सेक्स के लिए लड़की ने मुझे पटाया-2

Sex ke liye ladki ne mujhe pataya-2

उसको देखते ही मेरा लंड एकदम से तन गया और मेरी तौलिया से बाहर से साफ दिखाई देने लगा. लता की नज़र बार बार मेरे फूलते हुए लंड तरफ जा रही थी.

फिर अचानक से मेरा तौलिया नीचे गिर गया और मैं लता के सामने नंगा हो गया. तौलिया गिरते ही लता का हाथ उसके मुँह पर चला गया और उसके मुंह से निकल गया- हाय राम इतना बड़ा लंड!

चूंकि मैं गर्म हो चुका था इसलिए मैंने देर न करते हुए लता को अपने करीब खींचा और उसे चूमना शुरू कर दिया.

लता के होंठों को किस करते करते मैंने उसके दोनों मम्मों को दबाना शुरू कर दिया. उसके चूचे काफी सख्त थे और 36 इंच की साइज के थे. उसके बड़े बड़े दूध मेरे हाथों में ही नहीं आ रहे थे.

मैंने जैसे ही उसे किस करते हुए उसके मम्मों को मसलना शुरू किया. वो भी मदहोश होने लगी और मेरा साथ देने लगी.

काफी देर तक किस होने की वजह से हम दोनों एकदम मदहोश हो गए थे. इसी दौरान मेरा हाथ कब उसकी चूत में घुस गया था, इसका पता ही नहीं चला.

उधर लता ने भी अपने हाथों से मेरे लंड को पकड़ लिया था और वो मेरे लंड को जोर जोर से दबा रही थी.

फिर हम दोनों ने देर न करते हुए एक दूसरे के कपड़े निकाल दिए. मैंने कपड़े निकालते समय देखा कि उसके ब्रा की साइज बहुत बड़ी थी और चूचे तो मानो ऐसे थिरक रहे थे कि बस चूसने से ही कामुकता शांत हो सकती थी.

उसकी ब्रा निकालने के बाद उसके दोनों खरबूजे मेरी आंख में रतौंधी पैदा करने लगे थे.

मैंने एक बार उसके दोनों नंगी मम्मों को अपने हाथों से पकड़ कर मसला और उसकी एक मीठी आह सुनने के बाद मैं नीचे चूत की तरफ देखने लगा.

उसकी पैंटी उतरने की बारी आ गई थी. पैंटी हटाई तो मैंने देखा कि उसकी चूत बिल्कुल गोरी, कसी हुई और झांट रहित थी.

उसके सारे कपड़े निकालने के बाद मैंने फिर से उसे किस करना शुरू कर दिया. यूँ ही लता को किस करते करते मैं उसके चूचों पर आ गया.

उसने खुद अपने हाथ से मुझे दूध पिलाना शुरू कर दिया. मैंने बारी बारी से लता के दोनों मम्मों को खूब चूसा.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  कड़ाके की सर्दी में मौसी और मामीजी को सरसो के खेत में पेला–3

फिर मम्मों से पेट पर … और पेट से मैं उसकी चूत पर आ गया.

पहली बार उसकी चूत को चाटने पर इतना मज़ा आया कि आपका बता ही नहीं सकता.

वो अपनी चूत पर गुलाब की खुशबू वाली कोई चीज लगा कर आई थी. उसकी चूत गुलाब की सुगंध बिखेर रही थी.

मैंने अपनी जीभ को पूरी तरह से उसकी चूत में डालकर काफी समय तक चूसा. वो काफी मदहोश हो गयी और उसने मुझे अपनी दोनों टांगों में जकड़ लिया.

उसको इतना ज्यादा मज़ा आ रहा था कि वो मादक आवाजों से चिल्ला रही थी- आह और और जोर से … आह अअउ … आह.

मेरा मुँह उसकी चूत पर लगा था लेकिन हाथों से मैंने उसके मम्मों की मां चोद रहा था.

वैसे तो मैंने इससे पहले भी चूत चाटने का मजा लिया था मगर जिन्दगी में आज पहली बार किसी की चूत चाटने में इतना ज्यादा मज़ा आ रहा था कि चूत से मुँह हटाने का मन ही नहीं हो रहा था.

मैं मन ही मन कामदेवता से प्रार्थना करे जा रहा था कि आगे भी मुझे ऐसी ही मस्त महक वाली रसीली चूत चूसने को मिलती रहें.

कुछ देर बाद लता की चूत का पानी निकल गया और वो निढाल हो गयी.

मैंने फिर से उसके मम्मों को दबाकर उसे पुनः गर्म कर दिया.

इस बार मैंने उसकी चूत में अपना लंड डालना उचित समझा. जैसे ही मैंने लंड को चूत पर रखकर धक्का मारा तो वो कराह उठी.

उसकी चूत एकदम कसी हुई थी. मैंने अपने आपको किस्मत वाला समझा और ऊपर वाले का शुक्रिया अदा किया.

फिर मैंने अपने लंड को जोर से धक्का मारा और लता  की वजह से चिल्ला उठी- आह मर गई … रुको रुको. वो मुझे आगे बढ़ने से मना करने लगी.

लेकिन मैं भी कहां रुकने वाला था … मैंने उसके मुंह में अपना मुंह रखा और जोर से किस करते हुए धक्के पर धक्के मारना जारी रखे. बस दो तीन तगड़े शॉट में ही मेरा लंड चूत की जड़ तक अन्दर घुस गया.

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

मेरे लौड़े के नीचे मार खा रही लता चुदाई की वजह से लगातार कराह रही थी- ऊईई ईमा मां मर गईईई फाड़ दी आह रुक जा हरजाई … आह.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  फिर सुबह होगी-2

मैं थोड़ी देर रुक गया इसके कुछ देर बाद जब लता का दर्द कम हुआ तो मैंने फिर से अपनी चुदाई का काम शुरू कर दिया. अब लता को भी मजा आने लगा था … हम दोनों धकापेल चुदाई में मस्त थे. वो भी नीचे से गांड उठा कर मेरा साथ दे रही थी.

कुछ देर बाद मैंने उससे कहा- अब घोड़ी बन जाओ.

वो अपना सर हां में हिलाने लगी तो मैं लंड चूत से खींच कर उसके ऊपर से हट गया और वो लपक कर कुतिया बन गई. मैंने पीछे से लौड़ा चूत में पेला और एक बार में ही पूरा लंड चूत में ठोक दिया.

वो एक बार फिर से कराह उठी मगर इस बार उसने एक दो शॉट के बाद ही गांड मटकाना शुरू कर दी. मैंने उसके दूध पकड़ कर उसकी चुदाई शुरू कर दी.

कुछ ही देर में वो झड़ गई थी मगर मेरा शेरू अभी भी गुर्रा रहा था.

फिर मैंने उससे अपने लंड की सवारी करने को कहा. वो मेरे लौड़े पर चूत फंसा कर कूदने लगी.

इस तरह से हम दोनों अलग अलग सेक्स पोजीशन में चुदाई कर रहे थे.

मैं जैसे ही सेक्स पोजीशन चेंज करता, तो उसके चेहरे में खुशी आ जाती थी. वो बहुत खुश थी क्योंकि उसके साथ ये सब पहली बार हो रहा था.

चुदाई के बाद जब मैं झड़ने को हुआ तो मैंने उससे लंड को चूसने को कहा लेकिन उसने मना कर दी.

मैंने कहा- लता रानी, नमकीन रबड़ी है, तुमको प्रोटीन मिलेगी. तुम्हारा चेहरा चमक जाएगा.

इस तरह से थोड़ी देर समझाने के बाद वो लंड चूसने के लिए मान गयी.

मैंने चूत से लंड निकाला और उसके मुँह में दे दिया. अब वो मेरे लंड को लॉलीपॉप की तरह मज़ा लेकर चूस रही थी.

फिर मैंने 69 में आकर उसकी चूत को चूसना और चाटना शुरू कर दिया.

उसकी चूत से गुलाब की बहुत ही मादक खुशबू आ रही थी. मुझे उसकी चूत का रस चाटने में बहुत पसंद आया. मुझे यूं ही खुशबूदार चूत चूसने को मिले … तो मज़ा आ जाए.

चूत चूसने के बाद मैंने सीधे होकर उसे किस किया और कुछ देर दूध चूसने के बाद लता गर्मा गई. मैंने अपने लंड राजा से फिर लता को चोदना शुरू कर दिया.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  Alia bhatt ki pink pussy chudai real kahani

अब लता मेरे लंड पर उछल उछल कर मेरा साथ दे रही थी और चूत चुदाई के मज़े ले रही थी. वो बोल रही थी- सागर जी, लाइफ में पहली बार ऐसी चुदी हूँ और इतना बड़ा लंड देखा है. मुझे अन्दर बहुत मज़ा आ रहा है. काश हम दोनों हमेशा मिल पाते.

दस मिनट की धुआंधार चुदाई के बाद जब मेरा माल निकलने की बारी आई … तो उसने कहा कि रस बाहर ही निकाल देना.

मगर जब मैंने लंड चूत से बाहर निकाला तो वो लपक कर 69 में हुई और मेरे लंड अपने मुँह में लेकर चूसने लगी. मैं झड़ गया और सारा वीर्य उसके मुँह में निकल गया. उसने मेरा सारा रस चाट कर लंड साफ कर दिया.

उधर वो लंड चाट रही थी और इधर मैं उसकी चूत में मुँह लगाए पड़ा था. मैंने भी उसकी चूत को बहुत समय तक चूसा जब तक कि मेरा मन नहीं भर गया.

इस तरह से हम दोनों के बीच सेक्स हुआ. कुछ देर बाद हम दोनों ने कुछ नाश्ता करके फिर से सेक्स शुरू कर दिया.

पूरी रात में मैंने लता को छह बार चोदा और मज़े लिए. लता की चूत चुदाई से ज्यादा मुझे चूत चुसाई में मजा आया था.

मैंने लता की खुशबूदार चूत चूस चूस कर लाल कर दी थी. उसको चूत में जलन होने लगी थी.

तब भी लता को बहुत बहुत धन्यवाद, जो उसने मुझे इस तरह के आनन्द की अनुभूति करायी.

यदि आप सभी को ये हॉट सेक्सी गर्ल की चुदाई कहानी पसंद आई हो तो मैं इसे आगे भी जारी रखूंगा.

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..

दोस्तो … मेरी सेक्स कहानी पढ़कर बताइए कि आपको कहानी कैसी लगी. मुझे ईमेल करें.

HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!