परुखी को रंडी बनाया

Parukhi ko randi banaya

हेलो दोस्त मैं अभिषेक दुबे ये भी कहानी एक दोस्त की है हालकि वो दोस्त मेरा नही आसिफ का था। परुख था कुछ दिन बाद उसकी और मेरी भी दोस्ती हो गयी एक दिन प्लान था कही बाहर घूमने का थ आसिफ ने मुझसे कहा जा मेरी बाइक लेकर और परुख को लेकर आ मैंने कहा तू जा वो बोला उसकी एक बहन है पटाका तो मैंने कहा अच्छा मैं जाता हूं उसने नाम बताया पारुखी है अक्सर मुझे लड़कियां पसन्द आती है लेकिन मुस्लिम लडकिया कुछ ज्यादा ही परुख भी मुस्लिम था तो मैं गया तो बो बोला बैठ मैं बैठा था और वही पास से कोई सोई थी मैंने पूछा ये कौन है उसने बताया उसकी बहन मैंने कहा जा जल्दी से तैयार हो वरना आसिफ गुस्सा होगा।

फिर वो बाथरूम में गया तैयार होने मैं वही बैठा था उसकी बहन मेरे पास में ही सोई थी हालकि साली की चुचिया नही दिख रही थी वो एक टी-शर्ट और नीचे लोवर पहिनि थी उसके बाल उसके मुह से छुपा था तो मैंने धीरे से हाथ करके उसके बाल हटाया ताकि फेस देख सकू बाल हटाया तो देखा क्या कयामत लग रही थी मेरा तो लण्ड खड़ा हो गया मैंने थोड़ी हिम्मत करके अपना हाथ उसके टी शर्ट के अंदर डाला और चुचिया हाथ मे लिया बहुत छोटी थी चुचिया उसके एक दम कच्चा आम के जैसे टच करके तो ऐसा ही फील हो रहा था।

फिर मैने धीरे से दबाया तो उसने आह भारी तो मैं समझ गया साली नाटक कर रही है फिर मैंने तेज से दबा दिया वो जोर से आह भारी और खड़ी होकर मेरे पास बैठ गयी बैठेते ही मैंने अपना लिप्स उसके लिप्स पर रख कर उसे किस कर रहा था ज्यादा टाइम नही था तो मैंने उसका बस टी- शर्ट निकाल दिया साली पारखी अंदर कुछ नही पहनी थी कुछ देर तक चुचिया मला फिर अपना लण्ड निकाल कर उसके मुंह मे डाल दिया साली जूस मस्त रही एकदम लॉलीपॉप जैसे मैंने सोचा खाई पीई लड़की है।

कुछ टाइम चूसने के बाद मैने उसका लोवर नीचे किया और पेंटी निकाल दी साली की चूत देखकर बड़ा गुस्सा आया साली ने सेव नही की थी बहुत बड़े बड़े बाल थे वो मैंने उसको चाता नही मैंने अपना लण्ड उसके चूत पर रखा और एक जोरदार झटका दे दिया साली बहुत तेज से चिल्लाई ओ अम्मा मैं मर गयी तब मुझे पता चला साली अभी तक चुदी ही नही थी फिर मैंने कहा साली रंडी चिलाटी क्या है वो रोने लगी बोली मुझे नही चुड़वाना छोड़ो वरना मैं तेज से चिल्ला दूंगी मैंने कहा साली रंडी चूस तो मजे से रही थी।

रंडी की तरह वो बोली छोड़ी मैने कहा चिल्ला तुझे जितना चिल्लाना साली तेरा भाई भी जान जाएगा कि उसकी बहन एक नम्बर की रंडी है वो शान्त हो गयी और मैं एक झटका और जोरदार मारा साली की आंख में आशु गिर रही थी और जोर से चिल्ला भी नही सकती वो अपनी आवाज रोक रही थी फिर भी आह ओ मा मर गयी ऐसे धीरे धीरे बडबडा रही थी और मैं उसे जोरदार चुदाई कर रहा था 5 मिनट में मेरा हो गया मैंने पूरा उसके चूत में ही गिरा दिया अभी परुख ऊपर से आता दिखाए दिया।

उसने अपने टि- शर्ट पहनी और लोवर ठीक किया और मैंने धीरे से कहा साली रंडी अपनी झाट सेव कर के रखना अगली बार तेरी ऐसी चुदाई करूँगा की तू 1 हफ्ते तक रेंग भी नही पाओगी तभी परुख की अम्मी आ गयी बोली ये कौन है तो परुख बोला अभिषेक है मेरा दोस्त उसकी ममी बोली कहा जा रहा हो मैंने बोला आँटी घूमने जा रहा हु बोली कौन कौन है मैं बोला आसिफ उसकी बहन और आसिफ की बहन की ननद और परुख तो बोली परुखी को भी लेते जाओ मैं जा रही हु सहेली के यहाँ ये अकेली क्या करेगी मैंने कहा ठीक है चलो पर परुखी नही जाना चाहती थी उसे लगा जायउँगी तो वहा पर भी चुदाई होगी जबरजस्त। उसकी चुदाई हो गयी थी तो साली चल कहा पाएगी तो मैं और परुख चले गये आसिफ के पास फिर हम लोग वहा से घूमने वाले जगह पर पहुँचे कमाल का प्लेस था।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  जिगोलो बनते ही भाभी की चुदाई

फिर वहां पर फ़ोटो आगौरा हो रहा था वहां पर एक लड़की से परुख का टाका भीड़ गया और 10 मिनट बाद पता चला कि कोई कपल चुदाई करते पकड़े गए आसिफ गया देखने तो परुख था उसी लड़की के साथ जिसके साथ 10 मिनट पहले नैन मटक कर रहा था हालकि आसिफ के फैमिली दूसरे किनारे पर थे तो पुलिस वाला केस करके की धमकी दे रहा था परुख को और असिफ समझाने की कोशिश कर रहा था एक इस्पेक्टर और 2 लेडीज कॉस्र्टेबल और 2 और भी थे तो आसिफ ने मुझे भी फ़ोन किया तो जस मैं पहुचा तस वो बोला अबे अभिषेक तू वो इस्पेक्टर मैंने भी कहा भाई आप तो वो बोला कैसा आप बे दोस्त ही तो हु तेरा फिर मैने भी तू तड़का स्टार्ट कर दिया फिर मैने बोला अबे वो परुख मेरा दोस्त है तो वो बोला अबे मुझे पता नही था बे भाई लेकर जा और कर फिर मै हँसने लगा मैंने उससे 1 hours तक बात की वो मेरा बचपन का दोस्त था।

फिर मैं वहां से चला गया उसने कहा कभी घर पर भी आ जाना अब मैने कहा ओक फिर मै आया तो परुख बोला thnk उ यरर मैंने कहा बे होटल में ले जाकर कर लेता तो वो बोला कि जैस्मिन ने कहा कि दम है तो यहाँ पर चोदो तो मैं चोदने लगा और क्या मैंने कहा चल छोड़ । फिर हमने खूब मजा किया और आपस आ गया । फिर मैने आसिफ को बताया परुखी के बारे में वो बोला है मैंने बोला है साली के चूत में बाल बहुत थे वो बोला सब मेरी बहनो जैसी चिकनी नही रखती मैंने बोला बहनो ही नही तेरी ममी का भी वो हँसने लगा ।

फिर दो तीन बाद मैं परुखी से मिला लेकिन अब वो हमको भाव नही देती थी फिर मैं भी भूल जाता हूं मैं किसी के साथ जबरजस्ती कभी नही करता । फिर मैं मुम्बई चला गया मेरा कुछ काम था तो परुखी के मम्मी कॉलेज के प्रोफेसर है और डैड बैंक में कैशियर तो अछे घर की है वो एक दिन मुम्बई में मुझे किसी का फ़ोन आया तो उसने मुझे बताया कि परुखी तो मैं मिलने चला गया आपको पता होगा मुम्बई के बारे में पास के लोग को भी आप नही ठुद सकते हो ।अगर जगह बता दो तब बहुत आसानी से तो मैं मिला रेड कलर की शर्ट और आसमानी ब्लू कलर की जीन्स एकदम टाइट पहनी हुई थी।

जब वो मुझे देखी तो थोड़ा स्माइल की और पास आकर गले लग गयी और बैठ कर वेटर बुलाई और बोला क्या लोगो मैंने बोला बस जूस तो उसने दो बोला फिर उसने बताया कि कल मैंने तुम्हें mall में देखा था मुझे भी पता चल गया है मेरे भाई के बारे में उसने thnk u कहा मैंने कहा कोई बात नही वो बोली मेरे घर मे कोई किसी को नही टोकता लेकिन लाज बजाया आपने तो मैने बोला वो मेरा दोस्त है दोस्त के लिए कुछ भी । वो मुझे पता है , फिर हम चल दिये उसने बोला उस दिन की चुदाई आज करते है पूरा मैंने कहा ठीक है फिर मैने पूछा यहा तो बोली यहाँ मेरे मामा का घर है ।फिर हम होटल में गये वो जाते हो बोली आज इतना चोदना की मैं हफ्ते भर चल भी न पाऊ। फिर वो वीना कुछ बोले तुरन्त नंगी हो गई।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  दोस्त की धंदेबाज़ बीवी ने मुझे फ्री में चूत दी-1

आज उसके शशिर पर बाल नही थी देख के मजा आ गया मैंने भी तुरंत उसके पास जाकर होड पर होड़ रख दिया और अपना हाथ उसके पीछे कर के उस मुसलमानी की रस चूस रहा था क्या फीलिंग हो रही थी उस समय बता नही सकता । फिर मैने हाथ उसके बूब्स पर रख कर मसल रहा था बहुत छोटा था उसका बूब्स एकदम टाइट उसको मैने 5 मिनट तक चूसा फिर मैने अपने पैंट से अपना लण्ड निकल कर उसके मुह में देकर चोद रहा था उसकी चोटी पकड़ कर आगे पीछे कर रहा था तेजी से उसको सॉस भी लेने में दिक्कत हो रही थी फिर कुछ टाइम बाद अब बारी थी परुखी कि चुदने की ,फिर मैने उसके चूत में सेव किया और गजा से डाल दिया तो चिल्ला पड़ी आइए आइए और मैं थोड़ा रुका उसे बहुत दर्द हो रहा था।

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

आंख में आशु भी था उसके फिर 4-5 मिनट बाद दर्द कम हुआ तो वो ऊपर नीचे करने लगी तो मैने फिर एक जोरदार शॉट लगा दिया उसकी तो फट गई और थोड़ा खून भी दिखने लगा कुछ टाइम बाद उसे भी मजा आने लगा और वो ऊपर नीचे कर के खुद ही चुद रही थी और बोल रही थी चोद के भोसड़ा बना दो दोस्त की बहन की मैंने बोला है साली रंडी ,रंडी जैसे चुद भी रही है और पक पक पक पक्का पक्का की आवाज गुज रही थी रूम में और वो चिल्ला भी रही थी आय मा आय मा और बोल रही थी और तेज और तेज और मैं तेजी से उसे चोदने लगा।

फिर बोलने लगी थोड़ा धुरे फिर 1 घंटे के बाद परुखी और हम एक साथ झड़ गए और परुखी ने मेरा पूरा सफेदी पी गयी बोल रही थी कि साजन का माल नीचे नही गिरने दूंगी फिर वो और मैं बाथरूम में गये वहां पर मैंने परुखी को किस किया और मल मल के साफ किया पूरा सरीर अभी , हम लोग फिर बबेड पर आकर दोनो नंगे एक दूसरे के बहो में सो गए तब परुखी ने बताया कि उसकी माम् पापा के हर एक दोस्त से चुदी है वो भी मेरे घर मे ही और पापा भी ममी की हर एक सहेली को चोदे है ममी के ही बेड पर तो हम तीनों भाई बहन ये सब देख कर बड़ा हुए है मैंने बोला ऐसे ही मजा ही आता है बीबी अपने पति का लण्ड नही चूस सकती लेकिन बाहरी आदमी का चूस सकती है और गांड भी मरवा सकती है और गैर आदमी गंदी गंदी गली भी तो देकर चोदता है।

साली रंडी पति नही चोद पता और रंडी कही की तेरी भोसड़ा बनायउगा इस टाइप के तो मजा आता है लड़कियों को ऐसे चुदने में । आदमी भी यही करता है दूसरी की बीबी रंडी की तरफ चोदते है अपनी नही चोद सकते न और आज कल की तो पड़ी लिखी लड़किया or औरत हम रोज नया नया लण्ड खाना पसंद करती है वो जवानी मजे से लुटावती है समझी वो बोली बहुत नॉलेज है मैंने कहा है बहुत से आँटी और जवान शादी शुदा लड़कियों को चोदा हु तो पता है तू भी जब 10- 20 लण्ड खा लेगी तो जान जाओगी , वो हँसी और हमने किस करना फिर से स्टार्ट कर दिया फिर चुदाई की शुभह तब मैने उसको तीन बार चोदा शुभह वो चल भी नही पा रही थी वो मैंने बोला दिन भर रेस्ट कर ले शाम को चली जाना वो मांन गई ,मैंने उसको पैन किलर दिया और शाम तक नंगी ही थी।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  कोठे वाली के साथ सेक्स का अनुभव

but मैंने चोदा नही क्योंकि उसे शाम को घर जाना था तभी शाम को उसकी ममी का फ़ोन आ गया बोली कैसी है वो बोली ठीक हु मजे कर रही हु ममी बोली परुखी कि जवानी में खूब मजे कर वो बोली वही कर रही हु फिर फोन कट हो गया मैंने किस किया और परुखी को ऑटो करवाया और वो चली गयी मामू के यहा फिर वो रोज फोन करती और हम मुम्बई धूमने जाते रोज 1 महीने तब मैंने उसको रोज चोदता और वो मेरे साथ शॉपिंग भी करती उसका दिन मेरे साथ ही कटता रोज और रोज मैं उसको चोदता गंदी गंदी गली देकर एक उसने vidoe भी बनाया जो मुझे बहुत बुरा लगा पर उसने कहा मैं किसी को सेंड नही करूंगी मुंझे इज्जत नही लुटवानी है अपनी , वो विडोओ है kiss का उसे मेरा kis करना बहुत अच्छा लगता है होड़ पर होड़ रखकर अपना हाथ पीछे लगाकर kiss करता हु।

वही एक मिनट का वो रखी है उसे अक्सर देखती है एक महीने की चुदाई के बाद तो मानो वो बहुत बदल गयी उसकी गांड बाहर की तरफ हल्का सा निकल गया है और चुचिया भी बड़ा तो गया है और थोड़ी निखर गई है वो अब पहले से कुछ ज्यादा खूबसूरत लग रही है और एकदम औरत जैसा बना दिया मैंने उसको एक महीनों में लेकिन वो मुस्लिम औरत जैसे नही दिख रही थी किस रंडी जैसी उभरी थी शरीर उसका ।

अब मैं घर आ चुका था और आसिफ के साथ थोड़ा मजा किया यहा वहां घूम के कुछ दिन बाद परुखी आई तो उसकी ममी, पापा ,और उसका भाई देखकर चौक गये की एक महीने में इतना बदलाव एक नम्बर की कड़क माल लग रही थी साथ मैं और आसिफ भी बैठे थे आसिफ बोला मुझसे वाह कितनो ने चोदा होगा अभिषेक इसे , मैं शांत था उसके ममी ने उसे समझाया कि इतना भी मजा मत कर की 20 की उम्र औरत दिखनेलग समझी वो बोली मुंझे चुदने में मजा आता है , फिर परुख ने कहा मेरी बहन कैसी लग रही है।

अब लगता है साली ने मुंबई में बहुत से लण्ड खाकर आयी है फिर आसिफ बोला अब जवानी के दिन है तो मैंने बोला चुदेगी ही साली लड़को से कहा बच आएगी , तो दोस्तो उसके बाद भी मैं परुखी को चोदता रहता हु कुछ दिन बाद परुख जान जाता है लेकिन कुछ नही बोलता जानता है कि जवान है तो चुददेगी ही फिर कुछ टाइम बाद मैने परुखी को आसिफ से भी चुद्ववाया हालकि मैंने एक बार आसिफ की छोटी बहन नजमा को भी परुख से चुद्ववाया था तो मैने और आसिफ ने मिलकर परुखी की चुद और गांड का भरता बना दिया और तो बहुत बार परुख फ़ोन करता है कहा है मैं बोल देता हूं तेरी बहन चोद रही हु रुक रंडी को चोद कर आता हूं अब परुखी बिना लण्ड के नही रह सकती तो मैने अपने बहुत से दोस्तो को उससे चुद्ववाया है और आसिफ भी अपने कुछ दोस्तों से चुद्ववाया है परुखी को ,अब उसकी ममी जान चुकी है वो भी मुझसे नैन मटक करती है अगले में बताऊंगा कैसे परुखी के ममी और

उसकी छोटी बहन को चोदा ।

पड़ने के लिए सुक्रिया दोस्त

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..
HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!