चुदाई का पूरा मजा-2

Chudai ka pura maja-2

अब में बहुत खुश था और अब मेरा लंड तो कुँवारी चूत को फाड़ने के लिए उछल रहा था. फिर वो मेरे रूम में आई तो मैंने उसे अपनी बाहों में लेकर उसके बूब्स को खूब दबाया और उसके लिप्स पर किस करता रहा. फिर मैंने उसे फ्रेश होने को कहा, क्योंकि वो सफ़र के कारण बहुत थक गयी थी. तो वो बाथरूम में चली गयी और फिर जब वो नहाकर बाहर आई तो उसने नाईट सूट पहना हुआ था. फिर मैंने अपने लैपटॉप पर ब्लू फिल्म लगा दी और फिर हम दोनों ब्लू फिल्म देखने लगे.

जब मूवी में सीन आया तो उसमें लड़की लड़के के लंड को मज़े से चूस रही थी. तो तभी उसने पूछा कि क्या चूसने में लड़की को भी मजा आता है? तो मैंने कहा कि ये बताओ लड़कियाँ ही सबसे ज्यादा लॉलीपोप क्यों चूसती है? और ये भी तो लॉलीपोप ही है. तो उसने मेरे लंड को मेरे लोवर के अंदर से ही अपने एक हाथ से पकड़ लिया और फिर हम दोनों ने एक दूसरे के सारे कपड़े उतार दिए.

अब में उसकी चूत को देखकर हैरान हो गया था, वो उसे बहुत सज़ाकर लाई थी, उसकी चूत पर एक भी बाल नहीं था, उसकी चूत क्रीम से पूरी साफ की हुई थी. फिर में उसके बूब्स सक करता रहा और दबाता रहा तो कभी उसके निप्पल को चूसता तो कभी उसके बूब्स को अपने मुँह में डालकर चूसता रहता और वो मेरे लंड को दबा रही थी. अब उसकी आँखें बंद थी.

मैंने उससे पूछा कि मेरे लंड को चूसोगी? तो उसने मेरे लिप्स पर किस किया और फिर मेरे लंड पर किस करने लगी. अब वो गर्म होकर मेरे लंड को चूसने लगी थी, अब उसे मज़ा आने लगा था. अब में भी अपनी एक उंगली उसकी चूत पर रब कर रहा था और वो ज़ोर-ज़ोर से मेरे लंड को चूसती रही थी. फिर थोड़ी देर में ही मेरा जूस निकल गया और मेरे जूस की पिचकारी उसके गले के अंदर चली गयी, तो वो भागकर बाथरूम में चली गयी और अपने गले में से जूस निकालने लगी.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  दोस्त की मर्ज़ी से उसकी बहन को चोदा

फिर वो वैसे ही नंगी वापस आकर मेरे पास बेड पर आ गयी. अब मैंने उसके बूब्स को मेरे मुँह में डाल लिया था और मेरी एक उंगली उसकी चूत में डालने लगा था. उसकी चूत बहुत टाईट थी, लेकिन उसका जूस भी इतनी बार निकल चुका था. फिर मैंने धीरे-धीरे अपनी उंगली को उसकी चूत में डालकर घुमाना शुरू किया. अब मैंने उसकी चूत का छेद ढूंढ लिया था और फिर जैसे ही मेरी उंगली उसकी चूत के छेद को टच करती तो वो उछल पड़ती और 5 मिनट में ही उसका जूस फिर से निकल गया और वो मेरे लंड को चूसने लगी, बिल्कुल लॉलीपोप के जैसे.

अब में भी टाईम ख़राब नहीं करना चाहता था, क्योंकि चूत में में जूस निकलने के बाद लंड को घुसाने में आसानी होती है. फिर में उसके ऊपर आ गया तो वो कहने लगी कि दर्द होगा. फिर मैंने कहा कि देखो थोड़ा दर्द तो होगा और तुम्हें सहना पड़ेगा, लेकिन उसके बाद मज़ा भी बहुत आएगा, तुम्हें दर्द तो सिर्फ एक बार ही होगा, लेकिन मजा हमेशा के लिए रहेगा. फिर फिर उसने अपनी दोनों टाँगे खोल दी, तो मैंने उसकी दोनों टाँगे पकड़कर पूरी तरह से खोल दी.

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

फिर में अपने लंड को उसकी चूत पर दबाने लगा, लेकिन मेरा लंड ज्यादा मोटा है तो थोड़ा टाईम लग रहा था और अब में भी जल्दी नहीं करना चाहता था, ताकि उसे दर्द कम हो. अब में साथ-साथ उसके बूब्स को भी दबा रहा था और फिर मैंने थोड़ा ज़ोर लगाकर अपने लंड का ऊपर का पार्ट उसकी चूत में डाल दिया तो उसने अपने लिप्स को अपने दाँतों में दबा लिया. फिर मैंने कहा कि अभी में और अंदर डालूँगा तो दर्द सह लेना. फिर वो कुछ नहीं बोली और ज़ोर से अपनी आँखें बंद कर ली.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  SHARADDHA kapur film actress ki gahri Chudai

मैंने एक जोर का झटका मारा तो मेरा आधे से ज्यादा लंड उसकी चूत के अंदर चला गया. अब वो अपने लिप्स को अपने दाँतों से ज़ोर से दबा रही थी और धीरे-धीरे उह, उह, ओह, ओह की आवाजे निकाल रही थी. तो तभी मैंने सोचा कि अब वो तैयार है, अब वो पूरा दर्द सह लेगी तो मैंने पूरे ज़ोर से एक और झटका मारा तो मुझको उसकी सील टूटने की फीलिंग हुई. अब वो ज़ोर से चिल्लाने ही वाली थी कि मैंने उसके लिप्स को अपने लिप्स में ले लिया. अब उसकी आँखों से आँसू निकल आए थे.

फिर मैंने अपने लंड को बिल्कुल भी नहीं हिलाया और वैसे ही उसके ऊपर लेट गया. फिर थोड़ी देर तक मेरा लंड ऐसे ही उसकी चूत में रहा और फिर मैंने उससे पूछा कि दर्द कम हुआ? तो वो बोली कि हाँ, अब लंड की फीलिंग आ रही है. मैंने कंडोम पहना हुआ था और अब में धीरे-धीरे अपने लंड को हिलाने लगा था, लेकिन मैंने अपने लंड को अंदर बाहर नहीं किया. अब वो मजे लेने लगी थी, क्योंकि मुझे उसकी चूत के छेद का पता था तो फिर मैंने अपने लंड को अंदर बाहर करना शुरू किया और फिर जैसे ही में अपने लंड को अंदर डालता तो में सीधा उसे बच्चेदानी पर मारता. फिर उसने जल्दी ही अपना जूस छोड़ दिया, लेकीन में लगा रहा. अब उसे बहुत मज़ा आने लगा था.

में उसे 30 मिनट तक चोदता रहा और उसका 4-5 बार जूस निकल गया होगा. फिर मैंने अपने लिए एक पैग बनाया और सिगरेट पीने लगा. फिर मैंने उसे भी पीने को कहा, लेकिन वो नहीं मानी. फिर उस रात हमने 8 बार सेक्स किया. अब में समझ गया था कि आज मुझे असली सेक्स का मजा मिला है, वो दिन है और आज का दिन है हम 1-2 महीने के बाद मिल ही लेते है और बहुत मजे करते है. अब तो वो मेरे साथ ड्रिंक भी ले लेती है और सिगरेट भी पी लेती है. हमने अभी तक ना उसके घर पर पता चलने दिया और ना मेरे घर पर, क्योंकि ये मजा तो जितना करो उतना कम है.

HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!