तलाकशुदा भाभी की चुदाई नोएडा बाले फ्लैट में

hello dost आज मैं आपको अपनी एक सच्ची और नयी कहानी सुना रहा हु जो की इसी महीने की है, मेरे फ्लैट के सामने एक तलाकशुदा भाभी रहती है, पता नहीं उसका हस्बैंड उसको क्यों तलाक दे दिया, देखने में वो काफी खूबसूरत है, बॉडी का शेप तो ऐसा है की कोई भी उसे अगर देख ले तो उसका लंड खड़ा हो जायेगा, ज्यादा आपका टाइम ख़राब ना करते हुए पहले मैं अपना इंट्रोडक्शन देता हु, मैं नोएडा में रहता हु, और २१ साल का हु, मैंने इंजीनियरिंग कर रहा हु, और अपने एक दोस्त के साथ रहता हु, एक दिन मैं कॉलेज से आया तो देखा भाभी काफी परेशान थी, तो मैंने पूछ लिया भाभी क्या बात है आप परेशान लग रहे हो, बोली हां सुधीर देखो ना मेरी लाइट नहीं आ रही है, मैंने इलेक्ट्रीशियन को फ़ोन किया पर अभी तक नहीं आया है, परेशानी की वजह यही है, तो मैंने कहा मैंने देख लेता हु, तो बोली अरे हां तुम तो इंजीनियर हो, ये तो तुम्हारे लिए छोटा मोटा काम है, देख लो सुधीर प्लीज.

मैंने उनके घर पे गया तो प्रॉब्लम कुछ भी नहीं था एम सी वी डाउन था, मैं उसको अप कर दिया और पुरे फ्लैट में लाइट आ गयी, चलो मैं तुम्हारे लिए चाय बनाती हु भाभी इतना कह के वो किचन में चाय बनाने लगी, जब वो भाभी उस समय नाईट सूट में थी, उनका बूब काफी बड़ा बड़ा और कमर पतली गोरी और लम्बी औरत करीब २८ साल की है, उनका सिर्फ एक बेटा है जो नर्सरी में पढता है मैंने पूछा की भाभी आपका बेटा कहा है तो वो बोली सुबह मेरा भाई आया था डेल्ही से वो वही चला गया शाम को आ जायेगा, भाभी बड़ी हॉट लग रही थी क्यों की वो ब्रा नहीं पहनी थी तो जब ही चलती दोनों बूब उनका मजे से झूमता और और वो चलती भी थी ऐसी की चूतड़ भी मचलता और बूब ही हिलता और वो हलकी सी मुस्कान कभी वो फ्रीज़ से दूध निकल राय है तो कभी अलमीरा से बिस्कुट निकाल रही थी, पता नहीं मुझे ऐसे लग रहा था की अगर मैं उन्हें चुदने का ऑफर दू तो वो मान जाएगी क्यों की उसे काफी दिन से लंड का मज़ा नहीं मिला होगा, क्यों की वो तलाक शुदा थी, तो मैंने अपना गोटी सेट करने के लिया तैयार हो गया और मैं किचन के दरवाजे पे खड़ा हो गया बोला भाभी हमें भी तो बताओ की चाय कैसे बनती है, क्यों की मैंने जब भी बनाता हु ठीक नहीं बनता है, तो वो मुझे बताने लगी की कब क्या क्या डालना है और कितना खौलाने है.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  छोटे भाई की बीवी कि रसीली चूत चुदाई

फिर चाय लेकर सोफे के पास आ गयी और जैसे चाय रखने के लिए झुकी दोनों चूची को मैंने ऊपर से देखा काफी टाइट लग रहा था, फिर मैंने चाय ली और चाय पिने लगा, फिर बात उठी गर्लफ्रेंड की बोली आज तक तुमने कितने गर्लफ्रेंड बनाये मैंने कहा भाभी अभी भी ३ गर्लफ्रेंड है पर किसी काम की नहीं, जो चाहिए वो मिलता ही नहीं है कहती है शादी के बाद मैंने ये बात काफी हिम्मत के साथ मैंने कहा क्यों की मैंने चाहता था की इस्पे ज्यादा इंटरेस्ट ले, और हुआ भी वही, वो बोली अच्छा तो क्या वो किश देती है, मैंने कहा हां किश तो कर लेता हु और कभी कभी इससे कुछ ज्यादा, तो बोली कुछ इससे ज्यादा क्या? तो मैंने कहा नहीं भाभी प्लीज रहने दो, तो भाभी बोली अरे कोई बात नहीं बताओ प्लीज बताओ ना,,,, तो मैंने कहा बूब भी प्रेस कर लेता हु, अरे वाह भाभी बोली, ऊपर से की अंदर से, मैंने कहा ऊपर से भी अंदर से भी, ओह्ह्ह्ह तो खूब मजे ले रहे हो? भाभी बोली.

आप भी काफी हॉट हो भाभी! क्यों की आप भी किसी भी लड़की से काम नहीं हो, आपका फिगर काफी अच्छा है, तभी भाभी बोल पड़ी क्या चाहते है जो तुम्हारी गर्लफ्रेंड नहीं दे रही है मैंने पूरा करू? मैंने कहा ये मेरे नसीब में कहाँ, तभी वो मेरे साथ बैठ गयी और बोली किसी को कुछ कहना नहीं, मैंने कहा नहीं नहीं कुछ भी नहीं कहुगा, और वो किश करने लगी, मैंने भी उनके होठ को किश करने लगा और वो भी मुझे किश करने लगी, धीरे धीरे मैंने उनके बूब को दबाने लगा और वो मेरे लंड को पकड़ने लगी और दोनों किश करते रहे, फिर बोली चली आज मैं तुम्हे जन्नत की सैर करवाती हु.

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।
हिंदी सेक्स स्टोरी :  अंजान भाभी से प्यार उसके घर में

फिर वो मुझे बैडरूम में ले गयी और मेरे शर्ट के बटन को खोलने लगी, फिर मैंने अपना बनियान खुद ही उतार वो मेरे जीन्स की ज़िप खोल दी मैंने फिर जीन्स को उतार दिया फिर वो बोली जाँघिया भी खोलो मैंने जाँघिया भी उतार दिया, वो मुझे लिटा ही बीएड पे और मेरे ऊपर से निचे तक जीभ से चाटने लगी, मेरा मोटा लंड टाइट हो गया और भाभी ने मेरे लंड को अपने मुह में ले के चाटने लगी और पूरा लंड को अपने मुह में ले लेती थी लंड अंदर उनके गर्दन तक जा रहा था उस समय उनकी सांस रूक जाती थी, फिर वो टॉप उतार दिया मैंने भी उनका पजामा (नाईट सूट) उतार दिया लाल रंग की पेंटी पहनी थी, मैंने पेंटी उतार कर मैं उनकी पेंटी को सूंघने लगा, मैंने उनकी पेंटी को सूंघ कर मदहोश हो गया वो मेरे लंड फिर मुह में ली और चाटने लगी फिर बहार निकाल के मेरे लंड को ऊपर निचे करने लगी, मेरे तन मन में आग लग गया था, आज तक मैंने खुद भी अपने लंड को नहीं देखा था इतना बड़ा, फिर भाभी मेरे ऊपर बैठ गयी और मेरे लंड को अपने बूर के पास लगा के फिर बैठ गयी मेरे पूरा लंड उनके बूर में समां गया अब वो उछाल उछाल के चुदवाने लगी, मैंने भी धक्के लगा रहा था वो अपने दोनों बूब के निप्पल को दबा रही थी, वो फिर मेरे ऊपर लगे गयी और चुदवाने लगी, उनका दोनों चूची मेरे छाती पे रगड़ खा रहा था मैंने पीछे से उनके चूतड़ को दबाना शुरू किया वो काफी टाइट करके धक्के लगा रही टी, फिर मैंने अपने दोनों हाथो की एक एक ऊँगली यानी दो ऊँगली उनके गांड में दाल दिया वो तो काफी हॉट हो गयी और बोली ले ले जन्नत का मजा, फिर वो ऊपर आ गयी और अपने बूर को मेरे मुह के पास ले गयी मैंने लेता था, और बोली चाटो, मैंने बूर को चाटना लगा.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  मैंने अपने देवर से चुदवा लिया-1

नमकीन नमकीन पानी लसलसा सा निकल रहा था उनका बूर का पानी मेरे मुह नाक और गाल पे लग गया था कभी कभी तो वो कास के दबा दे रही थी जिससे मेरा सांस भी रूक रहा था. फिर वो निचे लेट गयी और बोली अब तुम मुझे ऊपर से चोदो फिर मैंने उनके दोनों पैर को उठाया और नन्द उनके बूर में दाल के जोर जोर से धक्के लगाने लगा, वो हरेक धक्के से चीख रही थी और अजीब सी आवाज निकाल रही थी, आअह उस्स्स उफ्फ्फ्फ्फ़, आआऊऊऊछ्ह्ह , फिर वो घोड़ी बन गयी और मैंने उनको कुटी की तरह चोदने लगा, और फिर वो और जोर से और जोर से कहने लगी मैंने भी अपनी पूरी ताकत लगा दी फिर वो झड़ गयी मैंने भी पसीना पसीना हो गया और अंदर से आंधी की तरह आयी और मेरे पूरा माल भाभी जी के बूर में चला गया, भाभी मुस्कुरा के बोली मिला ना जन्नत का मज़ा, फिर क्या था, मेरा दोस्त एक महीने के लिए गाँव गया है, मैंने भाभी के घर रात के करीब ११ बजे जाता हु तब तक उनका बेटा सो जाता है आज पन्दरह दिन हो गया है रात वही कटती है, हम दोनों वाइफ हस्बैंड के तरह रात भर चोदते है

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..
HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!