चुदाई की सजा का मज़ा-1

Chudai ki saja ka maja-1

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम समीर है और आज में आप सभी को अपनी एक सच्ची सेक्स अनुभव की घटना सुनाने जा रहा हूँ जिसमे मैंने अपने कॉलेज की ही एक लड़की को चोदा. यह घटना में आप सभी को आज पूरे विस्तार से सुनाऊंगा, लेकिन उससे पहले में थोड़ा बहुत अपना परिचय भी आप सभी से करा देता हूँ.

दोस्तों समीर एक इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रोफेसर था और उसकी उम्र 31 साल थी. वो बहुत स्मार्ट था और उसकी शादी को अभी दो साल हुए थे, लेकिन उसकी बीवी इतनी ज़्यादा सुंदर नहीं थी और इसलिए वो हमेशा अपने कॉलेज की हसीन लड़कियों की जवानी लूटने की उम्मीद में रहता था.

दोस्तों कोमल कॉलेज के आखरी साल में पढ़ने वाली एक बहुत सुंदर सीधीसाधी लड़की थी जो पिछले दो सालों से अपने कॉलेज का ब्यूटी कॉम्पीटिशन भी जीत रही थी और इसकी वजह से कॉलेज का हर एक लड़का उसका दीवाना था क्योंकि वो चीज़ ही कुछ ऐसी थी, बहुत मस्त हॉट, सेक्सी, उसका 5.6 इंच का कद, उसके फिगर का साईज 34-24-36, आँखे बड़ी बड़ी काली, लंबे बाल और वो हमेशा बिल्कुल टाईट सलवार कुर्ता पहनती थी जिसकी वजह से उसके सुंदर बूब्स का और सेक्सी अंदाज़ आता था, लेकिन वो पढ़ाई में ज़्यादा होशियार नहीं थी और हमेशा सबके साथ घुल-मिलकर रहती थी और समीर भी जब जब उसे देखता एकदम मचल कर रह जाता क्योंकि वो कमसिन 20 साल की कयामत थी और पढ़ाते वक़्त वो साईड से जाकर उसकी टांगे और बूब्स निहारता और जब वो सामने होती तो जानबूझ कर अपना पेन गिराकर उसे उठाने के लिए कहता और फिर उसके बाद वो उसके गोरे गोरे बूब्स देखता.

एक दिन समीर ने अपनी क्लास में सभी स्टूडेंट्स को बताया कि तीन दिन के बाद आप सबके एग्जाम है, जिसका पेपर वो खुद सेट कर चुका है और जिसके नंबर आखरी परीक्षा के नंबर में जुड़ने वाले है. कोमल का वो विषय बहुत ही कमज़ोर था और अब कोमल के लिए समीर के टेस्ट में पास होना बहुत ज़रूरी था और इसलिए कोमल ने मन ही मन निर्णय लिया कि वो समीर के केबिन से एग्जाम पेपर चुरा लेगी क्योंकि वो जानती थी कि शाम को चार बजे समीर चाय पीने अपने केबिन से बाहर जाता है और उस वक़्त के बाद केबिन के आस पास कोई भी नहीं रहता तो वो पेपर चुरा सकती है और वो यह बात भी जानती थी कि समीर अपनी अलमारी की चाबियाँ कहाँ पर रखता है? तो अगले दिन चार बजे से पहले ही वो समीर सर पर पूरा पूरा ध्यान दे रही थी और फिर समीर जैसे ही अपने केबिन से बाहर गया तो वो चुपके से उसके केबिन में घुस गयी. उसने अलमारी की चाबी ड्रॉयर से निकाली और एग्जाम पेपर बाहर निकालकर अपने मोबाइल में पेपर के फोटो लेने लगी और फिर वापस पेपर अलमारी में रखकर लॉक किया और फिर वो चाबी रखने के लिए पीछे की तरफ मुड़ी, लेकिन तभी एकदम से उसके होश ही उड़ गये और उसके चेहरे का रंग एकदम फीका पड़ गया और उसकी सांसे ऊपर की ऊपर और नीचे की नीचे ही अटक गई क्योंकि पीछे समीर खड़ा हुआ उसकी सारी हरकतों को सिर्फ़ देख ही नहीं रहा था वो बल्कि अपने मोबाइल में उसे रिकॉर्ड भी कर रहा था.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  कोचिंग टीचर को ग्राउंड में चोदा-2

अब समीर एकदम से उस पर भड़क गया था और उसने बहुत गुस्से से कहा कि अच्छा तो अब तुम चोरी करके पास होगी? में तुम्हारी शिकायत अभी प्रिंसिपल से करता हूँ. मेरे पास इस बात का सबूत भी है और फिर वो तुम्हे कॉलेज से बाहर निकल देंगे और तुम्हे कहीं भी एड्मिशन नहीं मिलेगा. कोमल यह बात सुनकर ज़ोर ज़ोर से रोने लगी और गिड़गिड़ाने लगी कि सर प्लीज मुझे माफ़ कर दीजिए. में दोबारा ऐसी कोई भी ग़लती नहीं करूंगी प्लीज सर और यह बात कहकर उसने समीर के दोनों पैर पकड़ लिए.

तभी समीर की नज़र ऊपर से उसके बूब्स की तरफ चली गयी और फिर समीर ने सोचा कि मुझे इससे अच्छा कौन सा मौका मिलेगा इस हसीन कली को चोदने का. वो मन ही मन मुस्काया और बोला कि नहीं सज़ा तो तुम्हे मिलेगी ही. कोमल फिर से रोने लगी और बोली कि सर प्लीज ऐसा मत कीजिए. मेरी पूरी लाईफ खराब हो जाएगी और मेरे माता पिता भी मुझसे नाराज़ हो जाएँगे, सर प्लीज मुझे माफ़ कर दीजिए. समीर बोला कि ठीक है में तुम्हारी बात प्रिंसिपल से नहीं करूँगा, लेकिन उसके बदले मुझे क्या मिलेगा? तो कोमल मुस्कुराकर बोली कि सर उसके बदले जो आप कहेंगे में वो सब करूँगी, लेकिन प्लीज आप किसी को मेरी चोरी के बारे में मत बताईएगा. तभी समीर ने उसके कंधे को पकड़कर उसे उठाते हुए कहा कि तो फिर ठीक है तुम अपनी यह सुंदर जवानी मेरे नाम कर दो.

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

यह बात सुनकर वो एकदम से पीछे हट गई और बोली कि सर यह आप क्या कह रहे है? नहीं बिल्कुल नहीं, ऐसा नहीं हो सकता और फिर वो बड़बड़ाते हुए केबिन से बाहर जाने लगी तो समीर बोला कि ठीक है में तुमसे कोई भी जबरदस्ती नहीं करूँगा, लेकिन तुम जैसे ही केबिन से बाहर जाओगी तो में सीधा प्रिंसिपल के ऑफिस में जाकर तुम्हारा यह कारनामा उन्हे दिखा दूँगा और फिर उसके बाद तुम इस कॉलेज से बाहर निकाली जाओगी और तुम्हारे दोस्त तुम्हे ताने मारेंगे और तुम्हारे माता, पिता तुम्हारी वजह से हमेशा बहुत शर्म महसूस करेंगे या फिर मेरी बात मानो तो सब कुछ पहले जैसा ही रहेगा क्योंकि बस यह बात हम दोनों के बीच में ही रहेगी और फिर में खुद ही तुम्हे पेपर की कॉपी भी दे दूँगा अब यह फ़ैसला तुम्हारा है या तो तुम इस केबिन से बाहर चली जाओ या फिर इस केबिन का दरवाजा बंद करके मेरी और आ जाओ.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  मैडम की चूत में लंड उतार डाला

फिर कोमल थोड़ी देर बिल्कुल गुम-सुम सी खड़ी रहकर सोचती रही और उसके आँसू अब पलकों से गाल पर आ गये और फिर उसने केबिन का दरवाज़ा बंद कर दिया और समीर के पास आ गयी. समीर इसके आगे की बात को मन ही मन सोच रहा था, लेकिन तभी उसका हथियार पूरा का पूरा खड़ा हो चुका था. समीर ने कोमल की कमर पर हाथ डालकर उसे अपनी तरफ खींच लिया. कोमल की धड़कने बहुत बड़ चुकी थी और वो धीरे धीरे सिसक रही थी और अब वो समीर की बाहों में अपनी नज़ारे झुकाए हुई खड़ी थी.

समीर ने कोमल के चेहरे को ऊपर उठाया और कहा कि मेरी जान तुम मुझसे ज्यादा मत घबराओ, में तुम्हे चाँद की सैर करा दूँगा और तुम ज़िंदगी भर नहीं भूलोगी रुको में अभी आया और फिर समीर करीब दो मिनट के लिए बाहर जाकर वापस आ गया. कोमल की आँखे आँसू से तो समीर की आखें हवस से पूरी तरह भर चुकी थी. समीर ने लौटते ही कोमल की कमर में हाथ डालकर उसे अपनी और खींच लिया और उसके बूब्स पर अपनी दोनों हथेली रखकर उसके गालों पर किस करते हुए बोला कि जान अब तक तूने मुझे बहुत तड़पाया है, लेकिन में आज तेरे सुंदर जिस्म का रस पीकर ही रहूँगा.

कोमल बिल्कुल बेसस खड़ी हुई थी और अब समीर ने कोमल की बाहों को अपने गले में डाल दिया और उसका दुपट्टा निकालकर फेंक दिया और उसकी एकदम टाईट कुरती में से उसके बूब्स का आकार बहुत आसानी से दिख रहा था और गहरे गले वाली ड्रेस के कारण उसकी सुंदर छाती भी बहुत आसानी से दिख रही थी. अब समीर का हथियार उसकी पेंट में समा ही नहीं रहा था और उसने कोमल के चेहरे को निहारा, उस पर बहुत बला की सुन्दरता झलक रही थी और उसकी जुल्फें चेहरे पर लटक रही थी और आँसू बह रहे थे. समीर ने उसके आँसू पीते हुए कहा कि रो मत मेरी जान, में तुम्हे बहुत प्यार करता हूँ और समीर ने कोमल के अनार जैसे लाल लाल होंठो पर अपने होंठ रख दिए और कभी ऊपर के होंठ को चूमता तो कभी नीचे के होंठ को.

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..
HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!