सोनिया की गंदी चुदाई गोआ में-3

Soniya ki gandi chudai goa me-3

दोस्तों हमें ऐसे चुदाई करने में बहुत मज़ा आ रहा था, हाँ चोदो मुझे आहमम्म आहमम्म आईईईईइ अह्ह्ह्हह और ज़ोर से चोदो मुझे राज प्लीज़ हाँ और प्लीज़ आहहहह और मुझे पता ही नहीं चला कि में अब झड़ने वाली हूँ और मैंने उससे कहा तो उसने सुनते ही मुझे बेड पर लेटा दिया और मेरी चूत पर अपने होंठो को टिका दिया और मेरा पूरा रस वो पी गया और अब उसने मेरे मुहं के अंदर मेरा ही रस थूक दिया और जिसको में पूरा निगल गई. दोस्तों में सच कहूँ तो में भी उससे बहुत प्यार करने लगी थी और में उसे पूरा संतुष्ट करना चाहती थी.

अब वो लेट गया और मैंने उसके ऊपर बैठकर उसके लंड को अपनी अंदर चूत में ले लिया और मेरी सेक्सी चूत उसके लंबे तने हुए लंड को खाने लगी, आहहह वाह दोस्तों मज़ा आ गया वो भी नीचे से धक्के दे रहा था और में भी ऊपर से पागलों की तरह उसके लंड पर उछल रही थी और वो भी मेरा पूरा साथ दे रहा था हाँ और ज़ोर से कूदो उह्ह्ह्ह हाँ थोड़ा और ज़ोर से सोनिया प्लीज़ तुम्हारी चूत बहुत टाईट है और मुझसे इतना बोलते ही वो मेरी चूत में झड़ गया और एक लंबी आहहह उसके मुहं से निकली और मैंने उसके होंठो को उसी पोज़ में चूम लिया. दोस्तों में अब पूरी संतुष्ट हो चुकी थी, वाह राहुल मज़ा आ गया, तुम बहुत अच्छे हो और मैंने पूरा अपने आपको उसकी बाहों में दे दिया.

अब करीब रात के 2 बज़ चुके थे, लेकिन हम अभी भी नहीं सोए, क्योंकि हम कल शाम तक का पूरा समय एक साथ बिताना चाहते थे. अब वो उठा और उसने मुझसे कहा कि सोनिया में तुम्हें एक और गिफ्ट देना चाहता हूँ और फिर मैंने देखा कि उसके पास एक नीले कलर की वन पीस ड्रेस थी. मैंने तुरंत उसे पहना तो वो मुझसे कहने लगा कि सच में सोनिया तुम बहुत सेक्सी लग रही हो.

फिर राज से मैंने कहा कि राज चलो ना लंबी ड्राईव पर चले, क्योंकि में उसकी बाईक पर बैठना चाहती थी और उसने एक हाफ पेंट पहनी थी और कुछ भी नहीं और हम निकल पड़े लंबी ड्राइव पर और जब मेरे बड़े बड़े बूब्स उसकी नंगी पीठ से टकराते तो में पागल हो जाती. फिर करीब आधे घंटे के बाद उसने अपनी बाईक को रोक दिया और हम अब पैदल चलने लगे और दोस्तों मुझे कुछ याद आ रहा था कि यह तो वही किनारा है जहाँ पर में राज से सबसे पहले मिली थी.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  पड़ोस वाले दादाजी से चुदी

दोस्तों मैंने उसे दोबारा हग किया और में फिर से एक परी की तरह उड़ने लगी. दोस्तों मुझे प्रकृति का यह मंज़र बहुत सुहाना लगता है और इसे देखकर में अपने सारे गम भूल जाती हूँ. दोस्तों अब राज आया और मुझे अपनी बाहों में ले लिया. मैंने राज से अपने आपको दूर हटाया और दूर जाकर उसको पानी फेंककर मारने लगी और में अब बहुत जल्दी जल्दी उसके ऊपर पानी फेंक रही थी और अब वो मेरे पीछे दौड़कर आने लगा और में भागने लगी.

दोस्तों तभी उसने मुझे पीछे से पकड़ लिया और मुझे अपनी गोद में उठाकर किस कर दिया और अब हम दोनों पानी में गिर पड़े. अब दोस्तों वो मेरे सारे बदन पर किस करने लगी. दोस्तों आह्ह्ह्ह सच में पानी के अंदर चुदाई करने का मज़ा कुछ अलग ही होता है.

अब दोस्तों उसने मेरी सिंगल पीस पर जो मेरी चूत के पास एक हल्की सी पट्टी थी, उसे साईड करके मेरी सेक्सी चूत को चूसने लगा, आआह्ह्ह राज प्लीज़ राज हाँ चूसो हाँ राज आह्ह्ह्ह राज आहश. अब उसने मुझे अपनी गोद में उठाकर मुझे पानी के किनारे ले गया और मुझे पूरा नंगा कर दिया और मेरी गांड के छेद को किस करके चोदने लगा और बोलने लगा कि सोनिया आज में तुम्हारी गांड को भी चोदना चाहता हूँ और फिर उसने अपनी एक उंगली को मेरी गांड के अंदर डाल दी और वो मेरी चूत को घिस रहा था, लेकिन दोस्तों अब मुझसे और रुका नहीं जा रहा था. अब मैंने उससे कहा कि राज ओह्ह्हह्ह्ह्ह मेरी बेबी प्लीज अब चोदो मुझे.

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।
हिंदी सेक्स स्टोरी :  MADHURI Dixit film actress se pyar ki Chudai

फिर उसने मुझे अपने ऊपर बैठा लिया और मेरे बूब्स को पकड़कर वो मेरी गांड के अंदर धक्के देने लगा, ओह्ह्ह राज आहह्ह्ह राज हाँ राज आहहहहह अम्मम्म्म. दोस्तों वो बहुत देर मुझे चोदने के बाद में उठा और उसने मेरे मुहं के अंदर लंड दे दिया और पूरी ताकत से मेरे मुहं को चोदने लगा और थोरी देर में वो मेरे मुहं के अंदर झड़ गया. अब हम दोनों नंगे थे और हमने देखा कि हमारे जो कपड़े थे वो पानी के बहाव से पता नहीं कहाँ चले गये और दोस्तों अब सुबह भी होने ही वाली था तो हमने जाने का प्लान किया और दोस्तों अब बाईक पर हम दोनों ही नंगे थे. फिर मैंने राज से कहा कि राज प्लीज़ मुझे बाईक चलाने दो.

दोस्तों मुझे बाईक चलाना आता है और वो मुझे मेरे बॉयफ्रेंड ने कॉलेज में सिखाई थी. अब मेरे पीछे राज बैठा हुआ था और उसके दोनों हाथ मेरे बूब्स पर और उसका लंड मेरी गांड से छू रहा था और फिर हम कुछ देर बाद राज के घर पर पहुंच गए और उसके बेडरूम में जाकर एक दूसरे की बाहों में सो गये. दोस्तों में उम्मीद कर रही हूँ कि आप मेरी कहानी को पढ़कर मज़े ले रहे है?

दोस्तों हम दोनों दूसरे दिन दोपहर को उठे और हमने कुछ बचा हुआ खाना खाया और मैंने कपड़े पहनना चालू किया, क्योंकि मुझे वापस जाना था तो मैंने राज से ब्रा का हुक लगाने को कहा, लेकिन उसने मेरी ब्रा को उतार दिया और मेरे बूब्स को चूसने लगा, प्लीज राज छोड़ दो मुझे अब जाने दो. फिर वो बोला कि हाँ सोनिया में एक आखरी बार तुम्हें चोदना चाहता हूँ, तो मैंने कहा कि ठीक है राज, लेकिन थोड़ा जल्दी करना.

तब उसने मेरी पेंटी उतारी और मुझे घोड़ी बनाकर अपना लंड डालकर अंदर बाहर करने लगा. दोस्तों वो बहुत तेज तेज धक्के दे रहा था, क्योंकि उसे पता था कि आखरी बार वो मेरी चूत मार रहा है अम्म्म्म आहहह राज हाँ राज मज़ा आ गया थोड़ा और अंदर डालो और इस तरह चोदते हुए वो मेरी चूत में झड़ गया.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  सपनों की काम-क्रीड़ा

दोस्तों मैंने उसी हाल में अपनी काम से भरी हुई चूत में पेंटी पहनी और राज ने मुझे ब्रा पहनने में मदद की और मैंने वही पर अपनी साड़ी पहनी और राज ने मुझे मेरे होटल ले जाकर छोड़ दिया. दोस्तों अब थोड़ा ही समय बाकी था तो मैंने अपना सामान लिया और बाहर आ गई और उसकी बाईक पर बैठकर हम स्टेशन पहुंचे और में ट्रेन में अपने ऊपर वाली सीट पर बेग रखकर नीचे लोवर सीट पर बैठ गई, क्योंकि उस समय गाड़ी में ज्यादा लोग नहीं थे और अब चलने कुछ टाईम बचा था और राज मेरे पास में ही बैठा हुआ था.

मैंने देखा कि वो बहुत उदास था. फिर मैंने उससे कहा कि प्लीज़ राज मेरी मजबूरी को भी समझो मेरा जाना बहुत जरूरी है, लेकिन वो मुझसे सच्चा प्यार करता था. फिर उसने मुझसे कहा कि सोनिया प्लीज़ एक बार फिर सोच लो में तुमसे शादी करना चाहता हूँ बेबी प्लीज़, लेकिन मैंने उससे कहा कि नहीं राज अब गाड़ी ने भी हॉर्न दे दिया है और पता नहीं क्यों मैंने उसे अपना दिल्ली का मोबाईल नंबर दे दिया, मुझे नहीं पता कि मैंने कैसे उसे अपना नंबर दे दिया, क्योंकि में कभी भी किसी को अपना नंबर नहीं देती, लेकिन राज से शायद में भी प्यार करने लगी थी. अब ट्रेन चलने लगी तो मैंने उसे एक किस किया और फिर वो ट्रेन से उतर गया, अब में अपने घर चल पड़ी. दोस्तों में हमेशा भूल जाती हूँ कि मैंने किस किस से चुदाई करवाई, लेकिन राज से पता नहीं मुझे क्या लगाव हो गया था.

HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!