कजिन का डिक बेताब था मेरी चूत चोदने को

(Cousin Ka Dick Betab Tha Meri Chut Chodne Ko)

मेरा नाम दीपिका हैं, मेरे एज 18 साल हैं और मैं उत्तर प्रदेश मे कानपूर की रहने वाली हू, मैं दिखने में बहुत सेक्सी हू मुझे देखते ही लोगो के लंड खड़े हो जाते हैं, मेरी हाइट 5 फीट हैं और फिगर 32-28-34 है, मेरे घर मे 4 लोग हैं मा पापा छोटा भाई और मैं, अब मैं स्टोरी पर आती हू, Cousin Ka Dick Betab Tha Meri Chut Chodne Ko.

बात एक साल पहले की हैं जब मैं 12th मे स्टडी कर रही थी, और मेरे बुआ के लड़के रणवीर को इंजिनियरिंग. करनी थी जो मुझ से दो साल बड़ा हैं, तो पापा ने बुआ से बोला की रणवीर हमारे साथ रह लेगा तो बुआ ने हा कर दिया, और दो दिन बाद रणवीर गाँव से आ जाता हैं रणवीर दिखने मे स्मार्ट बंदा हैं, कसा हुआ शरीर 5.8 उसकी हाइट थी, और मा पापा और मनु उससे मिलकर बहुत खुश हुए, जैसे ही उसने मुझे धेका और गले लगा लिया और बोला अरे अनु तू तो बहुत बड़ी हो गई हैं, मुझे कुछ समझ नही आया और सभी लोग अपने रूम मे चले गए और रणवीर मनु के साथ शिफ्ट हो गया,

अगले दिन हम लोगो ने बहुत मस्ती की घूमे और धीरे धीरे हम लोग फ्रॅंक हो गए, और रणवीर मज़ाक मे कभी मेरे छोटे छोटे बूब्स तो कभी गॅंड को टच करता, लेकिन मैने कभी नोटीस नही किया, कुछ दीनो बाद मेरे एग्ज़ॅम आ गए थे तो मा ने भैया से बोला की मुझे रात मे पढ़ा दिया करे तो उसने हा कर दी, उस रात भैया ने मुझे पढ़ाया फिर हम लोग सो गए करीब रात के 1 बजे मुझे महसूस हुआ की कोई मेरे बूब्स दबा रहा हैं, और मुझे भी अछा लग रहा था तो मैं सोने का नाटक करने लगी, उस रात मैने एक टॉप और स्कर्ट पहने हुई थी, थोड़ी देर बाद भैया ने अपना हात मेरे टॉप के अंदर डाल के मेरे बूब्स को दबाने लगे और मेरी सिसकारी निकल पड़ि जिससे भैया समझ गए मैं भी मजे कर रही हू तो भैया ने मुझे अपनी तरफ़ घुमाया और किस करने लगे और मैं भी उनका साथ देने लगी, कभी वो मेरे होट चूस्ते कभी जीब मुझे बहुत मजा आ रहा था, फिर भाई ने मेरा टॉप उतार दिया और समीज़ उतार दी और मेरे बूब्स चूसने लगे. “Cousin Ka Dick Betab”

हिंदी सेक्स स्टोरी :  बहन के साथ चोर पुलिस का खेल-1

एक बूब्स चूस रहे थे और दूसरा अपने हातो से प्रेस कर रहे थे, और मेरे मूह से सिसकारिया निकल रही थी उफफफफफफफफफफ्फ़ आहह की और ज़ोर से दबाओ सारा रस पी जाओ आज इनका, फिर भैया ने मेरे स्कर्ट उतार दी अब सिर्फ़ मैं ब्लू कलर की पैंटी मे उनके सामने लेटी हुई थी, जो की पूरी गीली हो गई थी और भैया ने वो भी उतार दी और मेरी चुत पर अपना मूह रख दिया मैं तो जैसे पागल हो गई थी और भैया मेरी चुत चाट रहे थे और मैं बोल रही थी की खा जाओ भैया इसे आज अपनी वाइफ बना लो चोद डालो अपनी रंडी बेहन को, और मैं झड़ गई भैया मेरा सारा रस पी गए फिर भैया उठे और अपने कपड़े उतारे और नंगे हो गए और मैं उनका लंड धेक के डर गई लगभग 7इंच का था उनका और मैं कहने लगी ये मेरे मे नही जाएगा भैया ने अपना लंड मेरे मूह पर टीका दिया और ज़बरदस्ती मेरे मूह पे पेल दिया कुछ देर मुझे भी मजा आने लगा और मैं उनका लंड पूरा गले तक ले जाती, और भैया मेरे मूह मे ही झड़ गए मैं उनका सारा रस पी गई.

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

फिर भैया उठे और मुझे फिर से किस करने लगे और मैं फिर गर्म हो गई और कहने लगी भैया कुछ करो अब रहा नही जाता तो भैया नीचे की क्रीम उठा के मेरे चुत पर लगाई और अपने लॅंड पर लगाया और मेरी टाँगो को थोड़ा उठाया और अपना लंड टीका दिया और एक झटका मारा भैया का टोपा मेरे अंदर घुस गया और मैं जैसे ही चिल्लाति भैया ने मेरे मूह पर हात रख दिया और मैं कहने लगी दर्द हो रहा मुझे नही करना, पर वो कहा सुनने वाले थे थोड़ी देर वो रुके और एक और झटका मारा आधा लंड मेरे अंदर जा चुका था और मैं सिसकारियाँ लेने लगी थोड़ी देर बाद भैया अपना लंड आगे पीछे करने लगे और मैं कुछ शांत हुई तो भैया ने एक जोरदार झटका मारा पूरा का पूरा लंड मेरे सील तोड़ता हुआ अंदर चला गया और मेरी सांस अटक गई थी, कुछ देर भैया रुके जिससे मैं थोड़ा नॉर्मल हुई तो भैया अब आराम आराम से मुझे चोदने लगे और मेरा दर्द भी अब धीरे धीरे सिसकारियो मे बदल ने लगा और मैं भी अब भैया का साथ दे रही थी, और ज़ोर से चोदो फाड़ डालो मेरी चुत अह्ह्हिघ्ह्ह्ह अहह अहहिईीई उफफफफफ्फ़ अहहिहह करके मजे से चुद रही थी.
“Cousin Ka Dick Betab”

हिंदी सेक्स स्टोरी :  Haveli Pe Bulaya Chodne Ke Liye Mujhe Thakur Ne

और फिर भैया उठे और उन्होने ने घोड़ी बनने के लिए कहा तो मैं बन गई और उन्होने पूरा लंड अंदर डाल दिया और चोदने लगे और फूल स्पीड मे भैया धक्के लगा रहे थे और तो भैया ने बोला की मैं झड़ने वाला हू मैने कहा अंदर ही डाल दो और भैया ने अपने धक्को की स्पीड बड़ा दी और हम दोनो एक साथ झड़ गए, फिर मैने चादर को देखा तो वो खून से लाल हो गई थी तो मैने उसे निकाल के फेक दिया और दूसरा चादर बिछा दिया फिर मैं फ्रेश होने जाने लगी तो मुझ से चला भी नही जा रहा तो भैया ने मदद की और हम वापिस आ गए कुछ देर भैया फिर से रेडी हो गए और मुझे किस करे और फिर से हुमारा गेम स्टार्ट हो गया उस रात हम ने तीन बार सेक्स किया और भैया ने मुझे बोहोत तरीक़ो से चोदा, और हम नंगे ही सो गए, फिर सुबह मैने मम्मी से कहा मेरी तबीयत खराब हैं, क्यूंकी मुझसे चला नही जा रहा, और मम्मी सब समज जाती फिर भैया ने मुझे मार्केट से आई-पिल और पेनकिल्लर ला के दी और कहा इसे खा लो, अब हम दोनो डेली सेक्स करते है, जब भी हमे मौका मिलता हैं, और जब घर पर कोई नही होता तो हम दोनो भाई नंगे ही रहते और खूब एंजॉय करते है,  “Cousin Ka Dick Betab”

HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!