4 लड़को ने पेला मेरी बहन को बारी बारी

(4 Ladko Ne Pela Meri Bahan Ko Bari Bari)

हॉट सेक्स स्टोरी, Hindi Sex Story, Desi Sex Story, Chudai Ki Kahani, Bahan Ki Chudai, दोस्तो मेरा नाम उमेश है और में गोरखपुर का रहने वाला हु । मेरी बहन का नाम सोनाली है। जो देखने मे सांवली है कद ज्यादा नही है। पर स्तन उसके बड़े बड़े है। जिसे देख कर में रोज उसके नाम की मुठ मरता हु। तो दोस्तो अब में कहानी पर आता हूं। सोनाली की एग्जाम था। तो उसे परीक्षा दिलवाने लेकर जाना था। 7 दिनों की एग्जाम होने के कारण ओर घर से दूर होने के कारण हम लोगो ने वही एक रूम किराये पर ले लिया था। रूम में नीचे सोने की व्यवस्था थी। रूम के बगल वाले रूम में भी 4 लोग exm देने आए हुए थे,चारो 20 साल के होंगे। 4 Ladko Ne Pela Meri Bahan Ko Bari Bari.

पहला दिन exm हो गया और शाम को चार लड़को से दोस्ती हो गयी,चारो लड़को ने सेटिंग्स की हुई थी।जिसके कारण प्रश्न ओर उत्तर दोनो उसे पहले मिल जाते थे। और वो सब बना के आटे थे। दूसरा दिन भी निकल गया।, शाम को उन चारों ने बताया कि में आप को प्रश्न और उत्तर दे दूंगा। अब उन लोगो से अच्छी दोस्ती हो गयी,वो मुझे भैया बुलाते थे,ओर सोनाली को नाम से बुलाते थे। सोनाली उनसे छोटी थी और अब उन चारों लड़को के साथ घुल मिल गयी थी। शाम को चारों बैठ कर सोनाली के साथ पढ़ते थे। आखिरी पेपर से एक दिन पहले की बात है उस दिन रविवार था और छुटी थी तो सब घर पर ही थे,तो चारो मेरे रूम में आकर सोनाली के साथ पढ़ाई करने लगे। उन लोगो को पढ़ता देख में सोनाली को बोल कर निकाल गया कि में movie देखने जा रहा हु 3 से 4 घंटे में आ जाऊंगा तुम पढ़ाई कर के आराम कर लेना और में चल गया। पर मुझे टिकट नही मिली और में वापस आ गया। “4 Ladko Ne Pela”

जब में वापस आया तो घर बाहर से बंद था में अंदर गया तो सोनाली नही थी। मेने सोचा बाथरूम गयी होगी या पढ़ने गयी होगी, तो मै आराम करने लगा जब 15 20 मिनट हो गए सोनाली नही आई तो में समझ गया कि उन लड़को के साथ पढ़ाई कर रही होगी और में सोनाली को देखने चला गया। जब में लड़को के पास गया तो दरवाजा अंडर से बंद था, मुझे शक हुआ और में अंडर झांकने की कोशिश करने लगा पर मुझे कोई उपाय नजर नही आ रहा था, तब मुझे याद आया कि बाथरूम से उसका रूम नजर आता है। और में सीधा बाथरूम में गुस गया। और बाथरूम के होल से देखने लगा। जिससे साफ नजर आता है चुकी बाथरूम का छेद थोड़ा बड़ा था। अब में अंडर देखा तो सामने बेड थी।बेड पर तीन लड़के थे पूरी तरह नंगे ओर अपनी लन्ड को सहला रहे थे, पर सोनाली कही नजर नही आ रही थी। “4 Ladko Ne Pela”

मे उनकी recording करने लगा, तभी मेरी नजर लड़को पर पड़ी जो एक तरफ देखे जा रहे थे मेने भी उसी तरफ देखा तो में दंग रह गया, मेरी अपनी सगी बहन सोनाली पूरी नंगी थी और टेबल पर अपनी बुर चुदाई करवा रही थी,जो सोनाली को चोद रहा था उसका नाम राहुल था और वो सोनाली की बूब को अपने मुंह मे रख कर एक बच्चे की तरह चूस रहा थाबूब्स को दबाने लगा एक हाथ से उसने उसका बूब मुंह में भर लिया और सक करने लगा. एक हाथ को वो सोनाली की पुसी पर ले गया और फिंगर उसमें घुसा दी उसकी फिंगर गीली हो गई उसने अपनी फिंगर देखा सोनाली खुद ही चुदवाने को उतावली हो रही,मेने देखा सोनाली अपनी आंखें बंद की हुई थी,राहुल ने क्लिट को मसलना चालू किया और सोनाली के मुंह से मस्त सिसकियां निकालने लगी.लड़को ने उसे उल्टी तरफ घुमा के उसे घुटनों के बाल पर कर दिया, वो सोनाली को डॉगी स्टाइल में चोदना चाहता.

उसने अपने ताने हुए लंड को सोनाली की चुत के दरवाजे पर रख कर सुपाडे से उसके तित को रगड़ने लगा. सोनाली के मुंह से जोरदार सिसकियां निकल रही ज़ोर ज़ोर से. उसने अपने मूसल जैसे लंड को हल्का सा धक्का दिया तो लंड का सूपड़ा भीतर चला गया. सोनाली के मुंह से ज़ोर से मतवाली सिसकारी छुट्टी और उसने अपने चूतड़ को आगे पीछे करना शुरू कर दिया ओर लंड धीरे धीरे एक दम भीतर घुस गया. मुझे सोनाली के मजे पर बहुत गुस्सा आ रहा था. सोनाली के मुंह से कराह निकली लेकिन थोड़ी ही देर बाद वो खुद अपने चूतड़ आगे पीछे करने लगी. दूसरे लड़का भी चुप नहीं बैठे थे वो भी मैदान में कूदने को तैयार थे. उसने लंड को सोनाली के मुंह के पास जा कर उसके मुंह में ले कर चूसने को कहा और वो उसके लंड को मुंह में ले कर चूसने लगे,राहुल अब फकफ़ाक धक्के लगाए झड़ रहा था उसके बॉल सीधे सोनाली के चूतड़ पर जा कर ढोलक की तरह ताप लगा रहे और सोनाली के मुंह से जोरदार चीत्कार निकल रही जैसे सीटिया बज रही हो.
“4 Ladko Ne Pela”

राहुल अपना लंड पूरा बाहर निकल कर ज़ोर से धकेलटा था जिस से सोनाली की चीख निकल जाती थी इधर ये सब देख कर मन कर रहा था कि में भी अभी सोनाली को चोद दु,आगे सोनाली के मुंह में एक लंड से पूरा भरा हुआ था, राहुल ने आगे हाथ बढ़ा कर सोनाली के बूब्स पकड़ लिया और ज़ोर ज़ोर से मसलने लगा. एका एक राहुल के धक्को की रफ्तार बहुत तेज हो गई और उसने सोनाली की चुत में ज़ोर से अपने लंड की पिचकारी छोड दी. सोनाली की आंखें मस्ती से मूंद गई, राहुल ने सोनाली चुत को चाट कर साफ किया। अब तीसरा लड़का आकाश जिसका लंड सर आसमान पर उठाए हुए था वो आया और सोनाली की चुत में घुसने लगा. उसके लंड सोनाली की चूत के दरवाजे पर रखा और एक ज़ोर का धक्का लगाया और लंड पूरा का पूरा सोनाली की चुत की जड़ में समा गया. “4 Ladko Ne Pela”

सोनाली ज़ोर ज़ोर से आनंद से सिसकियां भर रही थी अब आकाश जिसका लंड सोनाली चूस रही थी के मुंह से एका एक आस की सीतकारी निकली और उसने अपना गढ़ा गढ़ा सफेद कम उसके मुंह में छोड किया जो की सोनाली पीने लगी फिर भी कुछ स्टाफ उसके मुंह से बाहर आकर उसके गालों पर बहने लगा. उसके हाथ ते ही चौथा लड़का अखिल जिसका लंड सबसे बड़ा था आया और उसने तीसरे लड़के की जगह ले ली और सोनाली उसके लंड को चूसने लगी. अब जो लड़का लड़का को चोद रहा था पूरी ताक़त से धक्के लगा रहा था और सोनाली के गोल गोल चूतड़ उसने अपनी मुट्ठी में भर रखे थे. और पूरे पूरे ज़ोर से धक्के लगा रहा था.

कुछ देर बाद वो भी चुत गया और सोनाली की चूत पूरी सीमेन की झील हो गयी. चोथे लड़के ने सोनाली के मुंह को आज़ाद कर के उसके बिस्तर पर पीठ के बाल लिटा कर उसकी टाँगे अपने कंधे पर रखी और फ्रंट फॉर्वर्ड पोज़िशन में सोनाली की चुत के दरवाजे पर रखी और उसने ज़ोर का धक्का मारा उसका आधा से ज्यादा लंड एक ही झटके में भीतर डाला उधर सोनाली ने अपने हाथ उसकी पीठ पर ले जाकर नीचे ज़ोर से धक्का लगाया और लड़के का बाकी लंड भी एक दम झड़ तक समा गया. लड़के ने अपने दोनों हाथ सोनाली के चूतड़ के नीचे ले जा कर उनका तकिया बना दिया और ज़ोर ज़ोर उसकी चुत का बाजा बजाना शुरू कर दिया. सोनाली आनंद के मारे पागल हो गयी और जीभ सी आवाजें उसके मुंह से निकल रही थीं अखिल ने पूरा 30 मिनट का टाइम लिया और वो भी आख़िर आ आ कर के उसके ऊपर ढेर हो गया और अपने ढेर सारा गाड़ा वीर्य के पिचकारी उसकी चुत में छोड दी. “4 Ladko Ne Pela”

सोनाली इस दौरान कई बार अपना पानी निकल चुकी थी. मुझे सब के लंड और सोनाली की चूत को लीक कर के क्लीन करना पड़ा. ओर सब ने सोनाली की चुट को चाट कर साफ किया इसी बीच सोनाली फिर से गर्म होकर झर भी गई। मेने ये सब अपने फ़ोन में रिकॉर्ड कर लिया और जब सोनाली की चुदाई पूरी हो गयी तो में वहाँ से निकल गया। एक घंटे बाद जब में आया तो सोनाली अपने रूम में बैठ कर पढ़ रही थी मेने सोनाली को कुछ नही बोला, रात को मैने उसे वीडियो दिखा दिया वो डर। गई बोली भैया माफ कर दो अब ऐसा नही होगा । एक शर्त पे माफ कर दूंगा तुम्हे मुझ से चुदने होगा। मैं सोनाली की चूत सहलाया और अपना लौरा निकल कर सोनाली की चूत में घुसाने की कोशिश की थोड़ा ही गया था सोनाली को उससे दर्द हो या नहीं मुझे दर्द होने लगा था तब भी किसी तरह से सोनाली की चूत में लौड़ा घुसाने लगा और कामयाब हो गया फिर चूचिया दबाई और होठ भी चूमे। उसके बाद सोनाली की झटके से चुदाई करने लगा सोनाली की चूत अभी भी काफी टाइट थी सोनाली की चूत में एक बार में ही लौड़ा घुसा दिया मैंने अपना लंड सोनाली की चूत में डालने लगा वो भी खूब मजे ले रही थी. “4 Ladko Ne Pela”

मैं सोनाली की चूचियां दबाने लगा वो भी मुझे चूमने लगी और फिर अपना लौड़ा सोनाली की चूत पर रख पर जोर जोर से पेलने लगा। बहुत मजा आ रहा था। अब मैं अपना लोडा निकल कर सोनाली को चुसने को बोला सोनाली ने एक पल भी देर ना करते हुए मेरे लंड को अपने मुँह में डाल लिया और चूसने लगीं। सोनाली के द्वारा लंड चुसाई करने से मेरा लंड और सख्त हो गया। कुछ ही देर में मेरा माल निकलने वाला था। मैंने बिना सोनाली को बताए ही उनके मुँह में ही उसको निकाल दिया। सोनाली भी उसको जूस की तरह पी गईं। फिर हम दोनों आपस में चिपक गए और किस करने लगे। कुछ देर के लिए हम ऐसे ही चिपक कर लेटे रहे और एक-दूसरे की जुबान को चूसते रहे। अब सोनाली ने कहा-अब और मत तड़पाओ.. बस मेरी आग बुझा दो। मैंने अपना लंड सोनाली की चूत पर रखा और जोर से धक्का लगा दिया.. मेरा लंड सोनाली की चूत में पूरा अन्दर तक चला गया सोनाली जोर से चिल्ला उठीं – आऊ.. ऊऊहह.. उम्म्ह… अहह… हय… याह… ओक्ककह.. मर गई.. रे फट गई आह्ह.. चूऊत.. आह्ह..’

मैंने सोनाली को बहुत जोर से जकड़ लिया और उनके मम्मों को चूसने लगा। सोनाली चुप सी हुईं.. तो मैं अपना लंड चूत में अन्दर-बाहर करने लगा। सोनाली और जोर से चिल्लाने लगीं, मैंने उनकी आवाज को अनसुना करके अपनी स्पीड बढ़ा दी और सोनाली के होंठों को किस करने लगा। होंठों को दबाने से सोनाली की आवाज आनी भी कुछ कम हो गई। उस दिन मैं सोनाली को कई मिनट तक चोदता रहा, सोनाली दो बार झड़ चुकी थीं। फिर मैंने अपना सारा रस सोनाली की चूत में ही छोड़ दिया। उनको इस चुदाई में बहुत मजा आया। हम दोनों थक कर चूर हो गए थे और लेटे हुए थे। हमारे इस सेक्स प्रोग्राम में हमें टाइम का पता ही नहीं चला। “4 Ladko Ne Pela”

सोनाली ने अपने कपड़े पहन लिए मुझे सोनाली को और चोदने का मन था पर इस वक्त हमारा सेक्स बीच में ही छूट गया.. पर यह भी ज्यादा देर तक नहीं छूटा। फिर उस रात को हमने पूरी रात च इस बार सोनाली बिना कपड़ों के थीं क्योंकि हमें अब किसी का डर नहीं था। मैं भी अपने कपड़े खोल कर सोनाली की चुदाई के लिए रेडी था सोनाली मुझे किस करना शुरु कर दिया और हम दोनों ने सेक्स का पूरा मजा लिया। उस रात मैंने सोनाली को 3 बार चोदा आज सोनाली तो इतनी ज्यादा खुश थीं कि वो मुझे छोड़ ही नही रही थीं। ऐसे ही हमारा यह चूत चुदाई का सिलसिला 4 दिनों तक चलता रहा। इसके बाद सोनाली की चूत चोदने का कार्यक्रम आज तक चल रहा है और जब भी मौका मिलता है सोनाली की चूत को शांत जरूर करता हूँ। जब भी सोनाली ज्यादा परेशान हो उठती हैं.. तो मैं उनकी चूत चोद कर शांत करता हु. “4 Ladko Ne Pela”

Loading...