पूजा की मक्खन सी मुलायम चूची 1

Pooja ki makhan si mulayam chuchi-1

हेल्लो दोस्तो, मेरा नाम सौरव सिंह है।

मैं एम एस एस की सभी कहानियाँ लगभग पढ़ चुका हूँ…

दोस्तो, मैं धन्यवाद करना चाहूंगा इस साइट के संचालकों का जिन्होंने इतनी बेहतरीन साइट हमें दी और उन सभी लेखकों का जिन्होंने इस साइट पर अपनी कहानियां प्रकशित करीं!!!

मैं मुम्बई में रहता हूँ और मेरी उम्र 22 साल है। मैं दिखने में हटाकटा हूँ, क्यूंकी मैं जिम जाता हूँ और लोग कहते हैं कि मैं बहुत सुंदर हूँ!!!…

यह मेरी पहली कहानी है, तो आप लोगों से गुज़ारिश है कि जो भी ग़लती हो उसे नादान समझ कर माफ़ कर दिजियेगा।

दोस्तो, मेरा लण्ड 8 इंच का है, जिससे मैंने बहुत सारी लड़कियों को चोदा है। आपको बता दूँ, लड़कियों को एक बार चोदने के बाद वो मेरी दिवानी ही जाती हैं…

तो अब मैं आप लोगों को अपने जिंदगी की पहली चु्दाई के बारे में बताने जा रहा हूँ।

उस वक़्त, मेरी उम्र 18 साल थी। उन्हीं दिनों मेरे पडोस में एक लड़की गाँव से रहने आई, उसका नाम पूजा था!!

वो मेरे दोस्त की बडी बहन थी और मुझसे भी 1 साल बडी थी। उसे आकर 4-5 दिन हो गये थे, पर मुझे पता नहीं था।

एक दिन जब मैं अपने दोस्त को बुलाने उसके घर पर गया तब पूजा मुझे मिली। मैंने उसे तब पहली बार देखा था, तो मैंने ज़्यादा कुछ नहीं बोला और अपने दोस्त को लेकर बाहर आ गया।

मेरे दोस्त विजय ने बताया कि वो उसकी बहन है। मुझे उसकी बहन बहुत पसंद आई और मैं रोज विजय के घर पर जाने लगा, कभी कभी पूजा से भी बात कर लेता था…

मेरे दोस्त को भी मालुम था कि मैं कितना बडा कमीना हूँ!! !!!

उसने मुझे बोला कि मेरी बहन के पीछे अपना समय मत बरबाद कर, वो बहुत सीधी लड़की है।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  मॉल में मिलि मस्त माल ने घर ले जाके मज़े दिए

मैंने उससे मजाक में बोला कि समय की बर्बादी नहीं है, एक दिन तुझे अपना साला जरुर बनाऊंगा!!!…

मेरे दोस्त ने मुझे बोला कि साले, सपना मत देख और बातों ही बातों में शर्त लग गई कि अगर मैंने उसे पटा लिया तो वो मेरी और अगर नहीं तो मुझे अगली रक्षाबंधन पर उससे राखी बँधवाना पडेगा।

मैंने उसकी चुनौती को कबूल किया और मैंने भी बोला कि पर तु उसको कुछ उल्टा-सीधा नहीं बोलेगा मेरे बारे में, वो भी मान गया।

फ़िर उसी दिन से मैं अपने काम पर लग गया और मैं उसे इस तरह देखने लगा कि उसे लगे कि मैं उसे ताड रहा हूँ। ऐसा करते हुए मुझे 5 दिन हो गए और अब मुझे ऐसा लगने लगा कि वो भी मुझे देख रही है, छुप-छुप कर!! !!!

मुझे थोडा हौसला मिला और मैं उससे मजाक करने लगा और वो भी मुझसे खुल कर मजाक करने लगी। थोडे दिन ऐसे ही मजाक मस्ती चलती रही और मैं उसे मज़ाक में कभी कभी गाल, हाथ या कमर पर अपना हाथ लगा कर मस्ती करता।

वो भी कभी मेरा हाथ लगाने का विरोध नहीं करती, मुझे भी ऐसा लगने लगा कि वो भी चाहती है कि मैं उसे हाथ लगाया करूँ…

मेरा दोस्त विजय सब जानता था, वो मुझे अपने बहन से दूर रखने की हर कोशिश करता था।

एक दिन मैं पूजा के साथ बाज़ार चला गया था और वापस आते समय विजय ने हमें देख लिया। वो गुस्से से मुझे देख रहा था!!

फिर वो अपनी बहन को अन्दर ले गया और शायद पूजा को सब बता दिया, हमारी शर्त के बारे में। पर दोस्तो, उसकी ये हरकत मेरे लिये और अच्छी साबित हुई!!!

पूजा भी अब मुझे कातील नज़रों से देखने लगी। अब मुझे रास्ता साफ़ दिख रहा था, मुझे इंतेज़ार था तो बस एक अच्छे से मौके का कि मैं उसके सामने अपने प्यार का प्रस्ताव रख सकूँ… …

हिंदी सेक्स स्टोरी :  पूजा की चूचियों का अमृत

आख़िरकार, फ़िर एक दिन वो मौका मिल ही गया!!

पूजा की माँ और पिताजी अपने किसी रिश्तेदार के यहाँ गये पर मेरा दोस्त विजय घर पर ही था, तो मैंने अपने एक दोस्त पवन को बोल कर उसे कुछ देर घर से दूर रखने को कहा!!

उसके जाते ही मैं उसके घर में घुस गया और पूजा मुझे देख कर पास आई और बोली – विजय, तो अभी बाहर गया है।

मैं बोला – जनता हूँ, मैंने ही भेजा है।

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

फ़िर वो बोली – तो, किससे मिलना है??

मैं बोला – तुमसे!!

वो सब जानते हुए भी नाटक करने लगी और बोली – क्यूँ, लेकिन??

मैंने अब देर ना करते हुए उसे आइ लव यू बोल दिया!!!… उसने कुछ नहीं बोला और चुपचाप खडी रही।

मैंने उसे बोला – अच्छे से सोच कर बताना, कोइ जल्दी नहीं है… और मैंने उसे अपना मोबाइल नम्बर दिया और उसका भी लिया और बाहर आ गया।

पाँच मिनट ही हुए होंगे कि उसका फोन आया, मैं देख कर खुश हो गया और कॉल उठाया!! वो ही थी…

मैंने उसे तुरन्त ही पूछ लिया कि सोच लिया, क्या?

तो वो भी बोली – हाँ!!

मैंने बोला – क्या सोचा??

वो बोली – मैं भी तुमसे प्यार करती हूँ!! !!!

मेरे तो मन में लड्डू फूटने लगे और मैं बात करते करते उसके घर में चला गया।

जाते ही मैंने उसे पकड लिया और अपने होंठ उसके होंठों पर रख दिए और किस करने लगा!!!…

वो भी मेरा पूरा साथ देने लगी… हम दोनों एक दूसरे के होंठों का रस पीने लगे, जैसे की दोनों सदियों के प्यासे हों!! !!!

कभी मैं उसका होंठ चूसता तो कभी वो मेरा होंठ चूसती!!!… मैं अपना हाथ उसके पूरे बदन पर फ़ेर रहा था।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  Neeta Ke Sath Pahela Sex

माफ़ कीजिएगा दोस्तो, मैंने आप लोगों को पूजा के बारे में तो बताया ही नहीं। वो एकदम गोरी है, उसका कद 5 फीट 4 इंच है और उसका फ़िगर है 34-28-36!!! एकदम स्वर्ग की अप्सरा लगती है!! !!!

तो अब मैं वापस कहानी पर आता हूँ, किस करते करते मैं उसकी चूची और गाण्ड दोनों मसल रहा था, वो एक दम गरम हो रही थी… अब मैं उसे और गरम करने के लिये उसके गले को चाटने और काटने लगा और वो एकदम पागल हो गई!!!

फ़िर मैंने उसका टॉप निकाल दिया… उसने सफ़ेद रंग का ब्रा पहना था!! उसे भी मैंने निकाल कर फेंक दिया और उसकी नरम नरम, दूध सी सफेद गोरी चुचियों को मसलने और बेतहाशा चूसने लगा!!!…

उफ़!! क्या मस्त चूची थी, उसकी एकदम गोल और सुडौल, मखन सी मुलायम और ऊपर से हल्का भूरा, छोटा सा निप्पल!! !!!

मैंने उसे बहुत देर तक चूसा और फ़िर मैं उसकी स्कर्ट निकालने लग गया… पर अब उसने मुझे रोक दिया और बोलने लगी कि उसका पीरीयड चल रह है।

दुआ करता हूँ, ऐसी किस्मत दुश्मन की भी न हो…

ना जाने क्या क्या पापड़ बेल कर ऐसा मौका मिला था, पर किस्मत को कुछ और ही मंजूर था!!!

खैर, आप ये जानना जरूर चाहेंगें कि क्या फिर मैं उसे चोद पाया या मेरे दोस्त विजय ने हमारा खेल बिगाड़ दिया।

जानने के लिए पड़ते रहिये हमारी प्रिय साइट – एम स स!! !!!

दोस्तो, आप सब को मेरी कहानी कैसे लगी??

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..

जरुर मेल करके बताना।

HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!