लड़की होने का पहला अहसास-2

Ladki hone ka pahla ehasaas-2

रोहित ने मुझे बाइक पर बैठाया मेने उस से पूछा की हम कहाँ जा रहे है। तो उसने कहा की मेरे घर, मेने कहा की नही, तुम मुझे मेरे घर छोड़ दो मुझे डर लग रहा है। रोहित नही माना और वो मुझे अपने घर ले गया फिर उस ने दरवाजे का लोक खोल और मुझे कहा की अन्दर आ जोओ रोमा में जाकर सोफे पर बैठ गई। रोहित ने दरवाजे को अन्दर से लोक कर दिया और मेरे पास आकार फिर से मेरे होठो को चूमने लगा।

मुझे उसका चूमना अच्छा लग रहा था। तो में उस का साथ देने लगी फिर रोहित ने मेरी टीशर्ट उतार दी और मुझे वही सोफे पर लिटा दिया और मेरे होटो को चूमने लगा ओर मेरे बूब्स दबाने लगा। काफी देर तक हम दोनों एक दुसरे को चूमते रहे मुझे बहुत मजा आ रहा था। फिर रोहित उठ और मेरी जींस का बटन खोलकर मेरी जींस उतर दी और कहने लगा की रोमा आज तो तुमने ब्रा पेंटी भी ब्लैक कलर की पहनी है। तुम इस ब्रा और पेंटी में बहुत खुबसूरत लग रही हो फिर रोहित ने मुझे अपनी गोद में उठा लिया और अपने रूम में लगये और मुझे बेड पर बिठा दिया

फिर उस ने अपनी टीशर्ट जींस उतर दी अब वो सिर्फ अंडरवेयर में था और में ब्रा पेंटी में और फिर उस ने अपनी अंडरवेयर को थोडा नीचे सरका कर अपना लंड निकल कर मेरे होटो से लगा दिया और कहने लगा लो रोमा चुसो इसे में तो उस का लंड देख कर हेरन रह गयी इतना बड़ा और मोटा था वो इतना अच्छा लंड देख कर मेने तो उनके लंड को अपने मुह में ले लीया और चूसने लगी मुझे उसके लंड को चुसना बहुत अच्छा लग रहा था दस मिनट तक में रोहित के लंड को चूसती रही

फिर रोहित ने अपना लंड मेरे मुह से निकाला और मुझे बेड पर लिटा दिया और
मेरे ऊपर आ कर मेरे बूब्स दबाने लगा मेरे मुह से सिसकियाँ निकलने लगी फिर उस ने मेरी ब्रा का हुक खोल कर ब्रा को उतर दिया और बूब्स को चूसने लगा और एक हाथ से मेरी चूत को सहलाने लगा मे आआआआआअ ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह अह अह अह उइ उइ उइ कर के सिसकियलेने लगी फिर वो बूब्स को चुमते हुए नीचे आने लगा और पेंटी के ऊपर से मेरी चूत को चूमने लगा और अपने दोनों हाथो से मेरे बूब्स दबाने लगा। में कहने लगी की रोहित थोडा धीरे धीरे फिर रोहित ने मेरी पेंटी भी उतर दी और मेरी चूत को पागलो की तरह चूसने लगा और मेरी सिसकियसे सारा कमरा गूंजने लगा।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  गुप्ता आंटी की लड़की पारुल को उसी की बेडरूम में टाँग उठाकर रगड़ के चोदा

कुछ देर चूत चूसने के बाद रोहित ने कहा की रोमा क्या अब में अपना लंड तुम्हारी चूत में डाल दू में कहने लगी की हा डाल दो अब मुझ से राहा नही जा रहा तो उसने लंड को मेरी चूत पर रखा और लंड से मेरी चूत को सहलाने लगा फिर धक्का लगाया पर लंड अन्दर नही गया तो उस ने एक और जोर का धक्का मारातो उस का आधा लंड मेरी चूत के अन्दर चला गया और मेरी चीख निकल गयी मेंकहने लगी की रोहित निकालो अपने लंड को बहार मुझे बहुत दर्द हो रहा है तो वो कहने लगा थोडा तो दर्द होगा रोमा और वो मेरे ऊपर लेट कर मेरे होटो को चूमने लगा।

फिर रोहित ने एक और जोर का धक्का मेरे तो उसका पूरा लंड मेरी चूत में चला गया और वो अपने लंड को चूत के अन्दर आगे पीछे करते हुए मुझे चोदने लगा। और दोनों हाथों से मेरे बूब्स को भी दबाने लगा मेने मुह से आआआआआ ऊऊऊऊईईईईईईइ आआह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह के आवाजे निकलना और तेज हो गई मुझे और मजा आने लगा में कहने लगी की रोहित ओर जोर जोर से चोदो मुझे बहुत मजा आ रहा है ये सुनते ही उस ने अपनी स्पीड ओर बड़ा दी इतने मे मे झड गई पर रोहित अभी भी पुरे जोश में था और मुझे चोदे जा रहा था।

फिर वो कहने लगा रोमा में भी झड़ने वाला हु मेने कही की मेरी चूत में मत
निकलना नही तो प्रोब्लम हो जाएगी तो रोहित ने लंड को चूत से बहार निकल और
उन का फव्वारा छूट गया जो मेरे बदन पर आकार गिरा में बेड पर ही लेटी थी और
बहुत थक चुकी थी मेरा सारा बदन दर्द कर रहा था रोहित भी मेरे पास ही लेट
गया फिर रोहित ने कहा केसा लगा रोमा तुम को मजा तो आया न मेने कही की है
पर सारा बदन दर्द कर रहा है

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।
हिंदी सेक्स स्टोरी :  Hot Massage To Female - hindi sex stories-1

कुछ देर हम दोनों वेसे ही लेते रहे फिर में उठ कर बाथरूम में चली गई और
अपने आप को साफ करने लगी तभी रोहित फिर पीछे से आ कर मेरे बूब्स दबाने
लगा और अपने लंड को मेरी गांड से लगा दिया उस के इसे मेरे बूब्स दबाने से
में फिर गरम हो गई फिर में निचे बैठ कर रोहित के लंड को चूसने लगी
जिससे रोहित का लंड फिर से खड़ा हो गया कुछ देर की चुसी के बाद रोहित ने
मुझे वही बाथरूम के फर्श पर लिटा दिया और मेरी चूत को चूसने लगा में फिर
सिसकिय लेने लगी।

फिर रोहित ने मुझे अपनी गोद में उठा लिया और बाथरूम से बहार लाकर बेड पर
लिटा दिया और अपने लंड को मेरी चूत पर रखा और एक ज़ोर का सॉर्ट मारा उसका
लंड मेरी चूत से टकराया मेरा रोम रोम खुशी से झूम रहा
था। रोहित ने आहिस्ता आहिस्ता अपने लंड को मेरी चूत मे अंदर बाहर करने लगा
जब वो लंड बाहर करते मेरी चूत की पंखुडियां उसके लंड के साथ चिपक कर बाहर
की तरफ खिचने लगती ऐसा लग रहा था मेरी चूत उनके लंड को छोड़ने को तैयार
नही.
अब रोहित ने अपनी स्पीड बढ़ा दी उसका लंड जो अब तक मुश्किल से घुस रहा था। अब आसानी से आ जा रहा था। उसने मेरी चूत मैं लंड डाले हुए मुझ को अपनी
गोद मैं उठा लिया मैं फूल की तरह से उसकी गोद मैं आ गई ऐसा लगता ही नही
था की उस ने कोई जिस्म उठाया हो मैंने उनकी कमर की दोनो तरफ अपने पैर से
पकड़ लिया ताकी गिर ना जाउ. मैं उस गोद मैं छोटी सी बच्ची लग रही थी
रोहित का खंभे जैसा लंड मेरी चूत मैं घुसा हुआ था मैं रोहित के निपल को
अपने दाँतों से हल्के हल्के काट रही थी रोहित को मज़ा आ रहा था रोहित मुझ
को उपर उठा के नीचे छोड़ते तो उनका लंड मेरी चूत की जड़ तक टकरा जाता.
रोहित बोले मज़ा आ रहा हे. मैं बोली तुम्हारे जैसा तड़पाने वाला लंड जो
पहली बार मेरी चूत में ले रही हु इस का मजा ही अलग है और ये मेरे लिए बड़ी
बात हे

हिंदी सेक्स स्टोरी :  Mera Dus Inch Ka Lund 4

फिर रोहित ने मुझे बेड पर पटक के मेरी दोनो टाँगों को अपने कंधे पर रख
दी जिस से मेरी चूत उपर की तरफ उठ गई मेरा बदन इतना लचीला था की मैं अपने
दोनो पैर उसके कंधे पर आराम से रख पाई तो रोहित ये पोज़ देख कर बहुत खुश
हुए और लंड ने मेरी चूत को धक्के देते हुए अन्दर बहार होने लगा इस
दरमियाँ कई बार झड चुकी थी रोहित अलग अलग एंगल से मुझ को चोद रहा था मैं
भी जोश मैं थी और रोहित अब पूरी स्पीड से चोद रहा था हम दोनो के मूह से
अलग अलग आवाज़ निकल रही थी रोहित से भी अब नही रहा जा रहा था उस लंड को
चूत से बहार निकल कर मेरे मुह में भर दिया और जोर से अकड़ते हुए सारा
पानी मेरे मुह में भर दिया और वो मेरे ऊपर ही लेट गया कुछ देर ऐसे ही
लेटे रहने के बाद हम दोनों ने साथ में नहाये और फ्रेश हो कर एक होटल में
जा कर डिनर किया और फिर रोहित ने मुझे घर छोड़ दिया।

तो ये था दोस्तों मेरा लड़की होने का पहला अहसास उमीद करती हु की आप लोगो
को पसंद आई होगे आप लोगो को केसी लगी बताइएगा जरुर।

धन्यवाद …

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..
HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!