दोस्त की रंडी ममी को चोदा

Dost ki randi mumy ko choda

हलो दोस्तो मेरा नाम अभिषेक दुबे पहले में मैं बताया कि कैसे मैंने सोफी को और उसकी बहन को चोदा और वो भी उसके भाई आसिफ के सामने तो इस कड़ी मे उसकी मम्मी फातिमा की चुदाई की कहानी बताने जा रहा हु । आसिफ की मम्मी जब पकड़ी गई थी तो बवाल मच गया था चारो तरफ हम और आसिफ जब कॉलेज जाते तो सब आसिफ को कहते कि तेरी ममी कितनो का लंड खाई है मुझसे भी चुदवा दो अपने ममी को तो आसिफ गुस्सा होता बहुत पर मैं समझता कि बे तेरी ममी की भी तो चुदाई का दिल करता होगा हो सकता है तेरी ममी को तेरे अब्बू न चोदते होंगे तो चुदवा लेती है और क्या वैसे भी तेरी ममी सोफी की उम्र की लगती है तो वो धीरे -2 समझ गया !

एक दिन मैं गया आसिफ के घर आसिफ के लिए लेकिन वो अपने बहन नजमा के साथ गया था कही तो मैंने सोचा कि आज फिर चुदाई होगी नजमा की जबरजस्त वो बोला था अपनी मोम से की नज़मा के किसी दोस्त के यहां जा रहा हु इसे लेकर । उसकी माम् ने मुझसे ये बात बताई ओक आंटी मैं चलता हूं तो वो बोली तुम सिर्फ मेरे बेटियो को ही रंडी बनाओगे उसकी ममी को भी तो टेस्ट करो मैंने कहा आंटी इतने में वो आकर मुंझे किस करते लगी तो मैं भी मदहोश हो गया और मैं भी साथ देने लगा आंटी का चुचिया बहुत बड़े थे जो पीने में बहुत मजा आ रहा था जन्नत में था कुछ टाइम बाद आंटी खुद नंगी हो गयी और मुझे भी नंगा कर दिया मैंने उसकी बॉडी को खुर कर देखा कसम से क्या चूत थी उनकी चुचिया थी गजब थी ,और वो भी अपने भोसड़ा को सेव करि थी मैंने कहा आपके यहाँ सभी पहले ही सेव करके रहते है तो वो बोली है हिंन्दुओ को झाट वाली चूत पसन्द नही आती मैंने कहा है रंडी की ममी तो रंडी ही होगी न तो साली तूने बहुत लंड खाये है जिंदगी में मैंने अपना लंड आसिफ की रंडी मम्मी के मुंह मे डाल कर चोद रहा था फिर वो बोली है मैंने कॉलेज टाइम में बहुत हिन्दुओ का लंड खाया था रंडी की तरफ पेलते है लेकिन हिन्दुओ में ब्रामण लोग पेलते तो बहुत गजब है लेकिन वो प्यार से पेलते है जो कि हर लड़की की इच्छा होती है कि गाली दे पर प्यार से वो ब्राह्मण लोग करते है फिर मैंने उनकी गांड देखा उसमे लंड डाल दिया आंटी बोली दर्द हो रहा है मैंने कहा चुप साली रंडी वो सांत रही मैने बेल्ट से 3-4 बेल्ट उनकी गांड में मारा साली को फिर वो रोती हुए चुद रही है वो जब बोलती रंडी को बेल्ट मरता 30 मिनट बाद वो खड़ी हुई तभी सोफी का फ़ोन आ गया मैने कहा पिकअप कर साली रंडी तो वो बोली है सोफी क्या हाल है और मैं उसकी ममी को चोद रहा था पक पक और वो मजे से चुदवा रही थी अब आसिफ की ममी बोल रही थी आह आह और चोदो मुझे रंडी जैसा चोदो तेज चोदो जैसे मेरी दोनो बेटियो को चोदते थे वैसे ही आज से मैं तेरी रंडी हु तभी सोफी बोली किससे चुद रही हो ममी ममी बोली तेरी आशिक अभिषेक से मैंने कहा सोफी से सुन ले तेरी रंडी ममी को चोद रहा हु सुन ले वो बोली चोदो मेरी ममी को वैसे मेरी ममी भी तो रंडी ही है मैने उसके ममी को 2 घण्टे तक चोदा गाली दे देकर की साली खुद रंडी और दोनों बेटी भी रंडी । वो बोली तो रंडी बना कर रखो हम सब को मैने भी कहा अब तो तेरो को बहुत लड़को से चुद्ववायूँगा साली रंडी कही ही अब हम दोनों बहुत मजे से चोदा मैने अपने सफेदी रंडी के मुंह मे दे दिया और कुछ फोटो खींच लिया और मैं चला आया अपने रूम पे ।

रूम पर आकर मैने सोफी को वो सब तस्वीर सेंड कर दिया उसकी ममी का वो बहुत खुश थी कि अब ममी भी तुमारी रखैल रहेगी , उसके बाद मैंने अपने बहुत से दोस्त से आंटी को चोदवाया और आंटी ने बहुत से अपनी frind को मुझसे चुदाई करवाई । बहुत बार तो मैं अफीफ नीचे रहता मैं उसकी ममी को किचेन में ही चोद देता 5 मिनट में बहुतो बार आसिफ घर मे ही रहता तभी उसकी ममी चोद देता साली को ।

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

पढ़ने के लिए सक्रिय दोस्त।
मुझे मुस्लिम लड़की या आँटीयो को चोदने में बड़ा मजा आता है क्योंकि वो रंडियों की तरह चुद्ववाना चाहती है हमेशा।