Fufa Ji Ki Bahan Ko Kiya Garam

दोस्तों मेरा ये सेक्स अनुभव आज से करीब सवा साल पहले का हैं. और उस से पहले मैंने किसी के साथ भी सेक्स नहीं किया था. मेरी एज अभी 22 साल की हैं और मेरा नाम समीर हैं. मेरी हाईट 5 फिट 9 इंच हैं और मेरे लंड की लम्बाई 6 इंच हिन्. Fufa Ji Ki Bahan Ko Kiya Garam.

मैं तब अपनी बुआ के घर पर गया हुआ था. फूफा जी को कुछ काम था और वो मेरी मदद लेना चाहते थे अपने बिजनेश में. वैसे काम सिर्फ 3 4 दिन का ही काम था. मेरे फूफा की बहन जिसका नाम सिखा हैं वो भी उस वक्त वही पर था. (और सिखा ने ही मेरी सब इच्छाओं को पूरा किया था).

सिखा दिखने में काफी क्यूट हैं. उसकी आँखे और उसके बूब्स मुझे बहुत ही पसंद हैं. और उसकी उम्र अभी 23 साल की हैं. वो अपने हॉस्टल में रहती थी उस वक्त. लेकिन फूफा जी को मदद करने एक लिए वो भी 4 दिन छुट्टी ले के आई थी.

एक दिन काम का लोड बहुत था. हम लोग शाम को 7 बजे तक लगे रहे. लेकिन फूफा जी ने मुझे कहा की तुम और सिखा घर चले जाओ. हमें और कुछ फाइल्स देखनी हैं. तो बुआ और फूफा जी वही पर रहे और मैं सिखा को ले के घर पर आ गया.

घर पर मैं, सिखा और उसके पेरेंट्स थे. खाने के तुरंत बाद उसके पेरेंट्स सोने के लिए चले गए क्यूंकि वो एजेड थे. मैं सिखा के साथ ड्राइंग रूम के सोफे पर बैठ के टीवी देख रहा था. सिखा काफी मजाकिया स्वभाव की हैं. वो मुझे छेद रही थी तब. मैं भी उसके साथ मस्ती करने लगा. और मैंने फिर उसके हाथ को थोडा सा सहला दिया. और फिर मैंने सिखा के गालों को भी टच कर लिए. उसके गाल एकदम सॉफ्ट और रंग में हिमाचल प्रदेश के सेब के जैसे थे.

10-12 मिनिट तक ये चला और मैंने फिर सोचा की आज मौका सही हैं तो आगे बढ़ जाना चाहिए मुझे.

लेकिन मैंने पहले कभी कुछ नहीं किया था इसलिए मैं आगे बढ़ने से थोडा कतरा भी रहा था. लेकिन मैं फिर आगे बढ़ा और उसके फेस कके पास गया. और उसने मुझे देख कर अपनी आँखे बंद कर ली. मैं समझ चूका था और मैंने ताबड़तोड़ उसके होंठो के ऊपर अपने होंठो को लगा के किस कर लिया!                                             “Bahan Ko Kiya Garam”

हम लगभग 2 मिनिट किस करते रहे. वो जरा भी आवाज नहीं निकाल रही थी और मेरे होंठो को बड़े ही सेक्सी ढंग से चूस रही थी. किस करते हुए मैंने अपना हाथ उसकी टी शर्त के अन्दर डाला और मुझे उसकी सॉफ्ट स्किन का अहसास हुआ.

फिर हमने एक दूसरे को देखा और स्माइल किया. मैं उसकी ब्रा के हुक को खोलने लगा. लेकिन वो खुल नहीं पा रहा था. जब मैंने उसे बोला तो उसने मना कर दिया.                                               “Bahan Ko Kiya Garam”

और वो फिर से मुझे एकदम पेश्नेटली किस करने लगी. ऍम अपनी जबानो को एक दुसरे से मिला के खूब जोर से किस कर रहे थे. मैंने सिखा के बूब्स के ऊपर हाथ रख के उसे कस के पकड लिया और वो कराह उठी. वो बोली, आराम से करो न थोड़ा!

मैंने कहा, जान आराम से ही तो कर रहा हूँ.

वो बोली, बहुत टाइम से लाइन मार रहे थे मुझे.

मैंने कहा हां और तुम भी तो मुझे तिरछी नजरों से देखती थी.

और ये सुनते ही उसने मेरे लंड को अपने हाथ में पकड़ लिया. और वो उसे मरोड़ने लगी. मैंने कहा मार डालोगी क्या?

वो बोली, मार तो तुम मुझे डालोगे इस से!                             “Bahan Ko Kiya Garam”

मैंने कहा फिर ब्रा खोलने से क्यूँ मना कर दिया तुमने.’

वो बोली, भैया भाभी आ सकते हैं.

मैंने कहा मैं तो वो समझता हूँ लेकिन मेरा छोटा भाई नहीं समझता हैं ना!

वो बोली, छोटे भाई को कहो की बाद में मिलेगा.

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

मैंने कहा, जल्दी जल्दी से कर लेने दो ना आज ही, वैसे भी भैया भाभी आनेवाले नहीं हैं एकाद घंटे तक.

वो बोली, पहले प्रोमिस करो की जल्दी से खत्म कर दोगे.

मैंने कहा हां जितना भी जल्दी हुआ कर लूंगा यार.

और उसने फिर कहा मैं ऊपर के कपडे नहीं खोलूँगी.

मैंने कहा निचे के ही उतार दो बस.

उसने अपनी सलवार को खोला और पेंटी को गांड के ऊपर से निचे कर दिया. मैंने उसकी गांड के ऊपर हाथ फेरा जो एकदम चिकनी सी थी. अब मैंने उसकी चूत के ऊपर हाथ रखा तो वो पहले से ही एकदम चिकनी हुई पड़ी थी शायद किस और उसके बदन को छूने से वो एकदम चुदासी ही थी.                                               “Bahan Ko Kiya Garam”

मैंने एक ऊँगली को चूत के अन्दर डाला और देखा की वो एकदम रेडी थी लंड लेने के लिए. मैंने अपने लंड को एक हाथ से पकड़ा और फिर उसकी गांड की फांक को खोल के लंड को सीधा छेद के ऊपर रख दिया. वो मोअन कर उठी मेरे लंड की गर्मी का अहसास कर के.

और फिर मैंने लंड को अन्दर किया. उसके बूब्स को पकड के नोंच लिए मैंने और उसकी निपल को उँगलियों में पकड के दबा दी. वो अह्ह्ह्ह कर उठी और मेरा लंड उसकी चूत में घुस गया मेरे लंड के चारो तरफ उसकी चूत की चिपचिपी त्वचा और उसकी गर्मी का अहसास हो रहा था.

वो थोडा आगे को झुकी और मैंने उसके बूब्स को पकड के जोर जोर से चोदना चालू कर दिया. उसका बदन पूरा गरम हो चूका था. और वो पीछे मेरे लंड के ऊपर अपनी गांड को जैसे घिस रही थी. हम दोनों एकदम चुदासी हो चुके थे.

मेरा लंड उसकी चूत में एकदम फिट था. और उसने ऐसी मस्ती से गांड को हिला हिला के चुदवाया की मैं पांच मिनिट में ही उसकी चूत के अन्दर इ झड़ गया.                                                                   “Bahan Ko Kiya Garam”

फिर उसने अपनी सलवार को फटाक से ऊपर किया और पेंटी भी पहन ली.

लेकिन इस फटाफट वाले सेक्स में भी जो मजा आया वो किसी लम्बे सेक्स से कम नहीं था!!!