बीच सड़क पर कार में बहन को चोद कर उसे खुश किया

Bhai bahan Car Sex Story, मेरी बहन रानी जो की अभी अभी जवानी की दहलीज पर कदम रखी थी पर उसकी सेक्सी अदाओं में मुझे चोदने को मजबूर कर दिया और आखिर मैंने उससे बीच सड़क पर अपने कार को साइड कर उसकी गर्मी उतार दी। दर्द तो उससे बहुत हुआ था चूत में फट गयी थी। मेरा लंड भी आराम से नहीं जा रहा था फिर भी मैंने उसके चूत को फाड़ के रख दिया। उस दिन थी भी ऐसी की कोई भी उसको पकड़ कर चोद दे मैंने भी वही किया। आज मैं आपको अपनी पूरी कहानी hotsexstory.xyz पर सुनाने जा रहा हूँ। आशा करता हूँ आपको बहुत मजा आएगा चुदाई की कहानी का क्यों की ये मेरी असली सेक्स कहानी है।

पहले मैं आपको अपने बारे में और अपनी बहन के बारे में बता देता हूँ तब आपको और भी मजा आएगा। मेरा नाम हेमंत है मैं 22 साल का हूं मैं भी कॉलेज में पढ़ाई कर रहा हूं और मेरे से छोटी मेरी बहन है जिसका नाम रूपाली है। रुपाली बहुत ही हॉट और सेक्सी लड़की है। टिक टॉक के स्टार है लाखों उसके फेसबुक पर चाहने वाले हैं। वह बहुत ही सुंदर गोरी और स्टाइल वाली लड़के हैं वह भी कॉलेज में एडमिशन कराई है। उसका बदन कोई भी अगर देख ले तो मुट्ठ मारे बिना नहीं रह सकता बहुत ही सेक्सी है। वह एक से एक स्टाइल के कपड़े पहनते हैं उसको वेस्टर्न ड्रेस बहुत पसंद है। वह हमेशा शॉट पहनना पसंद करती है। उसकी गांड के उभार और उसके चुचियों का हार जबरदस्त है दोस्तों कोई भी पागल हो जाए उसको देख कर।

कई बार ऐसा होता है रिश्ते भी तार-तार हो जाते हैं क्योंकि यह वक्त की बात है। अपने आप पर लोग काबू नहीं रख पाते हैं और वह हो जाता है जो चाहते भी नहीं मेरे साथ भी यही सब हो गया था दोस्तों। मैंने अपने ही बहन के साथ रंगरेलियां अपने ही कार में मना लिया था मेरे से ज्यादा जरूरत उसे थी। ऐसा मैं इसलिए कह रहा हूं कि आजकल उनकी चाल ढाल कुछ बदल गए थे। बॉयफ्रेंड का चक्कर आजकल ज्यादा ही चल रहा था ज्यादा फोन कॉल आ रहे थे रात में ज्यादा देर तक तक जाग कर वह hotsexstory.xyz पर सेक्स कहानियां पढ़ा करती थी यह सब देख कर मुझे अच्छा नहीं लगा तुम कैसा लग रहा था कि मेरे घर की चीज को कोई और यूज करने की कोशिश कर रहा है।

आपको तो पता है दोस्तों किसी भी भाई को गुस्सा आता है जब उसकी बहन को कोई ताड़ता है देखता है। मेरा एक दोस्त है मुकेश वह मेरी बहन के पीछे पड़ा हुआ था था तो मेरा दोस्त पर शायद दोस्ती हो इसलिए कर रहा था क्योंकि वह मेरी बहन को लेना चाहता था। ऐसा क्यों होने दो इसलिए मैंने भी प्लान बनाया अगर मेरी बहन खुश रहेगी तो शायद घर का माल घर में ही रह जाए शादी के बाद जो होगा देखा जाएगा। शादी के बाद तो लाइसेंस बन जाता है तो शादी के पहले अगर कोई एक कुमारी लड़की को बजा दे तो यह अच्छी बात नहीं है इस वजह से मैं उसके साथ थोड़ा-थोड़ा दोस्ती करना शुरू कर दिया मैं उससे बातें करना शुरू कर दिया था कि वह बाहर ज्यादा मुंह नहीं मारे।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  आंटी की कार में चुदाई

1 दिन की बात है स्कूल का उसका अंतिम दिन था। स्कूल में सब लोग सज धज कर जाते हैं सेक्सी ड्रेस पहन कर जाते हैं क्योंकि अंतिम दिन होता है तो अपने जिस्म की नुमाइश करते हैं अपने बदन को दिखाते हैं भले टीचर कुछ बोले। अंतिम दिन में मेरी बहन ने एक ब्लैक कलर का शॉर्ट पहने और नीचे स्कर्ट, स्कर्ट बहुत छोटा था. अंदर लाल कलर की चड्डी पहन रखी थी लाल कलर की ब्रा की पट्टी उसके कंधे से दिखाई दे रही थी। स्कर्ट और टॉप के बीच में 6 इंच का जगह बचा हुआ था जिससे उसके पेट और पेट दिखाई दे रहा था। उसके ना भी साफ साफ दिखाई दे रही थी जब वह चलती थी तो उसके चूतड़ खेल रहे थे। टॉप ऊपर से काफी खुला हुआ था जिस वजह से उसके दोनों चूचियां थोड़ी-थोड़ी दिखाई दे रही थी।

उसे मुझे ही स्कूल ले जाने थे और लेकर आने थे ऐसा मम्मी पापा ने बोला था। क्योंकि ऐसे ड्रेस में कोई रोड पर नहीं चल सकता सब लोग हो जाएंगे सब लोग देखेंगे और है भी मेरी बहन रूपाली बहुत सुंदर। इसलिए मुझे भी लगा कि अकेले नहीं छोड़ने हैं इस वजह से मैं उसे खुद स्कूल ले कर गया और बाहर इंतजार किया दिन के 1:00 बज रहे थे जब वह बाहर आई तो क्या बताऊं दोस्तों वह ऐसे दिख रही थी बिखरे बाल होठ लाल छोटे स्कर्ट पेट की नाभि दिखाई दे रही थी दिखाई दे रहा था घबराया हुआ बदन ऐसा लग रहा था कि फूल खिला है।

मैं देखकर पागल हो गया मुझे लगा आज मुझे हद से आगे निकल जाने। गाड़ी में उसको बैठाया मेरे गाड़ी का शीशा बिल्कुल ब्लैक है। बाहर से कुछ भी दिखाई नहीं देता है इस मौके का फायदा उठाना चाह रहा था मैंने उसको गाड़ी में बैठा कर हाईवे रोड से घर जाने लगा उसने पूछा भी था भैया इधर से क्यों जा रहे हो इधर से तो दूर पड़ता है मैंने कहा कि बैठे रहे आज तुम इतने सुंदर दिख रही है इस वजह से मैं चाहता हूं कि तुम्हें हाईवे का सैर करा दूँ. रूपाली को बैठाकर हाईवे वाली रोड से निकल गया। वहां एक पेड़ के नीचे अपनी गाड़ी लगा दी क्यों गाड़ी आ जा रही थी वह बहुत तेज जा रही थी तो किसी को रुकने का कोई मतलब ही नहीं था।

एसी चला दी गाने बजा दीजिए और मैंने अपनी बहन के जांघ पर हाथ रख कर बोला। आज तुम बहुत सेक्सी लग रही है , ऐसी लग रही है जैसे एक हूर की परी हो आज तेरे सामने कैटरीना कैफ फेल है आज तो तुम एक हॉट और सेक्सी बेब लग रही हो। आज मैं तेरे पर फिदा हूं रूपाली आज मुझे तुम्हें गले लगाने का मन कर रहा है। मुझे पता है कि तुम भी आजकल कुछ ढूंढ रही हो जैसा कि मैं देख रहा हूं तुम रोजाना hotsexstory.xyz पर ते रहती हो और भाई बहन की सेक्स कहानी ज्यादा चाव से पढ़ती हो मैंने तुम्हारे मोबाइल में चेक किया था तभी मुझे पता चला कि तुम भी hotsexstory.xyz की फैन है ,

तो क्यों ना घर की माल घर में रह जाए मैं चाहता हूं आज तेरे साथ मस्ती करें ऐसा मौका नहीं आएगा आज तेरा स्कूल भी खत्म हो गया आज से तू एक नई जिंदगी जीने वाली है तो घर से बाहर जाओगे कॉलेज जाओगे तुम्हारे बड़े सारे दोस्त बनेंगे पर हर एक दोस्त सिर्फ तुम्हें पाना चाहेगा। आजकल प्यार व्यार कोई चीज नहीं होती है आजकल सिर्फ सेक्स ही चीज होती है जो एक लड़का लड़की को अपनी ओर खींचता है। मैं चाहता हूं कि आज तू मेरे साथ मस्ती कर ले मैं जबर्दस्ती नहीं कह रहा हूं मैं तुमसे पूछ रहा हूं अगर तुम चाहती है तो ठीक है नहीं तो कोई बात नहीं है। मैं तुम्हें फोर्स नहीं कर रहा हूं चाहे तो तू मना कर दे।

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।
हिंदी सेक्स स्टोरी :  चुदक्कड़ बहनों का खानदान 2

मेरी बहन मुझे घूरने लगी देखने लगी मैं अपने हाथ को उसके जांघ ही रखा हुआ था। उसने अपना हाथ मेरे हाथ पर रख दे मैंने उसके जांघों को सहलाने शुरू कर दिया वह थोड़ा आगे बढ़े मैं थोड़ा आगे बढ़ा और दोनों के होंठ एक दूसरे के होठ पर मिल गए। मैं रूपाली का बाल पकड़ लिया रुपाली मेरा बाल पकड़ ली हम दोनों एक दूसरे को खींचकर अपनी तरफ ले आए और लिप को लॉक कर लिया। दोस्तों दो से 3 मिनट के अंदर हम दोनों ऐसे वाइल्ड हो गए कि कह नहीं सकते ऐसा लग रहा था कि ब्लू फिल्म चल रहा है।

मैंने अपनी सीट को पीछे किया और उसको अपनी गोद में बैठा लिया मेरे तरफ वह मुंह कर कर मेरे गोद पर बैठ गई मेरा लंड मोटा हो गया उसके गांड के नीचे चला गया इसे वह पागल हो गई और भी ज्यादा वाइल्ड हो गई उसने तुरंत ही ऊपर का अपना कपड़ा जो टॉप पहनी हुई थी उसको खोल दिया ब्रा का हुक मुझे खोलने में 1 मिनट नहीं लगा मैंने तुरंत खोल दिया। अब अपनी गांड को मेरे लंड पर रगड़ने लगी है। होठों से जा रही थी मैं उसके गांड के चूतड़ को सहा लाए जा रहा था अपनी तरफ खींचा जा रहा था वह होले से होले रगड़ लगा रही थी धक्के दे रही थी।

मैंने तुरंत ही अपने पेंट को नीचे कर दिया लैंड निकाल लिया। उसने मेरा मोटा लैंड देखते ही पकड़ ली हाथ में और हिलाते हुए अपने मुंह में ले ले अब वह नीचे बैठ गई स्टेरिंग के पास। मैं सीट को पीछे कर लिया अब वह मेरे लंड को चूसने लगी। क्या बताऊं दोस्तों क्या मजा आ गया था उसके हॉट पिंक हो गए थे बाल बिखर गए थे। मैंने उसके ऊपर किया और उसकी चूचियों को पीने लगा उसके निप्पल को दबाने लगा उसके कांख यानी कि बगल को मैं चाटने लगा साफ था शायद आज ही वह बगल के बाल को साफ करी थी।

अब मैंने उसको पिछली सीट पर ले गया उसको नीचे लिटाया। स्कर्ट के ऊपर कर दिया पेंटी को सूंघने लगा क्या खुशबू थी। दोस्तों कभी आपने चूत की खुशबू महसूस किया है जब किसी लड़की के पेंट से हल्की-हल्की पेशाब की खुशबू आए और चूत की खुशबू आए तो मजा आ जाता है दोस्तों कभी आप भी ट्राई करना। मेरे से रहा नहीं गया मैंने तुरंत ही पेंटी उतार दी और उसके चूत को चाटने लगा उसके चूत से गर्म गर्म पानी निकल रहा था। उसने अपनी दोनों टांगें फैला दी मैं बीच में बैठकर उसकी चूत को चाहते जा रहा था।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  Chudai Ka Bukhar Bhaiya Ke Land Se Utra

मेरे से रहा नहीं गया मैंने तुरंत अपना लंड निकाला और उसके चूत के बीच में लगाकर धक्के देने लगा पर आज तक शायद वह कभी झूठी नहीं थी क्योंकि उसका सील पैक था। अंदर कुछ भी दिखाई नहीं दे रहा था एक हल्का सा छेद जो एक मटर दाने के बराबर था। मैंने अपने लंड में थूक लगाया ऐसे उसके पहले से चूत गिरी थी और बीच में लगाकर धक्के दिया वह कराह लगी। उसे काफी दर्द हो रहा था इस वजह से वह विचलित हो रही थी कराहने लगी थी। मैं उसकी चुचियों को सहना या होंठ को चूमे निप्पल को रगड़ा और फिर से अपना लंड पकड़ कर उसकी चूत के बीच में लगाकर धक्का दिया। उसने बोला धीरे-धीरे धक्के देना जोर से दोगे तो चूत फट जाएगी। तू चिंता मत करो मैं जोर से नहीं डालूंगा। मैंने हौले हौले से उसको घुसाने लगा उसके चूत के अंदर। धीरे धीरे कर कर मैंने अपना पूरा लंड उसकी चूत में घुसा दिया। अब वह चैन की सांस लें और अपने चूतड़ को हौले हौले से घुमाने लगी नीचे से होले होले मारने लगी। मैं ऊपर से नीचे से मैं ऊपर से नीचे से धक्के मारते।

अब जो मजा लग रहा था तो क्या बताऊं मजा आ गया ऐसे मौके का तलाश में काफी दिनों से था और आज भी मौका लग गया मेरे हाथ आज मैं एक ऐसी लड़की को चोद रहा था जिस की चूत अभी सील पैक थी। पूरा लंड अंदर बाहर हो रहा था हम दोनों ही मजे ले रहे थे। सेक्सी आवाज निकाल रहे थे मेरी बहन पसीने से तरबतर हो गई थी। उसके बाल बिखर गए थे होठ लाल हो गए थे चूचियां बड़ी बड़ी और गोल गोल हो गई थी निप्पल उसका पिंक हो गया था और मैं उसके चूत में अपना लंड पेल रहा था।

15 से 20 मिनट के अंदर वह दो से तीन बार झड़ गई। उसने कहा अब मुझे काफी दर्द हो रहा है अब मैं बर्दाश्त नहीं कर पाऊंगी इसलिए आज के लिए बस इतना ही। मैंने जोर जोर से तुरंत घुसाना शुरू कर दिया और मैं भी अपना सारा वीर्य उसके चूत में ही डाल दिया। हम दोनों ने अपने कपड़े सही से पहने मैंने अपनी बहन को चूमा और थैंक्यू बोला। और गाड़ी स्टार्ट कर घर को निकल गए।

किसी भी इंसान की पहली चूत यादगार रहती है जिंदगी भर वह भुला नहीं जाता है शायद मैं भी कभी नहीं भूल पाऊंगा ना रुपाली भूल पाएगी। अब हम दोनों खुश रहते हैं एक दूसरे का केयर करते हैं अब वह भी बाहर ज्यादा हाथ पैर नहीं मारते हैं बॉयफ्रेंड नहीं बनाना चाहती है क्योंकि जो चाहिए वह अब घर में ही मिल रहा है हम दोनों खुश हैं। मैं जल्द ही दूसरी कहानी hotsexstory.xyz पर लिखने वाला हूं तब तक के लिए आप सभी दोस्तों को बहुत-बहुत धन्यवाद।

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..
HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!