Padosi bhabhi ki gand me hole kiya

मेरा नाम दीक्षित है। में फर्स्ट ईयर का स्टूडेंट हूं। मुझे हमेशा से भाभियों को गुरने और चोदने का शौक है। ये करीबन 6 महीने पहले की बात है जब हमारे घर के पास वाले घर में एक फैमिली रहने को आई में उस वक्त बाहर खड़ा था देखा की रिक्शा में से एक आदमी आया जो समान उतार रहा था और फिर रिक्शा में से एक हॉट और full पटाखा उसमे से निकला। मैने देखा कि उसने ब्लू रंग की साड़ी पहने हुए थी और उसकी कमर दिख रही थी।

फिर वो और उसके पति अंदर चले गए। फिर क्या हुआ कि वो मेरे घर और खा कि आंटी आप के मच्छर मारने वाला बेट है क्या। मेरी मां ने बोला है तो अंदर आई तो में उसे देख रहा था। और वो मुझे देखने लगी। और वो जल्दी में थी। वो चली गई फिर उसके अगले दिन जब में कॉलेज जा रहा था तभी पीछे से आवाज आई कि रुको में रुक गया और देखा की भाभी मुझे बुला रही है। फिर उनके पास और पूछा बोलिए तब उन्होंने बोला की आप मेरी एक मदद करेंगे।

में बोला क्यों नहीं आप हमारी पड़ोसी जो हो बोलिए क्या काम है। तब वो बोली मेरे पति तो चले गए दो दिन के लिए किसी मीटिंग में तो मैने देखा कि थोड़ी उदास थी। पीने पूछा कोई प्रॉब्लम है क्या तो वो बोली कि मेरे पति मेरे पे बिल्कुल भी प्यार नहीं करते मुझसे वो मुझे सब बिखरा हुआ घर का सामान पड़ा है।

फिर वो रोने लगी मैने उनके हाथ पकड़ा और बोला आप रोइए मत आप की मदद में करूंगा और वो मेरे से गले लग गई तब मैने देखा कि उसके बूब्स बहुत बड़े है। फिर मैने कुछ देखे बिना उनके कमर पे हाथ रखा और फिर बोला आप बहुत खूबसूरत हो। फिर वो बोली कि आप सच तो मैने बोला सच में। फिर मैने बिना कुछ देखे उनको किस किया और मैने अपनी जीभ उसके मुंह में डाल दी।

फिर वो गरम होने लगी और उसके हॉट लिप्स थे उसके मैने धीरे धीरे पिछवाड़े पे हाथ रख के उसे दबाया और फिर मैने उसको पूरे दिन चोदा फिर उस भाभी को कहीं बार चोदा।