साली के साथ सेक्स मैच-2

Saali ke saath sex match-2

फिर में बोला कि अभी तो असली मजा बाकी है और फिर में बोला कि दूसरी पारी की तैयारी करनी है, ग्राउंड साफ करना है, नयी-नयी पोलिश की हुई बॉल मिलेगी.

वो हँसने लगी और उठकर बाथरूम में चली गई, तो में भी उसके पीछे-पीछे बाथरूम में चला गया. अब मेरे एक हाथ में एक कोल्डड्रिंक की बोतल थी तो में बाथरूम में जाकर बोला कि ड्रिंक्स का टाईम है ना और वो कोल्डड्रिंक्स उसकी गर्दन पर डालने लगा. अब उसकी धार उसकी चूचियों पर आ रही थी, तो में उसकी चूचियों को अपने मुँह में लेकर कोल्डड्रिंक्स पीने लगा, क्या मस्ती आ रही थी? अब में उसकी चूचियों को चूसते हुए कोल्डड्रिंक्स पी रहा था. अब वो भी उहह और आह की आवाजे निकाल रही थी.

फिर जब कोल्डड्रिंक्स ख़त्म हुई, तो उसने शॉवर चला दिया और फिर हम दोनों एक साथ शॉवर में नहाए और एक दूसरे को हाथों से मसला और फिर में टावल पहनकर बाहर आ गया.

फिर थोड़ी देर के बाद वो भी अपना बदन पोंछकर बाहर निकली. अब उसने टावल अपने बदन पर लपेटा हुआ था, वो क्या हसीन लग रही थी? फिर मैंने उसे अपनी बाहों में भर लिया और अपने होंठ उसके धधकते होंठो पर रखकर ज़ोर-ज़ोर से चूसने लगा और उसे धक्का देकर पलंग पर लेटा दिया. फिर वो बोली कि क्या कर रहे हो? बड़े बेसब्र हो.

मैंने कहा कि पिच तैयार करनी है ना और फिर मैंने उसका टावल खोल दिया, उसने एक पतली सी लेस वाली पेंटी पहन रखी थी. फिर मैंने उसके बूब्स को चूमते हुए, दबाते हुए, कस-कसकर एक दूसरे को मसलते हुए पहले बेसब्री से उसकी नंगी आज़ाद चूचियों को अपने हाथ में ले लिया, उसकी चूचियाँ सख़्त भी थी और नर्म भी थी और गर्म भी थी और टाईट गोल- गोल भी थी, क्या कहूँ बस गजब की चूचियाँ थी? दबाओ तो चिटक-चिटक जाए, लेकिन मुझे बहुत मज़ा आ रहा था और जो सुगंध उसके शरीर से आ रही थी, वो मुझे और भी मदहोश किए जा रही थी.

अब वो पूरी तरह से नंगी नहीं थी, वो नाइलॉन की टाईट पेंटी से अपनी चूत को छुपाए हुई थी. फिर मैंने उसके बदन को चूमते हुए उसकी पेंटी के ऊपर से ही उसकी चूत की पंखुड़ियों को अपने दाँत से ज़ोर से भींचा. फिर वो बोली कि क्या कर रहे हो? और अपने दातों से उसकी डोरी को खींच दिया और उसकी पेंटी को दूर कर दिया, उसकी क्या मदमस्त चूत थी? काली-काली झाटों के बीच में रसभरी.

मैंने चॉकलेट को उसके बूब्स और चूत के ऊपर लगा किया और अपनी जीभ से उसके बूब्स को चाटने लगा और अब में चारों तरफ अपनी जीभ को घुमा-घुमाकर चाट रहा था और फिर उसके बूब्स को चूसने लगा. फिर वो बोली कि क्या गजब कर रहे हो मेरे राजा? तो में बोला में तो फील्डिंग कर रहा हूँ और उसके बूब्स को चूसते हुए अपनी जीभ को नीचे की तरफ ले जा रहा था. अब उसके बदन में जोरों की सनसनी हो रही थी और वो आह, उहहहह, क्या कर रहे हो? बोले जा रही थी. फिर में उसकी चूत के ऊपर अपनी जीभ ले गया और उसकी चॉकलेटी चूत को चाटने लगा. अब उसे बड़ा मज़ा आ रहा था और अब उसने अपने हाथ से थोड़ी और चॉकलेट अपनी चूत पर डाल दी थी.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  मेरे जीजा ने मुझे चोद चोदकर पेट से कर दिया

अब में और ज़ोर-ज़ोर से उसकी चूत को चाटने लगा था. फिर वो बोली कि आहह, आह, क्या मस्ती आ रही है? और चाटो. फिर में बोला कि तेरी इस चॉकलेटी चूत को पूरा खा जाऊंगा, तू अब देखती जा में क्या करता हूँ? और फिर मैंने उसकी चूत को चाटते-चाटते मेरी जीभ अंदर डाल दी. फिर वो बोली कि उई क्या कर रहे हो? बड़ी मस्त चीज़ हो यार, खा जा इसे जल्दी से.

मैंने उसकी पंखुड़ियों को एक बार फिर ज़ोर से अपने मुँह में लेकर चूस लिया और खड़ा हुआ और बोला कि अब तुझे बैटिंग करनी है, तो ये सुनकर वो मेरी तरफ देखने लगी. फिर में खुद बिस्तर पर अपनी पीठ के बल लेट गया और अपने चूतड़ों के नीचे एक तकिया भी लगा लिया और उससे बोला कि पेड लगा लिया है. अब वो मुझे अपनी फटी-फटी आँखो से देख रही थी और कुछ सोच रही थी. फिर में उससे बोला कि आओं डार्लिंग मेरे ऊपर बैठकर सवारी करो, आओ रानी आओ, अब मैदान में उतरो, मेरे ऊपर बैठकर मेरे इस लंड को अपनी चूत में भर लो और बैटिंग करो.

अब तुरंत ही उसको मेरी बातों का असर हुआ और वो झट से बिस्तर पर चढ़कर मेरी कमर के दोनों तरफ अपने पैरों को करके मेरे ऊपर बैठ गई और बैठने के बाद उसने थोड़ा सा अपने चूतडों को ऊपर उठाया और अपने हाथों से मेरा लंड पकड़कर अपनी चूत में लगा दिया और फिर कुछ शर्माकर अपनी कमर को आगे पीछे करके मेरा लंड अपनी चूत में घुसेड़ लिया और फिर से एक धक्के के साथ मेरा लंड अपनी चूत में भर लिया.

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

फिर थोड़ी देर के बाद वो मेरे ऊपर झुक गई और मेरे होंठो को चूमते हुए और मेरे सीने से अपनी भारी- भारी चूचियों को दबाते हुए मुझे हल्के-हल्के धक्के के साथ चोदने लगी.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  जीजा ने मेरा जिस्म जगाया-2

मैंने कहा कि बैटिंग की अच्छी शुरुआत है. फिर थोड़ी देर तक मुझे धीरे-धीरे चोदने के बाद वो मेरे ऊपर लेट गई. तब में नीचे से उसके बड़े-बड़े, गोल-गोल चूतड़ो पर अपना हाथ फैरते हुए उसके कान में धीरे से बोला कि डार्लिंग अब तुम्हारी चूत को मज़ा दिलवाना तुम्हारे हाथों में है, तुमको बैटिंग कितनी ज़ोर या धीरे करनी है देख लो? कितना दम है तुम में? में बस चुपचाप नीचे लेटा-लेटा तुम्हारी चूत के धक्के ख़ाता रहूँगा और फील्डिंग करता रहूँगा और मैच जितना है तो शॉट तुमको ही लगाना है और इतना कहकर अपने हाथों को आगे बढ़ाकर उसकी चूचियों को अपने हाथों में लेकर कसकर मसल दिया और अपनी कमर को नीचे से उचकाकर साली की चूत में 3-4 धक्के मार दिए.

मेरी बातों को सुनकर अरुणा की आँख एक बार फिर से चमक गई और फिर वो मुझे चूमते हुए बोली कि मेरे राजा, अब देख में तुम्हें दिखाती हूँ बैटिंग कैसे की जाती है? अब मेरी चूत तुझे मस्त करेगी, अब में तुम्हारे लंड को छोड़ूँगी नहीं और फिर उसके बाद वो मुझे फिर से जकड़कर पकड़ते हुए अपनी कमर उठा-उठाकर मुझे चोदने लगी. फिर वो मुझे फिर से अपनी बाहों में भरती हुई मुझे चूमकर बोली कि ओह डार्लिंग बहुत मज़ा आ रहा है, में जल्दी आउट नहीं होंऊँगी, मुझे लंबी पारी खेलनी है और फिर वो मेरे ऊपर तनकर अपनी कमर को कसकर मेरी कमर पर दबाकर बैठ गई और मेरे आँखो में देखते हुए ऊपर नीचे होने लगी.

अब वो मेरे लंड पर जोर-जोर से अपनी कमर हिला-हिलाकर उठ बैठ रही थी और उसके उठने बैठने के साथ-साथ अरुणा की दोनों चूंचियाँ भी उछल रही थी और फिर थोड़ी देर के बाद वो ज़ोर-जोर से धक्के मारने लगी. अब वो बहुत ज़ोर-ज़ोर उछल रही थी और बोल रही थी कि लो मेरे राजा बैटिंग का मज़ा लो, ये लगा चौका और ज़ोर से धक्का मारो, मेरी चूत के धक्के अपने लंड पर खाओ, अभी चौके पर चौका और फिर बोली कि यह अब सिक्स और लो संभालो अपने लंड को नहीं तो मेरी चूत के धक्को से तुम्हारा लंड टूट जाएगा, हाए क्या मज़ा आ रहा है? क्या मस्ती है?

अब वो उछल-उछलकर धक्के मार रही थी उउउईईई, आआहह, ले चौका, ले सिक्स, ओह मेरे राजा और फिर वो बोली कि में आउट नहीं हो जाऊं. अब ड्रिंक का समय हो गया था तो उसने पास में पड़े टावल से मेरे लंड को साफ किया और उसे सहलाने लगी और बोली कि क्या मस्त चीज है ये? और उसे अपने होंठो से लगा लिया. फिर मैंने भी उसका सर पकड़कर और नीचे कर दिया और मेरा लंड उसके मुँह में घुस गया था.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  डरते-डरते साली की चूत मारी

फिर मैंने कहा कि पी ले इसे और अब वो अपनी जीभ से मेरे लंड को चाटने लगी थी और फिर उसे अपने मुँह में ऊपर की तरफ घुसाने लगी. फिर मैंने उसके बाल पकड़कर उसके सर को फिर से नीचे कर दिया, तो झटके से मेरा लंड और अंदर चल गया. अब वो और ज़ोर-ज़ोर से मेरे लंड को चूसने लगी थी. अब मेरे मुँह से भी सिसकारी निकलने लगी थी, हाआहह मेरी जान क्या गजब का चूस रही हो? मुझे स्वर्ग का आनंद आ रहा है और जोर से प्लीज और ज़ोर से और फिर वो भी ज़ोर-ज़ोर से अंदर बाहर कर मेरे लंड को चूसने लगी. अब में उसके बूब्स को दबाने लगा था.

फिर मैंने कहा कि तूने इसे मदमस्त कर दिया है और अब में तुझे मज़ा चखाऊँगा. फिर वो अपने मुँह से मेरा लंड बाहर निकालते हुए बोली कि तो चखाओ ना. बस फिर क्या था? मैंने उसे बेड पर सीधा लेटाया और एक तकिया उसकी कमर के नीचे लगा दिया और उसके ऊपर चढ़कर अपने लंड को उसकी चूत में एक झटके में अंदर डाल दिया.

अब उसने अपनी दोनों टाँगे फैला दी थी और मेरे दोनों कंधो पर रख दी थी. अब में भी उसके बूब्स को दबाते हुए ज़ोर-ज़ोर से धक्के मारने लगा था. फिर वो बोली कि ऊऊओह क्या मज़ा आ रहा है? और ज़ोर से चोदो, ज़ोर से. फिर मैंने उसकी चूत पर जोरदार धक्के लगाने शुरू कर दिए. फिर वो जोर-जोर सिसकियाँ लेने लगी आहहहहहह, उफफ्फ क्या बात है तुम्हारी? हाईईईई काश मेरी शादी तुमसे हुई होती.

मैंने एक ज़ोर का शॉट मारा तो वो जोर से चिल्लाई उईईईईई माँ मार डाला तूने और मार ले तेरी ही है. अब मैंने अपनी चुदाई की रफ़्तार और बढ़ा दी, तो वो ऊऊऊहह, आआहह, अब मज़ा आ रहा है और चोद, ज़ोर से चोद, फिर मौका नहीं मिलेगा, लूट ले राजा जितना चाहे बोले जा रही थी. फिर हम दोनों एक साथ ही झड़ गये और अब मैच के पूरे ओवर ख़त्म हो गये थे. फिर हम दोनों एक दूसरे की बाँहों में लिपटे पड़े रहे. फिर मैंने उसे एक लम्बा किस किया और उससे पूछा कि कैसा रहा मैच? तो वो बोली कि शानदार मज़ा आ गया.

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..
HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!