दो लड़कियों को एक साथ रंग लगा के चोदा

(Do Ladkiyon Ko Ek Sath Rang Laga Ke Choda)

हेलो दोस्तो मेरा नाम एना है मैं ग्रेजुएशन का स्टूडेंट हु। ये कहानी मेरी और मेरे घर के बगल रहने वाली दो लडकियो की है दोस्तो होली की शाम को मैं घर से गुजर रहा था तभी उनके घर के सामने खड़े उनके भाई से बात करने लगा और उन दोनों ने पीछे से आकर मेरे ऊपर रंग डाल दिया और मुझे भीगा दिया दोस्तो उन लड़कियों में जो बड़ी लड़की थी उसका jaya और जो छोटी थी उसका नाम विजया था दोनो मस्त फिगर वाली झक्कास माल थी जया की साइज 32-26-34और विजया की साइज 28-26-28 था दोनो एक से बढ़के एक कामुक कलिया थी जब दोनों ने मेरे ऊपर रंग डाला तो मैं बाइक से उतर गया जया भाग कर घर मे छुपने गयी और मैं भी उसके पीछे भागा और उसको घर के अंदर कमरे में धर दबोचा और उसका रंग लेकर उसे लगाने लगा वो छुटाने की कोशिश करने लगी मगर मेरी मजबूत पकड़ के कारण उसकी कोशिश नाकाम रही दोस्तो उसके चेहरे पर रंग लगाते हुए मैने सीधे उसकी चूची में हाथ डाल दिया और उसको पकड़ कर मसलने लगा और तभी पीछे से विजया आयी और उसने मुझे पकड़ कर रंग लगाने लगी

तभी मैं जया को छोड़कर विजय पर हमला बोला और उसकी टी शर्ट फट गई दोस्तो उसने ब्रा नही पहनी थी और उसकी चुचिया लटकने लगी और मैंने उसकी चूची को रंग दिया और मसलने लगा इधर जया भी मेरा साथ दे रही थी और तभी विजया उठी और उसने जया की टी शर्ट पकड़ के फाड दिया दोस्तो जया भी ऊपर से बिल्कुल नंगी हो गयी उसके चूची पर रंग लगा देख विजया मुस्कुराने लगी फिर उन दोनों ने मुझपर हमला बोला और मेरी भी शर्ट फाड़ दी और मेरा लोवेर खीच कर निकाल दिया और मुझे बिल्कुल नंगा कर दिया मेरे 6 इंच के खड़े लंड को देख दोनो मुस्कुराने लगी जय ने मेरा लंड पकड़ा और मुह में लेकर चूसने लगी इधर मैं विजया की चूची मसल रहा था और उसको किस कर रहा था मैने विजया की लोवर को निकाल दिया अब वो मेरे सामने बिल्कुल नंगी हो गयी अब मैंने उसकी चूत में उंगली डाला वो मचल उठी इसने जाके जया की भी लोवेर को निकाल फेका अब उस कमरे में हम तीनों मस्ती और एन्जॉय कर रहे थे

हिंदी सेक्स स्टोरी :  दीदी की ब्लू फिल्म की तैयारी-2

आप लोग ये सोच रहे होंगे कि ये सब कैसे हो रहा था जबकि उसका भाई भी खड़ा था बाहर तो आपको बता दु की उसका भाई दारू के नशे में एक दम टल्ली था उसको कुछ भी पता ना चला हम लोग कमरे के अंदर थे बिल्कुल नंगे ।अब मैंने रंग उठाया और जया की चूत में लगाने लगा ये देख कर विजया से रहा न गया वो मेरे पास आई और लंड मसलने लगी फिर उसको मुह में लेकर चूसने लगने और मैं जया की चूत मसलते हुए उसको लिप् किश करने लगा इधर लंड चूसाई काम चालू था। और करीब 10 मिनट बाद मैं विजया के मुह में ही झड़ गया।

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

इधर दोनो की चूत में आग लगी थी इसके बाद मैंने जया को लिटाया और उसके ऊपर चढ़ गया और उसकी चूत में लंड पेल दिया जिससे वह चिल्ला पड़ी थोड़ी देर उसके साथ वैसे ही रहा और फिर धक्के लगाने लगा और करीब 20 मिनट में झड़ गया इतने में जया 3 बार झड़ चुकी थी इधर ये सब देखकर विजया का बुरा हाल था उसकी चूत से रस टपक रहा था उसने चूत में उंगली करके 2 बार झड़ चुकी थी इसके बाद जया निढाल होकर पड़ी रही विजया मेरे पास आई और फिर से मेरे लंड को चूस कर खड़ा कर दिया मैंने उसको लेटाया और खूब उसकी चूत मारी । जया और विजया की गांड कैसे मारी वो अगले भाग में बताऊंगा । कहानी बिल्कुल सत्य है आपको कैसी लगी रिप्लाई जरूर  करियेगा।[email protected]

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..
HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!