कुँवारी चूत की सीलतोड़ चुदाई-3

Kuwari choot ki sealtod chudai-3

तभी अचानक से मैंने उसके मुहं से वो सेक्सी जोश भरी आवाजे सुनकर अपनी उंगली को उसकी चूत में अंदर बाहर करने की रफ़्तार को पहले से कुछ ज्यादा बढ़ा दिया, जिसकी वजह से वो अब बिल्कुल बिन पानी की मछली की तरह तड़प रही थी और उसके मुहं से ज़ोर ज़ोर से सिसकियों की आवाज़े आने लगी थी.

मैंने मन ही मन में सोचा कि उसकी इस कुंवारी छोटी सी चूत में मेरा इतना बड़ा लंड कैसे जाएगा, क्योंकि उसको मेरी ऊँगली से ही इतना जब दर्द है तो वो मेरा मोटा लंबा लंड लेने के बाद तो मर ही जाएगी और उसकी चूत फट जाएगी. उसको यह दर्द सहना बड़ा मुश्किल होगा. फिर उसी समय अचानक से मेरी नज़र पास में रखे बालों में लगाने वाले तेल पर पड़ी और उसको देखकर मेरे मन में एक विचार आ गया.

उसके बाद मैंने उस बोतल से बहुत सारा तेल अपने हाथ में लिया और पहले तो मैंने उसकी चूत पर वो तेल लगाया और फिर अपने लंड पर भी मैंने बहुत सारा तेल लगाकर दोनों को एकदम चिकना कर दिया और फिर अपने लंड से मैंने उसकी चूत का सेंटर से सेंटर मिलाकर पहले तो मैंने हल्का सा झटका मारा तो वो दर्द से चिल्ला उठी आइईईई ऊईईईईइ माँ में मर गई आह्ह्ह्ह ऊऊह्ह्ह्ह प्लीज थोड़ा सा आराम से करो.

अब में उसका वो दर्द देखकर उसी समय रुक गया और फिर में उसके होंठो को चूमने लगा कुछ देर रुककर जब मुझे महसूस हुआ कि उसका दर्द अब पहले से कम हो गया है तब एक बार फिर से मैंने सेंटर से सेंटर मिलाया और फिर से मैंने एक ज़ोर का झटका दे दिया, जिसकी वजह से मेरा लंड उसकी चूत में कुछ इंच तो अंदर चला गया, लेकिन उसको अब बहुत दर्द हो रहा था, लेकिन अब में तो उसका दर्द देखकर वहीं पर रुक गया और मैंने अपने लंड को उसकी चूत में कुछ देर के लिए उसी एक जगह पर रोक दिया और कुछ देर रुकने के बाद मैंने फिर से एक झटका दे दिया, जिसकी वजह से मेरा लंड करीब दो इंच अब उसकी चूत में चला गया और अब मुझसे नहीं रुका गया और मैंने एक ज़ोर का धक्का दोबारा लगा दिया उस वजह से वो ज़ोर से चिल्ला पड़ी आाईईईईईई माँ में मर गई आआह्ह्ह् ऊऊऊऊह्ह्ह्ह मुझे मार डाला आपने मुझे बहुत दर्द हो रहा है आप इसको अभी वापस बाहर निकाल लो.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  चुदाई का लव लेटर दिया सेक्सी क्लासमेट ने

फिर मैंने उससे कहा कि अभी कुछ देर बाद तुम्हे भी मेरे साथ मज़ा आने लगेगा उसके बाद तुम अपना यह सभी दुःख दर्द हमेशा के लिए भूल जाओगी. अब में धीरे धीरे धक्के देते हुए उसके बूब्स को सहलाने लगा, जिसकी वजह से कुछ देर के बाद मैंने महसूस किया कि अब उसको भी मज़ा आने लगा था,.

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

लेकिन दोस्तों मेरा लंड कुछ ज्यादा ही बड़ा था तो अंदर और बाहर करने और उसको धक्के मारने की वजह से मेरा डर बढ़ता जा रहा था, लेकिन में अब ज्यादा देर रुक भी नहीं सकता था और मुझे किसी की कोई भी परवा नहीं थी, इसलिए में यह बात सोचकर अब ज़ोर ज़ोर से धक्के मारने लगा और वो दर्द से चिल्ला रही थी. वो हर बार मुझसे बोलती रही कि प्लीज रूको मुझे दर्द हो रहा है प्लीज रूको, लेकिन में नहीं रुका. फिर वो भी खामोश हो गई और अब उसको भी मज़ा आने लगा था और वो मुझे अपनी कमर को उठा उठाकर मेरा साथ देने लगी थी. वो पूरी तरह से मेरा लंड बड़े मज़े से ले रही थी. में अपनी पूरी ताक़त से उसको धक्के मार रहा था.

फिर बस वो तो अपनी दोनों आखों को बंद करके आह्ह्ह्ह उहह्ह्ह्ह आइईईई उफफफ्फ़ करे जा रही थी. में बार बार उसके होंठो के चूमता रहा और उसके होंठ कुछ ज्यादा ही नरम थे, इसलिए में बार बार उनको पेप्सी समझकर पीता रहा. वो बहुत रसीले थे और मैंने उसके दोनों होंठो को चूमकर चूसकर एकदम लाल कर दिया था और अब मैंने मन ही मन में सोचा कि क्यों ना अब फिल्मी अंदाज़ में उसकी चूत मारी जाए और यह बात सोचकर मैंने अपने लंड को उसकी चूत से बाहर निकाल लिया.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  शादी में माल पटा मैंने पेल दी उसकी गांड

और अब मैंने उसको अपने सामने घोड़ी बना दिया और मैंने पीछे से उसकी चूत में अपना पांच लंबा लंड जब अंदर डाला तो बस उसकी वजह से उसकी अब हालत तो ऐसी हो गई थी जैसे कि वो उस दर्द की वजह से अभी मर ही जाएगी, क्योंकि मेरे लंड का आकार कुछ ज्यादा ही बड़ा था और उसकी चूत कुंवारी थी, जिसमें कभी ऊँगली तक भी अंदर नहीं गई थी इसलिए उसको तो उस दर्द को बर्दाश्त करना कुछ ज्यादा ही मुश्किल हो रहा था, लेकिन वो लड़की इतनी हिम्मत वाली थी वो इतना दर्द होने के बाद भी अब मुझसे कुछ भी नहीं बोल रही थी.

अब मैंने उसको अपने घोड़ी की तरफ बैठे हुए उसकी कमर को पकड़कर अपनी तरफ से जोरदार धक्के देना शुरू किए और में जोश में आकर पहले से ज़ोर और ज़ोर से धक्के देने लगा था और उसकी कमर पर मेरी पकड़ कुछ मस्त थी, इसलिए मुझे उसको धक्के देने में कुछ ज्यादा ही मज़ा आ रहा था. में जब तक धक्के दे रहा था तभी मैंने सोचा कि अब किसी और तरह से इसकी चूत मारी जाए और यह बात सोचकर अब में बेड पेर लेट गया और मैंने अपने लंडा को सीधा खड़ा किया और फिर उससे कहा कि अब तुम मेरे ऊपर आकर लंड पर बैठ जाओ.

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..
HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!