मेरी बीवी और बूढ़े चौकीदार का कामसूत्र-1

Meri biwi aur budhe chokidar ka kamasutra-1

हैल्लो दोस्तों, इस स्टोरी में एक बूड़ा चौकीदार जो हमारे घर के सामने बैठता है वो मेरी बीवी को अपना प्यार जताता है और मेरी बीवी उसे प्यार का इनाम देती है. दोस्तों हम दोनों बहुत गंदे है और हमें सेक्स में कुछ नया करना बहुत पसंद है. हमारे घर के सामने ही कॉलोनी का दरवाजा था, जहाँ पर एक बूड़ा चौकीदार बैठता था, वो रोज रात को आता था, वो करीब 60 साल का होगा और हमें उस पर पूरा भरोसा था.

एक बार मेरा बाहर जाने का 2 दिन के लिए प्लान बन गया. तो मैंने उससे बोला कि वो रात को हमारे घर के सामने ही रुके और ध्यान रखे, क्योंकि मेरी बीवी अकेली होगी. वो मान गया और मेरे जाने के बाद वो रात को 10 बजे मेरे घर के सामने ही बैठ गया.

फिर रात को मेरी बीवी ने उसको चाय दी और खाना भी दे दिया, तो उसने कहा कि थैंक यू मेडम आपने मुझे खाना दिया. फिर मेरी बीवी ने कहा कि कोई बात नहीं आप भी तो यहाँ पर हो, फिर उसने कहा कि एक बात बोलूं अगर आप बुरा ना मानो तो आप बहुत ही सुंदर हो बिल्कुल किसी हिरोइन की तरह, साहब की किस्मत बहुत अच्छी है.

फिर मेरी बीवी ने कहा कि थैंक यू, लेकिन उन्हें कौन समझाएगा? तो उसने कहा कि सॉरी मेडम, लेकिन अगर ऐसी बात है तो वो बेवकूफ है. फिर मेरी बीवी ने कहा कि थैंक यू अगर मुझे डर लगेगा तो में आपको अंदर सोने के लिए बुला लूँगी, मेरी तारीफ़ करने के लिए थैंक यू, मुझे अच्छा लगा. फिर उसने कहा कि जी मेडम, लेकिन सब सच ही है. फिर मेरी बीवी मुस्कुराकर अंदर चली गयी.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  मां का गुस्सा और चुदाई

अब वो बूड़ा बाहर बैठा हुआ था, फिर कुछ देर में मेरी बीवी ने उसको अंदर आने को बोला क्योंकि उसे डर लग रहा था, तो वो अंदर आ गया. अब मेरी बीवी ने नाइटी पहनी हुई थी, जो उसके घुटनों से ऊपर थी.

फिर उसने कहा कि मेडम मुझे नहीं पता था कि आप और भी ज्यादा खूबसूरत हो सकते हो, आप तो एकदम परी लग रही हो. फिर मेरी बीवी ने कहा कि हाँ करते रहो तारीफ़, लगता है तुम्हें बदले में कुछ चाहिए, तो उसने कहा कि नहीं मेडम में सच बोल रहा हूँ मुझे कुछ नहीं चाहिए. फिर मेरी बीवी ने कहा कि पक्का कुछ नहीं चाहिए, तो उसने कहा कि अगर आप इतना पूछ रही हो तो बस मेरे लिए एक बार घूम जाओं, मुझे आपको बस देखना है.

फिर मेरी बीवी उसके लिए घूम गयी और बोली कि चलो किसी ने तो मुझे देखने के लिए बोला, मेरे पति तो मुझे देखते भी नहीं है. फिर उसने कहा कि मेडम वो पागल है, आपको कौन नहीं देखना चाहेगा? तो मेरी बीवी इस बात पर हंस पड़ी और वो दोनों बातें करने लगे.

अब बातें करते-करते पता लगा कि वो अकेला था और उसका कोई भी नहीं था. फिर मेरी बीवी यह सुनकर बोली कि में हूँ ना आपके लिए, तो चौकीदार मुस्कुरा दिया और बोला कि मेडम मुझे यकीन हो गया है कि आप मेरे साथ हर चीज़ में हो. फिर मेरी बीवी ने कहा कि हाँ अपने आपको कभी अकेला मत समझना, में मदद करूँगी.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  बीवी को मोटे लंड से चुदवाया-1

फिर उसने कहा कि थैंक यू मेडम, क्या में आपको एक बात बोल सकता हूँ? प्लीज़ बुरा नहीं मानना, तो मेरी बीवी ने कहा कि हाँ कोई बात नहीं बताओ, तो उसने कहा कि में जानता हूँ कि में बूड़ा हूँ और गरीब हूँ, लेकिन जब से मैंने आपको देखा है में आपसे प्यार करने लगा हूँ. में बस आपको देखने की कोशिश करता रहता हूँ और आपसे बात करने का मौका ढूंढता रहता हूँ, लेकिन नाईट ड्यूटी की वजह से अभी तक बात नहीं कर पाया था. आज मौका मिला है तो बोल दिया, आप नाराज़ मत होना आपने बोला था आप मेरे साथ हो इसलिए मैंने आपको सब सच बता दिया है.

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

फिर मेरी बीवी ने कहा कि इसमें नाराज़ होने वाली कोई बात नहीं है, तुम भी इंसान हो और मर्द भी हो, प्यार पैसे देखकर थोड़ी ना होता है और उम्र का कोई फर्क नहीं पड़ता, बड़ी उम्र के लोग वैसे भी ज्यादा समझदार होते है.

फिर वो चौकीदार यह सुनकर उठा और मेरी बीवी के पास आकर उसका हाथ अपने हाथ में लेकर बोला कि में सच में आपसे बहुत प्यार करता हूँ, आपको कभी तकलीफ़ नहीं दूँगा और आपके पागल पति से बहुत ज्यादा खुश रखूँगा, आप मुझे बस एक मौका दे दो. में आपको पति छोड़ने की नहीं बोल रहा हूँ, बस मुझे अपना प्यार आपको दिखाने दो और अगर में आपको प्यार नहीं दे पाया तो में दुबारा आपसे कभी बात नहीं करूँगा.

फिर मेरी बीवी यह सुनकर मुस्कुरा दी और बोली कि मुझे पता है तुम मुझे खुश रखोगे और प्यार भी दोगे, ठीक है मुझे मंज़ूर है. फिर वो चौकीदार एकदम से चौंक गया और फिर एकदम से आगे बढ़ा और मेरी बीवी को अपने गले लगा लिया. अब वो गंदा सा बूड़ा मेरी गोरी बीवी से चिपक गया था, उसने पसीने वाले कपड़े पहने थे, लेकिन मेरी बीवी को कोई परवाह नहीं थी. फिर वो बोली कि मुझे पसीने वाले ही मर्द पसंद है.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  मेरी बीवी और बूढ़े चौकीदार का कामसूत्र-3

फिर उसने कहा कि मेम साहब आप सोच भी नहीं सकते कि मैंने कितनी बार आपको मेरे साथ गले मिलने की सोचा है. अब यह बोलने के बाद वो पागलों की तरह मेरी बीवी के पूरे शरीर पर अपना हाथ लगा रहा था, मुझे आपसे अकेले में मिलने का कब से इंतज़ार था? तो मेरी बीवी मुस्कुराई और बोली कि देखा सपने भी सच होते है.

फिर उसने कहा कि जी मेडम मेरा तो हो गया, क्या में आपके गालों पर किस कर सकता हूँ? तो मेरी बीवी ने हाँ कर दिया. फिर वो गंदा सा बूड़ा चौकीदार मेरी बीवी के पास आ गया और फिर उसने अपने झुरियों वाले मुँह से मेरी बीवी के गोरे गाल पर किस कर दिया.

फिर मेरी बीवी ने कहा कि बस इतना ही बाबा में सिखाती हूँ, फिर मेरी बीवी ने उस चौकीदार को पहले चुइंगम दी और खुद भी खा ली. फिर उसने उस बूढ़े का मुँह अपने हाथ में लिया और उसके लिप्स पर किस करने लगी.

 

HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!