कॉलेज की पहली चुदाई

(College Ki Pahli Chudai)

सभी सेक्सी चूतों को मेरे लन्ड का सादर नमस्कार । मेरा नाम अमित है , में मथुरा का रहने वाला हूँ । ये मेरी पहली सच्ची कहानी है । ये बात करीब 2 साल पहले की है जब मैने कॉलेज शुरू किया था कॉलेज शुरू होने के कुछ दिन बाद एक लड़की आयी जिसका नाम रेनू ( बदला हुआ नाम ) था वो दिखने में ठीक थी लेकिन उसका बदन पूरा भरा हुआ था 34 के उसके चुचे 30 की कमर और 34 कि उसकी गांड थी । पहले दिन ऐसा कोई मन म ख्याल नही आया उसके लिए कुछ दिन बाद वो ऐसे देखने लगी जैसे अभी खा जाएगी में भी पूरे दिन उसे ही देखता रहता था ।

फिर एक दिन उसने मुझसे फेसबुक की आईडी मांगी और बीमारी बाते फेसबुक फिर व्हाट्सप फिर कॉल पर होने लगी । मुझे चूत की बहुत तलब थी तो में उससे धीरे धीरे सेक्स चैट करने लगा था लेकिन मुझे क्या पता था उसके भी सेक्स की हवस भरी पड़ी है फिर हम रात भर सेक्स भरी बातें करते लेकिन अब बातो से मन भर गया था अब तो चुत ही चाहिए थी कॉलेज में कोई व्यवस्था नहीं बन पा रही थी तो मेरे एक दोस्त ने होटल के बारे मे बताया और इन उससे बात कही तो वो अगले दिन मिलने के लिए तैयार हो गयी । उस दिन मेरी रात बडी मुश्किल से कटी क्योंकि मेने पहले कभी सेक्स नही किया था और मुझे अपनी हवस निकालनी थी ।

फिर में जैसे तैसे सो गया सुबह उठा कॉलेज के लिए तैयार होकर घर से निकल गया । वो मुझे मेरे बताये हुए जगह पर मिल गयी फिर मेने उसे अपनी बाइक पर बैठाया ओर हम दोनों कॉलेज बंक करके होटल के लिए निकल पड़े वो मुझसे चिपक कर बैठी थी मुझे उसके चुचों का एहसास हो रहा था और में ओर ज्यादा ब्रेक मार रहा था । फिर हम होटल पहुँचे ओर फॉर्मलटी पूरी की ओर अपने रूम में आये । मेने रूम लॉक करते ही बेग साइड में फेंका ओर उसे किस करते हुए गोदी में उठाकर कर दीवार से लगा कर स्मूच करने लगा । फिर उसे सीधे बेड पर पटक दिया । हमने करीब 15 मिनट तक किस किया ओर धीरे धीरे एक दूसरे के सारे कपड़े उतार दिये ।

मैं साथ मे बियर लेकर आया था मेने बियर निकाली और दोनों ने पी । फिर उसे हल्का नशा होने लगा था और हमने फिर से किश करना चालू कर दिया और अब में उसके बड़े चूचो को किश करने लगा और जोर जोर से उसके निप्पल को चुसने लगा उसे भी मजा आने लगा था धीरे धीरे मैं एक हाथ उसकी चूत पर ले गया जो एक दम क्लीन सेव की हुई थी उस पर अपना हाथ रगड़ने लगा । धीरे धीरे उसकी चुत के दाने को अपनी उंगली से मसलने लगा और उसके बूब्स को तेज तेज़ चुसने में बहुत मजा आ रहा था ।

वो धीरे धीरे मॉनिंग करने लगी और कहने लगी अब सब्र नही होता डाल दो मेरा भी पहली बार था मेरे से भी नही रहा गया और उसके पैर फैला कर उसकी चुत पर अपना 6इंच लम्बा ओर 2 इंच मोटा लन्ड रगड़ने लगा अब वो नीचे से जल्दी अंदर लेना चाहती थी तो चुत को ऊपर उठाने लगी ।मैंने भी अपना लन्ड उसकी चुत में डाला पहले झटके में आधा लन्ड अंदर दाल दिया वो अब मन करने लगी और बाहर निकलने को कहने लगी में रुक गया और उसके बोब्स किश करने लगा जब उसे आराम मिला तो एक ओर झटका मारा ओर लन्ड पूरा उसकी चुत में डाल दिया वो बाहर निकालने को हाथ जोड़ने लगी फिर थोड़ी देर बाद जब उसे दर्द कम हुआ तो मैने धीरे धीरे आगे पीछे करना चालू किया अब उसे भी मजा आने लगा था।

लेकिन पहली बार में मेरा 5 मिनट में ही निकल गया मेने अपना बीर्य बाहर निकाल दिया और वही उसी के ऊपर लेट गया । उसका अभी नही हुआ था तो वो मेरे लन्ड को चुसने लगी और फिर से वो खड़ा हो गया बार वो देरी नही करना चाहती थी मेने भी देर न करते हुए उसे घोड़ी बनाया ओर लन्ड उसकी चुत में डाल दिया ओर 35 मिनट तक उसकी अलग अलग तरीके से चुदाई की तब तक उसका दो बार निकल चुका था । हमने कॉलेज के समय तक चुदाई की ओर फिर कपड़े पहने ओर वह से निकल गए । फिर उसके बाद हम जब भी मन करता चुदाई करते मेने उसकी गांड भी मारी। दो साल तक हमारा यही सिलसिला चला ।