घमासान चुदाई का अनुभव-1

(Gamasaan Chudai Ka Anubhav-1)

हेलो दोस्तों मेरा नाम अनीता अग्रवाल है। मेरी उम्र 23 साल है और मैं दिल्ली से हु आज मैं आपको अपने जीवन की सच्ची घटनाओं के बारे में बताने जा रही हु ।यह कहानी तब सुरु होती है जब मैं 20 साल की थी और अपनी ग्रेजुएशन के फाइनल ईयर में थी ।मेरे परिवार में मैं ,मेरी माँ और मेरी एक छोटी बहन है जो मुझसे 2 साल छोटी है उसका नाम अंजलि है ।मेरी माँ एक बड़े मल्टीनेशनल कंपनी में सीईओ है ।क्योंकि वह आज की पढ़ी लिखी मॉडर्न औरत है इसीलिए उनका पहनावा भी मॉडर्न है और साथ की उनकी फिटनेस या फिगर ।मेरी माँ का फिगर 32dd -23 -35 है वो हमेसा वेस्टर्न ड्रेसेस पहनती है यानि की शार्ट ड्रेस वो हमेसा ऑफिस स्टॉकिंग्स पहन कर जाती थी । सही माईनो में मेरे माँ -पापा के अलग होने के बाद उन्होंने हमें भी संभाला साथ घर और अपने करियर को भी शार्ट में मेरी माँ बेस्ट है ।

अब कहानी पे आती हु तोह मैं अपने ग्रेजुएशन के फाइनल ईयर में थी और अपनी लाइफ को अपने तरीको से खुल के बिना किसी रोकटोक के एन्जॉय कर रही थी जैसी दिल्ली की लड़कियां होती है मैं भी वैसी ही थी ।मैंने कॉलेज में आते ही कई बॉयफ्रैंड्स बनाये थे और उनके साथ खुल के एन्जॉय भी करती थी मतलब चुदाई ।वैसे तोह मेरी चुदाई की तलब और शुरुआत मेरी माँ की वजह से हो गयी थी मेरे माँ ने डैड से अलग होने के बाद कई जवान और अपनी उम्र के लोगो को डेट किया वो उनके साथ चुदाई जमके करवाती थी चाहे घर में हो या फिर होटल और ऑफिस में ।

ऐसे ही माँ अपने एक सहकर्मी को डेट कर रही थी और वो दोनों ने एक साथ रहने का तय किआ बिना शादी के उस समय मैं 12 कक्छा में थी माँ घर पर हमेसा शार्ट स्कर्ट और टी-शर्ट में रहती और अमित जो की उनका सहकर्मी भी है उनके साथ ही ऑफिस जाता और उनके कमरे में ही रहता और उन दोनों का रोमांस किसी से छुपा नहीं था वो दोनों कही भी सुरु हो जाते थे एक दुसरे से लिप से लिप मिलकर किश करना या अमित का हम दोनों बहनो के सामने ही माँ के बूब्स को दबा देना अक्सर मेरी चूत में पानी ला देता था । यु तोह स्कूल के दिनों में मेरा बॉयफ्रेंड था पर मैंने किसी को टच नहीं करने दिया अपने आप को अभी तक हां ऑनलाइन पोर्न देख कर मैंने अपनी चूत का पानी जरूर निकला है । रात भर मेरी माँ के कमरे से उनकी चुदाई की आवाज़े आती थी जिससे रात रात भर मुझे नींद नहीं आती थी मेरी छोटी बहन जिसे सेक्स के बारे में कुछ भी नहीं पता था वो मजे से सोती थी ।

वैसे तोह हमारी माँ हम दोनों बहनो के लिए बहोत स्ट्रिक्ट है पर अमित के आजाने के बाद वो दोनों ने हम दोनों की जिम्मेदारियों को आपस में बाट लिया और मेरी जिम्मेदारी अमित ने ले ली और अंजलि की जिम्मेदारी माँ ने ले ली ।अब अमित मेरे ऊपर हमेसा नज़र रखता जब मैं घर पर होती तोह मेरे रूम में ही बैठ कर अपना काम करता उसने कई बार मेरे बिना पता चले मेरे फ़ोन की हिस्ट्री चेक की जिससे उससे कोई बात छुपी नहीं रह गयी उसने माँ को यह सब दिखाने की धमकी दी । मैंने उससे बहुत विनती की वो माँ को ये सब न बताये पर अमित ने मेरी बात नहीं मानी और उसने कहा की अगर मैंने उसका कहा मानू तभी वो ये सब मोम को नहीं बताएगा ।

मजबूरन मुझे हां कहना पड़ा रात को जब माँ ऑफिस से आयी तोह अमित ने उनसे कुछ भी मेरे बारे में नहीं कहा रात को जब हम सब खाना खा कर सोने अपने अपने कमरे में चले गए तब अमित ने मुझे मैसेज करके माँ के कमरे में बानी खिड़की से अंदर झाकने को कहा मैंने माना कर दिया तोह उसने फिर से मुझे माँ को सब बताने की धमकी दी मैंने हां कहा दिया और जब मैं माँ के कमरे की खिड़की पे गयी तोह अंदर का नज़ारा किसी पॉर्न फिल्म जैसा था ।

कमरे में माँ और अमित एक दुसरे को किश कर रहे और धीरे धीरे अपने अपने कपड़े उतार रहे थे फिर माँ ने अमित का लंड मुँह में ले के चूसने लगी ।

माँ किसी पोर्नस्टार से काम नहीं लग रही थी देसी भासा में किसी रंडी की तरह माँ अमित का लंड चूस रही थी 10 मिनट तक माँ को अपना लंड चुसाने के बाद अमित ने माँ के बाल पकडे और माँ का मुँह चोदने लगा ।

अमित का लंड जो की 10 इंच लम्बा और 4 इंच मोटा था माँ के गले तक जा रहा था माँ को साँस लेने में भी तकलीफ हो रही थी अमित के मुँह चोदने के कारन पर अमित धकाधक माँ के मुँह को 15 मिनट तक चोदतारहा ।

जब उसने माँ के मुँह से अपना लंड निकला तोह माँ के पुरे मुँह में उनका सलीवा भरा था और बाह भी रहा था पर वो खुस थी मतलब मुस्कुरा रही थी मैंने जैसा जैसा पोर्नफ़िल्म्स में देखा है वैसा ही नज़ारा अंदर देख रही थी ।

फिर अमित ने माँ को बेड पर लिटा दिया और उनकी चूत को चाटने लगा माँ गरम हो रही थी और उनको मज़ा भी आ रहा था इसीलिए वो आवाज़े भी निकाल रही थी करीब 20 मिनट तक अमित माँ की चूत चाटता रहा जिसमे माँ तीन बार झड़ चुकी थी फिर माँ ने अमित का लंड मुँह में ले लिया और 5 मिनट चूसा और अमित ने माँ को बेड पे कुतिया बना दिया और उनकी चूत को पीछे से किसी कुत्ते की तरह चोदने लगा ।

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

जैसा की मैंने पहले ही बताया है मेरी माँ किसी पोर्नस्टार से काम नहीं है पर अमित को उसके लंड के साथ देख कर वो भी जॉनी सीन्स जैसा लगने लगा मुझे । कुछ देर माँ को कुतिया की तरह चोदने के बाद अमित ने माँ का गाला उसी पोजीशन में उठाकर कर अपने बहो में भर लिया और और दुसरे हाथ से माँ के बूब्स को मसलते हुए उन्हें लिप्स पे किश करने लगा ।

जिससे माँ अब बिस्तर पर घुटनो पे खड़े हो कर अमित का लंड अपनी चूत पे ले रही थी वो माँ को बहुत जोरदार तरीके से चोद रहा था और जल्दी जल्दी भी ।जिस तरह पॉर्नफिल्मो में पोर्नस्टार्स को बहोत जोरदार तरीको से चोदा जाता है बिलकुल वैसे ही अमित मेरी माँ को चोद रहा था और माँ को भी इस चुदाई से मजा आ रहा था क्यूंकि अमित को पता था की मैं खिड़की से ये सब देख रही हु इसलिए वो माँ को और भयंकर चोद रहा था ।इसके बाद माँ ने फिर से अमित का लंड मुँह में लिया और चूस के साफ किया ।

फिर माँ को अमित ने बालो से घसीट कर जमीन में पेट के बल लिटा दिया और उनके ऊपर पीछे से उनकी चूत में लंड डाल दिया और जल्दी जल्दी चोदने लगा माँ भी इसके हर धक्के के साथ साँस अंदर बाहर करती यह सब देख कर मेरी चूत पानी छोड़ रही थी और मैंने अपना शॉर्ट्स और पैंटी दोनों उतर दी थी अब निचे से मैं पूरी तरह नंगी थी और अपनी चूत में ऊँगली करती जा रही थी ।उधर अमित ने माँ को जमीन से उठाकर उनके कमरे में लगे एक बड़े से सीसे के सामने उससे टीकाकार खड़ा कर दिया और उन्हें चोदने लगा।

करीब 10 मिनट चोदने के बाद जब अमित को लगा की वह झड़ने वाला है तोह उसने माँ को उसका लंड मुँह में ले के चूसने को बोलै और माँ ने उसका लंड मुँह में लेलिया और चूसने लगी 5 मिनट बाद वह झड़ गया और माँ उसका सारा माल पीगयी ।और अमित का लंड चाट के साफ कर दिया ।

फिर जब माँ बाथरूम गयी अपने आप को साफ करने के लिए तब उसने कमरे के बाहर आकर मेरा हाथ पकड़ लिया और मेरी होठो पे किश करने लगा और अपना एक हाथ मेरी चूत पे लेजाकर ऊँगली करने लगा जिसकी वजह से मैं एक और बार झड़ गयी फिर उसने मुझे छोड़ दिया और मैं जल्दी से अपने कमरे में आ गयी और सो गयी ।

अगले भाग में कहानी जारी रहेगी ।
अगले भाग में पढ़े गए कैसे अमित ने मुझे चोदा ।और इस कहानी जो भी गलतियां हो उन्हें माफ कीजियेगा ।धन्यवाद

HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!