कस्टमर निकली सेक्स बम- पार्ट 2

(Costumer Nikli Sex Bomb)

चूस कर सारा रस पी लिया उस दिन उसे 2 बार चोदा ओर अगले दिन उसकी गांड भी मारी वो कहानी अगली बार लिकूँगा।
जब हम शाम के वक़्त ऊठे तो देखा कि 7 बज गए हे। और वो बिस्तर से उठाया उस्ने ओर कहा फ्रेश हो जाओ में चाय बनाती हु। चुदाई की थकान थोड़ी थी तो मैने उसके साथ ही नहाने को बोला तो तो उसने बोला नही में सेक्स बाद नाह चुकी हूं , जल्दी फ्रेस हो जाओ आज डिनर कहि बहार करेंगें।

मेने कहा किसी ने देख लिया तो साथ मे दिक्कत हो जाएगी।
उसने बोली कि यार देखो पहले तुम पीछे के रास्ते से निकलो में आती हु ओके।
फिर फ्रेश हो कर चाय पी ओर उससे अपनी तरफ खिचा ओर एक किस लेते हुए पीछे के रास्ते बहार आ गया। और उसके घर से कुछ दूर जा के उसका इंतज़ार करने लगा फिर वो तयार हो कर अपनी स्कूटी से आ गई उसपे बेथ गया और बोला धीरे 2 चलो ओर वो धीरे 2 स्कूटी चला रही थी में उसके कमर और बॉब्स दबा देता। तो बोलती स्कूटी गिर जाएगी तो मैने उसे बोला ठीक हे फिर हम रेस्टोरेंट पहुँच गए।
फिर खाना ऑर्डर किया और खाने के साथ साथ उसकी तारीफ भी कर रहा था। तो उसने बोला की लागता है आज रात सोने नही दोगे। फिर हम दोनों हँसने लगे और खाना खा कर मेने बिल दिया और वो बोली तुमने बिल कियू दिया और गुस्से से बहार जा कर खड़ी हो गयी और में गया और बोला सॉरी तो उसने कहा कि इसकी सज़ा तो मिलेगी घर चलो बताती हु ।
फिर मुझे सिगरेट पीने की आदत थी तो सिगरेट ली और उसके पीछे बैठ गया और कहा कि चले मेने कहा चलो फिर मेने कहा कि दवाई की दुकान के पास रोकना तो नॉटी आवाज में कहा कि एक I pill की गोली ले लेना मेने कहा ठीक हे फिर एक कॉन्डम ओर वग्र गोली ले ली और ई पिल भी
घर पहूंच कर में पीछे के रास्ते घर मे घुस गया और फिर आई
बोली जानु तैयार हो जाओ सजा के लिए मेने भी कहा आपका मुजरिम हाजिर है और उसने मेरे होटो को अपने होटो से चूसने लगी और काट कर खून निकाल दिया उस दर्द में भी मज़ा आ रहा था ।
मेने कहा और सज़ा देनी है क्या तो उसने कहा सारे कपड़े उतारो ओर उतार दिए मेरी सीने के निप्पलों को चूसने लगी ओर दाँत काट लेती मेने कहा इतना गुस्सा हो तो कहा है मेने उसे किचेन से चाकू लाकर दिया और उसके हाथ मे दिया अपने सीने पर रख कर दबा दिया थोड़ा सा घस गया खून निकलने लगा और ये देख कर डर गई और रोने लगी और चाकू फेक कर फर्स्ट एड से बैंडेड लगाने लगी और बोली ई लव यू ओर चिपक कर किस करने लगी और मैने उसे नंगा किया और बॉब्स दबाने लगा धीरे कमरे मे उसकी सिसकियों से भर गया और उसे बिस्तर पर लेटा के योनि का रस पीने लगा और वो मेरे लिंग को चूसने लगी। मेरा झाड़ने वाला नही था कयू की मेने वग्र गोली खा राह की थी फिर किया उसने बोला की बर्दाश्त नही हो रहा अब डाल दो मेने उसकी चूत में अपना लोढ़ा डाल दिया वो चिलाने लगी आआआ आराम से अब तो तूमहारी ही हु फिर किआ उसे चोदने लगा और उसे मज़ा आ रहा था कभी में उसके ऊपर या वो मेरे ऊपर चोद रहा था 30 मिंट की चुदाई में वो 3 बार झाड़ गई थी।

फिर तोड़ा आराम करने लगे और वो बोली थैंक्यू इस मजे के लिए ओर किश करने लगे और थोड़ी भुख भी लग गई थी तो उसने हुम्मारे लिए आमलेट बनाया और खा कर उठे ही थे कि रात 12 बजे की घण्टी बजी तो अगला दिन शुरू हो गया।
मेने उससे बुला कर कहा अब तो तुम्हारी गांड मारनी हे जनु तो उसने कहा कल मार लेना मैंने कहा अगला दिन शुरू जानू
12 बजे के बाद नेक्स्ट डे आ जाता हे फिर किया उससे टेबल पर जुका दिया और लंड खड़ा कर के उसके गांड में डालने लगा पर गांड ज्यादा ही टाइट थी तो मैने तेल लगा कर एक झटका मारा आधा लंड अन्दर चला गया और उसकी जान निकलने लगी और मेरे लंड में भी दर्द हो रहा था
मेने उसको किश करने लगा तो थोड़ी शांत हुई फिर किया एक झटका ओर दिया और पूरा लंड उसके अंदर वो चीखी
मार दिया रे रोकिट मेरे गांड में डालना जरूरी था भोसड़ी के गाली के सात बोली मेने ग़ुस्से से अपनी ही धुन में गांड मरता रहा और वो भी मजे लेने लगी और भीच 2 में चिल्लाने लगती फ़क मी शुभा 4 बजे तक उसकी गांड ओर चुत मारी
फिर दोनों सो गए ।
शुभा 8 बजे जब दूध वाले ने घंटी बजाई तो दोनों ऊठे ओर उसने नाइटी डाली ओर दूध लिया और अंदर आकर मुजे जगाया की नास्ता कर लो और में उठा तो लंड खड़ा देख कर बोली कि रात में जो दर्द दिया इसके बाद गोली कहा कर तो चल पा रही हु फिर से दर्द दो गे में कहा बस मु में लेकर शांत कर दो तो उसने कहा ओक जानू ओर शांत कर दिया जब तक वहां काम किया तब तक मे उसकी जरूरत पूरी करता और वो मेरी अगली कहानी जब गांव गया वहां भाभी को चोदा लिकूँगा