इनस्टाग्राम पर मिली रंडी-1

हेलो दोस्तों, मेरा नाम आर्यन है, मेरी उम्र २० साल है. मैं दिल्ली से हूं, मैं हैंडसम और गुड लुकिंग एक लड़का हूं, मेरे लंड का साइज़ भी एकदम बढ़िया हे. इस देसी सेक्स स्टोरी की हीरोइन मेरी फ्रेंड पीहू रायचंद हे, जो एक २८ साल की मैरिड लेडी है. वह मुझे पहली बार इंस्टा पर मिली थी. पीहू एक वाइट सेक्सी देसी बम है जिसका फिगर ३४-२९-३६ है.

अब आप सभी को ज्यादा बोर ना करते हुए स्टोरी पर ले कर चलते हैं.

यह इंसिडेंट ऑगस्ट २०१६ का है, मैं अपने फ्रेंड फैशन फोटोग्राफर के पास एक मॉडल फोटोशूट के लिए साकेत गया था, जहां बहुत सी मॉडल थी, उनमें से दीपिका नाम की मॉडल थी जो मेरे फ्रेंड की गर्ल फ्रेंड थी. उसके द्वारा हमारा इंट्रोडक्शन हुआ था और फिर हम दोस्त बन गए थे.

अगली रात जब मैं इंस्टा पर शूट की फोटो देख रहा था, वहां मुझे दीपिका का टेग मिला बाद में हमारी बातचीत शुरू हुई, दीपिका के प्रोफाइल में मैंने पिहू को देखा और वह मुझे पहली नजर में पसंद आ गई. अब मैं कैसे भी पिहू को अपना बनाना चाहता था, मैंने पीहु को फोल्लोविंग रिक्वेस्ट भेजी दी.

3 दिन के बहोत सरे काम के बाद जब मैंने फ्री होकर इनस्टा ओपन किया तो मैं बहुत खुश हुआ क्योंकि पिहू ने मेरी रिक्वेस्ट एक्सेप्ट कर ली है, उसकी सारी पिक देख कर मैं उसका फेन हो चुका था, मोस्टली वो साड़ी में अवेसम लगती थी जो की काफी लो थी. जिस में उसकी नवल बहुत अट्रैक्टिव लगती थी, मैंने उसकी सारी पिक्स लाइक कर दी और मैं सो गया.

नेक्स्ट मॉर्निंग जब मैंने इंस्टा ओपन किया तो उस में पीरु का मैसेज था.

उन्होंने पूछा : तुम मुझे जानते हो क्या?

मैंने कहा : अभी नहीं लेकिन अब जान जाऊंगा.

उन्होंने कहा : वाह इतना कॉन्फिडेंस?

मैंने कहा : खुद पर है.

उस ने कहा : नाइस लेकिन यह बताओ सारी पिक्स पसंद आई या फ्री में लाइक किया है, या कोई और वजह है?

मैंने कहा : कोई और वजह हे ऐसा ही समझ लो, मैं तो खो चुका हूं..

उस ने कहा : क्या? कहां खो चुके हो?

फिर मैंने उसकी बहुत साड़ी वाली पिक्स उसे फॉरवर्ड कर दी.

मैंने कहा : में इस में खो चुका हूं.

उसने कहा : हेलो मिस्टर फ्लर्ट, आई एम मैरिड, जरा संभल के.

मैंने कहा : ह्म्म्म आय नो, आप के हस्बैंड के साथ आप की पिक देखी हे मेने.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  ऑनलाइन दोस्ती से चुदाई तक का सफर-1

उसने कहा : तो बच के रहना यहां दाल नहीं गलने वाली, इतनी मेहनत कही और करोगे तो शायद कुछ काम हो जाए.

मैंने कहा : ओह रियली?? तो यहां कुछ नहीं हुआ क्या अब तक?

उसने कहा : बाय, बाद में बात करती हूं.

देसी हिंदी सेक्स वीडियो
मैंने कहा : बुरा लगा क्या मेरी बातों का आपको??

उसने कहा : बुरा लगा नहीं, बस कुछ काम है.

मैंने कहा : ओह्ह, जरूरी है क्या जाना? मजा आ रहा था आप से बात करने में.

उस ने कहा : तो क्या मैं आपके साथ पूरा दिन बात करती रहू??

मैंने कहा : मैं रेडी हूं पूरे दिन बात करने के लिए, आप अपना बताओ.

उस ने कहा : क्यों? और कोई काम नहीं है तुम्हें?

मैंने कहा : है, लेकिन आप से ज्यादा इंपॉर्टेंट नहीं.

उसने कहा : अच्छा जी वेला बॉय.

मैंने कहा : ह्म्म्म एंड यु सेक्सी लेडी.

ऐसी ही हमारी हर रोज बात होने लगी और धीरे धीरे हम काफी अच्छे फ्रेंड बन गए.

Free Hot Sex Kahani
फिर एक दिन हम अपनी पर्सनल लाइफ के बारे में बात करने लगे.

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

उस ने कहा : तो मिस्टर फ्लर्टी कितनी गर्लफ्रेंडस है आप की??

मैंने कहा : हहहाहा. ओह माय गॉड आप स लगा रहे हो? यहां पर एक भी नहीं हे हमारी.

उस ने कहा : झूठ तो बोलो मत, इतना अच्छा फ्लर्ट करते हो और सिंगल? यकीन नहीं होता.

मैंने कहा : अगर सच में अच्छा फ्लर्ट करता तो आप भी गर्ल फ्रेंड होती मेरी.

उस ने कहा : सपने में सोचो बस.

मैंने कहा : यही प्रॉब्लम है, सब यही कहते हैं, चलो लेट मी गेस युअर फिगर.

उस ने कहा : मॉडलिंग के साथ साथ बुटीक भी खोलना है क्या? जो मैजर किया जा रहा है? चलो गेस करो अगर रोंग हुआ तो?

मैंने कहा : अगर सही हुआ तो??

उस ने कहा : तो कॉफी पर चलेंगे.

कामुकता सेक्स स्टोरीज
मैंने कहा : ३६-३०-३६

उस ने : हाहाहा, कॉफी कैंसिल ड्यूड.

मैंने कहा : कॉफी मे शुगर थोड़ी कम ज्यादा हो जाती है एडजस्ट कर लो, अंदाजे से सही होगा, करेक्ट मी.

उस ने कहा : ३४-२९-३६

मैंने कहा : चलो कॉफी की क्वालिटी लो कर देंगे लेकिन कॉफी कैंसिल नहीं, अंदाजे से सही था मेरा.

इसके बाद हमारी फोन कॉल पर बात भी होने लगी.

लेकिन अब तक हमारी सेक्स चैट नहीं हुई थी, क्योंकि वह अपने हबी से खुश थी.

फिर एक दिन मैंने उस से मिलने के लिए फोर्स किया, पहले तो वह मना करने लगी लेकिन बाद में रेडी हो गई.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  विधवा भाभी जी की चुदाई का मज़ा

फिर हमने मूवी का प्लान बनाया. तब हम रुस्तम मूवी देखने गए.

मै बाइक ले कर उसे अशोक विहार पिक करने गया, जब वह मेरे सामने टाइट ब्लेक जेगिंग और टाइट फिटिंग ट्यूनिक पहना था, जिस में उसके बूब्स की शेप बहुत अट्रैक्टिव लग रही थी, जब वह चल कर मेरे पास आई तो उसकी बिग राउंड एस परफेक्टली मटक रही थी.

फिर हम ने हाय हेल्लो किया और वह मेरे साथ बाइक पर बैठ गई, जैसे ही बाइक की स्पीड तेज होती वह मुझे टाइट पकड़ लेती थी, और अब दिल्ली के ट्राफिक में तो ब्रेक भी बहुत मारनी पड़ती थी, जिस से उसके बूब्स मेरी पीठ पर रब हो रहे थे.

अब पूरे रास्ते यह सब कॉमन हो गया था, उस के बाद हम पहुंचने के बाद में बाइक पार्क कर के आया तो पिहू ने कहा क्या मिस्टर फ्लर्टी बाइक राइड में फुल इंजॉय किया ना? तो मैंने हंसते हुए कहा जैसे आप ने तो किया ही नहीं, और अभी तो पिक्चर शुरू हुई हे सेक्सी लेडी, सिनेमा हॉल का अंधेरा अभी बाकी है.

हम एक कपल की तरह चल रहे थे और उसको कोई प्रॉब्लम नहीं थी.

थिएटर में वह मेरे कंधे पर सिर रख कर बैठी थी, हम दोनों का ध्यान मूवी में तो था नहीं एक दूसरे को देख रहे थे, ना जाने कब हम दोनों के चेहरे इतने करीब आ गये और एक छोटी सी लिप किस हो गई, पता ही नहीं चला पिहू की आंखें बंद थी.

इसके बाद वह अचानक से थोड़ा पीछे हुई और अपनी आंखें खोली, हम दोनों का आय कोंटेक्ट हुआ, और फिर न जाने आंखों ही आंखों में क्या बात हुई, फिर से एक दूसरे के लिप्स को किस करने लगे, इस ५ मिनट की स्मूच में खो गए, अब मैं अपने हाथों से उस की कमर रब कर रहा था और एक हाथ उस के बूब्स पर ले गया.

उस ने हाथ बूब्स से हटा दिया लेकिन हमारी किस नहीं टूटी. फिर मैंने अपना हाथ जो कमर पर था उसे कमर से ट्यूनिक के अंदर डाल दिया, कसम से बहुत प्यारा फिल था, उसकी कमर तो मुझे स्वर्ग का सुख मिल रहा था, ऐसे ही में धीरे धीरे उस की गांड पर हाथ ले गया और सहलाने लगा. और फिर हाथ पीछे से ब्रा स्ट्रिप तक ले गया और फिर आगे से हल्के हल्के उसने बूब्स को दबाने लगा. लेकिन इस बार पिहू ने मुझे नहीं रोका और उस ने भी अपना एक हाथ मेरी गर्दन पर रख दिया और एक हाथ से मेरी जांघ को रब करने लगी.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  रेखा- अतुल का माल-2

क्योंकि वह थियेटर था और हम कुछ ज्यादा आगे बढ़ रहे थे तो हम अलग हुए और होश में आए, अब मेरी पिहू की आंखों में खुशी की चमक और चेहरे पर सिडक्टिव स्माइल थी.

हम दोनों बहुत खुश थे, जैसे कि हमारा मूवी में तो दिल लग नहीं लग रहा था, तो हम दोनों थियेटर से बाहर निकल गए मूवी को छोड़ के, मेरा हाथ अब पिहू की कमर से काफी निचे था. और कभी कभी उस की गांड रब भी कर रहा था, इस पर वह हंसने लगी और मेरा हाथ हटा के बोली की जरा सब्र करो, यह पब्लिक प्लेस है.

फिर हम दोनों ने एक होटल रूम में चलने का प्लान बनाया, क्योंकि अब हम एक दूसरे में खोना चाहते थे पूरी तरह, कंट्रोल नहीं हो रहा था, मैंने ओयो रूम बुक किया और वहीं पास में ओयो रुम में चले गए, उस का सर मेरे शोल्डर पर था और वह मुझ पर गिरी हुई थी और मेरा हाथ उस की कमर पर टाइट था. हम इसी पोज में चलते हुए होटल में और फिर हमारे रूम में पहुंचे.

रूम का दरवाजा खुलते ही साइड वाली वोल पर मैंने पीहू को चिपका दिया और उसका हेंड बेग वही पर गिरा दिया और उस के हाथों को पकड़ कर ऊपर कर दिया जिस से उसकी ब्रेस्ट और ट्यूनिक टाइट हो गई, अब इसी पोज में मै उसे लीक करने लगा, उसकी गर्दन, नेक पर और बूब्स पर बट्यूनिक के ऊपर से बाइट करने लगा, अब वह छटपटाने लगी थी.

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..

मैं इसी पोज में उसकी नोवल को लिक करने लगा, अब वह भी आउट ऑफ कंट्रोल होती जा रही थी, ५ मिनट तक ऐसे ही लिक करने के बाद मैंने उस को उसी दीवार पर उल्टा किया, और पीछे से उस के बाल साइड कीये और उसे टाइटली चिपक गया जिस से मेरा लंड उस की ३६ की गांड में घुसने को तैयार था.

HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!