चाची के साथ पलंगतोड़ चुदाई–1

चूत चुदाई के सभी खिलाडियों को मेरा प्रणाम। मैं रोहित 21 साल का नौजवान लौंडा हू।मेरा लण्ड 7 इंच लंबा है जो किसी भी भाभी या चाची की चूत का पानी निकाल सकता है। मेरे लंड को चूत का पानी निकालने का बहुत ही ज्यादा शौक है।मुझे चूत का पानी निकालने में बहुत ज्यादा मज़ा आता है। अब तक मेरा लंड कई चुतो का पानी निकालकर पी चूका है।
ये कहानी लगभग 2 साल पहले की है।उस टाइम मेरे लण्ड ने चूत का स्वाद भी नहीं चखा था तब मैंने मेरी चाची को पटाकर उनकी चूत में लंड पेल दिया था जिसका बारे में मैंने ” लण्ड की प्यास चाची की चूत में बुझाई” कहानी में बताया था। चाची को चोदने में मुझे बहुत ज्यादा मज़ा आया था।अब मैं चाची को फिर से बजाना चाहता था।
मेरी अर्चना चाची लगभग 34 साल की है। उनके दो बच्चे है लेकिन चाची अभी भी बहुत ज्यादा कामुक लगती है। चाची के रसदार बोबे लगभग 34 साइज के है।चाची के बड़े बड़े बोबो को चुस चूसकर और दबाकर खूब मज़ा लुटा था।

चाची की चिकनी कमर लगभग 32 साइज की है। ऊपर से चाची का गोरा चिकना पेट किसी के भी लंड का पानी निकाल सकता है। चाची की सेक्सी मस्तानी गांड लगभग 34 साइज की है। चाची की गांड की कसावट साड़ी में से अच्छी तरह से नज़र आती है। मैंने चाची की गांड में लंड ठोककर उनकी गांड का उद्घाटन कर दिया था।
अब अगले दिन मैं फिर से चाची को चोदने के लिए उनके घर गया लेकिन आज चाची के साथ उनकी पडोसी सुमित्रा चाची बैठी हुई थी। अब मैं चाची के यहाँ बैठकर सुमित्रा चाची के जाने का वेट करने लगा लेकिन सुमित्रा चाची बातों में लगी हुई थी। मैं बार बार चाची को ताड रहा था। चाची भी मेरी हवस भरी नज़रो को पढ़ रही थी लेकिन वो भी मजबूर थी।

फिर मैं बहुत देर वेट करके लंड हिलाता हुआ वापस आ गया। अब मैंने घर आकर लंड को खूब हिलाया और पानी निकाल दिया।फिर बड़ी मुश्किल से मेरी रात निकली। अब मैं अगले दिन फिर से चाची के घर पहुँच गया। आज तो चाची घर पर अकेली ही थी। वो कपडे धो रही थी।चाची को देखते ही मेरा लंड बुरी तरह से तन गया।
अब मैं चाची के पास ही बैठ गया और उनसे इधर उधर की बाते करने लगा।फिर कुछ ही देर मैं सीधे पॉइंट पर आ गया।
मैं– चाची अंदर चलो ना?
चाची– नहीं यार रोहित। ये सही नहीं है। एकबार हो चुकी गलती को मैं दोबारा नहीं दोहराना चाहती। मैं तेरी चाची हूँ कोई और नहीं। हम दोनों का रिश्ता बहुत ही गहरा है।

” चाची अब तो मेरा आपके साथ दूसरा रिश्ता जुड़ चुका है। अब हमें उस रिश्ते को आगे बढ़ाना है।”
चाची– नहीं यार मैं अब आगे नहीं बढ़ना चाहती हूँ।
“लेकिन चाची अब मैं आपके बिना नहीं रह सकता हूँ। मुझे तो आपकी बहुत ही ज्यादा ज़रूरत है।और चाची आप ही मेरी ज़रूरत को पूरा नहीं करोगी तो फिर कौन करेगा?
चाची– मैं तेरी एकबार बात मान चुकी हूं। अब और नहीं यार।
“चाची ये बात तो आपको माननी ही पड़ेगी।”
चाची– नहीं रोहित।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  विधवा चाची को चोदा बिना कंडोम के

मैं बार बार चाची की फिर से चूत लेने की फ़िराक में था लेकिन चाची नखरे कर रही थी। साला इधर मेरा लंड तो चाची की चूत में घुसने के लिए तड़प रहा था। मुझसे लंड पर कंट्रोल करना बहुत ही मुश्किल हो रहा था। चाची मान नहीं रही थी।
अब मैंने चाची का हाथ पकड़ा और उन्हें खींचकर कमरे में ले जाने लगा। चाची मना करने लगी।
चाची– रोहित यार ऐसा मत कर। छोड़ मुझे।मुझे नहीं करवाना है।
“आप मत करवाओ। बस आप तो एकबार घोड़ी बन जाना। करूँगा तो मैं।”
चाची– नहीं यार रहने दे ना।

” नहीं चाची। हालात खराब हो रही है।अब तो मुझे आपकी चूत चाहिए ही।”
चाची अभी भी बार बार मना कर रही थी लेकिन मैं चाची की कोई बात नहीं सुन रहा था।अब मैंने चाची को कमरे के अंदर किया और गेट लगा दिया। अब मैंने चाची को घोड़ी बनने के लिए कहा तो चाची नखरे करने लगी । फिर चाची नखरों को ताक पर रखकर घोड़ी बन ही गई।
अब मैंने जल्दी से मेरे सारे कपडे खोल फेंके और नंगा हो गया। अब मैंने चाची की साड़ी और पेटिकोट को उनकी कमर तक सरका दिया और उनकी चड्डी को उनकी टांगो में अटका दिया।अब मैने चाची की चूत में लंड सेट किया और चाची की कमर पकड़कर ज़ोर से धक्का मार दिया।

मेरे लंड के एक ही झटके में चाची बुरी तरह से हिल गई।
चाची– आईईईई आईईईई मर गईईईई आहहह आह्ह आईईईई ओह रोहित।
मेरा लंड चाची की चूत में बुरी तरह से फिट हो चूका था।अब मैंने लंड बाहर निकाला और फिर से ज़ोर से चाची की चूत में घुसा दिया। अब तो चाची बुरी तरह से बिलख पड़ी।अब मैं ज़ोर ज़ोर से चाची की चूत में लंड डालने लगा। अब चाची बुरी तरह से चीखने लगी।

चाची– अआह आहा आह्ह अहह्व आईईईई सिससस्स आईईईई मम्मी मर गईईई,, आह्ह आह्ह आह्ह ओह आह्ह आहा।
“ओह चाची, आहा आज तो तेरी चुत की खैर नहीं आहा आहा।
चाची– आह्ह आह्ह आह्ह ओह आह्ह आह्ह आईईईई बहुत दर्द हो रहा है साले कुत्ते।आह्ह आह्ह उन्हह।
मैं गांड हिला हिलाकर चाची की चूत में झमाझम लंड ठोक रहा था। मेरा लण्ड चाची की चुत में बुरी तरह से घमासान मचा रहा था। मुझे चाची को चोदने में बहुत मज़ा आ रहा था। अब तो चाची सारे नखरों को ताक पर रख चुकी थी।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  मेरे दोस्त की सेक्सी माँ मनीषा

चाची– अहह आह्ह आह्ह ओह साले हरामी आह्ह अहह बहुत दर्द हो रहा है।आईईईई आईईईई उन्ह आहा आह्ह मर गईईईईई।
” ओह साली, आह्ह आहा बहुत मज़ा मिल रहा है मेरे लंड को। आह्ह ।”
आज मेरा लण्ड चाची पर कहर बनकर टूट रहा था। मैं उन्हें घोड़ी बनाकर झमाझम बजा रहा था। चाची की सिस्कारिया पुरे रूम में गूँज रही थी। तभी चाची थोड़ी देर में ही पानी पानी हो गई और उनकी चूत से रस नीचे टपकने लगा।

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

चाची– आह्ह आह्ह आह्ह उन्ह आह्ह आह्ह आईईईई सिसस्ससस्स आह्ह आहा ओह साले मां के लोडे। धीरे धीरे पेल।आह्ह आहा।
“ओह साली, मैं तो ऐसे ही पेलूंगा।आह्ह बहुत मज़ा आ रहा है।आहा आहा।”
अब तक मेरा लण्ड चाची की चूत का भोसड़ा बना चुका था। मैं ताबड़तोड़ तरीके से चाची की चूत में लंड ठोक रहा था।फिर मैंने बहुत देर तक चाची को घोड़ी बनाकर बजाया।
अब मैंने चाची को उठाकर बेड पर पटक दिया।अब मैंने चाची की टांगो को फोल्ड कर दिया और फिर से चाची की चूत में लंड उतार दिया। अब चाची को फोल्ड करकर बजाने में मुझे बहुत ही ज्यादा मज़ा आ रहा था।
चाची– आह्ह आहा आहा उन्ह आहा अहा अआईईई ओह साले कुत्ते।आह्ह अहह।

मैं जमकर चाची को बजा रहा था। मेरा लण्ड चाची के भोसड़े को गोदाम बना रहा था। चाची के भोसड़े में मेरा लंड झमाझम अंदर बाहर हो रहा था।
तभी चाची के भोसड़े में फिर से पानी छुट गया और उनका भोसड़ा नमकीन पानी से भर गया। मैं ताबड़तोड़ चाची के भोसड़े में लंड ठोके जा रहा था। फिर मैंने बहुत देर तक चाची को फोल्ड करकर बजाया।
अब मैंने चाची की गांड के नीचे एक तकिया रख दिया और चाची की चड्डी खोल फेंकी। अब मैंने चाची की टांगे फैला दी और फिर मैं चाची के भोसड़े को चाटने लगा।

” आहा! चाची के भोसड़े को चाटने में मुझे बहुत ज्यादा मज़ा आ रहा था।”
मैं रगड़कर चाची के भोसड़े को चाट रहा था। मुझे चाची के पानी को पीने में बहुत मज़ा आ रहा था। चाची के मुंह से धीरे धीरे सिस्कारिया फुट रही थी।
” आहा आह्ह आह सिससस उन्ह आह्ह आह्ह आह्ह ओह ओह आहा अआह।”
वो बार बार टांगो को इधर उधर पटक रही थी। अब मेरी जीभ चाची के भोसड़े के अंदर पहुँच चुकी थी। अब मैं चाची के भोसड़े में जीभ को रगडने लगा जिससे चाची मछली की तरह तड़पने लगी।अब वो मेरे मुंह को उनके भोसड़े पर से हटाने की कोशिश करने लगी लेकिन मैं चाची के भोसड़े पर कब्ज़ा कर चुका था। वो बहुत ही ज़्यादा बैचेन हो रही थीं।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  सोफे पर बड़ी गांड वाली आंटी की चुदाई

चाची– आह्ह आह्ह उन्ह सिसस्ससस्स ओह साले कुत्ते मत चाट ना।आहा आहा अआईईई सिससस्स उन्ह।
तभी कुछ ही देर में चाची का भोसड़ा नमकीन पानी से भर गया। अब चाची पसीने में बुरी तरह से लथपथ हो गई।अब मैं चाची के भोसड़े के गरमा गरम पानी को पीने लगा।फिर मैंने चाची के भोसड़े को अच्छी तरह से चाटा।
अब मैंने चाची को उठाया और उनको मेरी गोद में बैठा लिया।अब मैंने चाची की चूत में लंड सेट कर दिया।अब मैं चाची को गोद में बैठाकर चोदने लगा।अब चाची फिर से गरमा गरम आहे भरने लगी। उन्होंने मुझे दोनों हाथों से पकड़ रखा था।

चाची– अआहः आहा उन्ह आहा आहा सिसस्ससस्स आह्ह ओह भैन के लौड़े। बहुत हरामी है तू।
” हां चाची।”
अब चाची गांड उठा उठाकर चूत में लण्ड ले रही थी। उन्होंने बाहो के घेरे में मुझे फंसा रखा था।
” ओह साले आह्ह बहुत ज्यादा मज़ा आ रहा है।” आह्ह उन्ह।

अब मैंने चाची के होंठो को मेरे होंठो से सील दिया और चाची के रसीले होंठो को बुरी तरह से चूसने लगा। अब हमारी होंठ चुसाई से कमरा गूंज उठा। कमरे में पुच्च पुच्च पुच्च ऑउच्च पुच्च की आवाज़े आने लगी। साथ में चाची चूत में लण्ड लेती जा रही थी।
फिर मैंने थोड़ी देर चाची के होंठ चूसे। अब मै चाची के बलाउज को खोलकर चाची के बोबो को नंगा कर दिया। मैंने चाची के बोबो को हाथ में लिया और उन्हें बुरी तरह से निचोडने लगा। तभी चाची की गांड फटकर हाथ में आ गई।
चाची– आईईईई आईएईई ओह आह्ह ओह साले कुत्ते धीरे धीरे दबा आहा आह बहुत दर्द हो रहा है।आह्ह आहा अआईई।
मैं– ओह साली , मसलने दे। आहा बहुत मज़ा आ रहा है।आह आहा।

मैं कसकर चाची के बोबो को निचोड़ रहा था। चाची बहुत बुरी तरह से कसमसा रही थी। तभी चाची ने बोबे को पकड़कर मेरे मुंह में दे दिया। अब मैं चाची के रसदार बोबे को चूसने लगा। “आहा! बहुत ही टेस्टी बोबे थे चाची के! मैं तो उन्हे रगड़ रगड़कर चुस रहा था।”
चाची– आहा बहुत अच्छा लग रहा है। आह्ह अहा और अच्छी तरह से चुस साले कुत्ते। आहा आहा।
अब चाची की काम वासना भड़क चुकी थी। वो बार बार उनके बोबो को मेरे मुंह में डाल रही थी। फिर मैंने बहुत देर तक चाची के बोबो को चुसा।
कहानी जारी रहेगी……………
आपको मेरी कहानी कैसी लगी मुझे मेल करके ज़रूर बताये– [email protected]

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..
HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!