गांव की देसी लड़की की चुदाई घोड़ी बना कर की

(Ganv Ki Desi Ladki Ki Chudai Ghodi Bana Kar Ki)

मेरा नाम अखिलेश है | मेरी उम्र 26 साल है | मेरी हाईट 5 फुट 8 इंच है | मेरे लंड का साइज़ 5 इंच लम्बा और मोटा 3 इंच है | मैं दिखने में गोरा हूँ और स्मार्ट भी | मैं रहने वाला बिहार का हूँ | मैंने पढाई सिर्फ बी ऐ तक की है | मेरे घर में 4 लोग रहते हैं | मैं और मेरे मम्मी पापा मेरे छोटा भाई | मेरे पापा कॉलेज में टीचर हैं और मेरी मम्मी हाउस वाईफ हैं मेरा भाई अभी 11 में पढता है | मुझे सेक्सी कहानियाँ पढना बहुत पसंद है और मैं सेक्सी मूवी देखना भी पसंद करता हूँ | मैं सेक्सी कहानी पढ़ कर मुठ भी मार लेता हूँ | मैं जब सेक्सी कहानी पढता हूँ तब मेरे भी मन करता है की मैं भी अपनी एक कहानी लिखूं और मैं आज एक कहानी लेकर आया हूँ | ये मेरी पहली कहानी है और मेरे जीवन की सच्ची घटना | ये मेरी पहली कहानी है तो इसमें कोई भी गलती हो सकती है अगर आप लोगो को समे कोई भी गलती नज़र आती है तो मुझे माफ़ करना | मैं आशा करता हूँ की आप लोगो को मेरी कहानी पसंद आयेगी और कहानी पढने में मज़ा भी आएगा | मैं आप लोगो को ज्यादा समय न लेते हुए सीधे अपनी कहानी पर आता हूँ | Ganv Ki Desi Ladki Ki Chudai Ghodi Bana Kar Ki.

ये कहानी कुछ दिन पहले की है जब मैं एक प्रचार गाड़ी को चलाता था | तब मैं हर हफ्ते नये गाँव में जाता था प्रचार के लिए | एक दिन की बात है जब मैं एक गाँव में प्रचार करने के लिए गया था | तो मुझे वहां एक लड़की बहुत ही सेक्सी नजरो से देख रही थी और मुझे लाइन भी मार रही थी | मैं उस लड़की का नाम तो नही जनता हूँ जो आप लोगो को उसका नाम बताऊँ पर इतना जरूर बता सकता हूँ की वो लड़की कैसी दिखाती थी | तो दोस्तों वो लड़की दिखने में दूध की तरह गोरी थी | उसका सेक्सी फिगर था | उसके बड़े बड़े बूब्स और उसकी बड़ी चौड़ी गांड वो किसी हुस्न की मल्लिका से कम नही थी | उसके फिगर को देख कर किसी भी आदमी की नियत ख़राब हो जाये | मेरा भी यही हाल हुवा था जब मैंने उसे देखा था | उस गाँव में मेरा पहला दिन था और मुझे हर गाँव में 7 दिन रुकना होता था | वो लड़की मुझे देख कर हँस रही थी और मुझे लाइन भी मार रही थी | कुछ देर तक मैं वहीँ गाड़ी में बैठा रहा और जब सब लोग चले गए | तब वो लड़की मेरे पास आकर बोली आप अच्छे लग रहे हो और वो हँसती हुई चली गयी | दुसरे दिन फिर वो आई तो मुझे देखती रही और जब मैं उसकी तरफ देखने लगा तो वो मेरी तरफ देख कर मुझे किस के लिए बोली तब मैं उसके पास जाकर बोला रात में आना तुमसे कुछ अकेले में बात करनी है | तब उसने कहा ठीक है और फिर हँसती हुई चली गयी | मैं रात को उसका इंतजार कर रहा था | फिर वो बहुत देर बाद आई और मुझे एक प्राइमरी स्कूल में ले गयी | वहां पर एक खाली रूम था | हम वहीँ बैठ कर बात करने लगे |        “Ganv Ki Desi Ladki”

मैं बात करते हुए उसकी जांघों को सहलाने लगा और वो मेरी तरफ देख कर मुझे पकड कर चिपक गयी | तब मैं उसके गले में किस करने लगा | मैं उसके गले में किस करते हुए उसके होठो पर अपने होठ रख कर किस करने लगा | मैं उसके होठो को मुंह में रख कर चूस रहा था जिससे वो कुछ ही देर में गर्म हो गयी | फिर मैं उसकी होठो को चूसते हुए उसकी बूब्स को कपड़े के ऊपर से दबाने लगा | मैं उसके बूब्स को कुछ देर तक दबाने के बाद उसके कपडे निकाल दिए | वो कुछ ही देर में मेरे सामने ब्रा और पेंटी में आ गयी | मैं उसके एक दूध को ब्रा के ऊपर से पकड कर दबाने लगा | तो उसके मुंह से हलकी हलकी आवाज में सिसिकियाँ निकल गयी | मैं उसके दूध को दबाते हुए उसकी ब्रा भी खोल दी और उसके एक दूध को मुंह में रख कर चूसने लगा | मैं उसके एक दूध को मुंह में रख कर चूसने लगा और दुसरे को हाथ में पकड कर दबाने लगा | वो अपनी चूत को सहला रही थी और मैं उसके दूध को एक एक करके चूस रहा था | मैं ऐसे कुछ देर तक उसके दोनों दूधो को चूसता रहा | फिर मैंने उसकी पेंटी को निकाल कर उसकी टांगो को थोडा सा फेला कर उसकी चूत में अपने मुंह को घुसा कर उसकी चूत को चाटने लगा |                                “Ganv Ki Desi Ladki”

तो उसके मुंह से उह्ह्ह उग्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह ह्ह्ह्हह फफफफ ह्ह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह फफफफ ह्ह्ह अहह अहह फ्फ्फ ह्ह्हुह उह्ह्ह उग्फ्फ़ ह्ह्ह्ह उह्ह्ह उफ़ अहह ह्ह्ह फ्फ्फ ह्ह्ह ऊह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह की सिसिकियाँ लेने लगी | मैं उसकी चूत में अपनी जीभ को घुसा कर अन्दर बाहर करते हुए उसकी चूत को चाट रहा था | मैं उसकी चूत को चाटने के साथ में उसकी चूत में अपनी ऊँगली को घुसा कर उसे अपनी ऊँगली से चोदने लगा | तो उह्ह्ह उग्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह ह्ह्ह्हह फफफफ ह्ह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह फफफफ ह्ह्ह अहह अहह फ्फ्फ ह्ह्हुह उह्ह्ह उग्फ्फ़ ह्ह्ह्ह उह्ह्ह उफ़ अहह ह्ह्ह फ्फ्फ ह्ह्ह ऊह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह करती हुई अपने बूब्स को दबाने लगी | मैं उसकी चूत में ऊँगली को जोर जोर से अन्दर बाहर करते हुए उसकी चूत को अपनी ऊँगली से चोद रहा था | वो उह्ह्ह उग्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह ह्ह्ह्हह फफफफ ह्ह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह फफफफ ह्ह्ह अहह अहह फ्फ्फ ह्ह्हुह उह्ह्ह उग्फ्फ़ ह्ह्ह्ह उह्ह्ह उफ़ अहह ह्ह्ह फ्फ्फ ह्ह्ह ऊह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह कर रही थी | मैं उसकी चूत में कुछ देर तक ऐसे ही ऊँगली को अन्दर बाहर करता रहा |                  “Ganv Ki Desi Ladki”

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

फिर मैंने अपने कपड़े निकाल के लंड को उसके हाथ में पकड़ा दिया | वो मेरे लंड को हाथ में पकड़ कर हिलाती हुई अपने मुंह में रख कर चूसने लगी | तो मेरे मुंह से भी सिसिकियाँ निकल गई | वो मेरे लंड पर अपनी जीभ को रगडने लगी | तो मेरे मुंह से हलकी हलकी आवाज में सिसिकियाँ निकल गयी | वो लंड को मुंह में अंदर बाहर करती हुई चूस रही थी | मैं अपने लदन को उसके मून में चूसा रहा था | वो मेरे लंड को कुछ देर तक ऐसे हो मुंह में अन्दर बाहर करती हुई चूसती रही थी | फिर मैंने अपने लंड को मुंह से निकाल कर उसकी टांगो को थोडा सा फेला कर उसकी चूत के मुंह पर अपने लंड को रख कर चूत में घुसा दिया | तो उसके मुंह से उह्ह्ह उग्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह ह्ह्ह्हह फफफफ ह्ह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह फफफफ ह्ह्ह अहह अहह फ्फ्फ ह्ह्हुह उह्ह्ह उग्फ्फ़ ह्ह्ह्ह उह्ह्ह उफ़ अहह ह्ह्ह फ्फ्फ ह्ह्ह ऊह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह की सिसिकियाँ निकल गयी | मैंने उसकी छत में लंड को घुसा कर उसको चोदने लगा | तो वो अपने बूब्स को मसलती हुई उह्ह्ह उग्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह ह्ह्ह्हह फफफफ ह्ह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह फफफफ ह्ह्ह अहह अहह फ्फ्फ ह्ह्हुह उह्ह्ह उग्फ्फ़ ह्ह्ह्ह उह्ह्ह उफ़ अहह ह्ह्ह फ्फ्फ ह्ह्ह ऊह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह करने लगी | मैं उसकी चूत में अन्दर बाहर करते हुए उसको चुद रहा था |                                  “Ganv Ki Desi Ladki”

वो भी मेरा साथ देती हुई अपनी चूत को हिला हिला कर चुदने लगी | मैं उसकी चूत में जोर जोर से अन्दर बाहर करते हुए उसे चुद रहा था | वो उह्ह्ह उग्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह ह्ह्ह्हह फफफफ ह्ह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह फफफफ ह्ह्ह अहह अहह फ्फ्फ ह्ह्हुह उह्ह्ह उग्फ्फ़ ह्ह्ह्ह उह्ह्ह उफ़ अहह ह्ह्ह फ्फ्फ ह्ह्ह ऊह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह अहह करती हुई चुद रही थी | कुछ देर तक ऐसे ही चोदने के बाद मैंने उसकी चूत से लंड को निकाल कर उसके मुंह में डाल कर चूसाने लगा | वो मेरे लंड को कुछ देर तक ऐसे ही चूसती रही | फिर मैंने उसे वहीँ पर घोड़ी बना दिया और उसकी चूत में पीछे से लंड को डाल कर उसको चोदने लगा | तो वो उह्ह्ह उग्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह ह्ह्ह्हह फफफफ ह्ह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह फफफफ ह्ह्ह अहह अहह फ्फ्फ ह्ह्हुह उह्ह्ह उग्फ्फ़ ह्ह्ह्ह उह्ह्ह उफ़ अहह ह्ह्ह फ्फ्फ ह्ह्ह ऊह्ह करती हुई अपनी चूत को आगे पीछे करती हुई चुदने लगी | मैं उसको जोरदार धक्को के साथ में चोद रहा था | वो मस्त होकर चोद रही थी | मैं उसको ऐसे ही कुछ देर तक चोदता रहा | फिर 30 मिनट की मस्त चुदाई के बाद मेरे लंड ने सारा माल उसकी गांड पर निकाल दिया | इस तरह से मैंने उसकी मस्त चुदाई की |                           “Ganv Ki Desi Ladki”