मेरी चाची और मैं

(Meri Chachi Aur Mai)

मेरा नाम राज हैं मेरी उमर 26 साल हैं मेरे चाची का नाम वैशू हैं उनकी उम्र 35 होगी । वो बहुत खूबसूरत हैं और सेक्सी भी हैं जब भी मैं उन्हे देखता हूं मेरा लंड खडा हो जाता हैं । हम कहाणी की तरफ चलते हैं ।
चाची के घर मैं उनकी लडकी लडका और चाचा चार लोग रहते थे । चाचा सुबह काम पर चले जाते थे और वो काम के कारण 4-5 बहार हि रहते थे । चाची की लडकी और लडका रोज कॉलेज को जाते थे । दिन भर चाची अकेलीही घर में रहती थी । मेरा कॉलेज खत्म हुआ इसलिए मैं भी घर मे ही पडा रहता था । चाची हमारे बगल के घर में रहती थी ।

एक दिन चाची की लडका लडकी मौसा के यहा मेले केलिए चले जाने वाले थे । और उसी दिन चाचा बहुत दिनोके बाद घर आये थे इसलिये चाची नही गयी सिर्फ बचौकौ भेज दिया बच्चे 7-8दिन वहापे रहने वाले थे । वो चले गए । मैं रातको चाची के घर गया तो चाचा चाची मूड में आ रहे थे ऐसा मैने मेहसूस किया और मैं फिर घर आ गया । अगले दिन चाचा सुबह काम पर चले गए मैं दोपहर को चाची के घर गया और उनको पूछा चाचा कहा गए तो वो बोली काम पर चले गए अब वो 4-5दिन नही आने वाले । मैं बोला ठिक हैं और वहासे घर आ गया ।
उसी दिन रातको 11:30बजे चाची का फोन आ गया ….

मैं -हॅलो
चाची -मैं बोल रही हूं
मैं -बोलो ना चाची क्या हुआ ?
चाची – राज तुम यहा आ जाओ ना सोने केलिए मुझे बहुत डर लग रहा हैं ।
मैं – ठिक हैं चाची मै आता हूं
और फोन रख दिया । मै बहुत खुश हो गया और मै चाची के घर चला गया ।
मैने डोअर बेल बजायी चाचीने दरवाजा खोल दिया और बोली अंदर आ जाओ । चाची ने पिंक कलर का गाऊन पहना था बहुत सेक्सी दिख रही थी । मेरा तो लंड खडा हो गया ।
मै अंदर जा कर सोफेपर बैठ गया और वो भी बाजू बैठ गयी । थोडी देर हमने बात की फिर वो बोली सो जाओ मुझे नींद आ रही हैं । मैने कहा ठिक हैं वो चली गयी और मै सौफेपर लेट गया । मुझे नींद नही आ रहीती एक घंटे का बाद मै चाची के रूम मै गया और चाची को बोला मुझे नयी जगह नींद नही आती मैं घर जाता हूं तब चाची बोली ऐंसा मत बोलो एक काम करो तुम मेरे साथ सो जाओ तुम्हे नींद आएगी । मैने जरासीभी देरी न करते हुए उनके बगल मैं सो गया । उन्होंने लाईट बंद कर दि और सो गए ।

2 बजे मै बाथरूम केलिए उठा और लाईट लगाई तो चाची गाऊन कमर तक आया था और उसकी काली चड्डी साफ दिख रहीती । मै बाथरूम मै गया तो सामने चाची की दुसरी चड्डी थी मैने उस चड्डी पर मूठ मारन चालू किया । मेरा पाणी निकला और मै चाची के रूम आया लाईट बंद की और उसके बगल मै सोया । 15-20मिनट के बाद मेरा फिरसे लंड खडा होगया । मुझे समज मै नही आ रहाता की क्या करू ? । चाची मेरी तरफ अपनी पिट करके सोयी थी । मै धीरे धीरे चाची को चिपकने लगा । मैने थोडीसी हिम्मत करके चाची के गांड पर हात रख कर सेहलाने लगा । चाचीने कूस बदली और पैर फैलाके सीधी सो गयी वो गेहरी नींद मै थी । मैं उसके जान्गो को सेहलाने लगा और उसके चड्डी के एक बाजूसे उसके चूत मै उंगली डाली और सेहलाने लगा । चाची अंदर अंदरही गरम हो रही थी अचानक वो जग गयी । उसने जैसेही आँखे खोली मैने उसे किस किया उसे बोलने का मौका भी नही दिया और उसकी चूत मैं उंगली अंदर बहार करने लगा । मै 5 मिनट रुखाही नही फिर वो इतनी गरम होगयी की वो मुझे चीपक के जोर जोरास किस करने लगी । उसे ऐंसा देख कर मुझे भी रहा नही गया । मैने उसका गाऊन उतरा और उसकी ब्रा उतार कर उसके मम्मे दाबाने लगा वो ज्यादा उत्तेजित हुयी । फिर उसकी चड्डी उतारी और उसको नगा कर दिया । फिर मैने अपने कपडे उतरे और मैं भी नंगा हो गया । मेरा लंड देखते ही वो चौक गयी इतना बडा तेरा चाचासे भी बडा हैं । मैने उसे लेटा दिया और उसका पैर फेहलाके चूत मै लंड डाल दिया । उसके मुह से चीण्गारी निकली
ओ माँ आ आ sss

धीरे डालो दर्द हो रहा हैं

आआआ s s s आआआआ

मेरी चूत फट रही हैं
जरा धीरे करो प्लिज आआआ

मैने उसका एक पैर काण्धे पर लिया और जोर जोर से लंड अंदर बहार करने लगा
आईईईई ऊओ ओ माँ ऊफ धीरे डालो आआईई

धक्के लगाते लगाते मैं सांस ली और मैने मेरे लंड का सारा पाणी उसके अंदर निकला …

चाची – क्या कमाल का चोदा हैं तूने आज बहुत मजा आया ।
मैं – मुझे भी मैं तुम्हे रोज चोदना चाहता हूं
चाची – हस कर बोली काश तुम मेरे पती होते तो मैं रोज तुमसे चुदावाती ।
और हम एक दुसरे के बाहोमे सो गए ।

मेरी सुबह 6 बजे आँख खुली तो चाची न्हा कर आयी थी रूम मैं चड्डी पहनी हुयी थी और ब्रा पेहन रही थी । मैं उठा और उसे बेड पर लेटा दिया । तो वो बोली राज बस ना रातको किया ना मैं न्हा कर आयी हूं । मैने उसका कुछ नही सुना और उसकी ब्रा उतरी और उसके मम्मे दाबाने लगा । फिर उसकी चड्डी भी उतारी और मैं उसकी चूत चाटणे लगा ।

वो आहे भरने लगी ।

आआ ई स्स्स्स्स ऊफ्फ

मत करो प्लिज निकालो अपना मुंह

माँ ईईऐ ह्ह्ह्ह्ह म्ह्म्ह्म्ह्म हाहाहाहा आह्ह्ह्ह्ह

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

चाची बोली राज बस करो डालो अंदर अब सेहन नही हो रहा
मेर भी लंड खडा हुआ था मै उसके चूत पर रगडने लगा और अचानक अंदर डाला

ऊऊईए मां धीरे डालो प्लिज

मैं थोडा थोडा स्पीड बढ़ाने लगा वो भी चिल्लाने लगी

दर्द हो रहा हैं प्लिज धीरे

आआआआआआ ईईईईई ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह ऊफ्फ्फ

आईईईई स्स्स्स्स्स्स्स फ्फ्फ्फ्फ और अंदर डाल

मजा आ रहा हैं राज चौद अपनी चाची को

याआआआआयय स्स्स्स्स sss ईईईऐ आआईईईई

थोडी ही देर मैं मेरा पानी निकलने वाला था की मैने उसके मम्मौपर पर निकाल दिया ।

इस तरह मुझे जब जब चान्स मिलता हैं तब तब मैं जा कर चाची को चौदता हूं ।