जूस पिलाने बाद लंड का जूस पिलाया भैया ने

(Juice Pilane Ke Bad Lund Ka Juice Pilaya Bhaiya Ne)

मैं सेक्सी कहानी पढना बहुत पसंद करती हूँ और मैं अभी तक बहुत कहानी पढ़ चुकी हूँ | मैं जब कहानी पढ़ती हूँ तो मेरी चूत गीली हो जाती है जिससे मैं अपनी चूत में ऊँगली डाल कर काम चला लेती हूँ | मेरी उम्र 36 साल है और मेरा रंग गोरा है | मैं दिखने में बहुत सेक्सी औरत हूँ | मैं अपने फिगर के बारे में बता देती हूँ | दोस्तों मेरे स्तन काफी बड़े और गोल हैं | मेरे बूब्स से ज्यादा सेक्सी मेरी गांड है जो ऊपर की और उठी रहती है | बूढ़े आदमी की भी जवानी आ जायगे अगर मेरी गांड को देख ले | Juice Pilane Ke Bad Lund Ka Juice Pilaya Juice Wale Bhaiya Ne.

मेरे पति को मेरी गांड बहुत पसंद है पर मेरे पति अब विदेश में रहते हैं जिसकी वजह से वो मेरी चुदाई के मजे नही ले पते हैं | दोस्तों मैं जो आज कहानी आप लोगो के सामने पेश करने जा रही हूँ ये मेरी पहली कहानी है और मेरे जीवन की सच्ची कहानी है | मैं आप सभी लोगो से आशा करती हूँ की आप लोगो को मेरी कहानी पसंद आएगी अगर आप लोगो को मेरी कहानी पसंद आती है तो मैं आप लोगो की सेवा में अगली कहानी जरुर लेकर आउंगी |

ये कहानी कुछ महीने पहले की है | मैं एक बीमा एजेंट हूँ और बीमा करती हूँ | मैं जिस कंपनी में काम करती हूँ उस कम्पनी के बॉस का पटा रक्खा है जिससे मेरा काम भी हो जाता है और मुझे लंड का सुख भी मिल जाता है | मेरे बॉस भी मुझे बहुत अच्छे से चोदते हैं जिससे मैं भी खुश रहती हूँ | एक दिन की बात है जब गर्मी बहुत हो रही थी और मैं घर पर ही थी | मुझे उस दिन सर के घर जाना था और गर्मी इतनी हो रही थी की मेरा मन जाने का नही कर रहा था | मैंने उस दिन अपना फ़ोन निकला और सर को फ़ोन किया पर सर का फ़ोन नही लगा तो मुझे जाना पड़ा | मैं उस दिन तैयार होने के बाद स्कूटी निकाली और सर के घर के लिए निकल गयी |

मैं जब वहां पहुची तो सर ने मुझे काम बताया और कहा की कर देना | दोस्तों उस दिन सर को देखा तो मेरे मन में चुदाई की इच्छा जग गयी और मैंने ये बात उनसे कहीं | तब सर ने मुझसे कहा की आज मेरी बीबी घर ही हैं हम किसी और दिन करेंगे | फिर मैं जब वहां से अपने घर आ रही थी तो दुपहर का टाइम था और बहुत ज्यादा कडक धुप थी | मैं इतनी दूर से स्कूटी चला कर आई थी तो मुझे प्यार भी बहुत तेज से लगी थी | तब मैं सीधे रवि भैया की जूस वाली दुकान पर गयी | जब मैं वहां पहुची तो देखा की गर्मी की वजह से वो भी ऐसे ही बैठे थे और दूर दूर तक कोई भी नज़र नही आ रहा था | उस टाइम बिकुल सुनसान लगा रहा था |                      “Juice Pilane Ke Bad”

मैं आप लोगो को रवि के बारे में बता देती हूँ | उसकी उम्र 26 साल है और वो दिखने में अच्छा है | उसकी बॉडी भी ठीक ठाक है जिससे स्मार्ट भी लगता है | मैं उस दिन बहुत गर्म थी और उसे देख कर मेरे मन में आया इससे ही चुद जाती हूँ | फिर मैं जाकर बैठ गयी और रवि मुझसे बोला भाभी क्या पिलाऊं मैंने भी कह दिया यार जूस ही पिला दो | वो मेरे लिए ताजा जूस बनाने लगा | वो जूस बनाते हुए मेरी तरफ ही देख रहा था तो मैंने भी अपनी स्क्लत की उपर की बटने खोल दी और जब मेरे बड़े बूब्स दिखने लगे | तब मैं वहीँ पर रखी एक दबती उठाई और चलने लगी | मैं उस दबती को चलते हुए बोली यार रवि आज गर्मी कितनी है | वो मेरे बूब्स की तरफ देख कर बोला हाँ भाभी गर्मी तो बहुत है |                                                “Juice Pilane Ke Bad”

वो मेरे बूब्स को घुर घुर कर देख रहा था | मैंने भी अपनी नज़र उसकी पैन्ट पर ले गयी तो देखा की उसकी लंड पैन्ट को ऊपर चढ़ा रहा था | मैं समझ गयी की इसके अन्दर मुझे चोदने की इच्छा जाग गयी है | तब वो कुछ देर बाद मुझे एक गलास जूस बना कर दिया और मैं जब पीने लगी तो वो मेरे मेरे चेहरे को देखने लगा | वो मुझे ऐसे देख रहा था की अगर में हाँ के दूँ तो वो मुझे अभी चोद डाले | फिर मैं कुछ देर बैठी रही और जूस का गलास भी ख़त्म हो गया तो वो बोला की भाभी और दूँ | मैंने कहा मेरे पास और खुले रूपये नही है तो वो बोला तो क्या हुआ भाभी बाद में दे देना | तब मैं सेक्सी स्माइल देती हुई बोली फिर फिला दो एक और गलास उसने एक गलास और बना कर दिया | मैं जूस पीने के बाद कुछ देर तक बैठी रही | फिर मैं जब जाने लगी तो उसकी तरफ आंख मारी और कहा यार अभी आओ और ले लो | वो मेरे कहने का मतलब समझ गया और तुरंत ही अपनी दुकान बंद की और आ गया |                                 “Juice Pilane Ke Bad”

मैं बाहर इधर उधर देखा कोई नही है और हवा चल रही है जिससे कुछ कूड़ा करकट उड़ता हुआ जा रहा था | मैंने उसे तुरंत घर में लिए और वो अन्दर आ गया | वो जैसे ही अन्दर आया तो आने के कुछ देर बाद मेरे हाथ को पकड कर अपने ऊपर बैठा लिया | जब उसने मुझे अपने ऊपर बैठा लिया तो मेरी जांघों को सहलाने लगा तो मैंने कहा रवि क्या कर रहे हो | उसके भी कहा जो करने के लिए बुला कर लाई हो वही कर रहा हूँ | मैं उसे अपने बेडरूम में ले गयी और फिर वो मुझे अपनी बाँहों में कस के भर लिया | वो मुझे बाँहों में भर के चूमने लगा | वो मुझे चूम ही रहा था की उसने मेरी होठो को चूमने की कोशिश की और मैंने उसे होठो को चूमने से मना कर दिया और कहा जोर करने आये हो वही करो ज्यादा कुछ नही | वो भी मुझ जैसे हॉट माल को पाकर बहुत खुश था और मेरे जिस्म को चूमने के साथ मेरे बूब्स को कपडे के ऊपर से दबाने लगा |

वो मेरे बूब्स को दबाने के बाद मेरे कपडे निकाल दिए जिससे मैं उसके सामने ब्रा और पैंटी में आ गयी | वो मुझे ब्रा और पैंटी में देख कर बहुत खुश हुआ और मेरे बूब्स को ब्रा के ऊपर से दबाते हुए मेरी ब्रा भी खोल दी | मेरी ब्रा को खोलने के बाद मेरे एक दूध को मुंह में रख कर चूसने लगा और दुसरे को हाथ में पकड कर दबाने लगा | वो मेरे एक दूध को मुंह में रख कर जोर जोर से चूस रहा था और मैं तेज सांसे लेती हुई उसके सर को दबा रही थी | वो मेरे बूब्स को एक एक करके चूस रहा था और मैं मस्त सेक्सी आवाजे करती हुई चूसा रही थी | वो मेरे बूब्स को चूस रहा था तो मुझे बहुत मज़ा आ रहा था |                               “Juice Pilane Ke Bad”

वो मेरे बूब्स को ऐसे ही 5 मिनट तक चूसने के बाद मेरी पैंटी को निकाल कर मेरी चूत में अपनी जीभ घुसा दी | वो मेरे चूत में अपनी जीभ को घुसा कर चाटने लगा | मैं अह अह अह उई हाँ….. हाँ उई अह हाँ उई हाँ उई अह…. अ अ अ अ….. सी माँ उई सी माँ उई माँ…. की सिसकियाँ लेने लगी | वो मेरी चूत में के दाने को पकड कर खीचने लगा तो मेरे अन्दर आग लग गयी और मुझसे रहा नही गया तो मैं उसके सर को पकड कर चूत में दबा दिया | वो मेरी चूत को चाटने के साथ अपनी उँगलियों को भी घुसा दिया | वो उंगलियों को घुसा कर जोर जोर से हिलाने लगा | मैं जोर जोर से उई हाँ….. हाँ उई अह हाँ उई हाँ उई अह…. अ अ अ अ….. सी माँ उई सी माँ उई माँ…. की सिसकियाँ ले रही थी | वो मेरी चूत में ऐसे ही कुछ देर तक करने के बाद अपने कपडे निकाल दिए और फिर अपने लम्बे और मोटे लंड को मेरी चूत में घुसा दिया | वो लंड को घुसा कर जोरदार धक्के मारने लगा |                                   “Juice Pilane Ke Bad”

वो मेरी चूत में जोरदार धक्के मार रहा था और मैं लेट कर चुदाई का मज़ा लेते हुई उई हाँ….. हाँ उई अह हाँ उई हाँ उई अह…. अ अ अ अ….. सी माँ उई सी माँ उई माँ…. की सेक्सी आवाजे कर रही थी | वो मेरी चूत में जितने जोर से धक्के मारता मेरे बड़े बूब्स उतने ही जोर से हिलते | वो मेरे हिलते बूब्स को देखकर धक्को की स्पीड इतनी तेज कर दी की उसका लंड मेरी बच्चे दानी में जाकर रगड़ता जिससे मेरे जिस्म में आग लग जाती | वो मेरी चूत में जोरदार धक्के मार रहा था जिससे धक्को की और मेरी सिसकियाँ गूंजने लगी | मैं उसके हर धक्के का मज़ा लेती हुई चुद रही थी और वो मेरी चूत में ऐसे ही कुछ देर तक चोदने के बाद झड गया |

फिर उसने मेरी चूत में ऊँगली डाल कर हिलाने लगा जिससे मेरी चूत से गर्म पानी निकल गया और मैं भी झड़ गयी | फिर उसने मेरे बूब्स को पकड कर कुछ देर तक दबाया और उसने अपने कपडे पहन लिए और मैंने अपने कपडे पहन लिए | मैं कपडे पहनने के बाद बैठ गयी और जब वो चला गया तो मैंने सोचा की ये मैंने क्या करा लिया और एक जूस वाले के साथ | मैं उस दिन यहीं सोचती रही और उसके बाद मैं कभी उसकी दुकान पर भी नही गयी |                                      “Juice Pilane Ke Bad”