उदयपुर ट्रिप की मस्ती

Udaypur ki masti

मेरा नाम कुणाल शर्मा है और मैं 26 साल का हूं,  मैं जयपुर से हूं, मेरी हाइट 5’9″ है।   मैं हॉट सेक्स स्टोरी का पुराना पाठक हूं और यह मेरी पहली कहानी है अगर कोई त्रुटि हो क्षमा करें।   यह एक वास्तविक कहानी है।

कहानी मेरे और   मेरी  गर्लफ्रेंड के साथ उदयपुर ट्रिप की है। मेरी गर्लफ्रेंड का नाम शिखा  है उसकी उम्र 23 साल है।  उसका फिगर 34 28 36 है उसका रंग सफेद है कोई भी उसे एक बार देख ले तो चोदने का मन हो जाए।

हम दोनों जयपुर से बस पकड़ कर उदयपुर के लिए 7:00 बजे रवाना हुए। हमने एक स्लिपर बुक किया बस रवाना हुए एक घंटा हुआ था कि बाहर अंधेरा हो गया।

वह और मैं एक दूसरे के पास आए और हमने किस करना स्टार्ट किया मैं उसके बूब्स दबा रहा था और किस किए जा रहा था वह बिना पानी की मछली की तरह तड़प रही थी। फिर मैंने उसके गले पर किस किया और धीरे धीरे उसके टॉप को उतार दिया अब वह ग्राम में मेरे सामने थी उसकी काली ब्रा से उसके बूब्स बाहर से आती रोशनी में चमकते हुए दिखाई दे रहे थे। मैं ब्रा के ऊपर से ही उसके बूब्स को शक किए जा रहा था और एक हाथ से उसकी चूत को  सहला रहा था। उसने अपना एक हाथ मेरे पजामे में डाला और मेरे लंड को सहलाने लगी। मैंने धीरे से उसकी ब्रा निकाली और उसके बूब्स पर टूट पड़ा वह अपने बूब्स को मेरे मुंह में पूरा डालने लगी और मैं जोर-जोर से उसके बूब्स को पीने लगा इतने में उसने मेरा पजामा निकाला और मेरे लंड को सहलाने  लगी अब मैंने उसका   shorts निकाला और उसके पैरों  के तलवों को चाटते हुए धीरे धीरे उसकी चूत की तरफ बड़ा कुछ देर उसकी चूत चाटने के बाद हम 69 पोजीशन में आ गए मैं उसकी चूत का रस पिए जा रहा था और वह मेरे लंड को पूरा मुंह में ले गई।

15 मिनट के बाद हम दोनों एक दूसरे के मुंह में झड़ गए इतने में  बस  एक ढाबे पर रुकी जहां हमने खाना खाया और फिर से बस में बैठ गए बस रवाना होते ही हमने गेट लगाया पर्दे लगाए और खिड़की बाहर से हवा आने के  लिए खुली छोड़ दी। अब उसने पजामे में से लंड बाहर निकाला और चूसने लगी मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया अब मैंने उसे लेटाया और उसका शॉर्ट्स उतार दिया और उसकी चूत को चूसने लगा। वह थोड़ी देर में गरम हो गई और मेरा मुंह अपनी चूत में दबाने लगी उसके मुंह से सिसकारियां निकल रही थी उसने अपने मुंह को ढक रखा था ताकि उसकी आवाज बाहर ना जाए वह बहुत ज्यादा गरम हो गई उसने मुझे धक्का दिया और मेरे ऊपर चढ़ गई और मेरा लंड अपनी चूत में सेट किया और मुझे किस करते हुए आगे पीछे होने लगी  उसकी  सांस फूलने लगी। अब मैं  उसके बूब्स को पिए जा रहा था और वह मेरे लंड पर उछल रही थी।

15 मिनट बाद मैंने उसे नीचे लेट आया और मेरा लंड उसकी चूत पर सेट किया और पूरा एक बार में अंदर डाल दिया उसके मुंह से जोरदार  चीख निकली बाहर से आती रोशनी मैं मैं  उसकी चूत में अपने लंड को अंदर बाहर कर रहा था तभी वह चरम पर पहुंच गई और पीठ पर नाखून चुभने लगी उसके मुंह से और जोर से और जोर से जल्दी करो जल्दी करो की आवाजें आ रही थी और वह अपने सर को इधर उधर पटक रही थी 15 से 20 झटको में वह आह करते हुए झड़ गई अब पूरे केबिन में फच फच की आवाजें आने लगी।  मेरा अभी हुआ नहीं था मैंने अपने लंड को बाहर निकाला और उसकी चूत को साफ किया।

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

अब मैंने उसे डॉगी स्टाइल के लिए बोला वह झुक कर तैयार हो गई मैंने एक झटके में पूरा लंड पीछे से उसकी चूत में उतार दिया वह झटके से गिर पड़ी मैंने फिर से उसे उठाया और उसकी कमर पकड़कर फिर से एक झटका लगाया। अब मेरा पूरा लंड उसकी चूत में समा गया अब मैं धीरे-धीरे धक्कों की स्पीड बढ़ाता गया उसके मुंह से सिसकारियां निकल रही थी वह अपनी गांड पीछे करके पूरा लंड अंदर ले रही थी। 15 मिनट ऐसे ही करने के बाद वह मेरे ऊपर आई और अपनी चूत में लंड सेट करते हुए बैठ गई और ऊपर नीचे होने लगी 5 मिनट में फिर से वह झड़ने के करीब आई अब मैं भी झड़ने वाला था। मैंने उसकी चूत में अपना वीर्य निकाला और हम एक दूसरे के साथ चिपक कर सो गए।

जब आंख खुली तो 2:00 बज रहे थे मेरी तरफ गांड करके सो रही थी मैंने उसके बूब्स को चलाया और एक उंगली उसकी चूत में में डाल दी और अंदर बाहर करने लगा उसने अपनी आंखें खोली और मेरे लंड  को  सह लाते हुए  मुंह में ले लिया अब मैं सीधा बैठकर उसको अपनी गोद में बैठाया और उसकी चूत में अपना लंड डाल दिया। अब हम दोनों इतने चिपके हुए थे कि हमारे बीच हवा भी नहीं आ सकती थी। बीच में तभी बहुत सारी ब्रेक कराएं और वह अपने आप ही मेरे लंड पर उछलने लगी बाहर से आती रोशनी में सेक्स करना हमें उत्तेजित कर रहा था।

बाहर से जाति गाड़ियां बसें देखकर कि कोई हमें देख रहा है हम बहुत उत्तेजित हो गए किसी पोजीशन में 20 मिनट में वह झड़ गई। मेरा भी हुआ नहीं था मैंने उसे सीधा लेट आया और लंड उसकी चूत में डाल दिया और जोर-जोर से धक्के लगाने लगा थोड़ी देर में वह भी मेरा साथ देने लगी और अपनी गांड उठा कर पूरा लंड अपने चूत में लेने लगी। 15 मिनट बाद मैं उसकी चूत में झड़ गया अब हमने कपड़े सही किए और एक दूसरे की बाहों में सो गए आगे की कहानी में बताऊंगा कि अगले 3 दिन हमने उदयपुर में कैसे कैसे सेक्स किया|  आपको यह मेरी कहानी कैसी लगी मुझे मेल आईडी पर जरूर बताएं। [email protected]