हवस की आग

Hawas ki aag

मैं राहुल मेरी उमरा 25 साल ज गोरा लंबा कद काटी आछी ज जब यह बोकारो स्टील सिटी में एक नया जॉब एलजी से मैंने किराए पर एक घर दाव स्कूल के पास सेकेंड -4 में ले लिया घर की मालकिन सुधा भाभी एक बांध पता थी गोरी सी पाटली कमर और लम्बे बाल उसकी चुहिया इतनी बड़ी थी के लगता था ब्लाउज फड़ के बहार आ जाएगी उसे होथ देख के मन करता था अभी इस्मे लंड दाल डू।

मैं रांची से यह आया था रांची में मैंने भूत लड़कों को छोड़ा था मेरा लंड सात इंच का एच चुदाई के समय लड़की के चुत की चटनी बना देता था। के तौलिया लपेट के घूम रा था तबी भाभी चैट पे कपड़े उतरने आ गई मैं मैं नाह के निकला था तो पूरी बॉडी गीली थी भाभी ने कपड़े रस्सी से उतरे तबी एक दुपट्टा उड के चैट पे लगे में जा फटा भी इस्तेमाल करने के लिए री थी लेकिन नी उतर पा री थी टैब उन्होन बोला सुनो राहुल ज़रा ये उतर दो न मैं उनकी मदद करने चला गया भाभी मेरे पीछे थी और मैं आगे दुपट्टा उतारने की कोषिश क्र रा था भाभी की चुहिया मेरे बार फिर से मेरा 7 इंच का लंड खड़ा होने लगा।

और थोड़ी देर बाद मेरा लंड पूरी तरह से खड़ा था। भाभी को मैंने दुपट्टा उतारा था। k उन्होन ने मेरा खडा लंड देख लिया ज। अगले दिन सुभ भाभी ने आके मुझे आवाज लगा राहुल…राहुल…मैं जरूरत से जग मैंने आंख नीचे हुए क्या बात हुई भाभी…क्या माल लग री थी..उनका खा के उनके यहां का आज माता-पिता शिक्षक बैठक हुं बेटा यह पेंटेकोस्टल मुझे पढा था।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  मकान मालकिन की चाहत

वो बोली … क्या मेरे साथ स्कूल चलो सनी के स्कूल में आज पीटीएम है मैंने भी झट से हा कर दी उनका बेटा यही कोई 4-5 साल का था। स्कूल में टीचर ने खा के सनी के रिपोर्ट्स देखने के बाद आज एक्स्ट्रा क्लास भी ज और आज स्कूल की बस भी नी चल री। तब मैंने खा थी ज मैं बाद में आकर ले जाउंगा सनी को तो भाभी बोली कितनी बार आओगे जाओगे चलो 4 घंटे की तो कक्षा में यही इंतजार कर लेटे हैं। क्यू ना भाभी को फिल्म दिखया जय। टीबी मैंने भाभी को बोला के भाभी मेरे लैपटॉप में एक फिल्म ज देखोगे वो बोली यह कैसे?

वो पहले तो कसमसायी फिर बोली कौन सी फिल्म ज मैंने बोला मांस अरे जो स्वरा भास्कर की नई फिल्म हम लोग स्कूल के कैफेटेरिया में गए और फिल्म देखने लगे। हंसने बोली आज कल तो कुछ भी दिखते ज लेकिन थोड़ी देर बाद एक दृश्य आता ज जब ताज एक लड़की को छोटा रहता ज। ये देख के भाभी थोडा श्रम जाति ज और बोलती ज मैं आती हूं वॉशरूम से भाभी थोड़ी देर बाद वापस आई और बोली राहुल चलो चलते माता-पिता का दौरा क्षेत्र में। थोड़ी देर बाद सनी आ गया हम घर आ गए में। रूम ल्मे ग्या और अपना लंड हिलाने लगा भाभी की चुचियो को याद करके। फिर थोड़ी देर बाद आह। आ मेरे लंड से गरम लावा निकला और मेरा गढ़ा मुथ जमीन पर गिरा। फिर मैंने सोचा अब तो भाभी को चोदना ही मिलेगा। लेकिन दार भी एलजी रा था फिर मैंने सोचा कोशिश करने में क्या जा रा। मैंने प्लान बनाया आज रात हमारे एक शादी थी वह पे सनी और उसे दादी जाने वाली थी। मैं रात को वह गया आपने शर्ट की एक बटन तो दी थी और मैं भाभी के पास गया। बोला भाभी ये बटन लगा दो ना।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  Shadishuda Padosan Ke Sath Mast Chudai Raat Bhar-1

भाभी राहुल ये शर्ट उतारो मैंने बोला ऊपर से ही लगा दो क्युकी देर से हो रा भाभी मान गई वो मेरे करीब थी और बटन लगा री थी मेरा लंड पूरा तन गया था और भाभी की चुत पे टच हो रा था। मैंने बोला क्या हुआ भाभी तो वो बोली आपकी बॉडी बड़ी हॉट ज मैंने बोला कौन सा हिसा तो वो बोली चौदी चाटी और मोटे बसु मेरी कमजोरी एच बीएस मैने शर्ट उतर दी भाभी अपने हाथों से टच कर री थी और में ले री थी। मैंने धीरे से अपना हाथ उनकी गोल चुचियो पे रखा और दबया भाभी बोली आआह। ये क्या कर रे मत क्रो। मैं बोला चुप क्रो और उसकी ब्लाउज खोलने लग वो बीएस दिखवे के लिए मन कर री थी।

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

उसकी चुहिया ज़ोर ज़ोर से दबा के उसके निपल्स कात रा था फिर धीरे से उसकी पूरी सारे और पेटीकोट खोल दी अब वो बीएस अधिक खुली ब्रा और पैंटी में फिर मैंने एक उन्गली उनकी चुत पर राखी पूरी गीली हो भी गई। .. आह। हम्म्म्म.ऊह…मज़ा आरा बेबी की जैसी आवाज़ निकल री थी.उसके बाद मैंने भाभी के होठों को बेटासा चूमा वो भी पूरा साथ दे री थी..फिर भाभी को टेबल पे बिथा की उनकी चुत को चटने लगा भाभी आह… isssss immmhh आआआह आआआह … उम्म पूरा माधोशी से किए जा री थी फिर एरा लंड जो पुरा तना हुआ था मैंने इस्तेमाल किया निकला और भाभी की मुह में दे दिया भाभी उसे पूरे मन से चूस री थी मेरी तो हलत खराब… मैं मैं बोला वाह भाभी क्या लंड चूसती  हो तुम आह फिर भाभी को बिस्तर पे गिररया और उनकी चुत पे लंड रागदने लगा।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  मकान मालकिन ने दिलवाई कुंवारी चूत

उसके बाद मेरे एक ढाके से ही आधा लंड घुस गया भाभी जोर से चिल्लाती हुई रोने लगी आह निकलो इसे ये मोटा मोटा ज मेरा फैट जाएगा मैंने बोला थोड़ा डर रुक मेरी जान और एक और धक्का मारा बेहोश भाभी तो मैं डेर यूही पीडीए रहा मैं उसके बाद स्पीड बढ़ाई चाप की आवाज से पूरा रूम गूंज रहा था

पूरा लंड  निकलता फिर जोर से उनकी चुत में पल देता इसी ढाका ढक चुदाई के 16 मिनट बाद भाभी बढ़ने लगी और झड़ गई और 5 मिनट बाद मैं भी उनकी चुत में झड़ गया हम ऐसे कपड़े बदले और जोर का लिप लॉक दिया और मैं कमरा पे आ गया.अब जब मौका मिलता ज मैं भाभी को पलटा हूं.तो ये मेरी कहानी.अब अगली कहानी टैब ही लिखूंगा जब आप लोगो को ये पसंद आ जाएगी.

धन्यावाड़ी
राहुल

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..
HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!