दिल्ली की घरेलू बीवी की गांड फाड़ी-2

Delhi ki ghrelu biwi ki gand fadi-2

अब में उसको इतनी तेज चोद रहा था कि वो अपने आपको संभाल ही नहीं पा रही थी और ज़ोर-ज़ोर से चिल्ला रही थी चोदो मेरे राजा, आज मेरी चूत की चटनी बना डालो, अपना पूरा लंड इसमें डालकर खूब ज़ोर-ज़ोर से चोदो, अपने लंड के पानी से मेरी इस प्यासी चूत को सींच दो, मुझे इस चूत ने बहुत परेशान कर रखा है, मेरा पति 2 महीने में केवल 5-6 बार ही चोद पाता है और में भूखी रह जाती हूँ, आज तुम मेरी चूत का घमंड एकदम चूर-चूर कर दो, तुम बहुत अच्छा चोद रहे हो, आज मुझे इस चुदाई में जो मज़ा आ रहा है उतना मुझे अपने पति से चुदवाने में कभी नहीं आया, इस चुदाई को में ज़िंदगीभर याद रखूँगी, मेरे पति ने मुझे कभी इतना मज़ा नहीं दिया, अब मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा है, तुम अपने लंड का पानी जल्दी से मेरी चूत में निकाल दो.

मैंने उसे बहुत ज़्यादा जोश में देखा तो मैंने अपनी पूरी उंगली उसकी गांड में डाल दी. फिर वो चिल्ला उठी और बोली कि क्या कर रहे हो? बहुत दर्द हो रहा है, आह में मर जाऊंगी, मत करो ऐसा, मुझमें इतनी ताकत नहीं है कि में दोनों छेद में एक साथ बर्दाश्त कर पाऊँ.

फिर मैंने अपने एक हाथ से उसकी चूचीयों को मसलना शुरू कर दिया, तो वो शांत हो गयी. अब वो भी अपने चूतड़ तेज़ी से आगे पीछे करते हुए मेरा साथ देने लगी थी. अब तक मुझे चोदते हुए लगभग 30 मिनट बीत चुके थे और अब मेरा भी पानी निकलने वाला था.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  बड़े भाई को शीघ्रपतन, तो छोटे भाई ने चोदा भाभी को

अब में उसे पूरी ताकत के साथ और तेज़ी से चोदने लगा था. फिर 2 मिनट में ही मेरा पानी निकला और उसकी चूत भरने लगी. अब मेरा पानी निकलते ही वो एकदम शांत हो गयी थी और जैसे उसकी प्यासी चूत को पानी मिल गया हो. अब इस दौरान उसकी चूत से भी 4 बार पानी निकल चुका था. फिर मैंने अपना लंड उसकी चूत से बाहर निकाला तो मैंने देखा कि उसकी चूत एकदम सूज गयी थी, क्योंकि मेरा लंड शायद उसके पति के लंड से मोटा और लंबा था. अब उसकी चूचीयाँ मेरे मसलने से एकदम लाल-लाल हो गयी थी. फिर में उसके बगल में लेट गया.

फिर हम थोड़ी देर तक वैसे ही लेटे रहे. फिर 15 मिनट के बाद ही वो फिर से चुदवाने के लिए तैयार हो गयी. अब वो अपनी चूत को साफ करने के लिए बाथरूम जाना चाहती थी, लेकिन वो खड़ी नहीं हो पा रही थी, तो मैंने उसे सहारा देकर खड़ा किया और बाथरूम में ले गया.

बाथरूम में जाकर उसने पहले मेरे लंड पर साबुन लगाकर साफ किया और फिर उसके बाद वो अपनी चूत धोने लगी. फिर हम बाथरूम से वापस आए और अब वो बेड के किनारे पर एक तकिया रखकर बैठ गयी थी. फिर तभी मैंने उसके सारे बदन को चूमना शुरू कर दिया तो वो फिर से जोश में आने लगी. फिर मैंने उसकी चूत को चूमना शुरू किया, तो वो एकदम मस्त हो गयी. अब जोश के मारे उसकी चूत एकदम गर्म हो गयी थी. फिर मैंने अपनी जीभ उसकी चूत के अंदर डाल दी और घुमाने लगा तो वो पागल सी होने लगी और उसने मेरे सिर को कसकर पकड़ लिया.

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।
हिंदी सेक्स स्टोरी :  भाभी की गांड मेरे लंड से चुद गयी-2

अब वो एकदम स्वर्ग का मज़ा ले रही थी और बोली कि चाटो मेरे राज़ा, मेरे पति ने कभी मेरी चूत को नहीं चाटा, में बहुत खुश नसीब हूँ कि मुझे अपनी चूत को चटवाने का मज़ा भी मिल रहा है, मेरी चूत को चाट-चाटकर इसका पानी निकाल दो, आह बहुत मज़ा आ रहा है और ज़ोर से, बस मेरा पानी निकलने ही वाला है, अआह्ह्ह में एयेए गइई और तेज-तेज. फिर थोड़ी देर तक उसकी चूत को चाटने के बाद वो झड़ गयी तो मैंने उसकी चूत से निकला हुआ सारा जूस चाट लिया.

मैंने एक क्रीम लेकर उसकी गांड पर लगाई और क्रीम लगाने के बाद मैंने अपना लंड उसकी गांड के छेद पर रखा तो वो बोली कि प्लीज में पहली बार गांड मराने जा रही हूँ, जरा धीरे-धीरे करना, फिर मैंने कहा कि ठीक है. फिर मैंने अपना लंड उसकी गांड में धीरे-धीरे घुसाना शुरू किया, तो वो सिसकारियाँ भरने लगी. अब अभी तक केवल मेरा सुपाड़ा ही उसकी गांड में घुसा था और फिर मैंने थोड़ा ज़ोर लगाया तो मेरा लंड उसकी गांड में 2 इंच तक घुस गया. फिर वो रोने लगी तो मैंने अपना लंड बाहर निकाल लिया तो वो कुछ समझ नहीं पाई.

फिर मैंने अपना लंड फिर से उसकी गांड के छेद पर रखा और अपनी पूरी ताकत के साथ एक धक्का लगा दिया तो मेरा आधा लंड उसकी गांड में घुस गया. अब वो बहुत ज़ोर-ज़ोर से चिल्लाने और रोने लगी थी, लेकिन मैंने उसकी कोई परवाह नहीं की और अपनी पूरी ताकत के साथ एक ज़ोरदार धक्का और मारा तो मेरा पूरा लंड उसकी गांड में घुस गया.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  पड़ोसन भाभी को लंड का दीवाना बनाया

वो बहुत ज़ोर-ज़ोर से चिल्लाने लगी और अपने सिर के बाल नोचने लगी. लेकिन में रुका नहीं और फिर मैंने अपना लंड उसकी गांड में तेज़ी के साथ अंदर बाहर करना शुरू कर दिया. फिर थोड़ी ही देर के बाद उसका दर्द कम हो गया और उसे भी गांड मरवाने में मज़ा आने लगा. अब वो तेज़ी के साथ अपने चूतड़ आगे पीछे करते हुए गांड मरवाने लगी थी.

लगभग 30 मिनट के बाद में उसकी गांड में ही झड़ गया. फिर जब मेरे लंड का पूरा पानी निकल गया तो मैंने अपना लंड उसकी गांड से बाहर निकाला. अब उसकी गांड एकदम चौड़ी हो चुकी थी. फिर उसके बाद हम दोनों लेट गये और आराम करने लगे. फिर उसने उस दिन मुझे घर नहीं जाने दिया और वो पूरी रात मुझसे चुदवाती रही. फिर मैंने उस रात उसकी 4 बार चुदाई की और 2 बार उसकी गांड भी मारी. अब वो अपने पति के ना रहने पर मुझसे खूब चुदवाती है और हम दोनों खूब मजा करते है.

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..
HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!