सर्दियों में मामी की चुदाई

Shardiyon me mami ki chudai

यह मेरी पहली कहानी हैं तो अगर कुछ गलती हो जाये तो माफ् करना और आने वाली कहानियों में क्या क्या सुधार करू आओ कहानी पढ़ कर जरूर बताना ।

मेरा नाम सनी हैं मैं रायपुर छत्तीसगढ़ से हूं और मेरी उम्र 22 साल है, मेरी हाइट 5 फीट 6 इंच है। मैंने अपने लंड का साइज तो कभी नही नापा लेकिन इतना पता है कि किसी भी लड़की और औरत को खुश करने के लिए काफी हैं।

मैं आपको अपने मामी का परिचय देता हूं उसके बाद अपनी कहानी सुरु करूँगा,मामी गोरी चिट्टी हैं उनकी हाइट 5 फिट 3 इंच हैं, मामी की उम्र 35 के करीब होगी लेकिन मामी 23 से ज्यादा की नही लगती मामी की साइज 36-28-38 ऐसा ही होगा। उनके दो बच्चे हैं लेकिन उन्होंने अपनी रूप का बहुत ध्यान अच्छे से रखा हैं ।

मैं सर्दियों में मामा के यहॉ गया था मेरे मामा जॉब करते हैं। और मामी हाउसवाइफ हैं , मैं हमेशा से ही मामी को चोदना चाहता था पर अभी तक बस मुठ मार कर ही काम चला रहा था लेकिन वो दिन भी बहुत जल्दी आ गई जब मैंने मामी को चोदा।

एक दिन मामा को किसी काम की वजह से रायपुर से बाहर जाना था 3 दिनों के लिए और ये मेरे लिए एकदम सही मौका था और मैं मन ही मन मामी की चुदाई के सपने देखने लगा , मामा सुबह चले गए काम से और घर मे मैं मामी और मामी के दोनों बच्चे ही थे ।

मामा के के रूम में 2 बेड को जोड़ा हुआ था और मामी मामा और उनके बच्चे साथ मे सोते थे मामा के चले जाने के बाद मामी ने मुझे बुआ की तुम भी यही सो जाओ ये मेरे लिए बहुत अच्छा मौका था ।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  मामी की चूत लाल कर दी

पहले मैं उसके बाद मामी थोड़ी दूर में और उनके दोनों हुम् इस क्रम में सोए थे मैं टीवी देख रहा था रात के 10 बज गए थे लेकिन मुझे नींद नहीं आ रही थी मैं केलव मामी के बारे में ही सोच रहा था और उनको घूरे जा रहा था लेकिन कुछ करने की हिम्मत नही हो रही थी ।

करीब 12 बजे मामी पेसाब करने के लिए उठी और पेसाब करके आकर बोली कि टीवी बंद कर और सो जा करके लेकिन मेरी हालत बहुत खराब हो गयी थी मामी के बारे में सोच सोच कर मेरा लंड तन गया था तो मामी को बोला कि आप बंद का दो और मामी टीवी बंद करके बगल में अपनी जगह पर सो गई।

मैंने थोड़ी हिम्मत करके मामी के कमर पर रख दिया और सोने का नाटक करने लगा मामी ने 1 2 बार हाँथ को हटा दिया तब मुझे लगा कि आज मेरा कुछ नही हो सकता और मैं अलग होकर सो गया और मामी का गहरी नींद में सोने का इंतजार करने लगा करीब 30 मिनट में मामी गहरी नींद में सो गई क्योकि रात भी बहुत हो गयी थी ।

फिर मैंने अपना हाँथ मामी के कमर पर रख दिया इस बार मामी ने कोई विरोध नही तो मैं समझ गया कि मामी गहरी नींद में सो गई है और मेरी हिम्मत बढ़ गयी। और मैन अपना हाँथ मामी के बूब्स पर रख दिया तो मामी ने कोई विरोध नही किया तब मुझे यकीन हो गया कि मामी गहरी नींद में सो गयी हैं।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  सरसो के खेत में मामीजी को नंगी कर बजाया–5

मैंने अपना हाँथ नीचे की तरफ बढ़ाया और साड़ी के ऊपर से ही मामी की चूत को सहलाना चालू कर दिया मामी आह्ह …आह्ह …आह्ह …की धीमी आवाजे निकल रही थी और मेरा जोश और ज्यादा हो गया

मैंने मामी की साड़ी को पेट तक ऊपर कर दिया और मैंने मामी की पेंटी को निकाल कर बेड के नीचे फेंक दिया मुझसे सबर नही हो रहा था तो तुरंत नीचे आया और मामी की चूत चटनी चालू कर दी

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

मामी की चूत से इतना मस्त मादक खुशबू आ रही मैंने अपनी जीभ से मामी की चूत को चोदना चालू किया और मामी अपनी मुह से कोई आवाज नही के रही थी मामी की आंखे तक बंद ही थी मामी बस मजे ले रहीं थी

थोड़े ही देर में मामी की चूत से पानी निकालने लगा मैं आपको बता नही सकता कि उस पानी का कैसा स्वाद था मैं पागलो की तरह मामी की चूत को चाटे जा रहा था और मामी मेरा सर अपनी चूत में दबा रही थी और मजे ले रही थी

मामी का रस पी कर मैंने मामी की चूत को चाट चाट कर गिला किया और मैं ऊपर आकर मामी की होंठों पर अपने होंठ रख दिया मैं बता नही सकता कि मामी के होंठ कितने रसीले थे मैं और मामी पहली बार एक दूसरे के होंठो में कहि खो गए थे

मामी ने मेरे लंड की पेंट के ऊपर थोड़े देर सहलाना और अपने हांथो से मेरी पेंट को नीचे किया और मेरे लंड की हाँथ में लेकर चूत में सेट किया और मेरी कमर को दबाना चालू कर दिया मैं भी समझ गया कि मामी को रुका नही जा रहा हैं मैं भी मामी को जोर जोर से चोदने लगा

हिंदी सेक्स स्टोरी :  प्रोफेसर की चुदक्कड़ बीवी

करीब 10 मिनट के चुदाई के बाद मैंने मामी के कान बोला कि मेरा निकलने वाला है तब मामी ने धीमे आवाज़ पहली बार बोला कि अंदर ही निकाल दो मुझे अंदर लेना ह तुम्हारा माल

मामी के बच्चेदानी का ऑपरेशन हो गया था तो मुझे कोई प्रॉब्लम नही थी मामी की चूत में मेरा लंड अभी भी था मैं मामी के ऊपर लेट गया और पता नही कब मेरी आँख लग गुई

जब मैं सुबह उठा तो देखा कि मामी और बच्चे सब उठ गए थे बस मैं ही सोया था कमरे से बाहर निकला तो मामी ने बोला कि फ्रेश हो जाओ मैं नास्ता लगा देती हूं मामी कुछ हुआ ही नही था रात को ऐसे जता रही थी लेकिन मामी बहुत खुश थी

और हम दोनों ने जब तक मामा नही आये तब तक खुद चुदाई के मजे लिए और मैंने मामी की गांड भी मारी वो कहानी आपको कभी और सुनाऊंगा तब तक के लिये अलविदा

आप अपनी प्रतिक्रिया मुझे जरूर बताना की मेरी कहानी आपको कैसे लगी ताकि मैं अगली कहानी में सुधार करू

[email protected]

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..
HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!