गर्लफ्रेंड की रंडी माँ को खूब चोदा-1

Girlfriend ki randi maa ko khoob choda-1

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम साहिल है और में लखनऊ का रहने वाला हूँ. दोस्तों में पिछले बहुत समय से सेक्सी कहानियाँ पढ़ने का आदी हूँ और मैंने अब तक बहुत सारी सच्ची कहानियों के मज़े लूटे और आज में आप सभी  चाहने वालों को अपनी भी एक ऐसी ही सच्ची कहानी वो बताने जा रहा हूँ जो मेरे साथ सच में कुछ समय पहले घटित हुई, लेकिन उससे पहले में आप लोगों को अपने बारे में बता देता हूँ.

दोस्तों मेरी उम्र 25 साल है और में दिखने में ठीकठाक हूँ दोस्तों उस समय मेरी एक गर्लफ्रेंड हुआ करती थी और उसका नाम पूजा था. वो दिखने में बहुत ही सुंदर थी और हम दोनों एक दूसरे को बहुत प्यार करते थे और बहुत बार हम दोनों घंटो तक इधर उधर घूमते फिरते थे और मज़े मस्ती किया करते थे.

मैंने बहुत बार उसके होंठो को चूमा और कभी कभी उसके बूब्स भी दबाए, लेकिन उससे ज्यादा कुछ नहीं किया, क्योंकि मुझे कभी ऐसा कोई अच्छा मौका नहीं मिला, जिसका में फायदा उठाकर उसके साथ वो सब कर पाता. अब में उस असली बात सच्ची घटना पर आता हूँ और सब कुछ विस्तार से सुनाता हूँ.

दोस्तों जहाँ पर हम लोग रहते थे वहां से थोड़ी ही दूरी पर मेरी गर्लफ्रेंड पूजा का घर था, उसकी मम्मी को में हमेशा आंटी कहकर बुलाता था और वो लोग पंजाबी थे और आप लोग तो बहुत अच्छी तरह से जानते ही है कि पंजाबी औरते कितने हॉट & सेक्सी लगती है? और ठीक वैसे ही पूजा से ज्यादा अच्छी मुझे उसकी मम्मी लगती थी उनका नाम उषा था और उन आंटी की उम्र करीब 40 साल के आसपास थी, लेकिन फिर भी वो अपने चेहरे, सेक्सी गदराए बदन से दिखने में बिल्कुल भी नहीं लगती थी कि वो इतनी उम्र की है.

वो एकदम गोरी, लंबी और बहुत सुंदर थी और मुझे अच्छी तरह से यह पता था कि उनके पति उन्हे कभी भी संतुष्ट नहीं कर पाते है, इसलिए वो कई बार के दूसरे लोगों के साथ पहले भी गलत संबंध बना चुकी थी. वो सब कुछ करके वो अपनी संतुष्टि वो सुख प्राप्त करने लगी थी जो उनको उनके पति से अभी तक नहीं मिला था और वो मज़े लेने लगी थी, जिसके लिए वो सब कुछ करने के लिए तैयार थी.

दोस्तों यह आज से करीब 6 साल पहले की बात है वो नवंबर का महीना था और दीवाली से कुछ दिनों पहले की बात है. उस एक दिन मैंने और मेरे एक दोस्त ने ड्रिंक करने का प्रोग्राम दिन में ही बना लिया. पहले हम दोनों ने ड्रिंक के मज़े लिए और उसके बाद हम दोनों ने ब्लूफिल्म देखने का प्रोग्राम बनाया और थोड़ी ही देर बाद हम लोग ब्लूफिल्म देखने लगे और उस फिल्म को देखने के बाद हम दोनों बहुत ही जोश में आ गये.

तभी पता नहीं अचानक से मेरे दिमाग़ में कहाँ से वो विचार आ गया कि क्यों ना उषा आंटी को बुला लिया जाए और उनके साथ चुदाई के मज़े लिए जाए? तो मैंने वहीं से उन्हे फोन किया और कहा कि आंटी में साहिल बोल रहा हूँ और में आपसे कुछ बात करना चाहता हूँ. तो उन्होंने कहा कि बोलो क्या बात करनी है तुम्हे मुझसे?

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

अब मैंने उससे कहा कि आंटी यह बात फोन पर नहीं हो सकती आप यहाँ पर मेरे दोस्त के घर पर आ जाए, तब में आपको सब कुछ बता दूंगा. तो उन्होंने मुझसे कहा कि में अभी थोड़ी ही देर में आ जाती हूँ और उसके बाद हम लोग दोबारा फिल्म देखने लगे और फिर हमने घर का दरवाज़ा खुला छोड़ दिया और मेरा दोस्त दूसरे रूम में थोड़ी देर के लिए चला गया.

उस समय दरवाज़े पर घंटी बजी, तो मैंने वहीं पर बैठे हुए से ज़ोर से आवाज देकर कहा कि आंटी दरवाज़ा खुला हुआ है आप अंदर आ जाईए और वो मेरी आवाज सुनकर अंदर आ गई. उस समय में अंदर बैठा हुआ ब्लूफिल्म देख रहा था और वो अंदर आते ही मुझसे बोली कि तुम यह सब क्या देख रहे हो? सबसे पहले इसको बंद करो, उसके बाद हम बात करेंगे.

फिर उनके कहने पर मैंने सीडी को बंद कर दिया और वो मेरे पास आकर बैठ गई और पूछने लगी हाँ अब बताओ तुम्हे मुझसे ऐसी क्या बात करनी है, जल्दी से बोलो मुझे कुछ जरूरी काम से कहीं जाना भी है? तो इतनी ही देर में मेरा वो दोस्त भी वहीं पर आ गया और मैंने उनसे कहा कि उषा आंटी आप पहले आराम से बैठ तो जाओ, उसके बाद हम बातें कर लेंगे, लेकिन वो बोली कि उन्हें कोई जरूरी काम है इसलिए उनको देरी हो जाएगी, जल्दी से बताओ.

फिर मैंने हिम्मत करके उनसे कह दिया कि आप मुझे बहुत सुंदर लगती हो और में आपके साथ एक बार चुदाई करना चाहता हूँ और में उनकी तरफ मुस्कुराने लगा. तभी वो मेरी बातें सुनकर अचानक से बिल्कुल चकित हो गई और अब वो मुझसे बोली कि मेरे लिए तुम अभी बहुत छोटे हो. दोस्तों वास्तव में वो मेरे दोस्त के सामने इस तरह की कोई बात नहीं करना चाहती थी और जब उन्होंने मुझसे कहा कि मेरे लिए तुम अभी बहुत छोटे हो तो यह बात सुनकर मैंने उनसे कहा कि उषा आंटी में तो आपके लिए शायद अभी छोटा हूँ, लेकिन मेरा लंड आपके लिए छोटा नहीं है.

फिर मेरे मुहं से यह बात सुनकर वो वहां से चली गई और मैंने उनको रोकने की अपनी तरफ से कोई कोशिश भी नहीं की. फिर जब वो चली गई तो हम लोगों का मूड एकदम खराब हो गया और उसके बाद हम दोनों फिर से ड्रिंक करने लगे, थोड़ी देर बाद मेरा दोस्त उठकर बाथरूम में चला गया और ठीक उसी समय उषा आंटी ने मेरे पास फोन किया और उन्होंने मुझसे पूछा कि तुम अभी कहाँ हो? मुझे भी तुमसे कुछ बात करनी है, क्या तुम अभी मेरे घर पर आ सकते हो? लेकिन तुम यह बात किसी को बताकर मत आना कि तुम मेरे पास आ रहे हो और मैंने तुम्हे फोन करके मेरे घर पर आने के लिए कहा था.

फिर मैंने कहा कि हाँ ठीक है में किसी से कुछ भी नहीं कहूँगा और में थोड़ी ही देर में आपके पास आ जाता हूँ, तभी थोड़ी देर बाद मेरा दोस्त भी बाथरूम से अपना काम खत्म करके बाहर आ गया और उसके कुछ मिनट बाद अब हम दोनों की ड्रिंक भी खत्म हो चुकी थी और उसको नशा भी बहुत चड़ चुका था.

HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!