कुँवारी लड़की को पेला पढ़ाई में हेल्प के बदले-4

(Kunwari Ladki Ko Pela Padhai Mein Help Ke Badle-4)

फिर तुम खुद ही मुझे आकर अपनी चुदाई को करने के लिए कहोगी और वैसे भी में तुम्हारे इस दर्द को समझते हुए धीरे धीरे करूंगा, लेकिन फिर भी तुम्हे थोड़ा दर्द सहना ही होगा। अब मैंने जाकर क्रीम लाकर सबसे पहले अपने लंड और उसके बाद उसकी चूत पर लगाकर दोनों को एकदम चिकना कर दिया और उसके बाद अपने लंड को धीरे से उसकी चूत के मुहं पर रखकर धक्का देते हुए अंदर डालने लगा। दोस्तों तब मुझे ठीक से पता चला कि उसकी चूत बहुत ही ज्यादा कसी हुई थी, जैसे वो किसी छोटी बच्ची की चूत हो। “Kunwari Ladki Ko Pela”

अब इस वजह से मेरे लंड का टोपा उसके अंदर जाते ही वो ज़ोर से चीखकर कहने लगी, आह्ह्ह्ह ऊफ्फ्फ्फ़ मुझे बहुत तेज दर्द हो रहा है, प्लीज में मर जाउंगी इसको बाहर निकालो आह्ह्ह्ह प्लीज। अब बस भी करो मेरे लिए यह दर्द सहना और यह सब आगे करना बड़ा मुश्किल है इसकी वजह से में मर ही जाउंगी। फिर में उसकी वो चीखने की आवाज सुनकर वहीं पर रुक गया, लेकिन मैंने अपने लंड को बाहर नहीं निकाला और अब में उसके बूब्स को अपने दोनों हाथों से सहलाने हल्के से दबाने लगा और साथ ही साथ उसके रस भरे होंठो को भी चूमने लगा। “Kunwari Ladki Ko Pela”

फिर थोड़ी देर बाद मैंने महसूस किया कि उसका दर्द कम हो चुका था, वो गरम होकर दोबारा जोश में आ चुकी थी और अपने मुहं से आह्ह्ह करके कामुक आवाजे निकालने लगी। अब मैंने ठीक मौका देखकर अपने लंड से उसकी चूत पर थोड़ा सा ज़ोर लगा दिया, जिसकी वजह से अब मेरा लंड उसकी चूत में तीन इंच अंदर चला गया, लेकिन दर्द की वजह से वो ज़ोर से चिल्लाने लगी और पसीने में नहाकर वो बिन पानी की मछली की तरह मचलने लगी। अब वो सिसकियाँ लेते हुए मुझसे कहने लगी आईईईईइ ऊईईईईई माँ में मर गई, प्लीज़ अब तुम इसको बाहर निकालो मुझे बड़ा अजीब सा दर्द हो रहा है। “Kunwari Ladki Ko Pela”

हिंदी सेक्स स्टोरी :  Muslim Didi Ne Chudwaya

फिर मैंने उसके बूब्स को सहलाते हुए उसको कहा कि पहली बार में सभी को थोड़ा सा दर्द जरुर होता है अभी तुम्हारा यह दर्द भी खत्म हो जाएगा और उसके बाद तुम मेरे साथ वो मज़े करना और यह बात कहकर में उसको चूमने लगा। फिर कुछ देर के बाद वो शांत हो गई और कहने लगी चलो ठीक है, अब इसके आगे का भी काम तुम जल्दी से पूरा करो अब मेरा तेज दर्द चला गया। अब मैंने उसको बोला कि तुम अब अपना मुहं बंद रखना, में अब अपना पूरा लंड तुम्हारी चूत में डालने जा रहा हूँ।

फिर उसने जोश में आकर कहा कि हाँ ठीक है, अगर में ज़ोर से चिल्लाने भी लगूं तब भी तुम रुकना नहीं इस काम को अब एक ही बार में पूरा करना। अब में उसके मुहं से यह बात सुनकर बड़ा खुश हुआ और अब में धीरे धीरे अपने लंड को उसकी चूत में तीन इंच ही अंदर बाहर करने लगा, जिसकी वजह से उसको भी बड़ा मस्त मज़ा आने लगा और वो जोश में आकर मुझसे ज़्यादा चिपकने लगी। फिर अचानक से मैंने सही मौका देखकर एक ज़ोर का झटका दिया और उसी के साथ अपना पूरा लंड उसकी चूत की गहराई में डाल दिया। अब उस दर्द की वजह से वो बहुत ज़ोर से चीखने लगी और वो ज़ोर से तड़पने लगी उसके मुहं से उसकी चीख अंदर ही दबी रही। “Kunwari Ladki Ko Pela”

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

फिर में वो सब देखकर उसी समय वैसे ही रुक गया, मैंने अब उसको बड़े ही प्यार से समझाया कि मेरा पूरा लंड अब उसकी चूत में जा चुका है। अब तुम्हे बस थोड़ा सा दर्द होगा, लेकिन उसके बाद में जो मज़ा तुम्हे आएगा उसकी वजह से तुम यह पूरा दर्द भुल जाओगी। फिर करीब पांच मिनट तक में सिर्फ़ उसके बूब्स को चूसता रहा और उसके पूरे बदन पर अपने हाथ को घुमाता रहा, धीरे धीरे उसका दर्द कम हुआ और उसको जोश आने लगा और इसलिए वो मुझसे चिपक गई और अपने कूल्हों को ऊपर उठाने लगी। “Kunwari Ladki Ko Pela”

हिंदी सेक्स स्टोरी :  Shadi Ki Pahli Raat Wali Pahli Chudai Ka Sukh

फिर में तुरंत समझ गया कि में इसकी चुदाई का काम अब पूरा कर सकता हूँ और इसलिए मैंने धीरे धीरे अपने लंड को उसकी चूत के अंदर बाहर करना शुरू किया। अब मेरा लंड उसकी गीली एकदम चिकनी चूत में फिसलता हुआ बड़े आराम से अंदर बाहर होने लगा था, मेरे ऐसा करने के थोड़ी ही देर में उसको भी मज़ा आने लगा था और वो भी नीचे से हिल हिलकर मेरे साथ अपनी चुदाई का मज़ा लेने लगी। फिर करीब दस मिनट तक में उसको वैसे ही हल्के धक्के देकर चोदता रहा और इतनी देर में वो दो बार झड़ चुकी थी, जिसकी वजह से उसकी चूत पहले से ज्यादा गीली चिकनी हो गई। अब उसका दर्द भी एकदम कम हो गया और वो बहुत मज़े लेकर चुदवाने लगी, मैंने अब अपने धक्को की गति को पहले से ज्यादा तेज कर दिया था।

अब में उसको बहुत तेज़ी से धक्के देकर चोद रहा था, करीब पन्द्रह मिनट के बाद मैंने उसको कहा कि में अब झड़ने वाला हूँ, में अपने वीर्य को कहाँ निकालूं? तब उसने कहा कि तुम अपना पूरा लावा मेरी चूत में ही निकाल दो और उसी समय मैंने अपने वीर्य से उसकी चूत को भर दिया और करीब दस मिनट तक में उसके ऊपर वैसे ही लंड को अंदर डाले, उसकी छाती पर लेटा रहा। फिर उसके बाद हम दोनों उठे मैंने उसके चेहरे की तरफ देखा वो बड़ी खुश नजर आ रही थी और फिर बाथरूम में जाकर उसने अपनी चूत और मेरे लंड को पानी से धोकर साफ किया। “Kunwari Ladki Ko Pela”

हिंदी सेक्स स्टोरी :  लंड चूसकर प्यार का सबूत दिया-3

फिर उसके बाद हम दोनों वापस आकर उसी पलंग पर बैठ गये, मैंने उसके पास आकर उसको अपनी बाहों में लिया। अब वो शरमाती हुई मेरी छाती में अपने मुहं को घुसाकर लेट गई, उसके वो बड़े आकार के बूब्स गरम बदन मेरे शरीर से छुकर मुझे बड़ा मज़ा दे रहा था। फिर उसके बाद हमे पता ही नहीं चला कि कब हम दोनों वैसे ही पूरे नंगे गहरी नींद में सो गए। फिर दूसरे दिन सुबह मेरी नींद खुली, तब हम दोनों ने अपने अपने कपड़े पहने और उसके बाद में अपने घर चला गया। दोस्तों यह थी मेरी सच्ची चुदाई की कहानी जिसमे मैंने अपनी पड़ोस में रहने वाली कुंवारी चूत को चोदकर मज़े लिए और खेल को खेलने के बाद हम दोनों बड़े खुश थे। “Kunwari Ladki Ko Pela”

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..
HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!