगा खाने लगा। जैसे ही मैंने उसे काटा तो उसकी मुह से आह्ह्हह्ह निकली मुझे दूर होकर बोली आज सभी मुझे ही खाओगे क्या। सब हसने लगे। अब बारी अाई सम्राट की जो काफी देर से इंतज़ार कर रहा था। उसने उठाया पान का 2

रिचा_ आपको सामने वाले के पेट के ऊपर प्यार का निशान छोड़ना है (सामने वाला मतलब रिचा खुद)। मै तो फस गई अपनें ही जाल में।

ऋषि_ देखा सम्राट सब्र का फल मीठा होता है।

सम्राट कुछ नहीं बोला बस रिचा को लेटाया प्यार से उसके कमीज़ को थोड़ा सा ऊपर किया और उसके नाभि पर पहले चुम्मा और फिर अपने दांत लगा दिए।
रिचा_ आह्हह दर्द हो रहा है पर उससे ज्यादा मज़ा आ रहा है।
फिर सुहानी ने सम्राट को अलग करते हुए कहा सारी रात बाकी है आज ही खाएगा क्या।
उसके बाद रिचा का नंबर आया चिड्डी का गुलाम

हिंदी सेक्स स्टोरी :  मेरी बीवी का डबल चुदाई-1

सम्राट_ रिचा जी आपको बिना ऊपर के कपड़े निकले ब्रा और पैंटी निकालनी है
रिचा_ ये मुमकिन नहीं मैंने पैंट शर्ट पहन रखी है
ऋषि_ कोशिश तो कर वरना सम्राट मदद करेगा
रिचा को बड़ी मुश्किल हो रही थी पर जितनी मुश्किल हो रही थी इतना ही हमें मज़ा आ रहा था। तभी सम्राट उठा और केंची से उसकी ब्रा पेंटी काट दी।
रिचा_ ये क्या किया यार तूने
सम्राट_ डरो मत बेबी दूसरी जोड़ी तेरे लिए गिफ्ट लाया हूं मैं
रिचा खूश हो गई। अब उसके मम्मे हमें साफ दिख रहे थे।
उसके बाद सुहानी म उठाया इंट का बादशाह

ऋषि_ सुहानी जी आपको क्या करना है कि घोड़ी बन जाओ और हम तीनो आपकी प्यार मोटी गांड पे 3-3 ज़ोरदार थपड़ मारेंगे।
सभी हसने लगे पर सुहानी नाटक करने लगी पर बाद में मान गई।
फिर सुहानी घोड़ी बन गई। क्या मस्त बड़ी गांड थी मन कर रहा था अभी लंड डाल दू पर मैंने खुद को रोक लिया। रिचा ने आह्ह मेरी जान कह कर तीन थपड़ मारे। उसके बाद सम्राट ने मेरे लेकिन दोनों न आराम से मारे थे। फिर मेरी बारी अाई।
मैंने उसके सलवर को सही किया और एक जोर दार थपड़ लगाया । सुहानी ज़ोर से चीखी लेकिन खड़ी नहीं हुई। फिर मैंने उससे भी ज़ोर से दो और लगाए।
रिचा_ ऋषि आज क्या हो गया है तुम्हे मार डालोगे क्या बेचारी को।
जब सुहानी खड़ी हुई तो उसकी आंखो में हल्का सा पानी आया हुआ था। उसकी हालत देख सम्राट हसने लागा।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  Aryan Ek Sex Katha-5

अब मेरी बारी थी और मैंने उठाया हुकुम का 5
सुहानी_ आपको सामने वाले के अंगो को कपड़ो के ऊपर से चूसना है। इतना सुनते ही मैंने सुहानी को गिरा लिया और उसके सलवार सूट के ऊपर से ही उसे रगड़ने लगा और चूसने लगा। उसके मुंह से भी सिसकियां निकालने लगी। 2 मिनट तक चूसने के बाद हम आगे बढ़े।
सम्राट ने उठाया इंट का इक्का

रिचा_ आपको अपने ऊपर के कपड़े उतार कर कामुक नृत्य करना है।
सम्राट ने अपने कपड़े उतरे और कच्छी बनियान में डांस करना शुरू किया। सुहानी म गाना लगाया “बेबी डॉल म सोने दी” हम सब हंसने लगे।
रिचा ने उठाया चिडी का 7
सम्राट_ जिसने सबसे ज्यादा कपड़े पहन रखे है उससे पूरा नंगा होना है।
ऋषि के पेंट सर्ट पहले ही उतर गए थे। रिचा की ब्रा पेंटी और सम्राट कच्छे में डांस कर चुका था। बची सुहानी। वो बेचारी हर बार फस रही थी।

ऋषि_ रेडी हो कपड़े उतारने के लिए।
सुहानी_ रेडी तो होना ही पड़ेगा लेकिन एक शर्त है मेरे कपड़े ऋषि उतरेगा प्यार से।
मेरा तो जैसे सपना पूरा हो गया था। मै प्यार से उसकी तरफ सबसे पहले उसका कुरता निकला फिर उसकी ब्रा उसने अपने मम्मो पर हाथ रख लिया तो मैंने प्यार से उसके हाथ हटाया और उसके मम्मो को एक किस किया।

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..
HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!